ब्रेकिंग न्यूज़
बांदीपोरा में 4 OGWS गिरफ्तार, हथियार बरामद         BIG NEWS : हाफिज सईद समेत 5 आतंकियों के बैंक अकाउंट फिर से बहाल         BIG NEWS : लालू यादव का जेल "दरबार", तस्वीर वायरल         मान लीजिए इंटर में साठ प्रतिशत आए, या कम आए, तो क्या होगा?         BIG NEWS : झारखंड में रविवार को कोरोना संक्रमण से 6 मरीजों की मौत, बंगाल-झारखंड सीमा सील         BIG NEWS : सोपोर में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी, अब तक 2 आतंकी ढेर         BIG NEWS : देश में PMAY के क्रियान्वयन में रामगढ़ नंबर वन         BIG NEWS : श्रीनगर में तहरीक-ए-हुर्रियत के चेयरमैन अशरफ सेहराई गिरफ्तार         BIG NEWS : ऐश्वर्या राय बच्चन और आराध्या बच्चन की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव         BIG NEWS : मध्यप्रदेश की राह पर राजस्थान !         अमिताभ बच्चन ने कोरोना के खौफ के बीच सुनाई थी उम्मीद भरी कविता, अब..         .... टिक-टॉक वाले प्रकांड मेधावियों का दस्ता         BIG BRAKING : नक्सलियों नें कोल्हान वन विभाग कार्यालय व गार्ड आवास उड़ाया         BIG NEWS : महानायक अमिताभ बच्चन के बाद अभिषेक बच्चन को भी कोरोना         BIG NEWS : अमिताभ बच्चन करोना पॉजिटिव         BIG NEWS : आतंकियों को घुसपैठ कराने की कोशिश में पाकिस्तानी बॉर्डर एक्शन टीम         अपराधी मारा गया... अपराध जीवित रहा !          BIG NEWS : भारत चीन के बीच बातचीत, सकारात्मक सहमति के कदम आगे बढ़े         BIG NEWS : बारामूला के नौगाम सेक्टर में LOC के पास मुठभेड़, दो आतंकी ढेर         BIG STORY : समरथ को नहिं दोष गोसाईं         शर्मनाक : बाबू दो रुपए दे दो, सुबह से भूखी हूं.. कुछ खा लुंगी         BIG NEWS : वर्चुअल काउंटर टेररिज्म वीक में बोले सिंघवी, कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, था और रहेगा         BIG NEWS : कानपुर से 17 किमी दूर भौती में मारा गया गैंगेस्टर विकास, एसटीएफ के 4 जवान भी घायल         BIG NEWS : झारखंड के स्कूलों पर 31 जुलाई तक टोटल लॉकडाउन         BIG NEWS : चीन के खिलाफ “बायकॉट चाइना” मूवमेंट          पाकिस्तानी सेना ने नौशेरा सेक्टर में की गोलाबारी, 1 जवान शहीद         मुसीबत देश के आम लोगों की है जो बहुत....         BIG NEWS : एनकाउंटर में मारा गया गैंगस्टर विकास दुबे         बस नाम रहेगा अल्लाह का...         BIG NEWS : सेना के काफिले पर आतंकी हमला, जवान समेत एक महिला घायल         BIG NEWS : लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों ने की थी बीजेपी नेता वसीम बारी की हत्या         दुबे के बाद क्या ?         मै हूं कानपुर का विकास...         BIG NEWS : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने 6 पुलों का किया ई उद्घाटन, कहा-सेना को आवाजाही में मिलेगी सुविधा         BIG NEWS : कुख्यात अपराधी विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार         BIG MEWS : चुटुपालु घाटी में आर्मी का गाड़ी खाई में गिरा, एक जवान की मौत, दो घायल         BIG NEWS : सेना ने फेसबुक, इंस्टाग्राम समेत 89 एप्स पर लगाया बैन         BIG NEWS : बांदीपोरा में आतंकियों ने बीजेपी नेता वसीम बारी की हत्या, हमले में पिता-भाई की भी मौत         नहीं रहे शोले के ''सूरमा भोपाली'', 81 की उम्र में अभिनेता जगदीप का निधन         गृह मंत्रालय ने IPS अधिकारी बसंत रथ को किया निलंबित, दुर्व्यवहार का आरोप        

ड्रेस कोड क्या होता है ?

Bhola Tiwari May 22, 2019, 7:22 AM IST टॉप न्यूज़
img

एस डी ओझा

ड्रेस कोड को हिंदी में वेश भूषा संहिता कह सकते हैं । यह संहिता स्कूलों, कोर्ट कचहरी और दफ्तरों में लागू होती है । जहां ड्रेस कोड है , वहां बेहतर अनुशासन रहता है । सेना में भी ड्रेस कोड होता है । वहां पीटी , दफ्तर , परेड और पार्टी के लिए अलग अलग ड्रेस मुकर्रर की गईं होती हैं । यहीं नहीं रैंक वाइज ड्रेस भी होती है , जिससे हर रैंक की अलग पहचान होती है । इसीलिए सेना का अनुशासन अव्वल दर्जे का माना जाता है । सेना में सैल्यूट करने , खड़े होने और बात करने की भी ड्रिल होती है । अपने से बरिष्ठ अधिकारी से अटेंसन की मुद्रा में बात करनी होती है । जब वरिष्ठ अधिकारी आराम से कहे तभी आराम की मुद्रा में आते हैं ।

 हाई स्कूल तक छात्रों की भी ड्रेस होती है । उसके बाद खुल्लम खुला खेल फर्रुखाबादी हो जाता है । जिसकी मर्जी जो आए वह पहनता है । इस माहौल में छात्र उच्श्रृंखल हो जाते हैं । वे मनमर्जी का क्लास अटेंड करते हैं । क्लास बंक करने लग जाते हैं । अनुशासन की उत्तरोत्तर अवनति होती जाती है । लेक्चरर भी मनमर्जी की क्लास लेते हैं । अरुणाचल में लड़के लड़कियाँ छोटे छोटे पैंट पहनकर क्लास में आते थे । नये बने प्रिंसिपल ने "अभी नहीं तो कभी नहीं " की तर्ज पर ड्रेस की आचार संहिता लागू कर दी । छात्रों को यह बात बड़ी नागवार गुजरी । हड़ताल का लम्बा सिलसिला चल पड़ा । फिर तो प्रिंसिपल भी अड़ गया । अंततोगत्वा छात्रों को नए ड्रेस कोड को मानना पड़ा ।

राजनीतिक पार्टियों का भी अपना ड्रेस कोड होता है , जिसका वो पालन करते हैं । तिरुपति के बाला जी मंदिर का भी एक ड्रेस कोड होता है , जिसे पहनने पर हीं आपको तिरुपति जी का दर्शन लाभ मिल सकता है । कोर्ट का भी अपना एक ड्रेस कोड होता है । इसी ड्रेस कोड से पता चलता है कि कौन वकील , कौन बाबू , कौन चपरासी और कौन ड्राइवर है । कोर्ट इस ड्रेस कोड में कई बार ढील भी देता है । मसलन गर्मी में वकीलों को कोट पहनने से निजात मिल जाती है । ड्रेस कोड भी देश , काल परिस्थिति पर निर्भर करता है । यदि कोई मसाज पार्लर में जाता है तो वहां उसे " नो ड्रेस " की आचार सहित का पालन करना पड़ेगा । वैसे भी कई जनजातियां हैं जो नग्न रहना पसंद करतीं हैं । उनका यही ड्रेस कोड है । इनके बीच कपड़ा पहना व्यक्ति हास्यास्पद दिखेगा ।

शादी/ व्याह के समय में कुछ औरतें अजीबोगरीब कपड़े पहनने लगीं हैं । हलाहल ठंड में केवल नाभि दर्शना और पीठ दर्शना साड़ी पहनने का क्या तुक है ? जबकि पुरुष वर्ग ऊपर से नीचे तक अपने को गर्म कपड़ों से ढका रहता है । कहते हैं कि भोजन मनपसंद और कपड़ा जगपसंद । अब इस तरह की औरतें कपड़े पहनेंगी तो कौन पसंद करेगा ? जिस कपड़े को पहनने से आपके पिता, श्वसुर , जेठ को मुंह घुमाना पड़े तो ऐसे कपड़े पहनने की जुर्रत आपको नहीं करनी चाहिए । एक बात और ऐसे कपड़े पहनने से पहनने वालियां भी टेंस में रहती हैं । वे भी खुश नहीं रहतीं हैं, पर फैशन के नाम पर कुछ भी पहन लेतीं हैं , क्योंकि उन्हें पहनने की आजादी चाहिए । मेरा मानना है कि औरत मर्द के कपड़ों में एक डिसेंसी झलकनी चाहिए । सार्वजनिक स्थलों पर नग्न या अर्द्ध नग्न रहना तो एक मानसिक विकृति का परिचायक है ।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links