ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : चीन की शह पर रात के अंधेरे में सरहद पर फौज तैनात कर रहा है पाकिस्तान         गोडसे की अस्थियां अपने मुक्ति को...         दिल्ली-एनसीआर में बार-बार क्यों कांप रही धरती...         इस्कॉन के प्रमुख गुरु भक्तिचारू स्वामी का अमेरिका में कोरोना की वजह से निधन         BIG NEWS : कुलगाम एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया         BIG NEWS : लेह अस्पताल पर उठे सवाल, आर्मी ने दिया जवाब, "बहादुर सैनिकों की उपचार की व्यवस्था को लेकर सवाल उठाना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण"         BIG NEWS : JAC ने जारी किया 11वीं का रिजल्ट, 95.53 फीसदी छात्रों को मिली सफलता         कानपुर: चौबेपुर के SHO विनय तिवारी सस्पेंड, विकास दुबे से मिलीभगत का आरोप         राजौरी में आतंकी ठिकाने का पर्दाफाश, कई हथियार बरामद         BIG NEWS : विस्तारवाद पर दुनिया में अकेला पड़ गया चीन, भारत के साथ खड़ी हो गई महा शक्तियां         गुरु पूर्णिमा के दिन 5 जुलाई को लगेगा चंद्र ग्रहण, इन राशियों पर पड़ेगा सबसे ज्यादा असर         BIG NEWS : कराची में आतंकवादी हाफिज सईद के सहयोगी आतंकी मौलाना मुजीब की हत्या         BIG NEWS : भारत ने बॉलीवुड प्रोग्राम के पाकिस्तानी ऑर्गेनाइजर रेहान को किया ब्लैकलिस्ट         क्या रोक सकेंगे चीनी माल         BIG NEWS : सरहद पर मोदी का ऐलान, दुनिया में विस्तारवाद का हो चुका है अंत, PM मोदी के लेह दौरे से चीन में खलबली         BIG NEWS : CRPF जवान और 6 साल के बच्चे को मारने वाला आतंकी श्रीनगर एनकाउंटर में ढेर         भारत में बनी कोविड वैक्सीन 15 अगस्त तक होगी लॉन्च         BIG NEWS : आतंकवादियों से लोहा लेते हुए श्रीनगर में झारखंड का लाल शहीद         BIG NEWS : अचानक सुबह लेह पहुंचे पीएम मोदी, जांबाज जवानों से मिले और हालात का लिया जायजा         बॉलीवुड में फिर छाया मातम, मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन         BIG NEWS : गुंडों ने बरसाई अंधाधुंध गोलियां, सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद         श्रीनगर एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को मार गिराया, 1 जवान शहीद         BIG NEWS : चीन की राजदूत हाओ यांकी के इशारे पर ओली गा रहे हैं ओले ओले...         बोत्सवाना में क्यों मर रहे हैं हाथी...         BIG NEWS : पुलवामा हमले का एक और आरोपी गिरफ्तार         झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार गिर जाएगी : सांसद निशिकांत दुबे         BIG NEWS : बीजेपी का नया टाइगर         BIG BREAKING : रामगढ़ के पटेल चौक पर दो ट्रेलर के बीच फंसी कार, दो की मौत, आधा दर्जन लोग कार में फसे         BIG NEWS : चीन को बड़ा झटका; DHL के बाद FedEX ने बंद की चीन से भारत आने वाली शिपमेंट सर्विस         BIG NEWS : ड्रैगन के खिलाफ एक्शन में भारत, कार्रवाई से चीन में भारी नुकसान की आहट         BIG NEWS : भारत की कृतिका पांडे को मिला राष्ट्रमंडल-20 लघुकथा सम्मान         वैसे ये स्लोगन लगा विज्ञापन है किनके लिए भैये..          BIG NEWS : चीन की चाल , LAC पर तैनात किये 20 हजार से ज्यादा सैनिक         BIG NEWS : सोपोर में आतंकियों की गोली का शिकार बना एक और मासूम         BIG NEWS : सोपोर में CRPF पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकी हमला, 2 जवान शहीद, तीन घायल         BIG NEWS : इमरान ने फिर रागा कश्मीर का अलाप, डोमिसाइल पॉलिसी को लेकर UNSC से लगाई गुहार         BIG NEWS : यूरोपीय संघ, यूएन और वियतनाम के बाद अब ब्रिटेन ने भी लगाया पाकिस्तान एयरलाइंस पर बैन         BIG NEWS : 'ट्विटर, फेसबुक और यूट्यूब' को बैन करने वाला चीन टिक-टॉक बैन पर तिलमिलाया         देश की सीमाओं में ताका झांकी....!         दीपिका कुमारी और अतनु दास ने एक दूसरे को पहनाई वरमाला, अब होंगे सात फेरे         चलो रे डोली उठाओ कहार...पीया मिलन की रुत आई....         अध्यक्ष बदलने की सियासत         BIG NEWS : पांडे गिरोह ने रामगढ़ एसपी को दिखाया ठेंगा, मोबाइल क्रेशर कंपनी से मांगी रंगदारी        

क्रिकेट में अपशब्द !

Bhola Tiwari Jun 17, 2020, 6:54 AM IST खेल
img


एसडी ओझा

नई दिल्ली  : क्रिकेट में अपशब्द की शुरुआत कब हुई ? इसका कोई लेखा जोखा नहीं है । कहने वाले कहते हैं कि इसकी शुरुआत एडीलेड ओवल में शेफील्ड शील्ड प्रतियोगिता( 1964 -65 ) के दौरान हुई थी । अपशब्द को अंग्रेजी में स्लेजिंग कहते हैं । स्लेज एक खूबसूरत हथौड़ा होता है ,जिससे मारने की क्रिया को स्लेजिंग कहते हैं । जैसे किसी ने किसी को जूते से मारा , लेकिन जूते का रंग लाल था । इसे हम यूँ भी कह सकते हैं - मारा तो मारा , लेकिन लाल जूते से । लाल जूते से मारने से अपराध का गुरुत्व थोड़ा कम होता है क्या ? 

कई लोग क्रिकेट में अपशब्द की शुरुआत साठ के दशक से मानते हैं । जब ग्राहम कालिंग बैटिंग के लिए आते थे तो विपक्षी टीम समवेत स्वर में गाना गाने लगती थी - when a man loves a woman . यह गीत पर्सी स्लेज का लिखा हुआ था। पर्सी स्लेज के नाम पर क्रिकेट में अपशब्द को स्लेजिंग कहा जाने लगा ।

स्लेजिंग विशेषतः खिलाड़ी के एकाग्रता को खत्म करने के लिए किया जाता है । किरन मोरे और जावेद मियादाद के बीच की हुई स्लेजिंग पूरे विश्व ने देखा था । किरन मोरे द्वारा की गयी स्लेजिंग से परेशान हो जावेद मियादाद मैदान में उछल कूद करने लगे थे । इससे दर्शकों का भरपूर मनोरंजन हुआ था । एक भारतीय बाॅलर से जावेद मियादाद ने उसके रुम का नम्बर पूछा था । बाॅलर ने जब पूछा कि रुम नम्बर क्यों चाहिए ? तो मियादाद ने कहा था - मैं तेरे रुम में अपना छक्का पहुँचाऊंगा ।

क्रिकेटर हरभजन पर 2007 -08 में सायमंड्स पर नस्लभेदी टिप्पणी करने का आरोप लगा था । उन पर तीन मैचों पर प्रतिबंध लगने वाला था । आरोप साबित नहीं हुआ । लिहाजा उन्हें मैच शुल्क में 50% कटौती कर बख्स दिया गया था ।

डब्लू जी ग्रेस क्रिकेट में शालीन स्लेजिंग के लिए जाने जाते थे । उनका अंदाज मजाकिया होता था । एक बार वे क्लीन बोल्ड हो गये , लेकिन उन्होंने स्टम्प से गिरी गिल्लियों को पुनः यथास्थान रखा और अम्पायर से कहा - 

"हवा तेज है । तेज हवा के कारण गिल्लियां गिर गयीं थीं" 

अम्पायर ने उन्हें आऊट करार दिया और उन पर तंज कसा था - 

" हाँ , हवा तेज है । देखिए आराम से जाइएगा । पेवेलियन जाते जाते आपकी टोपी न गिर जाए ।"

विवियन रिचर्ड्स स्लेजिंग का मुहतोड़ जवाब देते थे। एक बार वे गेंद की दिशा व दशा नहीं समझ पा रहे थे । बार बार बीट हो जा रहे थे । ग्रेग थाॅमस ने तंज कसा था - 

" आपकी परेशानी क्या है ? गेंद का रंग लाल है । वह आकार में गोल है । उसका वजन 5 औंस का है। इतने से तो आपको गेंद दिखनी शुरू हो जानी चाहिए ।"

और वास्तव में विव को गेंद नजर आने लगी । अगली गेंद पर विवियन रिचर्ड्स ने छक्का मार दिया । छक्का स्टेडियम पार कर पास बहती नदी में समा गया । अबकी बारी रिचर्ड्स की थी । उन्होंने थाॅमस से कहा था -

" आपको तो गेंद की पूरी जुगराफिया मालूम है । जाइए , जाकर नदी से निकाल कर लाइए ।"

 कई बार दर्शक भी स्लेजिंग से पीछे नहीं हटते । हाल हीं में एक न्यूजीलैंड के दर्शक पर स्लेजिंग के लिए 2022 तक न्यूजीलैंड के किसी अंतर्राष्ट्रीय या घरेलू मैच देखने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है । दर्शक ने इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर पर नस्लभेदी टिप्पणी की थी । ऐसे हीं एक भारतीय दर्शक ने एक पाकिस्तानी क्रिकेटर को "आलू की बोरी " कहकर स्लेजिंग की थी । क्रिकेटर ने अपना आपा खो दिया था । वे दर्शक दीर्घा में बैट लेकर उस दर्शक को मारने पहुँच गये थे । बीच बचाव के बाद मामला शांत हुआ था ।

 स्लेजिंग के अनेकों उदाहरण हैं । सबका जिक्र इस छोटे से लेख में सम्भव नहीं है । वैसे स्लेजिंग से खिलाड़ी के नैसर्गिक खेल में विघ्न पैदा होती है । वह अपना स्वभाविक खेल खेल नहीं पाता । स्लेजिंग पर पूर्णतया बैन लगा देना चाहिए । खिलाड़ी का खेल देखा जाना चाहिए । उसके रंग रुप खानदान पर नहीं जाना चाहिए । किसी के खिलाफ व्यक्तिगत टिप्पणी बेहद शर्मनाक होती है । क्रिकेट भद्रजनों का खेल है । इसे भद्रजनों के बीच हीं रहने देना चाहिए ।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links