ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : सर्दी के मौसम में लद्दाख में मोर्चाबंदी के लिए सेना पूरी तरह तैयार          “LAC पर चीन को भारत के साथ मिलकर सैनिकों की वापसी प्रक्रिया पर काम करना चाहिए” :  विदेश मंत्रालय प्रवक्ता         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर पहुंचे सेनाध्यक्ष ने सुरक्षा स्थिति का लिया जायजा, उपराज्यपाल से भी की मुलाकात         BIG NEWS : 'मैं भी मारा जाऊंगा'         एक ऐसा मंदिर जहां पार्वतीजी होम क्वारैंटाइन में और महादेव कर रहे हैं इंतजार         अदृश्य भक्त करता है रोज भगवान शिव की आराधना , कौन है वो ?         BIG NEWS : सुरक्षाबलों ने जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी ठिकाना ढूंढ निकाला, भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद         BIG NEWS : “भारत बड़ा और कड़ा क़दम उठाने के लिए तैयार”: राजनाथ सिंह         BIG NEWS : श्रीनगर एनकाउंटर में तीन आतंकियों को मार गिराया         इलाहाबाद में एक मंदिर ऐसा, जहां लेटे हैं हनुमान जी         यहां भगवान शिव के पद चिन्ह है मौजूद         BIG NEWS : दोनों देशों की सेनाओं के बीच 20 दिन में तीन बार हुई फायरिंग         BIG NEWS : मॉस्को में विदेश मंत्रियों की मुलाकात से पहले पैंगोंग सो झील के किनारे चली थी 100-200 राउंड गोलियां- मीडिया रिपोर्ट         BIG NEWS : पाकिस्तानी सेना ने सुंदरबनी सेक्टर में की गोलाबारी, 1 जवान शहीद         CBI को दिशा सलियान की मौत की गुत्थी सुलझाने वाले कड़ी की तलाश !         हर साल बढ़ जाती है इस शिवलिंग की लंबाई, कहते हैं इसके नीचे छिपी है मणि         कलयुग में यहां बसते हैं भगवान विष्णु...         BIG NEWS : देश से बाहर प्याज निर्यात पर प्रतिबंध         BIG NEWS :  LAC पर हालात बिल्कुल अलग, हम हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार : राजनाथ सिंह          BIG NEWS : गांदरबल में हिज्बुल मॉड्यूल का पर्दाफाश, हथियारों के साथ 3 हिज्बुल आतंकी गिरफ्तार         भाषा के सवाल को अनाथ छोड़ दिया गया है ...         कैलाश पर्वत श्रृंखला के पहाडि़यों पर कब्जा करने के बाद उमंग में नहा गए सेना के जवान         शिव के डमरू से बंधे हैं स्वरनाद और सारे शब्द          BIG NEWS : कैलाश पर्वत-श्रृंखला पर भारत का कब्जा         BIG NEWS : चीन कर रहा भारत की जासूसी, लिस्ट में पीएम नरेंद्र मोदी समेत कई बड़ी हस्तियों के नाम शामिल         सुरंगों के जरिए आतंकवादी कर रहे हैं घुसपैठ, हथियार सप्लाई के लिए पाकिस्तान कर रहा ड्रोन का इस्तेमाल : डीजीपी दिलबाग सिंह         BIG NEWS : दिल्ली दंगे मामले में पुलिस की बड़ी कार्रवाई, JNU के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद गिरफ्तार         भगवान शिव के कैलाश पर्वत पर आज भी होती है ॐ’ की प्रतिध्वनि          BIG NEWS : हजारीबाग सेंट्रल जेल से म्यांमार का कैदी मोहम्मद अब्दुल्ला फरार          बस पढ़िए खूब पढ़िए, जहाँ पाइए वहां पढ़िए, अध्ययन का कोई विकल्प नहीं          अफसोस में दम घुट गया एक राजनीति का...         BIG NEWS : रघुवंश प्रसाद की मौत पर लालू दुखी, बोले- "प्रिय रघुवंश बाबू ! ये आपने क्या किया?          BIG NEWS : नहीं रहे रघुवंश प्रसाद सिंह, दिल्‍ली के ऐम्स में ली अंतिम सांस         BIG NEWS : कश्मीर में POK से आतंकी संगठन भेज रहे हैं हथियार, पुंछ में 2 OGWS गिरफ्तार         शिव के पास तीन खास अस्त्र...        

BIG NEWS : छोटे से शहर का बड़ा खिलाड़ी एमएस धोनी ने अचानक लिया संन्यास, एक दिलचस्प सफर

Bhola Tiwari Aug 15, 2020, 9:33 PM IST टॉप न्यूज़
img


मानिक बोस

रांची : भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह ने धोनी ने इंटरनेशल क्रिकेट से संन्यास का एलान कर दिया है। हालांकि, वे आईपीएल में खेलते रहेंगे। अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में उन्होंने सपोर्ट के लिए अपने फैंस का धन्यवाद किया और कहा कि उन्हें रिटायर मान लिया जाए।

23 दिसंबर 2004 को बांग्लादेश के खिलाफ उन्होंने अपने वनडे करियर की शुरूआत की थी। आखिरी वनडे उन्होंने 9 जून 2019 को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था। अपने करियर का पहला टेस्ट मैच उन्होंने 2 दिसंबर 2005 को श्रीलंका के खिलाफ खेला था. आखिरी टेस्ट मैच साल 2014 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ था। धोनी ने अपने इंस्टाग्राम पर लिखा, 'अब तक आपके प्यार और सहयोग के लिए धन्यवाद। शाम 07:29 मिनट से मुझे रिटायर्ड समझिए।' इससे एक दिन पहले ही वह यूएई में होने वाली इंडियन प्रीमियर लीग के लिये चेन्नई सुपर किंग्स टीम से जुड़ने चेन्नई पहुंचे थे।


भारत के लिये उन्होंने 350 वनडे, 90 टेस्ट और 98 टी20 इंटरनैशनल मैच खेले। करियर के आखिरी चरण में वो खराब फॉर्म से जूझते रहे जिससे उनके भविष्य को लेकर अटकलें लगाई जाती रहीं। उन्होंने वनडे क्रिकेट में पांचवें से सातवें नंबर के बीच में बल्लेबाजी के बावजूद 50 से अधिक की औसत से 10773 रन बनाए। टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने 38.09 की औसत से 4876 रन बनाये और भारत को 27 से ज्यादा जीत दिलाईं। आंकड़ों से हालांकि धोनी के करियर ग्राफ को नहीं आंका जा सकता। धोनी की कप्तानी, मैच के हालात को भांपने की क्षमता और विकेट के पीछे जबर्दस्त चुस्ती ने पूरी दुनिया के क्रिकेटप्रेमियों को दीवाना बना दिया था। वो कभी जोखिम लेने से पीछे नहीं हटे। इसलिए 2007 टी20 विश्व कप का आखिरी ओवर जोगिंदर शर्मा जैसे नये गेंदबाज को दिया जो 2011 वनडे विश्व कप के फाइनल में फार्म में चल रहे युवराज सिंह से पहले बल्लेबाजी के लिए आए। दोनों बार भारत ने खिताब जीता।

छोटे शहर का महान खिलाड़ी

महेंद्र सिंह धोनी का जन्म झारखण्ड के रांची में एक मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ। उनके पिता का नाम पान सिंह व माता श्रीमती देवकी देवी है। शुरुआत से ही धोनी की खेल में रुची थी। जिसकी वजह से वो अपने स्कूल की फुटबॉल टीम में गोलकीपर भी थे। उन्हें लोकल क्रिकेट क्लब में क्रिकेट खेलने के लिए उनके फुटबॉल कोच ने भेजा था। इसके बाद धोनी ने अपने विकेट-कीपिंग कौशल से सबको प्रभावित किया और कमांडो क्रिकेट क्लब के नियमित विकेटकीपर भी बने। क्रिकेट क्लब में उनके अच्छे प्रदर्शन के कारण उन्हें वीनू मांकड़ ट्राफी अंडर सिक्सटीन चैंपियनशिप में चुने गए जहां उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया। 


घरेलू क्रिकेट में बिहार के लिए डेब्यू

धोनी को साल 1999-2000 में रणजी ट्रॉफी में बिहार की टीम के लिए डेब्यू करने का मौका मिला। 18 साल की उम्र में ही उन्होंने अपने डेब्यू मैच में शानदार 68 रनों की पारी खेली। इस सीज़न में उन्होंने 5 मैचों में 283 रन बनाकर सबको प्रभावित भी किया। इसके बाद साल 2000-01 में उन्होंने अपना पहला शतक जमाया।

इसके बाद झारखंड के लिए 2002-03 सीज़न में तीन अर्धशतकों के साथ देवधर ट्रॉफी में दो अर्धशतकों के साथ उन्हें अलग पहचान मिली। देवधर ट्रॉफी के 4 मैचों में 244 रनों के साथ उनकी अलग पहचान बनी। उन्होंने दिलीप ट्रॉफी फाइनल में तो दीपदास गुप्ता के ऊपर टीम में चुना गया था। इसके हाद उन्हें नेशनल क्रिकेट अकेडमी में भेजा गया।

2003-04 के सीज़न में उनके कड़े प्रयास के कारण धोनी को पहचान मिली। खास कर वनडे मैच में उन्हें जिम्बाब्वे व केन्या के लिए भारत ए टीम में चुन लिया गया। साल 2004 में धोनी को बांग्लादेश के खिलाफ गांगुली की टीम में चुन लिया गया। इसके बाद धोनी ने पीछे पलटकर ही नहीं देखा।

साल 2005 में उन्हें श्रीलंका के खिलफ टेस्ट सीरीज़ में जगह मिली। जबकि 2006 तक आते-आते वो भारतीय टीम का प्रमुख चेहरा बन चुके थे। 2006 में वो भारतीय टी20 टीम का हिस्सा बने।

धोनी ने भारत के लिए कुल 350 वनडे मैचों में 10773 रन बनाए हैं, जबकि टेस्ट क्रिकेट में उनके नाम 4876 रन हैं। वहीं टी 20 के किंग के रूप में पहचाने जाने वाले धोनी ने इस फॉर्मेट में 1617 रन बनाए हैं। पहली बार धोनी को साल 2007 में टी20 टीम की कप्तानी सौंपी गई और उन्होंने युवा खिलाड़ियों से सजी टीम के साथ टी20 खिताब को जीतकर इतिहास रच दिया। इसके बाद धोनी को वनडे और टेस्ट टीम की कमान भी सौंप दी गई। धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम ने साल 2011 का विश्वकप जीता और टेस्ट में नंबर एक भी बने। हालांकि 2015 के विश्वकप में धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गई। 

धोनी ने साल 2014 में ऑस्ट्रेलिया में भारतीय टीम की हार के बाद टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहा था। जबकि 2016 में उन्होंने विराट कोहली को भारतीय टीम की वनडे और टी20 कमान सौंप दी थी। धोनी अब भी भारत की वनडे और टी20 टीम में खेल रहे हैं, जबकि टेस्ट को वो पहले ही अलविदा बोल चुके हैं।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links