ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : फोन कंट्रोवर्सी के लपेटे में आए लालू, BJP नेता ने लालू यादव के खिलाफ दायर किया PIL         BIG NEWS : फोन कॉन्ट्रोवर्सी हुई तो 114 दिन से बंगले में रह रहे लालू यादव रिम्स वार्ड में लौटे         एक बड़ी साजिश जो नाकाम हो गई...         BIG NEWS : DDC चुनाव से पहले महबूबा मुफ्ती को बड़ा झटका, PDP के तीन और नेताओं ने एक साथ दिया इस्तीफा         BIG NEWS : पाकिस्तान एक बार फिर हुआ शर्मसार, शाह महमूद कुरैशी की कोशिश के बावजूद OIC में जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर नहीं होगी कोई चर्चा         BIG NEWS : श्रीनगर में सुरक्षाबलों पर आतंकी हमला, दो जवान शहीद         BIG NEWS : चाईबासा के टोंटो जंगल से 5 नर कंकाल          प्रेम में विरक्ति है शिव के भस्म प्रिय होने का कारण, जाने इसके पीछे की कथा         कोरोना पर गाइडलाइन : अब राज्य सरकार को लॉकडाउन लगाने के लिए केंद्र की लेनी होगी मंजूरी          BIG NEWS : लालू का कथित ऑडियो वायरल होते ही बिहार से लेकर रांची तक सियासी हलचल बढ़ी         BIG NEWS : कई दिनों से लापता 3 युवकों की मिली सिर कटी लाश, 6 हिरासत में         BIG NEWS : बिहार में हो हंगामा के बीच NDA के विजय सिन्हा बने स्पीकर         BIG NEWS : NIA ने निलंबित डीएसपी देवेंद्र सिंह केस में पीडीपी नेता वहीद पारा को किया गिरफ्तार         BIG NEWS : गिलगित-बल्तिस्तान चुनाव में इमरान सरकार और सेना पर लगे धांधली के आरोप, उग्र प्रदर्शनकारियों ने की आगजनी         BIG NEWS : कांग्रेस के दिग्गज नेता अहमद पटेल का निधन         युधिष्ठिर ने की थी लोधेश्वर महादेव की स्थापना         BIG NEWS : चीन के खिलाफ भारत सरकार की एक और डिजिटल स्ट्राइक, सरकार ने 43 ऐप पर लगाया बैन         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर हाईकोर्ट के आदेश पर रोशनी जमीन घोटाले में शामिल लोगों की पहली सूची जारी, कई बड़े नेताओं के नाम          BIG NEWS : सांबा सेक्टर में सुरक्षाबलों ने आतंकी घुसपैठ की कोशिश को किया नाकाम, एक आतंकी ढेर         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर में एससी-एसटी समुदाय को पहली बार मिला राजनीतिक आरक्षण, एसटी समुदाय ने गुपकार गठबंधन के खिलाफ जताई नाराजगी         BIG NEWS : दिल्ली हिंसा में बंगाली बोलने वाली करीब 300 महिलाओं का किया गया था इस्तेमाल         800 साल पुराने इस मंदिर की सीढ़ियों को छूने से निकलती है संगीत की धुन         BIG NEWS : रोशनी जमीन घोटाले में कई बड़े राजनेताओं के नाम का खुलासा, पीडीपी नेता और पूर्व वित्त मंत्री हसीब द्राबू का नाम भी शामिल         BIG NEWS :ड्रग्स पैडलर के घर पर छापा मारने गई NCB की टीम पर हमला, 3 अफसर घायल; 3 गिरफ्तार         BIG NEWS : नहीं रहे तरुण गोगोई         BIG NEWS : झारखंड में दल-बदल मामले में तीन विधायकों को नोटिस...         “गुपकार गठबंधन लाख कोशिश कर ले अब अनुच्छेद 370 की वापसी कभी नहीं करा पाएगा” : केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर         BIG NEWS : इमरान सरकार के खिलाफ प्रदर्शन जारी, रोक के बावजूद विपक्षी दल लरकाना में फिर करेंगे विरोध रैली          कोरोना वैक्सीन : कोरोना की भयावहता और उम्मीद की किरण         भाजपा का बंगाल चुनाव, क्या टूटेगा 'दीदी' का तिलिस्म?         ईवीएम का रोना खराब पिच का रोना है..         इस मंदिर में है पातालपुरी जाने का रास्ता...         BIG NEWS : इमरान खान के खिलाफ विपक्ष का हल्ला-बोल जारी, रोक के बावजूद पेशावर में विपक्षी दलों की विरोध रैली आयोजित         BIG NEWS : सांबा सेक्टर में बॉर्डर के पास BSF को मिली सुरंग, घुसपैठ के लिए आतंकी करते थे इस्तेमाल         BIG NEWS :भारती और पति हर्ष को कोर्ट ने 4 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेजा, जमानत पर कल सुनवाई         BIG NEWS : सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी गिरफ्तार, गोला-बारूद बरामद         BIG NEWS : पुंछ जिले में LOC के पास दिखा ड्रोन, सुरक्षाबलों की टीम अलर्ट         यहां की थी परशुराम ने तपस्या, फरसे के प्रहार से बना दिया शिव मंदिर         BIG NEWS : भारतीय सेना ने पाकिस्तान को दिया करारा जवाब, छह चौकियां तबाह, चार सैनिक ढेर और छह घायल         BIG NEWS : आतंकियों से मिले मोबाइल ने खोले राज, P1 और P55 के नाम से सेव नंबरों से आतंकियों की होती रही लगातार बात         BIG NEWS : ड्रग्स केस में कॉमेडियन भारती सिंह के बाद उनके पति हर्ष भी गिरफ्तार, दोनों ने गांजा लेने की बात कुबूल की         BIG NEWS : नगरोटा एनकाउंटर में मारे गये चारों आतंकियों को पाकिस्तान से मसूद अजहर का भाई दे रहा था निर्देश         BIG NEWS : पाकिस्तानी सेना ने नौशेरा सेक्टर में की गोलाबारी, एक जवान शहीद         BIG NEWS : नगरोटा एनकाउंटर पर भारत सख्त, विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारी को किया तलब          पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, जिनके साथ साथ चलता है विवाद         BIG NEWS : चतरा में छठ घाट पर गोली मारकर कोयला कारोबारी की हत्या         महिलाओं के प्रति पुरुष में ऐसी कुंठा कहां से आती है ?         आभामंडल का शक्तिपुंज सूर्य मंदिर         BIG NEWS  : बड़े हमले के फिराक में थे आतंकी, पीएम मोदी ने की शाह, डोभाल संग हाई-लेवल बैठक         BIG NEWS : छपरा में छठ घाट पर चली गोली,महिला समेत 5 घायल         सुन ले अरजिया हमार हे छठी मैया !!         BIG NEWS : नगरोटा एनकाउंटर के बाद कटरा में माता वैष्णो देवी के आसपास बढ़ाई गई सुरक्षा         कांच ही बांस के बहंगियां.... बहंगी लचकत जाए!         लोक आस्था की मासूमियत का आख्यान !         

BIG STORY : 120 जवानों के दम पर चीनी सेना को धूल चटा कर, लद्दाख को बचाने वाले मेजर शैतान सिंह की कहानी

Bhola Tiwari Nov 18, 2020, 11:44 AM IST टॉप न्यूज़
img

1962 में चीन के साथ युद्ध में मेजर शैतान सिंह को ◆ मरणोपरांत देश के सर्वोच्च वीरता पदक परम वीर चक्र से सम्मानित


योगेश शर्मा

जयपुर : 1 दिसम्बर 1924 को जोधपुर, राजस्थान में जन्मे मेजर शैतान सिंह भाटी के पिता हेम सिंह भाटी भी सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल थे l 1949 में मेजर शैतान सिंह कुमाऊँ रेजिमेंट में आये l 1962 में चीन के साथ युद्ध में उनकी रेजिमेंट, चीन की सीमा से महज 15 कि. मी. दूर, लद्दाख के चुशुल सेक्टर में, 17,000 फ़ीट की ऊँचाई पर, रोज़ांगला में तैनात की गयी. यहाँ एक हवाई पट्टी थी, जिसकी सुरक्षा के ज़िम्मा 13 कुमाऊँ रेजिमेंट की इस टुकड़ी को दिया गया था. रोज़ांगला की गिनती दुनिया के कठिनतम युद्धे क्षेत्रों में होती है. भारत के अक्साई चीन को लेकर चीन के साथ विवाद चल रहा था, और इसलिए इस इलाके की सुरक्षा बहुत महत्वपूर्ण थी. लद्दाख को चीन से बचने के लिए चुशुल को बचाना सामरिक दृष्टि से बहुत ज़रूरी था l

 18 नवम्बर को तड़के लगभग 5000 चीनी सैनिकों ने आक्रमण कर दिया, उनका सामने करने के लिए वहाँ 13 कुमाऊँ रेजिमेंट की चार्ली कंपनी के केवल 120 भारतीय सैनिक थे l चीनी सैनिकों के पास अत्याधुनिक हथियार थे जब की भारतीय सैनिकों के पास हथियार भी कम थे और चीनी सेना के मुकाबले उनकी मारक शक्ति भी कम थी l जल्दी ही रोज़ांगला में घमासान युद्ध छिड़ गया. भारतीय सैनिकों को इस इलाके के महत्व पता था, इसलिए वे जी जान लगा कर लड़ते रहे l

इस विकट ऊँचाई पर तोप इस्तेमाल नहीं की जा सकती थीं इसलिए ग्रनेड और मशीनगन से ही लड़ना पड़ा l जब गोलियाँ लगभग समाप्त हो गयीं तो बन्दूक के बोनट से या खाली बन्दूक से वार करके भारतीय सैनिक चीनी सैनिकों के मुकाबले करते रहे l ये सारा युद्ध मेजर शैतान सिंह के काबिल नेतृत्व में हो रहा था l वे न सिर्फ खुद भी लड़ रहे थे, वे अपने सैनिकों के हौसला भी बढ़ा रहे थे. समुद्रतल से १७,००० फ़ीट की ऊँचाई पर, जहाँ साँस लेना भी मुश्किल होता है, वहाँ, मेजर शैतान सिंह एक पोस्ट से दूसरी पोस्ट तक भाग-भाग कर सैनिकों में जोश भर रहे थे l

 

120 जवानों में से 114 युद्ध भूमि में शहीद हो गए, पर इन 114 वीरों ने 1300 दुश्मनों को मार गिराया l इतनी बड़ी क्षति से दुश्मन को पीछे हटना पड़ा l बाकी 6 जवानों में से एक को शैतान सिंह ने वापस भेजा ताकि वो भारतीय सेना के अदम्य साहस और बलिदान के बारे में दुनिया को बता सके, पाँच जवान युद्ध बंदी बना लिए गए थे, पर वे चालाकी से दुश्मन के चुंगल से भाग निकले l

 114 शहीदों में से एक मेजर शैतान सिंह भी थे, जो बुरी तरह घायल होने के बावजूद अपने सैनिकों को निर्देश देते रहे, और लड़ते रहे l गंभीर रूप से घायल अपने मेजर को दुश्मनों की गोलियों की बौछार से बचने के लिए, एक सिपाही ने मेजर शैतान सिंह को अपनी पीठ पर बाँध दिया और चट्टान से लुढ़कते हुए नीचे आकर, बड़े पत्थरों के बीच शैतान सिंह को छुपा दिया l यहीं, शैतान सिंह ने अंतिम साँस ली l युद्ध समाप्त होने के बाद, फ़रवरी 1963 में शहीद मेजर शैतान सिंह की मृत देह वहीं मिली जहाँ उन्हें घायल अवस्था में छोड़ा था, बर्फ से ढँकी देह ठण्ड से अकड़ चुकी थी, पर हाथों ने मशीनगन अभी भी कस कर पकड़ रखी थी l

 मातृ-भूमि की रक्षा के लिए अविश्वसनीय साहस और पराक्रम का प्रदर्शन कर अपने प्राणों की आहुति देने वाले मेजर शैतान सिंह भाटी को मरणोपरांत परम वीर चक्र से सम्मानित किया गया, और उनकी बटालियन के पाँच जवानों को वीर चक्र और चार जवानों को सेना मैडल प्रदान किया गया l

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links