ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : सर्दी के मौसम में लद्दाख में मोर्चाबंदी के लिए सेना पूरी तरह तैयार          “LAC पर चीन को भारत के साथ मिलकर सैनिकों की वापसी प्रक्रिया पर काम करना चाहिए” :  विदेश मंत्रालय प्रवक्ता         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर पहुंचे सेनाध्यक्ष ने सुरक्षा स्थिति का लिया जायजा, उपराज्यपाल से भी की मुलाकात         BIG NEWS : 'मैं भी मारा जाऊंगा'         एक ऐसा मंदिर जहां पार्वतीजी होम क्वारैंटाइन में और महादेव कर रहे हैं इंतजार         अदृश्य भक्त करता है रोज भगवान शिव की आराधना , कौन है वो ?         BIG NEWS : सुरक्षाबलों ने जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी ठिकाना ढूंढ निकाला, भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद         BIG NEWS : “भारत बड़ा और कड़ा क़दम उठाने के लिए तैयार”: राजनाथ सिंह         BIG NEWS : श्रीनगर एनकाउंटर में तीन आतंकियों को मार गिराया         इलाहाबाद में एक मंदिर ऐसा, जहां लेटे हैं हनुमान जी         यहां भगवान शिव के पद चिन्ह है मौजूद         BIG NEWS : दोनों देशों की सेनाओं के बीच 20 दिन में तीन बार हुई फायरिंग         BIG NEWS : मॉस्को में विदेश मंत्रियों की मुलाकात से पहले पैंगोंग सो झील के किनारे चली थी 100-200 राउंड गोलियां- मीडिया रिपोर्ट         BIG NEWS : पाकिस्तानी सेना ने सुंदरबनी सेक्टर में की गोलाबारी, 1 जवान शहीद         CBI को दिशा सलियान की मौत की गुत्थी सुलझाने वाले कड़ी की तलाश !         हर साल बढ़ जाती है इस शिवलिंग की लंबाई, कहते हैं इसके नीचे छिपी है मणि         कलयुग में यहां बसते हैं भगवान विष्णु...         BIG NEWS : देश से बाहर प्याज निर्यात पर प्रतिबंध         BIG NEWS :  LAC पर हालात बिल्कुल अलग, हम हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार : राजनाथ सिंह          BIG NEWS : गांदरबल में हिज्बुल मॉड्यूल का पर्दाफाश, हथियारों के साथ 3 हिज्बुल आतंकी गिरफ्तार         भाषा के सवाल को अनाथ छोड़ दिया गया है ...         कैलाश पर्वत श्रृंखला के पहाडि़यों पर कब्जा करने के बाद उमंग में नहा गए सेना के जवान         शिव के डमरू से बंधे हैं स्वरनाद और सारे शब्द          BIG NEWS : कैलाश पर्वत-श्रृंखला पर भारत का कब्जा         BIG NEWS : चीन कर रहा भारत की जासूसी, लिस्ट में पीएम नरेंद्र मोदी समेत कई बड़ी हस्तियों के नाम शामिल         सुरंगों के जरिए आतंकवादी कर रहे हैं घुसपैठ, हथियार सप्लाई के लिए पाकिस्तान कर रहा ड्रोन का इस्तेमाल : डीजीपी दिलबाग सिंह         BIG NEWS : दिल्ली दंगे मामले में पुलिस की बड़ी कार्रवाई, JNU के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद गिरफ्तार         भगवान शिव के कैलाश पर्वत पर आज भी होती है ॐ’ की प्रतिध्वनि          BIG NEWS : हजारीबाग सेंट्रल जेल से म्यांमार का कैदी मोहम्मद अब्दुल्ला फरार          बस पढ़िए खूब पढ़िए, जहाँ पाइए वहां पढ़िए, अध्ययन का कोई विकल्प नहीं          अफसोस में दम घुट गया एक राजनीति का...         BIG NEWS : रघुवंश प्रसाद की मौत पर लालू दुखी, बोले- "प्रिय रघुवंश बाबू ! ये आपने क्या किया?          BIG NEWS : नहीं रहे रघुवंश प्रसाद सिंह, दिल्‍ली के ऐम्स में ली अंतिम सांस         BIG NEWS : कश्मीर में POK से आतंकी संगठन भेज रहे हैं हथियार, पुंछ में 2 OGWS गिरफ्तार         शिव के पास तीन खास अस्त्र...        

‘राम भक्त’बनी‘कांग्रेस’

Bhola Tiwari Aug 12, 2020, 7:09 PM IST राज्य
img


रमेश कुमार रिपु

रायपुर। : अयोध्या में राम मंदिर के भूमिपूजन से कांग्रेस बैक फुट में आ गई है। अपनी सियासी लाज बचाने कांग्रेस राम भक्त बन गई है। कमलनाथ ने हनुमान चालीसा का पाठ अपने घर में कराया, वहीं भूपेश बघेल ने राम वन गमन पथ को पर्यटन के रूप में विकसित करने और माता कौशल्या की जन्म भूमि चंदखुरी में भव्य मंदिर बनाने की घोषणा की। सवाल है कि राम भक्त बनी कांग्रेस को क्या इसका सियासी लाभ मिल पाएगा? क्यों कि राम के अस्तित्व को सुप्रीम कोर्ट में नकाराने वाली कांग्रेस को यह बात समझ में आ गई है कि गोस्वामी तुलसी दास सही कह गये थे कि, कालयुग में राम का नाम ही वैतरणी पार लगाएगा। कांग्रेस इसे कुछ ज्यादा ही गंभीरता से ले ली। कांग्रेसी राम भक्त बन गये, इस आशा से कि उनकी सियासी वैतरणी पार लग जाएगी।     


दरअसल कांग्रेस को लगता है कि बीजेपी राममंदिर निर्माण को मध्यप्रदेश के उपचुनाव, बिहार और पश्चिम बंगाल के चुनाव में कैश करेगी। इसलिए वह साफ्ट हिन्दुत्व कार्ड खेलने का मन बना ली। अयोध्या में प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी की मौजूदगी में होने वाले भूमि पूजन के कार्यक्रम से पहले कमलनाथ ने घर पर राम दरबार सजा लिया। कांग्रेस कार्यकत्र्ताओं से आव्हान किया कि वे हुनमान चालीसा का पाठ करें। और प्रदेश के विकास और कोरोना से मुक्ति की कामना करें। चंूकि मध्यप्रदेश में 27 सीटों में उपचुनाव होने हैं। मध्य प्रदेश की 27 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होना है। इनमें 16 सीटें ग्वालियर-चंबल क्षेत्र की भी हैं। जहां राममंदिर मुद्दा असर डालता रहा है। इन क्षेत्रों में जातिगत समीकरण पहले पायदान पर रहता है। कमलनाथ ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतने के लिए तमाम चालें चल रहे हैं। कमलनाथ ने कहा कि,‘हिन्दुओं की आस्था का सवाल है। इसलिए हम सभी को राम मंदिर के निर्माण का स्वागत करना चाहिए’’। अपने इस बयान से वे यही बताना चाहिते हैं कि कांग्रेस अब हिन्दू हो गई है। दरअसल चुनाव में मात खाने से बचने के लिए कांग्रेस राम भक्त बन रही है। विनायक दामोदर सावरकर ने कहा था कि, आने वाले समय में कांग्रेसवादी कोट पर जनेऊ पहनकर संघ के सिद्धातों का प्रचार करने के लिए बाध्य हो जाएंगे’’। उनकी बात आज सच लगी है। हर कांग्रेस जनऊधारी बन रहा है। 


वहीं छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने हिन्दू का अगवा नेता बनने के लिए राम वन गमन पथ को पर्यटन के रूप में विकसित करने और माता कौशल्या की जन्म भूमि चंदखुरी में भव्य मंदिर बनाने की घोषणा की। रामवनगमन पथ की डिजाइन को उन्होंने स्वीकृति दे दी। छत्तीसगढ़ के लोगों की मान्यता है कि राम का ननिहाल रायपुर से 25 किलोमीटर दूर चंदखुरी में है। राम से जुड़ी हर ऐतिहासिक स्थलों को भूपेश सरकार कैश करने में जुट गई है।  

बहरहाल,सवाल यह है कि सियासत में अचानक कांग्रेस का राम भक्त बन जाने से क्या उसे राम पर आस्था रखने वाले माफ कर उनकी सियासी नैया पार लगा देंगे? जबकि भारतीय जनमानस कभी भी धर्म की खिलाफत सहन नहीं करता। खासकर इस काल में, जब लोग राममय हो रहे हैं। रामनीति और राजनीति में भेद है। आज यदि गजानंद माधव मुक्तिबोध होते तो वो आज कांग्रेसियों से जरूर पूछते.पार्टनर तुम्हारी पॉलिटिक्स क्या है? 

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links