ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : बिहार विधानसभा चुनाव में ऑनलाइन नॉमिनेशन, ग्लव्स पहनकर वोटिंग...         BIG NEWS : बिहार में 3 फेज में चुनाव का ऐलान,10 नवंबर को नतीजे         BIG NEWS : शिबू सोरेन और उनकी पत्नी को हराया अब उनके बेटे को हराने की इच्छा नहीं : बाबूलाल मरांडी         BIG NEWS : लद्दाख में टेंशन बनाए रखना एक बहाना, मकसद सीपेक बचाने के लिए गिलगित-बल्तिस्तान को पाकिस्तान का 5वां सूबा बनाना         BIG STORY : कपल चैलेंज का "खेला" करने वालों के लिए  ख़ास !         BIG NEWS : टीवी डिबेट्स के चर्चित चेहरे और जम्मू-कश्मीर के एडवोकेट बाबर कादरी की श्रीनगर में आतंकियों ने की गोली मारकर हत्या         यहां मंदिर से आती है देवी प्रतिमाओं के बात करने की आवाज         यहां देवताओं के राजा इंद्र के एरावत ने भगवान शिव की की थी पूजा         अभी तो सिर्फ मछलियां फँसी है, मगरमच्छों का क्या?         बॉम्बे हाईकोर्ट ने बीएमसी को लगाई लताड़         पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर डीन जोंस की हार्ट अटैक से मुंबई में मौत         SAARC मीटिंग में विदेश मंत्री ने कहा- सीमा पार आतंकवाद प्रमुख वैश्विक चुनौती         'नाइट टेस्ट' में भी पास हुई स्वदेशी पृथ्वी-2 मिसाइल, ओडिशा में हुआ परीक्षण, 300 किमी की दूरी तक मार करने में सक्षम         BIG NEWS : पुलवामा में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को किया ढेर, बडगाम में एक जवान शहीद         BIG NEWS : बडगाम में बीजेपी नेता की गोली मारकर हत्या         BIG NEWS : DRDO ने किया लेजर गाइडेड एंटी टैंक मिसाइल का सफल परीक्षण         BIG NEWS : लॉकडाउन में चर्चित ज्योति पासवान पर बनने वाली फिल्म खटाई में, फिल्म निर्माता पर केस         मशहूर ब्रिटिश कंपनी बेब्ले एंड स्काउट उत्तर प्रदेश में बनाएगी हथियार          BIG NEWS : भारत अमेरिका से खरीदेगा 30 रीपर ड्रोन          शिवलिंग के अंकुर से निकलती हैं अन्‍य देवी-देवताओं की आकृतियां, जिनका रहस्य वैज्ञानिक भी नहीं खोज पाए         गढ़मुक्तेश्वर में हुआ था महाभारत में मारे गए योद्धाओं का पिंडदान         पाकिस्तान ने पुंछ जिले के तीन सेक्टरों में दागे गोले, भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई         BIG NEWS : भारत ने स्वदेशी हाई-स्पीड अभ्यास ड्रोन का सफल परीक्षण किया         BIG NEWS : चीन ने भारत से सटी सीमा के नजदीक 13 नए सैन्य ठिकाने बनाए          पूरब का सोमनाथ है ये मंदिर, एक ही पत्थर से बना है विश्व का सबसे बड़ा शिवलिंग         BIG NEWS : राशन दुकानदार को अपराधियों ने मारी गोली, हालत गंभीर रिम्स रेफर         BIG NEWS : भारत-चीन के बीच 13 घंटे तक चली कोर कमांडर स्तर की वार्ता, तनाव कम करने को लेकर हुई बातचीत         BIG NEWS : पाकिस्तान ने अखनूर सेक्टर में ड्रोन से भेजे हथियार, सुरक्षाबलों ने किया जब्त         देवेंद्र सिंह केस में टेरर फंडिंग जांच : NIA की टीम ने बारामूला में कई जगहों पर की छापेमारी         BIG NEWS : बडगाम एनकाउंटर में 1 आतंकी ढेर, ऑपरेशन जारी         रोजाना कुछ देर के लिए गायब हो जाता है यह शिव मंदिर         झारखंड हाईकोर्ट का बड़ा फैसला : 50 प्रतिशत से अधिक आरक्षण देने पर झारखंड की नियोजन नीति रद्द         अमशीपोरा एनकाउंटर:आफस्पा कानून का खूलेआम दुरूपयोग         BIG NEWS : कृषि बिल पर इतना हंगामा क्यों बरपा !         BIG NEWS : भिवंडी में तीन मंजिला इमारत ढहने से 10 लोगों की मौत          BIG NEWS : लद्दाख में 20 से ज्यादा चोटियों पर भारत की पकड़ मजबूत          मां लक्ष्मी का ऐसा मंदिर, जहां एक सिक्के से होती है हर इच्छा पूरी         इस शिवलिंग में हैं एक लाख छिद्र, यहां छुपा है पाताल का रास्ता         विपक्ष करता रहा हंगामा और मोदी सरकार ने राज्यसभा में भी पास कराए कृषि बिल, किसानों को कहीं भी फसल बेचने की आजादी         पायल घोष ने अनुराग कश्यप पर लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप         BIG NEWS : एक पत्रकार, चीनी महिला और नेपाली नागरिक गिरफ्तार, चीन को खुफिया जानकारी देने का आरोप         जम्मू कश्मीर में बड़े आर्थिक पैकेज की घोषणा : बिजली-पानी के बिलों पर एक साल तक 50 प्रतिशत की छूट का ऐलान         ऐसा मंदिर जहां चूहों को भोग लगाने से प्रसन्न होती है माता         यहां भोलेनाथ ने पांडवों को दिए शिवलिंग के रूप में दर्शन !        

BIG NEWS : LAC पर हालात बिल्कुल अलग, हम हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार : राजनाथ सिंह

Bhola Tiwari Sep 15, 2020, 8:12 PM IST टॉप न्यूज़
img


सिद्धार्थ सौरभ

 नई दिल्ली : भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा पर जारी तनाव के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को लोकसभा में मैं सदन से यह अनुरोध करता हूं कि हमारे दिलेरों की वीरता एवं बहादुरी की प्रशंसा करने में मेरा साथ दें। उन्होंने कहा कि हमारे बहादुर जवान अत्यंत मुश्किल परिस्थतियों में अपने अथक प्रयास से समस्त देशवासियों की सुरक्षा कर रहे हैं। राजनाथ सिंह ने कहा कि सेना के लिए विशेष अस्त्र-शस्त्र और गोला बारूद की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। उनके रहने के तमाम बेहतर सुविधाएं दी गई हैं। उन्होंने कहा कि लद्दाख में हम एक चुनौती के दौर से गुजर रहे हैं। यह समय है कि यह सदन अपने जवानों को वीरता का एहसास दिलाते हुये उन्हें संदेश भेजे कि पूरा सदन उनके साथ खड़ा है। उन्होंने कहा कि मौजूदा स्थिति पहले से अलग है। हम सभी परिस्थितियों से निपटने के लिए तैयार हैं। जब भी देश के समक्ष कोई चुनौती आयी है, इस सदन ने सेना के प्रति पूरी प्रतिबद्धता दिखाई है। हमारे सेना के जवानों का जोश और हौसला बुलंद है।


राजनाथ सिंह ने कहा कि हम सीमाई इलाकों में सभी समस्या का हल शांतिपूर्ण तरीके से करने के पक्ष में हैं। हमने चीनी रक्षा मंत्री से रूस में मुलाकात की थी। हमने कहा कि इस मुद्दे का शांतिपूर्ण तरीके से हल करना चाहते हैं। सरकार भारत की संप्रभुता की रक्षा के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं। 10 सितंबर को विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भी चीनी विदेश मंत्री वांग यी से मुलाकात की थी। जयशंकर ने कहा कि अगर चीन पूरी तरह से समझौते को माने तो विवादित इलाके से सेना को हटाया जा सकता है।

राजनाथ सिंह ने सदन को बताया कि अभी की स्थिति के अनुसार चीन ने एलएसी के अंदरूनी क्षेत्रों में बड़ी संख्या में सैनिक और गोला बारूद जमा कर रखे हैं। चीन की कार्रवाई के जवाब में हमारी सेना ने पूरी काउंटर तैनाती कर रखी है। सदन को आश्वस्त रहना चाहिए कि हमारी सेना इस चुनौती का सफलतापूर्वक सामना करेगी। उन्होंने बताया कि बीते 29-30 अगस्त की रात को पैंगोंग लेक के साउथ बैंक इलाके में चीन ने यथास्थिति बदलने का प्रयास किया था। हमारी सेना ने उनके प्रयास विफल कर दिया। चीन की तरफ से द्विपक्षीय संबंधों का अनादर पूरी तरह दिखता है। भारत ने एलएसी का सम्मान किया है और 1993-1996 के समझौते को स्वीकार किया है। लेकिन चीन की तरफ से ऐसा नहीं हुआ है, उनकी कार्रवाई के कारण ही सीमा पर झड़प हुये हैं।

उन्होंने कहा कि एलएसी को लेकर भारत और चीन की धारणा अलग-अलग है। एलएसी पर शांति बहाल की जाएगी यह बात दोनों पक्षों ने माना है। भारत का मानना है कि द्विपक्षीय संबंधों को विकसित किया जा सकता है। साथ ही साथ ही सीमा मुद्दे पर चर्चा की जा सकती है। एलएसी पर किसी भी हरकत का द्विपक्षीय संबंधों पर असर पड़ेगा। समझौते में जिक्र है कि एलएसी पर दोनों देश कम से कम सेना रखेंगे। चीन ने 38 हजार स्कावयर किलोमीटर भूमि परअनिधिकृत कब्जा लद्दाख में कर रखा है। चीन अरुणाचल प्रदेश की सीमा से लगे लगभग 90 हजार स्कायर किलोमीटर की भूमि को भी अपना बताता है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि 15 जून को चीन के साथ गलवान घाटी में खूनी संघर्ष में हमारे जवानों ने बलिदान दिया और चीनी पक्ष को भी भारी नुकसान पहुंचाया। जहां संयम की जरूरत थी वहां हमारे जवानों ने संयम रखा और जहां शौर्य की जरूरत थी वहां शौर्य प्रदर्शित किया है। किसी को भी हमारी सीमा की सुरक्षा के प्रति हमारे प्रतिबद्धता पर सवाल नहीं उठाया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मैंने भी लद्दाख जाकर अपने शूरवीरों के साथ कुछ समय बिताया है और मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि मैंने उनके अदम्य साहस, शौर्य और पराक्रम को महसूस किया है। अप्रैल से पूर्वी लद्दाख की सीमा पर चीन की सेनाओं की संख्या तथा उनके युद्ध सामाग्री में वृद्धि हुई है। हमारी सेना के नार्मल पेट्रोलिंग में चीनी सेना ने व्यवधान शुरू किया था, जिसके कारण ही फेस ऑफ की स्थिति उत्पन्न हुई है। उन्होंने कहा कि हमारे बहादुर जवानों ने चीनी सेना को भारी क्षति पहुंचाई है और सीमा की भी सुरक्षा की है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links