ब्रेकिंग न्यूज़
किसान आंदोलन की आग पर पॉलिटिक्स की रोटी         BIG NEWS : “गिलगित-बल्तिस्तान को अस्थाई तौर पर प्रांत का दर्जा देना प्राथमिकता”: इमरान खान         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर DDC चुनाव में गौतम गंभीर होंगे बीजेपी के अगले स्टार प्रचारक         BIG NEWS : शेहला रशीद का दावा, “मेरे पिता ने नहीं की मेरी परवरिश, वो मेरे बारे में कुछ नहीं जानते”         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर में हस्तकला से जुड़े कारीगरों का पंजीकरण करेगी सरकार, हस्तशिल्प को मिलेगा वैश्विक बाजार         BIG NEWS : “जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव कराने पर निर्वाचन आयोग लेगा फैसला”- राज्य चुनाव आयुक्त केके शर्मा         BIG NEWS : शेहला रशीद मामले में तू तू मैं मैं, शेहला के पिता ने कहा, “अगर मैं हिंसक व्यक्ति हूं, तो मेरे खिलाफ कई FIR दर्ज होनी चाहिए थी”         BIG NEWS : DDC चुनाव में लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए नागरिकों ने किया मतदान, कुल 48.62 फीसदी लोगों ने डाला वोट         BIG NEWS : सुरंग का पता लगाने के लिए पाकिस्तान में 200 मीटर अंदर घुसे भारतीय जवान, नगरोटा हमले में हुआ इस्तेमाल !         BIG NEWS : 25000 करोड़ के रोशनी घोटाले में फारूक अब्दुल्ला के भाई मुस्तफा का नाम भी शामिल, जांच जारी         BIG NEWS : पाकिस्तानी सेना ने पुंछ जिले में फिर की गोलाबारी, एक बीएसएफ अधिकारी शहीद         किसान आंदोलन का मतलब         क्या किसान को समझने में असफल है वर्तमान सरकार          BIG NEWS : माता अन्नपूर्णा एक बार फिर अपने घर लौटकर आ रही हैं...         BIG NEWS : शेहला रशीद पर पिता ने लगाये गंभीर आरोप- कहा- एंटी नेशनल एक्टिविटिज़ में शामिल है शेहला         BIG NEWS : कोरोना काल में भी काशी की ऊर्जा, भक्ति, शक्ति में नहीं आया बदलाव : पीएम मोदी         BIG NEWS : कश्मीर में महबूबा मुफ्ती की सियासी ज़मीं कमजोर, अपनों ने छोड़ा साथ तो फिर अलापा अनुच्छेद 370 का राग         GOOD NEWS : रांची रेलवे स्टेशन पर 6 नाबालिग लड़कियों को कालकोठरी पहुंचने से बचाया         BIG NEWS : नए कृषि सुधारों से किसानों को कानूनी संरक्षण दिया गया, पुराने सिस्टम पर रोक कहां : पीएम मोदी         BIG NEWS : DDC चुनाव के बीच आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई तेज, कुपवाड़ा में हैंड ग्रेनेड और 3.5 लाख रुपये के साथ एक आतंकी सहयोगी गिरफ्तार         BIG NEWS : 30 नवंबर को साल का आखिरी चंद्र ग्रहण, जानें कब और कहां दिखाई देगा         BIG NEWS : किसान आंदोलन को लेकर हाइप्रोफाइल मीटिंग, नड्डा के घर में शाह, राजनाथ और तोमर ने किया मंथन         BIG NEWS : विपक्षी दलों के दबाव के बाद पीएम इमरान खान ने दी सफाई, कहा- “मुझ पर सेना का कोई दबाव नहीं है”         “ जम्मू कश्मीर में DDC चुनाव को बाधित करने की लगातार कोशिश में हैं आतंकवादी” : सेना प्रमुख एमएम नरवणे         जम्मू में LOC के पास दिखा ड्रोन, BSF ने की कार्रवाई में फायरिंग         BIG NEWS : पीएम नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात’ में कहा, “नए कृषि कानून से दूर होगी किसानों की परेशानी”         BIG NEWS : सुकमा में IED ब्लॉस्ट असिस्टेंट कमांडेंट नितिन भालेराव शहीद, 10 जवान घायल         BIG NEWS : DDC चुनाव के पहले दिन बड़ी संख्या में नागरिकों ने किया मतदान, कुल 51.76 फीसदी लोगों ने डाला वोट         कोरोना वायरस: टीकाकरण के लिए देश में तैयारी जोरों पर         BIG NEWS : चाईबासा में नक्सलियों से एनकाउंटर के बाद पुलिस ने SLR समेत 169 जिंदा कारतूस किया बरामद         BIG NEWS : गिलगित-बल्तिस्तान की जनता के आगे इमरान सरकार ने टेके घुटने, 9 साल बाद बाबा जान को किया रिहा         BIG NEWS : DDC चुनाव के पहले दिन का मतदान खत्म, 1 बजे तक 40 फीसदी लोगों ने डाला वोट         जम्मू-कश्मीर में जमीनी लोकतंत्र का आगाज, DDC चुनाव में स्थानीय नागरिकों ने बढ़चढ़कर लिया हिस्सा         BIG NEWS : जायडस की वैक्सीन का अपडेट लेने के बाद PM मोदी हैदराबाद के लिए हुए रवाना         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर में DDC के 43 सीटों पर वोटिंग, पंच और सरपंच के उपचुनाव के लिए 1179 प्रत्याशी मैदान में         गढ़मुक्तेश्वर में हुआ था महाभारत में मारे गए योद्धाओं का पिंडदान         BIG NEWS : चारा घोटाला के मामले में लालू यादव की सुनवाई 11 दिसंबर तक टली         BIG NEWS : 28 नवंबर को DDC चुनाव के पहले चरण का मतदान, चुनाव के मद्देनजर घाटी में बढ़ाई गई सुरक्षा         BIG NEWS : सुरक्षा के कारण बस पुलवामा जाने से रोका गया, नजरबंद नहीं हैं महबूबा मुफ्ती : पुलिस         BIG NEWS : पाकिस्तान ने LOC पर लगातार दूसरे दिन की गोलाबारी, 2 जवान शहीद         BIG NEWS : बॉम्‍बे हाई कोर्ट कंगना रनौत को दिलाएगा मुआवजा, कहा- BMC ने गलत इरादे' से की एक्ट्रेस के मुंबई ऑफिस में तोड़फोड़         पाकिस्तानी सेना ने पुंछ जिले में की गोलाबारी, एक जवान शहीद         सड़ियल समाज की मरी संतानें         BIG NEWS : किसान आंदोलन के बहाने कांग्रेस का फर्जीवाड़ा, पुरानी तस्वीरें पोस्ट कर माहौल भड़काने की कोशिश         यहां शिवजी देते हैं जीवन का वरदान, मौत भी खाती है इनसे खौफ         BIG NEWS : फोन कंट्रोवर्सी के लपेटे में आए लालू, BJP नेता ने लालू यादव के खिलाफ दायर किया PIL         BIG NEWS : फोन कॉन्ट्रोवर्सी हुई तो 114 दिन से बंगले में रह रहे लालू यादव रिम्स वार्ड में लौटे         एक बड़ी साजिश जो नाकाम हो गई...         BIG NEWS : DDC चुनाव से पहले महबूबा मुफ्ती को बड़ा झटका, PDP के तीन और नेताओं ने एक साथ दिया इस्तीफा         BIG NEWS : पाकिस्तान एक बार फिर हुआ शर्मसार, शाह महमूद कुरैशी की कोशिश के बावजूद OIC में जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर नहीं होगी कोई चर्चा         BIG NEWS : श्रीनगर में सुरक्षाबलों पर आतंकी हमला, दो जवान शहीद         BIG NEWS : चाईबासा के टोंटो जंगल से 5 नर कंकाल         

गधा और बजट प्रस्ताव पर बहस

Bhola Tiwari Sep 16, 2020, 7:43 AM IST कॉलमलिस्ट
img

 

दिनेश मिश्रा

जमशेदपुर  : 1953 की बात है जब बिहार में बजट के प्रस्तावों पर बहस चल रही थी। वक्ता थे दरोगा प्रसाद राय जो बाद में बिहार के मुख्यमंत्री भी बने।

अपने भाषण में उन्होंने कहा कि, "एक मिनिस्टर साहब मंत्रिमंडल की मीटिंग में बैठे हुए थे। उस समय उनको खबर मिली कि उनके बंगले के अहाते में एक गधा मर गया। मिनिस्टर लोग दूरदर्शी होते ही हैं। उन्होंने तुरंत स्टेनो बाबू को बुलाया और एक लेटर अपने डिपार्टमेंट के सेक्रेटरी के पास और एक मवेशी चिकित्सा विभाग के डायरेक्टर के पास लिखवाया। उसके बाद चीफ सेक्रेटरी, ज्वाइंट सेक्रेटरी, डिप्टी सेक्रेटरी, अंडर सेक्रेटरी, हाफ सेक्रेटरी, चौथाई सेक्रेटरी के पास लिखा कि इसकी जांच होनी चाहिये।औ उस गधे की लाश पर भी किरिच और संगीन के साथ पहरा पड़ने लगा और जांच शुरू हो गयी। तब मिनिस्टर साहब टूर में चले गए और वह लास्ट सड़ने लगी। इसलिए आइ.जी. ने हुक्म दिया कि कांस्टेबल लोग नाक में ऑक्सीजन बैग लगाकर पहरा दें। फिर स्पेशल डी.डी.टी.छिड़कवाने का इन्तजाम किया गया। इस तरह उस गधे की लाश की हिफाजत होने लगी।

अध्यक्ष महोदय!, थोड़ा समय तो हम लेंगे लेकिन मुझ पर थोड़ी कृपा की जाय। इसके बाद मिनिस्टर साहब जब टूर से लौट कर आए तो चूंकि मैटर बहुत अर्जेंट था इसलिए इसको डिस्कस करने के लिये कैबिनेट की मीटिंग बुलाई गयी। तीन घंटे के वाद-विवाद के बाद डिसाइड हुआ कि एक्सपर्ट के द्वारा जांच होनी चाहिये। तुरंत एक रिपोर्ट के साथ एक स्पेशल मैसेंजर डब्ल्यू.एच.ओ., जो यू.एन.ओ.की एक बॉडी है, भेजा गया कि एक्सपर्ट आकर इस अहम मामले की जांच करें। एक्सपर्ट आये और जांच आरंभ हुई। इसको देखने के लिए बहुत से लोग चारों तरफ से जमा हो गये। भीड़ बहुत हो गयी। इसलिए आई.जी. पुलिस ने आर्डर दिया कि भीड़ डिस्पर्स हो जाये लेकिन भीड़ डिस्पर्स नहीं हुई इसलिए पुलिस ने एक माइल्ड लाठी चार्ज किया। 

"अपोजिशन वाले लेने वाले लेजिस्लेचर क्यों चूकने वाले, उन्होंने फौरन एक एडजार्नमेंट मोशन पेश कर दिया। अध्यक्ष महोदय बड़े पशोपेश में पड़े। कहा गया कि मामला बहुत ही अहम है इसलिए रूलिंग होनी चाहिए कि डिस्कशन हो।उधर बाहर लोग अर्थी बनाकर नारा लगाने लगे 'अमर शहीद', 'अमर शहीद'। होते-होते एक्सपर्ट की जांच के बाद बहुत हल्ला हुआ। प्रेस वाले क्यों चूकते। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी बात हो गयी। गधा मर गया और लोगों को खबर तक नहीं की गयी? गवर्नमेंट ने तब अपने पब्लिसिटी डिपार्टमेंट द्वारा एक कम्यूनिक निकाला लेकिन उससे भी पोजीशन क्लेरिफाई नहीं हुई। 

"तब पब्लिक रिलेशन डिपार्टमेंट के मिनिस्टर ने आई.जी. पुलिस और चीफ सेक्रेटरी को कहा कि वे एक ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलायें क्योंकि यह चीज़ बहुत अहमियत रखती है। चीफ़ सेक्रेटरी और आइ. जी. ने कहा कि यह इसी गधे का सवाल नहीं है। इस तरह समूचे देश के गधे अगर एक-एक करके मरते जाएंगे तो राष्ट्र का काम कैसे चलेगा? डब्ल्यू.एच.ओ. के एक्सपर्ट की रिपोर्ट निकली कि यह गधा बहुत सुखी और संपन्न जानवर था। रिच डाइट खाता था और मेहनत का काम नहीं करता था। इसलिए ब्लड प्रेशर के कारण उसकी मृत्यु हो गयी। यही एक्सपर्ट की फाइंडिंग हुई। फिर लोगों तक यह खबर नहीं पहुंचाई जाये यह वाजिब बात नहीं थी। इसलिए पब्लिसिटी डिपार्टमेंट के मिनिस्टर ने आर्डर दिया कि इस दो सौ पेज की फाइंडिंग को आर्ट पेपर पर छपवा कर बांटा जाये। उसमें एक-एक मिनिस्टर, डिप्टी मिनिस्टर, पार्लियामेंट्री सेक्रेटरी सभी का फोटो छापा गया। सबको एक-एक कॉपी दी गयी। यह काम खत्म हुआ। 

"फिर बजट में फाइनेंस मिनिस्टर ने इतना बड़ा काम करने के लिये पूरा अंकुश चलाते हुए सिर्फ तीन लाख खर्च सैंक्शन किया। उसके बाद मामला असेम्बली में आया। मेम्बरों ने कहा कि गवर्नमेंट ने इतने बड़े सवाल को सिर्फ 3 लाख रुपया खर्च करके हल किया इसलिए उसकी फाइनेंशियल पालिसी की तारीफ की गयी। अपोजिशन ने कहा कि एक गधा मर गया, हम गवर्नर्मेंट को चैलेंज करते हैं कि वह इस गधे के ईशू पर इलेक्शन लड़े। और देहात में घूमने लगे इस विषय को लेकर जनमत के लिये। उन लोगों ने कहा कि यह गधे पर तीन लाख रुपया खर्च किया गया है सरकार ने, यह क्या बात है। लोगों ने कहा कि जब एक गधे पर गवर्नर्मेंट इतना खर्च कर सकती है तो एक आदमी पर कितना करेगी( हंसी)। इसलिए यह ठीक ही है और अपोजीशन वाले तो हार मानने वाले नहीं हैं वह हमारे बजट को क्रिटिसाइज किया करें। हम लोग यह चाहते हैं कि लोगों के सामने हमारी कार्रवाई ठीक उतरे। Becase people are the best judge to criticize or appreciate us.

इसलिए गवर्नरमेंट के सामने हमने यह रख दिया, लेकिन कहने का मतलब यह है कि एग्जामिनेशन और छानबीन के नाम पर हमारा ख्याल है कि हमारे धन का वेस्टेज होता है और हम लोग यह नहीं चाहते हैं कि भीख मांगी जाये। लेकिन अगर आप चाहते हैं कि लोगों को एन्थ्यूज़ किया जाए इस पंचवर्षीय योजना को एक्ज़ीक्यूट करने के लिए तो लोगों की हालत में चेंज कीजिये। आप देखिए, आज लोग कचहरियों में लूटे जा रहे हैं। आज सब इंस्पेक्टर उसी तरह लूटते हैं जैसे पहले लूटते थे। आज मिनिस्टरों का क्या एटिट्यूड है?"

बिहार विधान सभा में श्री दारोगा प्रसाद राय 26 फरवरी, 1953 के दिन भाषण का अंश - साभार .

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links