ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : अनंतनाग एनकाउंटर में लश्कर-ए-तैयबा के 3 आतंकी ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी         BIG NEWS : भगवान राम को नेपाली बताने वाले पीएम केपी ओली संसद में विश्वास मत हारे, अब PM पद से देना होगा इस्तीफा         BIG NEWS : बिहार वाले पप्पू यादव गिरफ्तार         समुद्र पर दौडता ऐरावत ले आया आठ क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंक: चार हजार सिलेंडर, अस्पतालों ने ली राहत की सांस         BIG NEWS : राहुल के कांग्रेस अध्यक्ष बनने में फिर अड़ंगा; कांग्रेस कार्यसमिति ने टाले चुनाव, सोनिया ने लगाया आरोप         BIG NEWS : बंगाल में शुभेंदु नेता प्रतिपक्ष बने, BJP के 61 विधायकों को दी गई X कैटिगरी की सिक्यॉरिटी, सभी 77 MLA को केंद्रीय सुरक्षा         BIG NEWS : दूसरी लहर में पहली बार कोरोना के नए केस से ज्यादा लोग ठीक हुए, 3.29 लाख नए केस, 3. 55 हजार लोग ठीक हुए         बारामूला-बनिहाल रेल सेवा 16 मई तक बंद, बीते 22 फरवरी को 11 महीनों के बाद शुरू हुई थी सेवा         BIG NEWS : 60 साल के कश्मीरी बुजुर्ग ने तैयार किया ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का प्रोटोटाइप, कहा - कंपनी बनाए सस्ते कंसंट्रेटर         BIG NEWS : बंगाल हिंसा पर राज्यपाल फिर बेहद नाराज, कहा- बंगाल में संविधान खत्म         BIG NEWS : हेमंत बिस्व सरमा ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ         BIG NEWS : कोरोना के कहर के बीच पंचांगों से आई डरावनी खबर, मई अंत तक भारी तबाही की आशंका, आ सकता है तूफान         BIG NEWS : चीन का नाम लिए बगैर इजराइली एम्बेसेडर बोले-कोरोनावायरस बेहद संदिग्ध         BIG NEWS : 5 दिन बाद कोरोना का आंकड़ा नीचे आया, 3.53 लाख लोग हुए ठीक         BIG NEWS : ऑस्ट्रेलिया मीडिया का दावा, कोरोनावायरस चीन का जैविक हथियार         टीकाकरण ही भारत के संकट का इकलौता हल : डॉ. फौसी         BIG NEWS : पत्रिका द लांसेट में भारत के खिलाफ प्रोपेगेंडा         BIG NEWS : लालू प्रसाद यादव की तबीयत अचानक बिगड़ी, ऑक्सीजन लेवल गिरा         BIG NEWS : मदर्स डे के दिन झारखंड में मां की कोख उजड़ी, 7 बच्चों की मौत         BIG NEWS : पुंछ में सुरक्षाबलों ने बड़े आतंकी साजिश को किया नाकाम, ग्रेनेड की बड़ी खेप बरामद         BIG NEWS : हिमंत बिस्वा सरमा होंगे असम के नए मुख्यमंत्री, लगी मुहर         BIG NEWS : उत्तर प्रदेश में 17 मई सुबह 7 बजे तक के लिए बढ़ाया गया लॉकडाउन, आदेश जारी         हेमंत बिस्वा शर्मा असम के नए मुख्यमंत्री होंगे !         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर सरकार का बड़ा फैसला, प्रशासन घरों में इलाज करा रहे मरीजों तक पहुंचाएगी कोविड ट्रीटमेंट किट         BIG NEWS : गायंत्री मंत्र के जाप से कोरोना ठीक करना चाहता है ऋषिकेश एम्स, दस मरीजों पर कर रहा है ट्रॉयल         कोरोना महामारी के बीच कुलांचें भर रहा है चीन का वैश्विक व्यापार         गरीब देशों में ज्यादा जन्म लेते हैं थैलेसीमिया पीड़ित बच्चे क्योंकि…….         BIG NEWS : ढीले हुए वाट्सएप के तेवर, 15 मई को नई नीति स्वीकार नहीं की तो भी डिलीट नहीं होगा वाट्सएप अकाउंट         प्रशांत महासागर में गिरेगा चीन का 21 टन वजनी विशालकाय रॉकेट         BIG NEWS : वैक्सीन पर जीएसटी से भड़के राहुल का तंज,’भले ही जनता के प्राण निकल जाएं लेकिन टैक्स नहीं छोड़ेंगे मोदी’         BIG NEWS : अब देश ने स्वस्थ होने वाले मरीजों का रिकॉर्ड बनाया, देश में पहली बार 3.86 लाख से ज्यादा मरीज हुए ठीक         सप्ताह के सातों दिन के लिए बताए गए हैं अलग-अलग देवता, किस दिन किसकी पूजा करें         इम्युनिटी के लिए किसी वरदान से कम नहीं है तुलसी         BIG NEWS : भारत की मदद के लिए सामने आई थाईलैंड सरकार; कई ऑक्सीजन सिलेंडर और कंसंट्रेटर भेजी दिल्ली         BIG NEWS : रांची में ताबड़तोड़ फायरिंग, 4 को लगी गोली, कई दुकानों और घरों में घुसकर तोड़फोड़, पुलिस लाठीचार्ज          BIG NEWS : कोरोना से संक्रमित मरीजों के शरीर में ही मार डालेगी ये दवा और रोगी हो जाएगा चंगा         BIG NEWS : भारत ने बनाई कोरोना की दवा, सरकार ने दी आपात इस्तेमाल की मंजूरी         BIG NEWS : अस्पताल में इलाज के लिए अब कोरोना टेस्ट जरूरी नहीं         आप विधायक इमरान हुसैन पर ऑक्सीजन जमाखोरी का आरोप, दिल्ली हाईकोर्ट ने किया तलब         कंगना को कोरोना, लेकिन मैं इसको हरा दूंगी'         BIG NEWS : जिन बूढ़ों ने लगवाई फाइजर और मॉडर्ना की वैक्सीन, कोरोना होने पर भी अस्पताल से रहते हैं दूर         अगर आपके घर में कोई कोरोना मरीज हैं तो-          BIG NEWS : रेमडेसिविर इंजेक्शन और 13 ऑक्सीजन प्लांट इंडिया पहुंचे, सरकार बोली- मदद सीधे राज्यों को भेजी जा रही         BIG NEWS : आर्टिकल 370 हटाना भारत का आंतरिक मामला, पाकिस्तान को 35A रद्द होने से परेशानी : शाह महमूद कुरैशी         शनि देव को खुश करने के 5 आसान उपाय, शुरू करें इसी शनिवार से         जानिए क्या हैं ब्लड थिनर्स? खून पतला करने के उपाय         BIG NEWS : कई राज्य के सीएम ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को दी नसीहत, कहा- एकजुटता से ही राह निकलेगी         BIG NEWS : 10,000 ऑक्सीजन जनरेटर्स, 1 करोड़ मास्क... कोरोना की दूसरी लहर में संयुक्त राष्ट्र से भारत को बड़ी मदद         BIG NEWS : शिल्पा शेट्टी की एक साल की बेटी, बेटा, पति, मां और सास-ससुर कोरोना पॉजिटिव, दो स्टाफ मेंबर भी संक्रमित         BIG NEWS : अनुष्का शर्मा और विराट कोहली ने कोरोना से जंग के लिए डोनेट किए 2 करोड़ रुपये, अब इस अभियान में जुटे         रेल से पश्चिम बंगाल जाना है तो जेब में रखनी होगी 72 घंटे पुरानी आरटी-पीसीआर निगेटिव रिपोर्ट         जुड़वां प्रतिमाओं वाले इस हनुमान मंदिर में पूरी होती हैं सभी मनोकामनाएं         सुप्रीम कोर्ट ने माना, कठोर थी चुनाव आयोग पर टिप्पणी फिर भी हटाने से इनकार         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर के नागरिकों से अपील, परेशानी हो तो घबराएं नहीं इन हेल्पलाइन नंबर पर करें कॉल          BIG NEWS : भारत के बिना दुनिया अधूरी, उसने विश्व को बहुत कुछ दिया : निशा देसाई बिस्वाल         BIG NEWS : पश्चिम बंगाल में 21 साल की कॉलेज स्टूडेंट का रेप-मर्डर        

कांच ही बांस के बहंगियां.... बहंगी लचकत जाए!

Bhola Tiwari Nov 20, 2020, 10:51 AM IST टॉप न्यूज़
img

पटना :  कांच ही बांस के बहंगियां.... बहंगी लचकत जाए!

यह गाना, केवल एक गाना मात्र नहीं है! 

यह आदिकाल के मगध साम्राज्य से लेकर वर्तमान काल तक के बिहारियों का इमोशन है! भावना है! प्रेम है! प्रेम अपनी प्रकृति के प्रति! अपने ईश के प्रति! अपने संस्कारों के प्रति और संसार के एकमात्र सबसे प्रत्यक्ष देवता #सूर्यदेव के प्रति!

कभी नवम्बर के महीने में, छठ के समय में बिहार आने वाली बसों और ट्रेनों की ओर देखिएगा! देश विदेश में पढ़ाई और काम कर रहे सारे बिहारी जिस उत्साह से छठपूजा में शामिल होने अपने अपने गांव घर पहुँच रहे होते हैं, उन्हें देखकर लगता है कि बस इसी उत्साह के कारण, इसी ऊर्जा के कारण सनातन कभी मरा नहीं और ना ही मरेगा! उन गाड़ियों में लोग नहीं, न जाने कितनी माओं के लाल, न जाने कितने पिताओं की उम्मीदें और न जाने कितनी सुहागिनों के सिंदूर अपने घर लौट रहे होते हैं!

कभी छठ के समय में बिहार आइए और महसूस कीजिए हर सुबह खेत की जुताई कर रहे ट्रैक्टरों में बजते "उगा हो सुरुज देव अरघि के भइल बेर..." वाले गाने को! यकीन मानिए, मन उसी रँग में रँग जाएगा! हमारे यहां छठ पूजा केवल पूजा नहीं है! केवल एक पर्व मात्र नहीं है! यह हमारी आस्था का प्राण बिंदु है! 

छठी माई कौन हैं? उनका इतिहास क्या है.. हमारी माताएं बहनें भले न जानती हों, पर उनका विश्वास इतना अटूट है, इतना मजबूत है, कि एक बार इस त्योहार को अंधविश्वास या ढकोसला बोल कर देखिए, उसी वक़्त गरिया गरियाकर आपके कानों से खून निकाल देंगी!

पिता और पति की कमाई पर, एयर कंडीशन कमरों में बैठकर नारी सशक्तीकरण की बात करने वाली लेफ्ट विंग की लेखिकाओं को आकर छठ के घाट पर देखना चाहिए कि जब मुसहर टोली की व्रती माताएं बबुआन टोली की माताओं बहनों के साथ बैठकर सुर से सुर मिलाकर गीत गाती हैं, तो वहां असली नारी सशक्तिकरण होता है!

उन्हें देखना चाहिए कि जब गांव का राजा भी अर्घ्य के बाद सबसे निम्न जाति की स्त्री के पांव छूकर टीका लगवाता है और उनके दिए प्रसाद को खाता है, तब वहां से सारा जातिवाद छू मंतर हो जाता है! छठ के घाट पर कोई बड़ा-छोटा, राजा-रंक या अमीर-गरीब नहीं होता! वहां सभी केवल छठी मइया के बेटे होते हैं! 

एकता को लेकर ज्ञान देने वालों को दो दिन पहले हर पोखरे, नदी और तालाब के किनारे जाकर देखना चाहिए कि सैकड़ों लोग हाथों में झाड़ू लिए सफाई कर रहे हैं! सैकड़ों लोग रंगाई पुताई का काम कर रहे हैं! बच्चों का हुजूम रँग बिरंगे कागज साटकर घाट को सजा रहा है! वहां दर्शन होते हैं असली एकता के! वहाँ एक हो जाता है सारा समाज हमारा!

यह पर्व इतना सुंदर क्यों है? किसी सबसे गरीब बिहारी से पूछकर देखिएगा! छठ के दिन वह गरीब भी सबसे ज्यादा अमीर हो जाता है! छठ के दिन किसी व्रती का दउरा खाली नहीं रहता! लोग खाली रहने ही नहीं देते!

किसी को नारियल कम पड़ रहे हों, तो एक नहीं, दो नहीं, सैकड़ों हाथ उसे नारियल देने को उठ जाते हैं! किसी के पास प्रसाद बनाने का सामान नहीं है, यह पता चलते ही सबके सहयोग से इतना सामान जमा हो जाता है, जितना किसी राजा प्रभु के घर जमा नहीं होता!

मोहल्ले में सबसे कर्कश बोलने वाली काकी, जिनकी किसी से नहीं बनती, जब छठ की कोसी भरती हुई गीत गाती हैं, तो यह दृश्य देखकर खुशी, गर्व और आश्चर्य एक साथ होते हैं! माथे पर दौरा उठाए पुरुष अपने परिवार संग जब घाट की ओर चलते हैं तो वे पुरुष साक्षात धर्म ध्वजा के वाहक लगते हैं और उनके साथ चलते छोटे बच्चे जैसे राम जी की सेना चल रही हो!

और तो और! व्रती स्त्रियों में तो साक्षात छठी मइया ही समा जाती हैं, क्योंकि दो दिन तक निर्जला व्रत रहने की शक्ति साधारण मानव में कहां! उनकी पियरी साड़ी और नाक से लेकर माथे तक लगे सिंदूर की चमक इतनी तीव्र होती है, कि सारा अधर्म, सारी कुंठाएं और सारे विषाद उस चमक से चौंधियाकर दम तोड़ देते हैं!

रात को घाट पर, गन्ने की छत्र बनाकर, मिट्टी के हाथी के आकार वाले बर्तन में बने दीयों में, जब एक साथ रौशनी प्रवाहित होती है तो सारा घाट जगमगा जाता है और उस समय वह चमक केवल दियों की नहीं होती, वह चमक धर्म की चमक होती है! सनातन की चमक होती है!

और जानते हैं ! भोर होते ही कमर तक पानी में अर्घ्य का सूप लेकर खड़ी माताओं को देखकर गर्व से सीना फूल उठता है! मन भाव विभोर हो जाता है और उस वक़्त लगता है कि इसी शक्ति ने, इसी आस्था और विश्वास ने देश बचा रखा है! धर्म बचा रखा है! सनातन बचा रखा है! इसी पर्व ने सिखाया है कि न केवल उगते, बल्कि डूबते सूर्य को भी प्रणाम करना हमारी सनातन संस्कृति का हिस्सा है! बस इसी सुंदरता के कारण बाकी सभी पर्व "पर्व" होते हैं, किंतु छठ...."महापर्व" होता है!

तो चलिए सुनते हैं....

"कांच ही बांस के बहंगियां.... बहंगी लचकत जाए" 

और खुद को पूरी निष्ठा के साथ भगवान भाष्कर की आराधना में समर्पित कर देते हैं! छठी मइया की जय जयकार करते हैं और जलने वालों को थोड़ा और जलाते हैं!

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links