ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : बडगाम में बीजेपी नेता की गोली मारकर हत्या         BIG NEWS : DRDO ने किया लेजर गाइडेड एंटी टैंक मिसाइल का सफल परीक्षण         BIG NEWS : लॉकडाउन में चर्चित ज्योति पासवान पर बनने वाली फिल्म खटाई में, फिल्म निर्माता पर केस         मशहूर ब्रिटिश कंपनी बेब्ले एंड स्काउट उत्तर प्रदेश में बनाएगी हथियार          BIG NEWS : भारत अमेरिका से खरीदेगा 30 रीपर ड्रोन          शिवलिंग के अंकुर से निकलती हैं अन्‍य देवी-देवताओं की आकृतियां, जिनका रहस्य वैज्ञानिक भी नहीं खोज पाए         गढ़मुक्तेश्वर में हुआ था महाभारत में मारे गए योद्धाओं का पिंडदान         पाकिस्तान ने पुंछ जिले के तीन सेक्टरों में दागे गोले, भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई         BIG NEWS : भारत ने स्वदेशी हाई-स्पीड अभ्यास ड्रोन का सफल परीक्षण किया         BIG NEWS : चीन ने भारत से सटी सीमा के नजदीक 13 नए सैन्य ठिकाने बनाए          पूरब का सोमनाथ है ये मंदिर, एक ही पत्थर से बना है विश्व का सबसे बड़ा शिवलिंग         BIG NEWS : राशन दुकानदार को अपराधियों ने मारी गोली, हालत गंभीर रिम्स रेफर         BIG NEWS : भारत-चीन के बीच 13 घंटे तक चली कोर कमांडर स्तर की वार्ता, तनाव कम करने को लेकर हुई बातचीत         BIG NEWS : पाकिस्तान ने अखनूर सेक्टर में ड्रोन से भेजे हथियार, सुरक्षाबलों ने किया जब्त         देवेंद्र सिंह केस में टेरर फंडिंग जांच : NIA की टीम ने बारामूला में कई जगहों पर की छापेमारी         BIG NEWS : बडगाम एनकाउंटर में 1 आतंकी ढेर, ऑपरेशन जारी         रोजाना कुछ देर के लिए गायब हो जाता है यह शिव मंदिर         झारखंड हाईकोर्ट का बड़ा फैसला : 50 प्रतिशत से अधिक आरक्षण देने पर झारखंड की नियोजन नीति रद्द         अमशीपोरा एनकाउंटर:आफस्पा कानून का खूलेआम दुरूपयोग         BIG NEWS : कृषि बिल पर इतना हंगामा क्यों बरपा !         BIG NEWS : भिवंडी में तीन मंजिला इमारत ढहने से 10 लोगों की मौत          BIG NEWS : लद्दाख में 20 से ज्यादा चोटियों पर भारत की पकड़ मजबूत          मां लक्ष्मी का ऐसा मंदिर, जहां एक सिक्के से होती है हर इच्छा पूरी         इस शिवलिंग में हैं एक लाख छिद्र, यहां छुपा है पाताल का रास्ता         विपक्ष करता रहा हंगामा और मोदी सरकार ने राज्यसभा में भी पास कराए कृषि बिल, किसानों को कहीं भी फसल बेचने की आजादी         पायल घोष ने अनुराग कश्यप पर लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप         BIG NEWS : एक पत्रकार, चीनी महिला और नेपाली नागरिक गिरफ्तार, चीन को खुफिया जानकारी देने का आरोप         जम्मू कश्मीर में बड़े आर्थिक पैकेज की घोषणा : बिजली-पानी के बिलों पर एक साल तक 50 प्रतिशत की छूट का ऐलान         ऐसा मंदिर जहां चूहों को भोग लगाने से प्रसन्न होती है माता         यहां भोलेनाथ ने पांडवों को दिए शिवलिंग के रूप में दर्शन !         BIG NEWS : राजौरी में लश्कर-ए-तैयबा के 3 आतंकी गिरफ्तार, 1 लाख रुपये समेत AK-56 राइफल बरामद         BIG NEWS : आतंकी संगठन अल-कायदा मॉड्यूल का  भंडाफोड़, 9 आतंकी गिरफ्तार         BIG NEWS : पश्चिम बंगाल और केरल में एनआईए की छापेमारी, अल-कायदा के नौ आतंकी गिरफ्तार         BIG NEWS : दिशा सालियान के साथ चार लोगों ने कियारेप !         अनिल धस्माना को NTRO का बनाया गया अध्यक्ष         जहां शिवलिंग पर हर बारह साल में गिरती है बिजली         BIG NEWS : पाकिस्तान की नई चाल, गिलगित-बल्तिस्तान को प्रांत का दर्जा देकर चुनाव कराने की तैयारी         BIG NEWS : सहायक पुलिस कर्मियों पर लाठीचार्ज, कई घायल, आंसू गैस के गोले छोड़े        

BIG NEWS : संदेह के घेरे में रूस की कोरोना वैक्सीन !

Bhola Tiwari Aug 13, 2020, 8:46 AM IST टॉप न्यूज़
img

नई दिल्ली : दुनियाभर में रूसी वैक्सीन स्पुतनिक-वी पर सवाल उठ रहे हैं। केवल दो महीने के ट्रायल के बाद रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने दावा किया है कि उनके वैज्ञानिकों ने कोरोना वायरस की ऐसी वैक्सीन तैयार कर ली है, जो कोरोना वायरस के ख़िलाफ़ कारगर है। गेमालेया इंस्टीट्यूट में विकसित इस वैक्सीन के बारे में उन्होंने कहा कि उनकी बेटी को भी यह टीका लगा है। 11 अगस्त को दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन के रजिस्ट्रेशन के दौरान पेश किए दस्तावेजों से कई खुलासे हुए हैं। दस्तावेजों के मुताबिक, वैक्सीन कितनी सुरक्षित है, इसे जानने के लिए पूरी क्लीनिकल स्टडी हुई ही नहीं।

डेली मेल की खबर के मुताबिक, ट्रायल के नाम पर 42 दिन में मात्र 38 वॉलंटियर्स को वैक्सीन की डोज दी गई। ट्रायल के तीसरे चरण पर भी कोई जानकारी सामने नहीं आई है।


रूसी सरकार का दावा था कि वैक्सीन के कोई साइड इफेक्ट नहीं दिखे, जबकि दस्तावेज बताते हैं कि 38 वॉलंटियर्स में 144 तरह के साइड इफेक्ट देखे गए हैं। ट्रायल के 42 वें दिन भी 38 में से 31 वॉलंटियर्स इन साइडइफेक्ट से जूझते दिखे। वॉलंटियर्स को डोज लेने के बाद कई तरह दिक्कतें हुईं। 

हालाँकि रूस ने जिस तेज़ी से कोरोना वैक्सीन विकसित करने का दावा किया है, उसको देखते हुए वैज्ञानिक जगत में इसको लेकर चिंताएँ भी जताई जा रही हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन समेत दुनिया के कई देशों के वैज्ञानिक अब खुल कर इस बारे में कह रहे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि उसके पास अभी तक रूस के ज़रिए विकसित किए जा रहे कोरोना वैक्सीन के बारे में जानकारी नहीं है कि वो इसका मूल्यांकन करें।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अंतर्गत आने वाले पैन-अमेरिकन हेल्थ ऑर्गनाइजेशन के सहायक निदेशक जरबास बारबोसा ने कहा की कहा जा रहा है कि अब ब्राज़ील वैक्सीन बनाना शुरू करेगा। लेकिन जब तक और ट्रायल पूरे नहीं हो जाते ये नहीं किया जाना चाहिए।

उनका कहना था की वैक्सीन बनाने वाले किसी को भी इस प्रक्रिया का पालन करना है, जो ये सुनिश्चित करेगा कि वैक्सीन सुरक्षित है और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने उसकी सिफ़ारिश की है। पिछले हफ़्ते विश्व स्वास्थ्य संगठन ने रूस से आग्रह किया था कि वो कोरोना के ख़िलाफ़ वैक्सीन बनाने के लिए अंतरराष्ट्रीय गाइड लाइन का पालन करे।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के तहत जिन छह वैक्सीन का तीसरे चरण का ट्रायल चल रहा हैं, उनमें रूस की वैक्सीन का ज़िक्र नहीं है। विश्व के दूसरे देश इसलिए भी रूस की वैक्सीन को लेकर थोड़े आशंकित हैं।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links