ब्रेकिंग न्यूज़
शिवलिंग के अंकुर से निकलती हैं अन्‍य देवी-देवताओं की आकृतियां, जिनका रहस्य वैज्ञानिक भी नहीं खोज पाए         गढ़मुक्तेश्वर में हुआ था महाभारत में मारे गए योद्धाओं का पिंडदान         पाकिस्तान ने पुंछ जिले के तीन सेक्टरों में दागे गोले, भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई         BIG NEWS : भारत ने स्वदेशी हाई-स्पीड अभ्यास ड्रोन का सफल परीक्षण किया         BIG NEWS : चीन ने भारत से सटी सीमा के नजदीक 13 नए सैन्य ठिकाने बनाए          पूरब का सोमनाथ है ये मंदिर, एक ही पत्थर से बना है विश्व का सबसे बड़ा शिवलिंग         BIG NEWS : राशन दुकानदार को अपराधियों ने मारी गोली, हालत गंभीर रिम्स रेफर         BIG NEWS : भारत-चीन के बीच 13 घंटे तक चली कोर कमांडर स्तर की वार्ता, तनाव कम करने को लेकर हुई बातचीत         BIG NEWS : पाकिस्तान ने अखनूर सेक्टर में ड्रोन से भेजे हथियार, सुरक्षाबलों ने किया जब्त         देवेंद्र सिंह केस में टेरर फंडिंग जांच : NIA की टीम ने बारामूला में कई जगहों पर की छापेमारी         BIG NEWS : बडगाम एनकाउंटर में 1 आतंकी ढेर, ऑपरेशन जारी         रोजाना कुछ देर के लिए गायब हो जाता है यह शिव मंदिर         झारखंड हाईकोर्ट का बड़ा फैसला : 50 प्रतिशत से अधिक आरक्षण देने पर झारखंड की नियोजन नीति रद्द         अमशीपोरा एनकाउंटर:आफस्पा कानून का खूलेआम दुरूपयोग         BIG NEWS : कृषि बिल पर इतना हंगामा क्यों बरपा !         BIG NEWS : भिवंडी में तीन मंजिला इमारत ढहने से 10 लोगों की मौत          BIG NEWS : लद्दाख में 20 से ज्यादा चोटियों पर भारत की पकड़ मजबूत          मां लक्ष्मी का ऐसा मंदिर, जहां एक सिक्के से होती है हर इच्छा पूरी         इस शिवलिंग में हैं एक लाख छिद्र, यहां छुपा है पाताल का रास्ता         विपक्ष करता रहा हंगामा और मोदी सरकार ने राज्यसभा में भी पास कराए कृषि बिल, किसानों को कहीं भी फसल बेचने की आजादी         पायल घोष ने अनुराग कश्यप पर लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप         BIG NEWS : एक पत्रकार, चीनी महिला और नेपाली नागरिक गिरफ्तार, चीन को खुफिया जानकारी देने का आरोप         जम्मू कश्मीर में बड़े आर्थिक पैकेज की घोषणा : बिजली-पानी के बिलों पर एक साल तक 50 प्रतिशत की छूट का ऐलान         ऐसा मंदिर जहां चूहों को भोग लगाने से प्रसन्न होती है माता         यहां भोलेनाथ ने पांडवों को दिए शिवलिंग के रूप में दर्शन !         BIG NEWS : राजौरी में लश्कर-ए-तैयबा के 3 आतंकी गिरफ्तार, 1 लाख रुपये समेत AK-56 राइफल बरामद         BIG NEWS : आतंकी संगठन अल-कायदा मॉड्यूल का  भंडाफोड़, 9 आतंकी गिरफ्तार         BIG NEWS : पश्चिम बंगाल और केरल में एनआईए की छापेमारी, अल-कायदा के नौ आतंकी गिरफ्तार         BIG NEWS : दिशा सालियान के साथ चार लोगों ने कियारेप !         अनिल धस्माना को NTRO का बनाया गया अध्यक्ष         जहां शिवलिंग पर हर बारह साल में गिरती है बिजली         BIG NEWS : पाकिस्तान की नई चाल, गिलगित-बल्तिस्तान को प्रांत का दर्जा देकर चुनाव कराने की तैयारी         BIG NEWS : सहायक पुलिस कर्मियों पर लाठीचार्ज, कई घायल, आंसू गैस के गोले छोड़े         BIG NEWS : सर्दी के मौसम में लद्दाख में मोर्चाबंदी के लिए सेना पूरी तरह तैयार          “LAC पर चीन को भारत के साथ मिलकर सैनिकों की वापसी प्रक्रिया पर काम करना चाहिए” :  विदेश मंत्रालय प्रवक्ता         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर पहुंचे सेनाध्यक्ष ने सुरक्षा स्थिति का लिया जायजा, उपराज्यपाल से भी की मुलाकात         BIG NEWS : 'मैं भी मारा जाऊंगा'        

जब मोहन ने पहली बार गोपिकाओ को किया परेशान

Bhola Tiwari Aug 11, 2020, 6:07 AM IST टॉप न्यूज़
img

नई दिल्ली : भगवान जब चलने लगे तो पहली बार घर से बाहर निकले। ब्रज से बाहर भगवान की मित्र मंडली बन गयी। सुबल, मंगल, सुमंगल, सुदामा, तोसन, आदि मित्र बन गये। सब मिलकर हर दिन माखन चोरी करने जाते। चोर मंडली के अध्यक्ष स्वयं माखन चोर श्रीकृष्ण थे। सब एक जगह इकट्टा होकर योजना बनाते कि किस गोपी के घर चोरी करनी है।

आज ‘चिकसोले वाली’ गोपी की बारी थी। भगवान ने गोपी के घर के पास सारे मित्रों को छिपा दिया और स्वयं उसके घर पहुँच गये। दरवाजा खटखटाने लगे, भगवान ने अपने बाल और काजल बिखरा लिया। गोपी ने दरवाजा खोला, तो श्रीकृष्ण को खड़े देखा। गोपी बोली – ‘अरे लाला! आज सुबह-सुबह यहाँ कैसे?


कन्हैया बोले- ‘गोपी क्या बताऊँ! आज सुबह उठते ही, मैया ने कहा लाला तू चिकसोले वाली गोपी के घर चले जाओ और उससे कहना आज हमारे घर में संत आ गए है मैंने तो ताजा माखन निकला नहीं, चिकसोले वाली तो बहुत सुबह ही ताजा माखन निकल लेती है उनसे जाकर कहना कि एक मटकी माखन दे दो, बदले में दो मटकी माखन लौटा दूँगी।


गोपी बोली- लाला! मै अभी माखन की मटकी लाती हूँ और मैया से कह देना कि लौटने की जरुरत नहीं है संतो की सेवा मेरी तरफ से हो जायेगी। झट गोपी अंदर गयी और माखन की मटकी लाई और बोली- लाला ये माखन लो और ये मिश्री भी ले जाओ। कन्हैया माखन लेकर बाहर आ गए और गोपी ने दरवाजा बंद कर लिया।


भगवान ने झट अपने सारे सखाओ को पुकारा श्रीदामा, मंगल, सुबल, जल्दी आओ, सब-के-सब झट से बाहर आ गए भगवान बोले जिसके यहाँ चोरी की हो उसके दरवाजे पर बैठकर खाने में ही आनंद आता है, झट सभी गोपी के दरवाजे के बाहर बैठ गए, भगवान ने सबकी पत्तल पर माखन और मिश्री रख दी। और बीच में स्वयं बैठ गए सभी सखा माखन और मिश्री खाने लगे।

माखन के खाने से पट पट और मिश्री के खाने से कट-कट की, जब आवाज गोपी ने अंदर से सुनी तो वह सोचने लगी कि ये आवाज कहाँ से आ रही है और जैसे ही उसने दरवाजा खोला तो सारे मित्रों के साथ श्रीकृष्ण बैठे माखन खा रहे थे।


गोपी बोली- ‘क्यों रे कन्हैया! माखन संतो को चाहिए था या इन चोरों को? भगवान बोले- ‘देखो गोपी! ये भी किसी संत से कम नहीं है सब के सब नागा संत है, देखो किसी ने भी वस्त्र नहीं पहिन रखे है, तू इन्हें दंडवत प्रणाम कर।

गोपी बोली – अच्छा कान्हा! इन्हें दंडवत प्रणाम करूँ, रुको, अभी अंदर से डंडा लेकर आती हूँ। गोपी झट अंदर गयी और डंडा लेकर आयी। तो भगवान ने कहा- ‘मित्रों! भागो, नहीं तो गोपी पूजा कर देगी। और सब के सब भाग गए, गोपी ये सब देखकर हतप्रभ रह गयी की नन्द को लाला और इतना चंचल।

एक दिन जब मैया ताने सुन सुनकर थक गयी तो उन्होंने भगवान को घर में ही बंद कर दिया जब आज गोपियों ने कन्हैया को नहीं देखा तो सब के सब उलाहना देने के बहाने नंदबाबा के घर आ गयी और नंदरानी यशोदा से कहने लगी- यशोदा तुम्हारे लाला बहुत नटखट है, ये असमय ही बछडो को खोल देते है, और जब हम दूध दुहने जाती है तो गाये दूध तो देती नहीं लात मारती है। जिससे हमारी कोहनी भी टूटे और दुहनी भी टूटे।

घर मै कही भी माखन छुपाकर रखो, पता नहीं कैसे ढूँढ लेते है यदि इन्हें माखन नहीं मिलता तो ये हमारे सोते हुए बच्चो को चिकोटी काटकर भाग जाते है, ये माखन तो खाते ही है साथ में माखन की मटकी भी फोड़ देते है।


यशोदा जी कन्हैया का हाथ पकड़कर गोपियों के बीच में खड़ा कर देती है, और कहती है कि ‘तौल-तौल लेओ वीर, जितनों जाको खायो है, पर गली मत दीजो, मौ गरिबनी को जायो है।’ जब गोपियों ने ये सुना तो वे कहने लगी- यशोदा हम उलाहने देने नही आये है आपने आज लाला को घर में ही बंद करके रखा है हमने सुबह से ही उन्हें नही देखा है इसलिए हम उलाहने देने के बहाने उन्हें देखने आए थे।

जब यशोदा जी ने ये सुना तो वे कहने लगी- गोपियों तुम मेरे लाला से इतना प्रेम करती हो, आज से ये सारे वृन्दावन के लाल है। यहाँ कान्हा की अदभुत माखन चोरी की लीला का अद्भुत और विलक्षण द्रश्य है। दोस्तों ये श्री कृष्ण की माखन चोरी कहानी एक लोक कथा है। जिसका शाब्दिक अर्थ केवल भक्त का भगवन के प्रति अपना समर्पण प्रकट करने के समान है।

Similar Post You May Like

  • चाय...

    उद्भव शांडिल्यनई दिल्ली : अगर हम विश्व की समस्त सभ्यताओं के इतिहास और वर्तमान को उठाकर देखें तो महज ...

  • जिद तो उसकी है, जो मुकद्दर में लिखा हीं नहीं...

    एसडी ओझा नई दिल्ली :जिद करने की भी एक सीमा होती है. बाल हठ, तिरिया हठ ये दो विश्व के माने हुए हठ (जि...

  • आदिवासियों की अनदेखी

    रमेश कुमार रिपु रायपुर. :पेशा कानून और पांँचवी अनुसूची का पालन करने की बजाए,भूपेश सरकार ग्राम सभा से...

Recent Post

Popular Links