ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : मंत्री मिथिलेश, विधायक मथुरा समेत 165 नए कोरोना पॉजिटिव         BIG NEWS : उड़ी सेक्टर में भारी मात्रा में हथियार व गोला-बारूद बरामद         BIG NEWS : लद्दाख में एलएसी पर सेना पूरी तरह से मुस्तैद         CBSE: नौवीं से बारहवीं कक्षा तक के छात्रों के सिलेबस में होगी 30 फीसदी कटौती         BIG NEWS : पुलवामा आतंकी हमले में शामिल एक और OGW को NIA ने किया गिरफ्तार         BIG NEWS : कल घोषित होगा मैट्रिक का रिजल्ट         BIG NEWS : POK में चीन और पाकिस्तान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन         बारामूला में हिजबुल मुजाहिदीन का एक OGW गिरफ्तार, हैंड ग्रेनेड बरामद         अंदरखाने खोखला, बाहर-बाहर हरा-भरा...!         BIG NEWS : आतंकियों के साथ मिले जम्मू-कश्मीर पुलिस के निलंबित डीएसपी देविंदर सिंह के खिलाफ चार्जशीट दायर         BIG NEWS : LAC पर चीनी सेना ने टेंट, वाहन और सैनिकों को 2 किलोमीटर तक पीछे हटाया         BIG NEWS : खालिस्तानी समर्थक संगठन “सिख फॉर जस्टिस” पर बड़ी कार्रवाई, 40 वेबसाइट्स बैन         BIG NEWS : चीन का मोहरा बना पाकिस्तान, POK में अतिरिक्त पाकिस्तानी फोर्स तैनात         हुवावे बैन : चीनी राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग को बड़ा झटका         BIG NEWS : चीन की शह पर रात के अंधेरे में सरहद पर फौज तैनात कर रहा है पाकिस्तान         गोडसे की अस्थियां अपने मुक्ति को...         दिल्ली-एनसीआर में बार-बार क्यों कांप रही धरती...         इस्कॉन के प्रमुख गुरु भक्तिचारू स्वामी का अमेरिका में कोरोना की वजह से निधन         BIG NEWS : कुलगाम एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया         BIG NEWS : लेह अस्पताल पर उठे सवाल, आर्मी ने दिया जवाब, "बहादुर सैनिकों की उपचार की व्यवस्था को लेकर सवाल उठाना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण"         BIG NEWS : JAC ने जारी किया 11वीं का रिजल्ट, 95.53 फीसदी छात्रों को मिली सफलता         कानपुर: चौबेपुर के SHO विनय तिवारी सस्पेंड, विकास दुबे से मिलीभगत का आरोप         राजौरी में आतंकी ठिकाने का पर्दाफाश, कई हथियार बरामद         BIG NEWS : विस्तारवाद पर दुनिया में अकेला पड़ गया चीन, भारत के साथ खड़ी हो गई महा शक्तियां         गुरु पूर्णिमा के दिन 5 जुलाई को लगेगा चंद्र ग्रहण, इन राशियों पर पड़ेगा सबसे ज्यादा असर         BIG NEWS : कराची में आतंकवादी हाफिज सईद के सहयोगी आतंकी मौलाना मुजीब की हत्या         BIG NEWS : भारत ने बॉलीवुड प्रोग्राम के पाकिस्तानी ऑर्गेनाइजर रेहान को किया ब्लैकलिस्ट         क्या रोक सकेंगे चीनी माल         BIG NEWS : सरहद पर मोदी का ऐलान, दुनिया में विस्तारवाद का हो चुका है अंत, PM मोदी के लेह दौरे से चीन में खलबली         BIG NEWS : CRPF जवान और 6 साल के बच्चे को मारने वाला आतंकी श्रीनगर एनकाउंटर में ढेर         भारत में बनी कोविड वैक्सीन 15 अगस्त तक होगी लॉन्च         BIG NEWS : आतंकवादियों से लोहा लेते हुए श्रीनगर में झारखंड का लाल शहीद         BIG NEWS : अचानक सुबह लेह पहुंचे पीएम मोदी, जांबाज जवानों से मिले और हालात का लिया जायजा         बॉलीवुड में फिर छाया मातम, मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन         BIG NEWS : गुंडों ने बरसाई अंधाधुंध गोलियां, सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद        

BIG STORY : नदियां गायब हो रहीं या मनुष्यता का डिहाड्रेशन हो रहा...

Bhola Tiwari Jun 04, 2020, 6:36 AM IST टॉप न्यूज़
img


उमानाथ लाल दास

पटना  : झारखंड की 133 नदियां अब आसपास के बूढ़े पुरानों की खंडहर स्मृतियों में समा गयीं। अब आप यहां पथरीली जमीन पायेंगे या खेल के मैदान सा भू भाग। बोकारो जिला के दर्जनों पोखर इसके गवाह हैं। यह एक प्राकृतिक आपदा है बौद्धिक इसे जलवायु परिवर्तन से जोड़ सकते हैं ओर पर्यावरणविद की चिंता सागर में भी यह मुद्दा ऊभ चूभ कर रहा है। दर असल यह प्रकृति से टूटते और सूखते मानवीय अनुराग के सूत्र की त्रासद कथा है। " डाउन टू अर्थ " की एक रिपोर्ट तो बताती है कि देश में उतना ही भूजल है जितना दिल्ली एनसीआर के एक दिन की जरूरत है।

भोगवादी लंपटताओं ने तंत्र से लेकर समाज तक को इस लूट में शामिल कर दिया है। समाज में घटते सदभाव ने हमें प्रकृति के प्रति भयंकर रूप से अनुदार और क्रूर बना दिया है। विकास के इस पोषण ने हमारी चमड़ी बहुत मोटी बनाकर हमें संवेदनशून्य बना दिया है। जीवन में मिली सदाशयताओं को लेकर हम भयानक रूप से उदासीन और गैर जिम्मेदार होते जा रहे हैं। सदाशयता तो इतनी कि

जिन चीजों की हमें कीमत अदा नहीं करनी पड़ती उसे लेकर हमारी लापरवाही हमें उसके दुरूपयोग तक ले आती है और उसके दुष्परिणाम से लापरवाह रहने के कारण हम कठोरतम रूप से क्रूर हो जाते हैं। मुफ्त में मिली मिट्टी, पानी और हवा इसी तरह दुरुपयोग होते-होते न सिर्फ वह संकट में पड़ी बल्कि सभ्यता आज इन कारणों से सर्वाधिक संकट में है। पोलर बीयर पर आये संकट से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ते हाथी के उत्पात और सेव टाइगर परियोजना को देखना-समझना होगा नये सिरे से। विकास के नये मॉडल में जनजातीय समाज के प्रति पनपी असहिष्णुता को भी समझना होगा। सभ्यता के आदि पालक और प्रकृति के अनुरागी जनजाति के संकट में निहत्थे पड़ते जाने को भी समझना होगा।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links