ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : बवाल में ये किसान हैं या दंगाई !          BIG NEWS : ट्रैक्टर रैली के बहाने दिल्ली में बवाल, दिल्ली के हालात पर गृह मंत्री अमित शाह ने रिपोर्ट तलब की         शर्मनाक : लाल किले पर दंगाइयों का कब्जा, दंगाइयों ने प्राचीर पर खालसा पंथ का झंडा लगाया         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर पुलिस के 4 बहादुर जवानों को मरणोपरांत शौर्य चक्र, आतंकियों से लड़ते हुए गंवाई थी जान         BIG NEWS : जम्मू के हरमनजोत सिंह को मिला राष्ट्रीय बाल पुरस्कार, महिला सुरक्षा से जुड़ा ऐप बनाने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने भी की सराहना         गणतंत्र दिवस !         हम, भारत के लोग.....         .जब नेहरू से नजदीकी होने की भारी कीमत चुकानी पडी थी राजगोपालाचारी को         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर पुलिस को मिले सबसे ज्यादा गैलेंट्री अवार्ड, गणतंत्र दिवस के दिन राष्ट्रपति करेंगे सम्मानित         BIG NEWS : पाकिस्तान को एक और बड़ा झटका, UN ने अपने कर्मचारियों से कहा पाकिस्तानी एयरलाइंस में ना करें सफर         BIG NEWS : योगी आदित्यनाथ ने LOC पर शहीद हुये निशांत की शहादत को किया नमन, परिजनों को 50 लाख और एक नौकरी देने का ऐलान         BIG NEWS : सिक्किम के नाकू ला में भारतीय जवानों ने चीन की घुसपैठ को किया नाकाम, 20 चीनी सैनिक घायल         BIGNEWS : “जस्टिस डिलेड बट डिलिवर्ड” फिल्म के निर्देशक ने कहा – “अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद जम्मू के दबे-कुचले लोगों को उनके अधिकार मिले”         BIG NEWS : आतंकी ठिकाना नष्ट, भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद         BIG NEWS : लालू से मिलने फिर रिम्स पहुंची राबड़ी और मीसा, दिल्ली या मुंबई शिफ्ट हो सकते हैं RJD सुप्रीमो         BIG NEWS : भारत ने भेजी वैक्सीन, ब्राजीली राष्ट्रपति ने संजीवनी ले जाते हनुमान जी की तस्वीर ट्वीट कर कहा धन्यवाद!         BIG NEWS : जम्मू-कश्मीर में 11 महीने बाद पहली फरवरी से खुलेंगे स्कूल         पीएम मोदी का बंगाल दौरा : पराक्रम दिवस के मौके पर बंगाल में नेताजी भवन जाएंगे प्रधानमंत्री; असम में 1.06 लाख लोगों को बांटेंगे जमीन का पट्टा         BIG NEWS : आर्थिक संकट से जूझ रहा पाकिस्तान, इमरान खान ने फिर लिया 416 हजार करोड़ रुपये का कर्ज         BIG NEWS : ममता बनर्जी के मंत्रिमंडल से एक और मंत्री ने दिया इस्तीफा         BIG NEWS : केंद्र सरकार और आंदोलनकारी किसानों के बीच वार्ता विफल, कृषि मंत्री बोले- जो प्रस्ताव दिया उससे बेहतर कुछ नहीं         भजन सम्राट नरेंद्र चंचल का निधन         BIG NEWS : किश्तवाड़ में पुलिस के जवानों पर ग्रेनेड हमला, सर्च ऑपरेशन जारी         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर में निर्यात को बढ़ावा देने के लिए 33 सदस्यीय बोर्ड गठित, उपराज्यपाल मनोज सिन्हा होंगे चेयरमैन         BIG NEWS : UN में भारत ने उठाया ख़ैबर पख़्तूनख़्वा में मंदिर तोड़े जाने का मुद्दा, कहा - मूकदर्शक बनी रही पाकिस्तामन सरकार          और जिंदगी पर पर्दा गिर गया....         BIG NEWS : कृषि कानून स्थगन का प्रस्ताव किसानों ने किया खारिज, आज होगी 11वें दौर की वार्ता         BIG NEWS : लालू यादव की तबीयत बिगड़ी, फेफड़े में संक्रमण-निमोनिया         GOOD NEWS : भारत बायोटेक शुरू करेगा नाक से दी जाने वाली कोरोना वैक्सीन के ट्रायल्स         BIG NEWS : चीनी वैक्सीन ने काम नहीं किया तो पाकिस्तान को भी वैक्सीन भेजेगा भारत !          BIG NEWS : कोवीशील्ड का प्रोडक्शन पूरी तरह सेफ, सीरम की इमारत में दोबारा आग लगी, 5 मजदूरों के जले हुए शव मिले         BIG NEWS : पाकिस्तानी सेना ने पुंछ जिले में फिर की गोलाबारी, एक जवान शहीद         BIG NEWS : कोरोना वैक्सीन बनाने वाले प्लांट में आग, पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट की लैब में भीषण आग लगी         BIG NEWS : शपथ लेते ही एक्शन में आए राष्ट्रपति, जलवायु परिवर्तन समझौते में फिर लेंगे हिस्सा         BIG NEWS : अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की टीम में एक और कश्मीरी महिला को मिली जगह, श्रीनगर निवासी समीरा को मिला अहम पद         BIG NEWS : चीन और पाकिस्तान के खतरे से निपटने के लिए भारतीय सेना का आधुनिकीकरण जरूरी – लेफ्टिनेंट जनरल सीपी मोहंती         BIG NEWS : अमेरिका को मिला 46वां राष्ट्रपति, जो बाइडेन और कमला हैरिस ने ली शपथ         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर में रेटले पावर प्रोजेक्ट को मिली मंजूरी, युवाओं को मिलेंगे रोजगार के अवसर - उपराज्यपाल मनोज सिन्हा         BIG NEWS : गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी से कश्मीरी हिंदुओं के प्रतिनिधिमंडल ने की मुलाकात, 1990 में हुये नरसंहार की जांच कराने की मांग         BIG NEWS : किसानों से बातचीत में झुकी सरकार, केंद्र डेढ़ साल तक कृषि कानून लागू नहीं करने को तैयार, किसान इस प्रस्ताव का जवाब 22 जनवरी को देंगे         BIG NEWS : अखनूर सेक्टर में सुरक्षाबलों ने आतंकी घुसपैठ की कोशिश को किया नाकाम, 4 जवान घायल         BIG NEWS : त्याग और बलिदान की मिसाल सिखों के 10वें गुरु गोबिंद सिंह, जिन्होंने खालसा पंथ की रखी नींव         BIG NEWS : अनंतनाग में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी गिरफ्तार, हथियार बरामद         BIG NEWS : बारामूला में कश्मीरी हिंदू कर्मचारियों के लिए 336 आवास बनाने की तैयारी शुरू, 7 सदस्यीय कमेटी का गठन         BIG NEWS : गुपकार गठबंधन में पड़ी फूट, सज्जाद लोन की पार्टी पीपुल्स कॉन्फ्रेंस गठबंधन से हुई अलग         BIG NEWS : चीन ने अरुणाचल प्रदेश में भारतीय सीमा के भीतर गांव बसा दिया         BIG NEWS : टीम इंडिया ने रचा इतिहास, भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हराकर 2-1 से जीती सीरीज         BIG NEWS : एक कश्मीरी हिंदू ने 'विस्थापन दिवस' पर बयां किया दर्द, कहा - अपने घर कश्मीर लौटने की उम्मीद जगी है...         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर में गणतंत्र दिवस पर आतंकी हमले की साजिश रच रहे हैं आतंकवादी – डीजीपी दिलबाग सिंह        

BIG NEWS : सैयद अली शाह गिलानी पर ग्रहण, हुर्रियत कांफ्रेंस से इस्तीफे की घोषणा

Bhola Tiwari Jun 29, 2020, 8:29 PM IST टॉप न्यूज़
img

● हुर्रियत का धंधा बंद होने के बाद सैयद अली शाह गिलानी ने किया किनारा, घाटी में हुर्रियत कांफ्रेंस का भी खात्मा


टोनी पाधा

 श्रीनगर : जम्मू कश्मीर में 3 दशक से अलगाववादी राजनीति करने वाले सैयद अली शाह गिलानी ने सोमवार को एक बयान जारी कर हुर्रियत कांफ्रेंस से इस्तीफा देने की घोषणा कर दी। अपने बयान में सैयद अली शाह गिलानी ने कहा कि हुर्रियात की मौजूदा सूरत-ए-हाल को देखते हुए वो हुर्रियत कांफ्रेंस से अलग हो रहे हैं। इसी के साथ घाटी में bहुर्रियत कांफ्रेंस का भी खात्मा गया। गिलानी हुर्रियत कांफ्रेंस (गिलानी) के लाइफटाइम चेयरमैन थे।

दरअसल हुर्रियत कांफ्रेंस पहले खत्म हो चुकी है। घाटी में उसका सिर्फ नाम बाकी था, जिसके लाइफटाइम चेयरमैन सैयद अली शाह गिलानी अपनी अलगाववादी राजनीति को किसी तरह जिंदा रखे हुए थे। हालांकि गिलानी अलगाववाद की राजनीति में पाकिस्तान परस्त गुट का सबसे बड़ा नाम है, जोकि 1993 से घाटी में आतंकवाद और अलगाववाद की राजनीति करता रहा है। 2003 में गिलानी ने हुर्रियत कांफ्रेस का अलग गुट बनाकर खुद को लाइफटाइम चेयरमैन घोषित कर दिया था। जिसके पीछे हुर्रियत कांफ्रेंस के नेताओं का संपत्ति विवाद था। इसी समय हुर्रियत के दूसरे गुट ने तहरीक-ए-हुर्रियत बना लिया था। इस गुट में जमात-ए-इस्लामी (जम्मू कश्मीर) का कब्ज़ा है। अशरफ सहराई, जिसका आतंकी बेटा जुनैद सहराई हाल ही में एक एनकाउंटर में मारा गया था, तहरीक-ए-हुर्रियत का चेयरमैन है। हालांकि सहराई भी गिलानी का ही करीबी माना जाता है, जिसके गिलानी के साये में ही अलगाववाद की राजनीति सीखी।

इनके अलावा हुर्रियत का एक और गुट है, हुर्रियत (एम) के नाम से, यानि हुर्रियत (मीरवाइज) गुट। मीरवाइज उमर फारूख इस गुट के चेयरमैन हैं।

पिछले साल अगस्त महीने में जब आर्टिकल 370 को हटाया गया और राज्य का पुनर्गठन किया गया तब सुरक्षा एजेंसियों ने हुर्रियत के बैकबोन माने जाने वाले जमात-ए-इस्लामी के कई नेताओं को गिरफ्तार किया था। जिसके बाद से हुर्रियत का भी लगभग खात्मा हो गया। हालांकि सैयद अली शाह गिलानी, अशरफ सहराई और मीरवाइज उमर फारूख, तीनों न तो नज़रबंद थे और न ही गिरफ्तार। फिर भी ये तीनों चुप ही रहे। प्रशासन से कार्रवाई के डर का आलम ये था कि पिछले लगभग एक साल में हुर्रियत ने घाटी में बंद की एक कॉल तक नहीं दी।

 जानकारों के मुताबिक गिलानी को भी एहसास हो चुका है कि पिछले 11 महीनों में पाकिस्तान भी जम्मू कश्मीर के मामले में ज्यादा दखल देने में पूरी तरह नाकामयाब रहा। ऐसे में सैयद अली शाह गिलानी पहले से कब्र में पहुंच चुकी हुर्रियत से इस्तीफे की घोषणा करने अपनी रही-सही इमेज बचाने की जुगत में है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links