ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : सर्दी के मौसम में लद्दाख में मोर्चाबंदी के लिए सेना पूरी तरह तैयार          “LAC पर चीन को भारत के साथ मिलकर सैनिकों की वापसी प्रक्रिया पर काम करना चाहिए” :  विदेश मंत्रालय प्रवक्ता         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर पहुंचे सेनाध्यक्ष ने सुरक्षा स्थिति का लिया जायजा, उपराज्यपाल से भी की मुलाकात         BIG NEWS : 'मैं भी मारा जाऊंगा'         एक ऐसा मंदिर जहां पार्वतीजी होम क्वारैंटाइन में और महादेव कर रहे हैं इंतजार         अदृश्य भक्त करता है रोज भगवान शिव की आराधना , कौन है वो ?         BIG NEWS : सुरक्षाबलों ने जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी ठिकाना ढूंढ निकाला, भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद         BIG NEWS : “भारत बड़ा और कड़ा क़दम उठाने के लिए तैयार”: राजनाथ सिंह         BIG NEWS : श्रीनगर एनकाउंटर में तीन आतंकियों को मार गिराया         इलाहाबाद में एक मंदिर ऐसा, जहां लेटे हैं हनुमान जी         यहां भगवान शिव के पद चिन्ह है मौजूद         BIG NEWS : दोनों देशों की सेनाओं के बीच 20 दिन में तीन बार हुई फायरिंग         BIG NEWS : मॉस्को में विदेश मंत्रियों की मुलाकात से पहले पैंगोंग सो झील के किनारे चली थी 100-200 राउंड गोलियां- मीडिया रिपोर्ट         BIG NEWS : पाकिस्तानी सेना ने सुंदरबनी सेक्टर में की गोलाबारी, 1 जवान शहीद         CBI को दिशा सलियान की मौत की गुत्थी सुलझाने वाले कड़ी की तलाश !         हर साल बढ़ जाती है इस शिवलिंग की लंबाई, कहते हैं इसके नीचे छिपी है मणि         कलयुग में यहां बसते हैं भगवान विष्णु...         BIG NEWS : देश से बाहर प्याज निर्यात पर प्रतिबंध         BIG NEWS :  LAC पर हालात बिल्कुल अलग, हम हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार : राजनाथ सिंह          BIG NEWS : गांदरबल में हिज्बुल मॉड्यूल का पर्दाफाश, हथियारों के साथ 3 हिज्बुल आतंकी गिरफ्तार         भाषा के सवाल को अनाथ छोड़ दिया गया है ...         कैलाश पर्वत श्रृंखला के पहाडि़यों पर कब्जा करने के बाद उमंग में नहा गए सेना के जवान         शिव के डमरू से बंधे हैं स्वरनाद और सारे शब्द          BIG NEWS : कैलाश पर्वत-श्रृंखला पर भारत का कब्जा         BIG NEWS : चीन कर रहा भारत की जासूसी, लिस्ट में पीएम नरेंद्र मोदी समेत कई बड़ी हस्तियों के नाम शामिल         सुरंगों के जरिए आतंकवादी कर रहे हैं घुसपैठ, हथियार सप्लाई के लिए पाकिस्तान कर रहा ड्रोन का इस्तेमाल : डीजीपी दिलबाग सिंह         BIG NEWS : दिल्ली दंगे मामले में पुलिस की बड़ी कार्रवाई, JNU के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद गिरफ्तार         भगवान शिव के कैलाश पर्वत पर आज भी होती है ॐ’ की प्रतिध्वनि          BIG NEWS : हजारीबाग सेंट्रल जेल से म्यांमार का कैदी मोहम्मद अब्दुल्ला फरार          बस पढ़िए खूब पढ़िए, जहाँ पाइए वहां पढ़िए, अध्ययन का कोई विकल्प नहीं          अफसोस में दम घुट गया एक राजनीति का...         BIG NEWS : रघुवंश प्रसाद की मौत पर लालू दुखी, बोले- "प्रिय रघुवंश बाबू ! ये आपने क्या किया?          BIG NEWS : नहीं रहे रघुवंश प्रसाद सिंह, दिल्‍ली के ऐम्स में ली अंतिम सांस         BIG NEWS : कश्मीर में POK से आतंकी संगठन भेज रहे हैं हथियार, पुंछ में 2 OGWS गिरफ्तार         शिव के पास तीन खास अस्त्र...        

राज्य सरकार के नए प्रतीक चिन्ह का राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने किया अनावरण, 15 अगस्त से हो जाएगा लागू

Bhola Tiwari Aug 14, 2020, 4:04 PM IST राज्य
img


मानिक बोस

रांची : झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने शुक्रवार को झारखंड सरकार के नए प्रतीक चिन्ह (लोगो) को जारी किया। नया लोगो 15 अगस्त से लागू होगा। प्रतीक चिन्ह की वृताकार परिधि में हाथी, स्थानीय उत्सव, पलाश के फूलों और केंद्र में अशोक स्तंभ को स्थान दिया गया है। प्रतीक चिन्ह के ऊपरी भाग में झारखंड सरकार और नीचे गवर्नमेंट ऑफ झारखंड लिखा गया है। अनावरण के लिए मोरहाबादी स्थित आर्यभट्ट सभागार में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी मौजूद रहे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू, विधानसभा अध्यक्ष रबिंद्र नाथ महतो, राज्यसभा सांसद शिबू सोरेन को राज्य का प्रतीक चिन्ह की तस्वीर भेंट स्वरूप दी।

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि देश की आजादी में झारखण्ड के भूमि पुत्रों ने लंबा संघर्ष किया। हजारों वीरों ने अपनी कुर्बानी दी। आजादी के बाद से नए भारत के नवनिर्माण में झारखंड महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। यहां के श्रमिक अपने श्रम से अन्य राज्यों में समृद्धि ला रहें हैं। आदिवासी बहुल यह राज्य सदैव सामूहिकता में यकीन रखता है। राज्य का नया प्रतीक चिन्ह बदलाव का सारथी है। प्रतीक चिन्ह झारखण्ड की भावना को प्रतिबिम्बित करता है।

राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि यह प्रतीक चिन्ह राज्य की पहचान और स्वाभिमान से जुड़ा है। इसमें राज्य की संस्कृति, प्राकृतिक खनिज संपदा को समाहित किया गया है, जो अद्भुत है। उन्होंने कहा कि पूरा विश्व आज कोरोना संक्रमण के दौर से गुजर रहा है। राज्य में भी संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है। ऐसे में जांच की गति को और बढ़ाना होगा, जिससे कम्युनिटी ट्रांसमिशन को रोका जा सके। मैं कोरोना योद्धाओं को नमन करती हूं, सम्मान करती हूं। जिनके सार्थक प्रयास से हम कोरोना के विरुद्ध लड़ाई लड़ रहें हैं।


 हेमंत सोरेन ने 29 दिसंबर 2019 को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद अपनी कैबिनेट में राज्य चिह्न बदलने का निर्णय लिया था। 205 दिनों के बाद कैबिनेट ने नए राज्य चिह्न बदलने पर मुहर लगाई।

अशोक स्तंभ- राष्ट्र का प्रतीक चिन्ह होने के साथ राज्य की भी संप्रभुता का वाहक। इस चिन्ह को रेखांकित करने का तात्पर्य स्पष्ट। झारखण्ड भी है देश की समृद्धि में भागीदार। झारखण्ड के जीवन दर्शन को इसमें समेटा गया है।

झारखण्ड का लोक जीवन व संस्कृति- झारखण्ड की समृद्ध एवं अद्भुत सांस्कृतिक विरासत, सदियों पुरानी परंपरा, वाद्ययंत्र, गीत और नृत्य की अमिट छाप को लोगों के जेहन में प्रतिबिम्बित करता है।

पलाश के फूल- राज्य का राजकीय पुष्प। इसके सुर्ख लाल रंग के फूल झारखण्ड के सौंदर्य की गाथा कहते हैं। लाल रंग क्रांति का प्रतीक भी है जो यहां के लोगों के संघर्ष को दर्शाता है।

हरा रंग- झारखण्ड की हरियाली से आच्छादित धरा व वन संपदा की परिपूर्णता को दर्शाता है। यह खुशहाली और समृद्धि का प्रतीक।

हाथी- राज्य के राजकीय पशु हाथी को दिखाया गया है। यह राज्य की अलौकिक प्राकृतिक संपदा और समृद्धि का घोतक है। हाथी अनुशासन प्रिय भी होते हैं। ऐसे ही यहां के लोग भी अनुशासन प्रिय हैं। हां छेड़छाड़ करने की स्थिति में संघर्ष में भी पीछे नहीं रहते।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links