ब्रेकिंग न्यूज़
केंद्र सरकार ने "भीमा कोरेगांव केस" की जाँच महाराष्ट्र सरकार की अनुमति के बगैर "एनआईए" को सौंपा, महाराष्ट्र सरकार नाराज         तेरा तमाशा, शुभान अल्लाह..         आर्यावर्त में बांग्लादेशियों की पहचान...         जंगलों का हत्यारा, धरती का दुश्मन...         लुगू पहाड़ की तलहटी में नक्सलियों ने दी फिर दस्तक         आज संपादक इवेंट मैनेजर है तो तब वो हुआ करता था बनिये का मुनीम या मंत्र पढ़ता पंडत....         किसी को होश नहीं कि वह किसे गाली दे रहा है...          जेवीएम विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी से की मुलाकात         नीतीश का दो टूक : प्रशांत किशोर और पवन वर्मा जिस पार्टी में जाना चाहे जाए, मेरी शुभकामना         लोहरदगा में कर्फ्यू :  CAA के समर्थन में निकाले गए जुलूस पर पथराव, कई लोग घायल         पेरियार विवाद : क्या तमिल सुपरस्टार रजनीकांत की बातें सही हैं जो उन्होंने कही थी ?         पत्‍थलगड़ी आंदोलन का विरोध करने पर हुए हत्‍याकांड की होगी एसआईटी जांच, सीएम हेमंत सोरेन दिए आदेश         एक ही रास्ता...         अब तानाजी के वीडियो में छेड़छाड़ कर पीएम मोदी को दिखाया शिवाजी         सरकार का नया दांव : जनसंख्या नियंत्रण कानून...         हम भारत के सामने बहुत छोटे हैं, बदला नहीं ले सकते : महातिर मोहम्मद         तीस साल बीतने के बावजूद कश्मीरी पंडितों की सुध लेने वाला कोई नहीं, सरकार की प्राथमिकता में कश्मीर के अन्य मुद्दे         हेमंत सोरेन को मिला 'चैम्पियन ऑफ चेंज' अवॉर्ड         जेपी नड्डा भाजपा के नए अध्यक्ष, मोदी बोले-स्कूटर पर साथ घूमे         नए दशक में देश के विकास में सबसे ज्यादा 10वीं-12वीं के छात्रों की होगी भूमिका : मोदी         CAA को लेकर केरल में राज्यपाल और राज्य सरकार में ठनी         इतिहास तो पूछेगा...         सेखुलरी माइंड गेम...         अफसरों की करतूत : पत्नियों की पिकनिक के लिए बंद किया पतरातू रिजाॅर्ट         गुरूवर रविंद्रनाथ टैगोर की मशहूर कविता "एकला चलो रे" की राह पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव         पत्रकारिता में पद्मश्रियों और राज्यसभा की सांसदी के कलुष...         विकास का मॉडल देखना हो तो चीन को देखिए...        

शराबबंदी में शराब का नशा

Bhola Tiwari May 13, 2019, 11:11 AM IST टॉप न्यूज़
img

अजय श्रीवास्तव

अभी भी गाँवों में दबंगों की गुंडई सर चढ़कर बोलती है,इसका ताजातरीन उदाहरण बिहार के कटिहार जिले के बरझल्ला गाँव का है।एक युवक की बारात बरझल्ला गाँव आती है,द्वारचार वगैरह की रश्म शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो जाती है मगर उसके बाद उसी गाँव के कुछ दबंग और मनबढ़ युवक शादी समारोह में पहुंच कर बवाल काटने लगते हैं।शराब के नशे में धुत्त तकरीबन आठ दस युवक लड़की के पिता से कहते हैं कि अगर खाने में मटन नहीं बनेगा तो ये शादी नहीं होगी।लड़की का बाप अपनी गरीबी का हवाला देकर कहता है कि मेरी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है ये आपलोग अच्छी तरह से जानते हैं मगर मनबढ़ लड़के उनकी बात को अनसुना कर देते हैं और लड़की के पिता को धक्का देकर गिरा देते हैं।घराती के साथ बारात पक्ष के लोग भी इसका विरोध करते हैं तब उनकी नंगई चरम पे पहुंच जाती है।वे लाठी डंडे से बारातियों और घरातियों की जमकर पिटाई करने लगते हैं।खबर तो ये भी है कि दबंगों ने दूल्हे और दुल्हन की भी पिटाई की।शादी समारोह में अफरातफरी मच जाती है और लोग भागकर गाँव के बाहर चले जाते हैं।दबंगों का तांडव घंटे भर चलता है तब पुलिस को सूचना दी जाती है।

पुलिस के पहरे में शादी किसी तरह संपन्न कराई जाती है।दुल्हन के पिता की तहरीर पर सभी दंबगों को नामजद किया जाता है और एफआईआर दर्ज कराई जाती है।

बारात में मारपीट के बहुत किस्से सामने आते हैं मगर इस तरह का पहला मामला देखने को मिला है।पुलिस ये भी पता लगा रही है कि ये आपसी रंजिश का तो मामला नहीं है?जो भी हो गाँव में जब बारात आती है तो वह पूरे गाँव की इज्ज़त होती है।इन दबंगों को शराब के नशे में ये भी पता नहीं चला कि इससे गाँव की कितनी बदनामी होगी।

बिहार में शराबबंदी लागू है मगर अभी भी शराब वहाँ आसानी से उपलब्ध है।बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अपनी शराबबंदी नीति की फिर से समीक्षा करने की जरूरत है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links