ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : चीन को बड़ा झटका; DHL के बाद FedEX ने बंद की चीन से भारत आने वाली शिपमेंट सर्विस         BIG NEWS : ड्रैगन के खिलाफ एक्शन में भारत, कार्रवाई से चीन में भारी नुकसान की आहट         BIG NEWS : भारत की कृतिका पांडे को मिला राष्ट्रमंडल-20 लघुकथा सम्मान         वैसे ये स्लोगन लगा विज्ञापन है किनके लिए भैये..          BIG NEWS : चीन की चाल , LAC पर तैनात किये 20 हजार से ज्यादा सैनिक         BIG NEWS : सोपोर में आतंकियों की गोली का शिकार बना एक और मासूम         BIG NEWS : सोपोर में CRPF पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकी हमला, 2 जवान शहीद, तीन घायल         BIG NEWS : इमरान ने फिर रागा कश्मीर का अलाप, डोमिसाइल पॉलिसी को लेकर UNSC से लगाई गुहार         BIG NEWS : यूरोपीय संघ, यूएन और वियतनाम के बाद अब ब्रिटेन ने भी लगाया पाकिस्तान एयरलाइंस पर बैन         BIG NEWS : 'ट्विटर, फेसबुक और यूट्यूब' को बैन करने वाला चीन टिक-टॉक बैन पर तिलमिलाया         देश की सीमाओं में ताका झांकी....!         दीपिका कुमारी और अतनु दास ने एक दूसरे को पहनाई वरमाला, अब होंगे सात फेरे         चलो रे डोली उठाओ कहार...पीया मिलन की रुत आई....         अध्यक्ष बदलने की सियासत         BIG NEWS : पांडे गिरोह ने रामगढ़ एसपी को दिखाया ठेंगा, मोबाइल क्रेशर कंपनी से मांगी रंगदारी         BIG NEWS : जानिए किस देश के प्रधानमंत्री का PM मोदी ने किया जिक्र, जिनपर लगा था 13000 रुपये का जुर्माना         80 करोड़ गरीबों को अब नवंबर तक मिलेगा मुफ्त अनाज : PM         BIG NEWS : अनंतनाग एनकाउंटर में 2 और आतंकी ढेर         ...प्रियंका, एक दिन बिना बाउंसर रह लें तो पता चले बालाओं की असुरक्षा...         चाइनीज एप सूची देख याद आया...          BYE-BYE CHINA : Tik Tok समेत 59 चाइनीज ऐप पर लगाया बैन         BREAKING NEWS : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल शाम 4 बजे राष्ट्र के नाम संदेश देंगे         BIG NEWS : UPA सरकार का फरमान, पुलिस अधिकारियों का अपमान और आतंकियों का सम्मान         BIG NEWS : सैयद अली शाह गिलानी पर ग्रहण, हुर्रियत कांफ्रेंस से इस्तीफे की घोषणा         BIG NEWS : फ्रांस से जुलाई अंत तक 6 राफेल लड़ाकू विमान पहुंचेंगे भारत, IAF की बढ़ेगी और ताकत         BIG NEWS : कराची स्टॉक एक्सचेंज पर आतंकी हमला, 9 लोगों की मौत          BIG NEWS : अनंतनाग एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकी मार गिराए, सर्च ऑपरेशन जारी         BIG NEWS : टेरर रिक्रूटमेंट समेत आतंकी गतिविधियों में हिजबुल आतंकी की माँ भी शामिल, गिरफ्तार         BIG NEWS : भारत चीन टेंशन के बीच जम्मू कश्मीर में तेल कंपनियों दो महीने की एलपीजी आपूर्ति करने के आदेश         BIG NEWS : अमित शाह का राहुल गांधी को चुनौती, कहा... “चर्चा करनी है तो आइए संसद में हो जाएं 1962 से आज तक दो-दो हाथ”         लद्दाख में भारत की भूमि पर आंख उठाकर देखने वालों को मिला है करारा जवाब : PM MODI         आर्चरी क्‍वीन दीपिका कुमारी और अतनु दास की शादी की रस्में शुरू         BIG NEWS : अब भारत ने LAC पर तैनात किया मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम         नेपाली नेता गुड़ खाएंगे और गुलगुले से परहेज करेंगे          BIG NEWS : अपराधियों ने एएसआई को गोली मारी, जांच करने गई पुलिस पर अपराधियों ने किया हमला         BIG NEWS : संकट दरकिनार पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर खोलने का किया ऐलान        

क्या किसी ने ड्रैगन को म्याऊं म्याऊं करते सुना है ?

Bhola Tiwari May 28, 2020, 7:58 AM IST टॉप न्यूज़
img

मनोज कुमार मिश्रा

नई दिल्ली  : क्या किसी ने ड्रैगन को म्याऊं म्याऊं करते सुना है ? नही सुना तो आज हिमालय की दिशा में कान लगा कर सुने तो इस पार और उस पार दोनों ही तरफ से म्याऊं म्याऊं की ध्वनि सुनाई पड़ेगी। मात्र 24 घंटे के भीतर नेपाल और चीन दोनो की हेंकड़ी निकल गई ।

कल तक जो नेपाल भारत के भूभाग पर अपना दावा कर रहा था आज उससे पीछे हट गया , तो लद्दाख में भारत द्वारा सामरिक ढांचों और सड़कों के निर्माण पर आंखें तरेर रहे चीन के भी तेवर ढीले पड़ गये ।

कल तक युद्ध की गीदड़ भभकी दे रहे चीन ने आज बयान दिया कि भारत और चीन बातचीत के जरिये हर मसला सुलझा लेंगे । आखिर 24 घंटे में ऐसा क्या हुआ ? दरअसल नए भारत की आक्रमक कूटनीति ने त्वरित परिणाम दुनिया के हर मंच पर दिखाना शुरू कर दिया है ।

नेपाल से भारत कच्चा पाम आयल और चाय भारी मात्रा में आयात करता है । चारो तरफ से लैंड लॉक नेपाल अपने जरूरत के अधिकांश सामानों के लिये आयात पर निर्भर है और दुनिया के किसी भी हिस्से से आने वाले आयातित समान पहले भारतीय बंदरगाहों पर उतरते हैं , उसके बाद भारत के सड़क मार्ग से नेपाल पहुंच पाता है । इसके अलावा पेट्रोलियम उत्पाद समेत नेपाल अपनी ढेर सारी जरूरतें भारत से ही पूरी करता है ।

नेपाल को सही रास्ते पर लाने के पहले कदम के रूप में भारत ने वहां से आयात होने वाले पाम आयल और चाय पर प्रतिबंध लगा दिया, जिसने फौरन असर दिखाया ।

उधर भले चीन युद्ध की धमकी दे रहा था पर वो जिस चक्रव्यूह में फंसा है वो ऐसी जुर्रत कत्तई नही करेगा । चीन ने सिर्फ भारत ही नही बल्कि ऑस्ट्रेलिया, जापान,ताइवान,वियतनाम, इंडोनेशिया, दक्षिण कोरिया जैसे भौगोलिक रूप से निकटवर्ती देशों से भी दुश्मनी मोल ले रखी है । 

 वुहान वायरस को जानबूझ कर दुनिया मे फैलाने के आरोपों के कारण चीन, अमेरिका समेत यूरोपीय देशों के आंखों की किरकिरी बना हुआ है । मुस्लिम देशों में उइगर मुसलमानो पर तथाकथित अत्याचार के उसके रवैये से नाराजगी तो है ही ,अफ्रीकी देशों में भी चीन के साहूकारी रवैये से असंतोष बढ़ता जा रहा है ।

मेरा तो मानना है कि अखंड भारत के निर्माण हेतु POK को वापस पाने के लिये रणनीतिक रूप से ये समय बेहद अनुकूल है ।

 चीन वर्तमान में इस स्थिति में नही है कि पाकिस्तान के अस्तित्व के लिये भारत से युद्ध का खतरा मोल ले क्योंकि अगर वो ऐसा करता है तो इस वक्त ऊपर वर्णित कई देश अपने अपने हित के लिये उसको चांपने के लिए तैयार बैठे हैं । रूस भी हमेशा की तरह भारत के ही पाले में रहेगा । 

पीओके का भारत मे पुनर्मिलन वैश्विक शांति और स्थिरता के लिये अनिवार्य है ,क्योंकि न केवल इससे आंतकवाद का जड़ से खात्मा होगा, अफगानिस्तान में स्थिरता और शांति आएगी, चीन की महत्वाकांक्षी और विस्तारवादी नीतियों पर विराम लगेगा, बल्कि सड़क और रेल मार्ग से आधी दुनिया भारत और एशियायी देशों से व्यापारिक रूप से जुड़ सकेगी । रूस तथा कजाकिस्तान जैसे देशों से सीधा पाइप लाइन के माध्यम से वहां की प्राकृतिक गैस और पेट्रोलियम उत्पाद भारत और पूर्वी एशिया के देशों यहां तक ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड के बाजारों तक अपनी पहुंच बना सकेंगे । 

कश्मीर मुद्दे और भारत मे वांछित इस्लामी धर्मोपदेशक ज़ाकिर नाइक को शरण दे कर मलेशिया के इतिहास के सबसे शक्तिशाली नेता महातिर मोहम्मद अपनी कब्र पहले ही खुदवा चुके हैं। धारा 370 के मुद्दे पर पाकिस्तान के साथ खड़ा होना और ज़ाकिर नाइक को भारत प्रत्यर्पित करने से मना करने वाले महातिर को अपनी सत्ता एकाएक चौंकाने वाली घटना में गवां कर तो चुकानी ही पड़ी , पाम आयल के आयात पर भारत के प्रतिबंध लगाने की वजह से मलेशिया को भी भारी आर्थिक नुकसान झेलना पड़ा ।

मलेशिया के सुल्तान अब्दुल्लाह रियातउद्दीन को उनका इस्तीफा ले कर भारत समर्थक मुहइद्दीन यासिर को सत्ता की चाभी सौंपनी पड़ी तो महातिर के साथ वर्षो से सत्ता में भागीदार पार्टियों ने भी उनका साथ छोड़ नवनियुक्त प्रधानमंत्री यासिर का दामन थाम लिया । 

मुहइद्दीन यासिर ने आते ही पहला काम ये किया कि भारत से बिगड़े संबंधों को पटरी पर लाने के लिये 2 लाख टन चीनी और इतनी मात्रा में चावल भारत से खरीदने के लिए आदेश दिए ।  

  भारत ने भी दरियादिली दिखाते हुए कच्चे पाम आयल के पुनः मलेशिया से आयात की अनुमति दे दी । यहां ध्यान देने की बात ये है कि भारत रिफाइंड आयल न ले कर कच्चा पाम आयल ही लेगा ताकि भारत मे ही उसे परिशोधित करने के लिए न केवल बंद पड़ीं रिफाइनरियां पुनः चालू हो सकें बल्कि नई यूनिटों की भी स्थापना हो और रोजगारों का सृजन हो ।

इसके साथ ही भारत ने मौका ताड़ते हुए पुनः मलेशिया पर ज़ाकिर नाइक को प्रत्यर्पित करने का दबाव बनाया है जिसपर उसकी प्रतिक्रिया सकारात्मक है ।

हो सकता है जून जुलाई के महीने में माल्या और ज़ाकिर नाइक मुम्बई के आर्थर रोड जेल के एक ही बैरक में मेहुल चोकसी और नीरव मोदी के जल्द वतन वापसी की दुआ करते हुए पाये जायें ।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links