ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : चीन का मोहरा बना पाकिस्तान, POK में अतिरिक्त पाकिस्तानी फोर्स तैनात         हुवावे बैन : चीनी राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग को बड़ा झटका         BIG NEWS : चीन की शह पर रात के अंधेरे में सरहद पर फौज तैनात कर रहा है पाकिस्तान         गोडसे की अस्थियां अपने मुक्ति को...         दिल्ली-एनसीआर में बार-बार क्यों कांप रही धरती...         इस्कॉन के प्रमुख गुरु भक्तिचारू स्वामी का अमेरिका में कोरोना की वजह से निधन         BIG NEWS : कुलगाम एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया         BIG NEWS : लेह अस्पताल पर उठे सवाल, आर्मी ने दिया जवाब, "बहादुर सैनिकों की उपचार की व्यवस्था को लेकर सवाल उठाना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण"         BIG NEWS : JAC ने जारी किया 11वीं का रिजल्ट, 95.53 फीसदी छात्रों को मिली सफलता         कानपुर: चौबेपुर के SHO विनय तिवारी सस्पेंड, विकास दुबे से मिलीभगत का आरोप         राजौरी में आतंकी ठिकाने का पर्दाफाश, कई हथियार बरामद         BIG NEWS : विस्तारवाद पर दुनिया में अकेला पड़ गया चीन, भारत के साथ खड़ी हो गई महा शक्तियां         गुरु पूर्णिमा के दिन 5 जुलाई को लगेगा चंद्र ग्रहण, इन राशियों पर पड़ेगा सबसे ज्यादा असर         BIG NEWS : कराची में आतंकवादी हाफिज सईद के सहयोगी आतंकी मौलाना मुजीब की हत्या         BIG NEWS : भारत ने बॉलीवुड प्रोग्राम के पाकिस्तानी ऑर्गेनाइजर रेहान को किया ब्लैकलिस्ट         क्या रोक सकेंगे चीनी माल         BIG NEWS : सरहद पर मोदी का ऐलान, दुनिया में विस्तारवाद का हो चुका है अंत, PM मोदी के लेह दौरे से चीन में खलबली         BIG NEWS : CRPF जवान और 6 साल के बच्चे को मारने वाला आतंकी श्रीनगर एनकाउंटर में ढेर         भारत में बनी कोविड वैक्सीन 15 अगस्त तक होगी लॉन्च         BIG NEWS : आतंकवादियों से लोहा लेते हुए श्रीनगर में झारखंड का लाल शहीद         BIG NEWS : अचानक सुबह लेह पहुंचे पीएम मोदी, जांबाज जवानों से मिले और हालात का लिया जायजा         बॉलीवुड में फिर छाया मातम, मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन         BIG NEWS : गुंडों ने बरसाई अंधाधुंध गोलियां, सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद         श्रीनगर एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को मार गिराया, 1 जवान शहीद         BIG NEWS : चीन की राजदूत हाओ यांकी के इशारे पर ओली गा रहे हैं ओले ओले...         बोत्सवाना में क्यों मर रहे हैं हाथी...         BIG NEWS : पुलवामा हमले का एक और आरोपी गिरफ्तार         झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार गिर जाएगी : सांसद निशिकांत दुबे         BIG NEWS : बीजेपी का नया टाइगर         BIG BREAKING : रामगढ़ के पटेल चौक पर दो ट्रेलर के बीच फंसी कार, दो की मौत, आधा दर्जन लोग कार में फसे         BIG NEWS : चीन को बड़ा झटका; DHL के बाद FedEX ने बंद की चीन से भारत आने वाली शिपमेंट सर्विस         BIG NEWS : ड्रैगन के खिलाफ एक्शन में भारत, कार्रवाई से चीन में भारी नुकसान की आहट         BIG NEWS : भारत की कृतिका पांडे को मिला राष्ट्रमंडल-20 लघुकथा सम्मान         वैसे ये स्लोगन लगा विज्ञापन है किनके लिए भैये..          BIG NEWS : चीन की चाल , LAC पर तैनात किये 20 हजार से ज्यादा सैनिक         BIG NEWS : सोपोर में आतंकियों की गोली का शिकार बना एक और मासूम         BIG NEWS : सोपोर में CRPF पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकी हमला, 2 जवान शहीद, तीन घायल         BIG NEWS : इमरान ने फिर रागा कश्मीर का अलाप, डोमिसाइल पॉलिसी को लेकर UNSC से लगाई गुहार         BIG NEWS : यूरोपीय संघ, यूएन और वियतनाम के बाद अब ब्रिटेन ने भी लगाया पाकिस्तान एयरलाइंस पर बैन         BIG NEWS : 'ट्विटर, फेसबुक और यूट्यूब' को बैन करने वाला चीन टिक-टॉक बैन पर तिलमिलाया        

केंचुआ....

Bhola Tiwari Jul 01, 2020, 6:22 AM IST कॉलमलिस्ट
img

एसडी ओझा

नई दिल्ली : केंचुआ से कचूमर शब्द बना है । पाँव के नीचे आने पर केंचुए की कचूमर निकल जाती है । यह पिचट जाता है । नमक के सम्पर्क में आने पर तो यह तड़प हीं उठता है या यूँ कहें कि यह बिलबिला उठता है तो सही और सटीक बात होगी । मछलियों को पकड़ने के लिए यह चारा है। आदमी अपनी जिह्वा का गुलाम है । उसे खाने के लिए मछली चाहिए वह भी केंचुए की कुर्बानी पर । मोटा केंचुआ ढूंढ ढांढकर उसके छोटे छोटे टुकड़े किए जाते हैं । फिर अंकुश में बारी बारी से हर टुकड़े को फंसाकर मछलियों को ललचाया जाता है । मछलियों को भी केंचुए का स्वाद बहुत भाता है । वे आटे की अंकुश की तरफ ध्यान नहीं देतीं । उन्हें केंचुए का हीं चारा चाहिए । हां , अभी याद आया ; हमारे पूर्वांचल में केंचुए को चारा हीं कहा जाता है । 

केंचुए को किसान का मित्र कहा जाता है । हाल फिलहाल किसान के दो और मित्र पैदा हो गए हैं । ये तथाकथित मित्र बी एस येदुरप्पा और एच पी कुमार स्वामी हैं । इनका केंचुआ से कांटे का टक्कर है । कर्नाटक के एक स्कूल में बच्चों के सामने एक प्रश्नपत्र आया तो बच्चे चकरा गये । आप खुद हीं देखिए , प्रश्न क्या था ? 

Who is friend of farmer ?

a) B.S. yeddyurappa 

b) H. D . Kumarswamy

c) Earthworm 

राजेश्वरी नगर के माउंट कार्नेल की आठवीं कक्षा के छात्रों की राजनीतिक समझ अभी हाशिए पर थी । वे समझ नहीं पाए कि किसका नाम लिखें । इस तरह के अजीब सवाल के पूछे जाने का सबसे अहम कारण है निजी स्कूलों को खुली छूट देना है । 

भला येदुरप्पा और कुमारस्वामी क्या खाकर केंचुए की तुलना में खड़े होंगे ? इन महानुभावों का एजेंडा केवल राजनीतिक है । वे अगर किसानों के लिए कुछ करना भी चाहेंगे तो सबसे पहले अपने राजनीतिक नफे नुकसान की फेहरिस्त देखेंगे । केंचुआ अपना नफा नुकसान नहीं देखता । वह किसान की निःस्वार्थ भाव से सेवा करता है । बल्कि यूँ कहें कि वह कर्म करता है और फायदा किसान का हो जाता है तो ज्यादा बेहतर होगा ।

केंचुआ मिट्टी खाता है । मिट्टी के साथ मिट्टी के पोषक तत्व भी उसके पेट में जाते हैं । केंचुआ पोषक तत्व को ग्रहण कर शेष को मल के रुप में बाहर निकाल देता है , सार सार को गहि रहे थोथा देई उड़ाय की तर्ज पर । यही मल मिट्टी को पोली बनाता है । एक तरह से केंचुआ खेत में हल चलाता है । यह अपने रहने के लिए बिल तैयार करता है । मिट्टी खाता है , मल त्याग करता है - आगे बढ़ता है और बिल तैयार हो जाता है । केंचुआ येदुरप्पा और कुमार स्वामी की तरह महलों में नहीं रहता है । 

किसान और केंचुआ मिट्टी से जुड़े हैं । इसलिए ये एक दुसरे के मित्र हैं । केंचुआ 35 डिग्री सेंटीग्रेड से ज्यादा तापमान सहन नहीं कर सकता । इसलिए यह दलदल , कीचड़ में रहना ज्यादा पसंद करता है । बरसात में बिलों में पानी भर जाने के कारण इसे बाध्यतामूलक बाहर निकलना पड़ता है । ऐसे में यह चिड़ियों के लिए तुरंत नूडल बनता है । यह नख और दंत विहिन जीव केवल परोपकार करता है - कभी आहार पैदा कर तो कभी दुसरों के लिए स्वंय ग्रास बनकर ।

केंचुए के शरीर में 100 से लेकर 120 तक खण्ड होते हैं । इसके चार जोड़ी हृदय होते हैं । इतने दिल होते हुए भी किसी को दिल नहीं देता , क्योंकि यह खुद द्विलिंगी है । केवल प्रथम प्रजनन के लिए दो केंचुओं की जरुरत होती है । उसके बाद यह अकेले हीं प्रजनन करता है । ब्रह्मा ने जब सृष्टि रची तो पहले पुरुष बनाया । अब औरत बनाना था । शिव अर्द्धनारीश्वर के रुप में प्रकट हो गये । एक हीं शरीर में शिव थे तो शिवा भी थी । उसके बाद से कभी ब्रह्मा की जरुरत नहीं पड़ी । मैथुनी सृष्टि चल पड़ी । सृष्टि की संरचना सतत चल रही है । केंचुआ भी अर्द्ध नारीश्वर है ।

केंचुआ द्वारा तैयार वर्मीकम्पोस्ट खाद मक्खी मच्छर से परे होता है । इस खाद में बदबू नहीं होती । इसमें नाइट्रोजन और कार्बनिक पद्दार्थ होता है । यह जीव रात को काम करता है । मिट्टी को पोली बनाता है । केंचुआ सुनिश्चित करता है कि पौधों की जड़ तक आॅक्सीजन पहुँचे । वर्मीकम्पोस्ट खाद गोबर युक्त मिट्टी से तैयार होता है । केंचुआ जमीन के नीचे से 14 -18 टन मिट्टी जमीन की सतह पर लाकर फैला देता है । मिट्टी पोली हो जाने से मिट्टी में उर्वरक क्षमता आ जाती है । इस क्षमता के कारण बम्पर फसल होती है ।

केंचुआ इस धरती पर 6 अरब साल से निवास कर रहा है , लेकिन हमारी इससे दोस्ती केवल 5 - 8 हजार वर्ष हीं पुरानी है । इसके पास एक छोटा दिमाग भी है , जो इसकी आंत में स्थित होता है । इसके पास आंख नहीं होती । जीभ नहीं होती । फिर भी कम या अधिक प्रकाश को महसूस करता है । इसके पास स्पर्शग्राही और स्वाद ग्राही ग्रंथियां भी होती हैं । केंचुआ 30 - 45 दिन के अंदर वयस्क हो जाता है और प्रजनन करने लगता है । केंचुआ सच्चे अर्थों में किसान का मित्र है ।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links