ब्रेकिंग न्यूज़
पाकिस्तान को चीन ने दिया 'धोखा', भेज दिया अंडरवेयर से बने मास्क         खुशखबरी : नए डोमिसाइल नियम में संशोधन, स्थायी निवासियों के लिए सरकारी नौकरियां आरक्षित         स्वास्थ्य मंत्रालय : कोरोना के 30% मामले तब्लीगी जमात के मरकज की वजह से फैले         प्रार्थना का क्या महत्व है ?         लॉक डाउन : कुछ शर्तों के साथ खुल सकता है लॉकडाउन, जानें क्या है सरकार की तैयारी         WHO की रिपोर्ट में खुलासा : ऐसे फैलता है कोरोना वायरस         पाकिस्तान : नाबालिग को अगवा कर पहले किया रेप, फिर धर्म-परिवर्तन करा रेपिस्ट से कराई शादी         इस दीए की रोशनी         अनलॉक्ड : खुली हवाओं में सांस ले रहे हैं जीव-जन्तु         सीएम योगी का फरमान : नर्सों से अश्लील हरकत करने वाले जमातियों पर NSA, अब पुलिस के पहरे में इलाज         जमात की करतूत : नर्सों के सामने नंगा होने वाले जमात के 6 लोगों पर FIR         आप इन्फेक्टेड हो गए हैं तो काफिरों को इन्फेक्ट कीजिए : आईएसआईएस          मैं, सरकारी सिस्टम के साथ हूँ         तबलीगी जमात से जुड़े 400 लोग कोरोना पॉजिटिव, 9000 क्वारनटीन : स्वास्थ्य मंत्रालय         BIG NEWS : झारखंड में कोरोना का दूसरा मरीज मिला         सेना की बड़ी तैयारी : युद्धपोत, प्लेन अलर्ट, सेना के 8,500 डॉक्टर भी तैयार         पाकिस्तान में ऐलान : तबलीगी जमात के लोगों से नहीं मिले मुल्क के लोग         सबके राम !         तबलीगी जमात का आतंकवादी संगठनों से अप्रत्यक्ष संबंध : तस्लीमा नसरीन         BIG NEWS : झारखंड के मंत्री पुत्र को आइसोलेशन वार्ड, होम क्वारेंटाइन में मंत्री         BIG NEWS : अब 15 वर्षों से राज्य में रहने वाला हर नागरिक जम्मू कश्मीर का स्थायी निवासी         11 जनवरी से 31मार्च- 80 दिन 1920 घंटे..          क्या है तबलीगी जमात और मरकज?         खतरे में प्रिंट मीडिया         तबलीगी जमात में शामिल धार्मिक प्रचारकों को ब्लैक लिस्ट करेगी सरकार         तबलीकी जमात का सालाना कार्यक्रम :  केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस का फेल्योर हीं है !         बड़ी खबर : झारखंड में कोरोना का पहला पॉजिटिव केस, हिंदपीढ़ी में मलेसिया की युवती निकली संक्रमित, तब्‍लीगी जमात से जुड़ी है मलेशिया की महिला         क्या है तबलीकी जमात और मरकज?जिनके ऊपर लापरवाही के आरोप लग रहे हैं...         हे राम-भरोसे ! हमसे उम्मीद मत रखना !         होशियार लोगों का वायरल बीहेवियर         लॉक डाउन को मंत्री जी ने किया अनलॉक, डीसी का आदेश पाकर गांव की ओर चल पड़ी बसें         पाकिस्तान में कोरोना : राशन सिर्फ मुसलमानों के लिए है, हिंदूओं को नहीं मिलेगा         चीन को खलनायक बनाकर अमेरिकीपरस्त प्रेस ने निकाली मीडिया की मैयत..         विएतनाम पर बीबीसी की रिपोर्ट : किस पर भरोसा करें!         पाकिस्तान में कोरोना : मास्क और ग्लव्स की जगह पॉलिथीन पहनकर इलाज कर रहे हैं डॉक्टर         राजकुमारी मारिया टेरेसा की कोरोना से मौत        

सभ्य समाज के मुँह पर तमाचा है दिल्ली की "गार्गी काँलेज" और "लेडी श्रीराम काँलेज" जैसी घटनाएं

Bhola Tiwari Feb 13, 2020, 12:08 PM IST टॉप न्यूज़
img


अजय श्रीवास्तव

नई दिल्ली  : 06 फरवरी 2020 की वो मनहूस शाम,दिल्ली विश्वविद्यालय से संबद्ध गार्गी काँलेज में आयोजित एक क्रार्यक्रम के दौरान काँलेज में छात्राओं के साथ बाहरी लड़के जो कैंपस की दीवार फांदकर और गेट तोड़कर आए थे बदसलूकी करते हैं।हद तो तब हो जाती है जब अश्लील हरकतों के बाद सार्वजनिक रूप से मस्टरबेशन करने लगते हैं।लड़कियों के कपड़ों के अंदर हाथ डाला जाता है, उन्हें खींचकर कोने में ले जाने की कुचेष्टा होती है।बहुत सी लड़कियों के गाल और ओठों के साथ खेलवाड़ की जाती है मगर बेहद कम मात्रा में पुलिस मूकदर्शक बनी रहती है।

काँलेज प्रशासन ने फेस्ट में दाखिल होने के लिए हर छात्रा के साथ एक गार्जियन को भी आमंत्रित किया था।गार्जियन पूरे समय अपनी बच्चियों को इन दरिद्रों से बचाते रहे मगर फिर भी उन्हें खींचा जाता रहा।एक छात्रा के पिता ने बताया कि कुछ समय तो ऐसा लगा कि हम आदम युग में आ गए हैं और बलपूर्वक हमारे आँखों के सामने हीं हमारी बच्चियों से कुछ गलत किया जाएगा।

काँलेज प्रशासन ने जब इतना बड़ा इवेंट किया था तब सुरक्षा के लिए उन्हें पुलिस प्रशासन से संपर्क करना चाहिए था मगर दक्षिण जिला डीसीपी अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि काँलेज प्रशासन ने हमसे पुलिस सुरक्षा की कोई मांग नहीं की थी।काँलेज की प्रिसिंपल डाँ.प्रोमिला कुमार का रवैया भी बेहद खराब रहा और उनपर ये आरोप लग रहे हैं कि उन्होंने समय पर पुलिस से संपर्क नहीं किया।ये दिल्ली की पहली घटना नहीं है, इसके दो साल पहले नार्थ कैंपस के श्रीराम काँलेज आँफ कामर्स के वार्षिकोत्सव में भी ऐसे घटना हो चुकी है।

काँलेज प्रिंसिपल डाँ. प्रोमिला कुमार ने पूरे मामले की जाँच के लिए एक हाईलेवल फैक्ट फाइंडिंग कमेटी का भी गठन किया है जो पीडित छात्राओं, घटना के चश्मदीदों और अन्य लोगों से बातचीत कर मामले की जाँच कर रही है।

घटना के बाद काँलेज प्रशासन की तहरीर पर आईपीएस की धारा 452,354,509 और 34 के तहत एफआईआर दर्ज कर दिल्ली पुलिस की 11 टीमों को जाँच के लिए लगाया गया था।डीसीपी ठाकुर ने बताया कि आरोपियों की पहचान सीसीटीवी कैमरों व टेक्निकल सर्विलांस से हुई है।तीस से ज्यादा सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर 10 लड़कों को गिरफ्तार किया गया है।ये सभी छात्र दिल्ली-एनसीआर के विभिन्न काँलेजों में पढ़ते हैं और अधिकांश ने उस समय शराब पी रखी थी।

गार्गी काँलेज की इस शर्मनाक घटना से क्षुब्ध वकील मनोहर लाल शर्मा ने सुप्रीमकोर्ट में गार्गी काँलेज को लेकर जनहित याचिका दाखिल की है।इस जनहित याचिका में मामले की जाँच सुप्रीमकोर्ट की निगरानी में सीबीआई से कराए जाने की माँग की गई है।दिल्ली महिला आयोग ने भी मामले का स्वतः संज्ञान लेते हुए काँलेज प्रशासन को नोटिस जारी किया है।महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कैंपस जाकर मामले की जाँच स्वंय शुरू कर दी है।

इस घटना का सबसे निराशाजनक पहलू नेताओं के इस मामले में ठंडे बयान को लेकर है।दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने चुनाव के वक्त एक छोटी सी ट्वीट कर इस घटना की निंदा की है जो एक मुख्यमंत्री के लिए नाकाफी है।चुनाव में व्यस्तता का ये मतलब नहीं है कि आप अपनी जिम्मेदारी को भूल जाएं।दिल्ली में कानून व्यवस्था की जिम्मेदारी केंद्र सरकार की है मगर केन्द्रीय मंत्री तो गोली मारने का नारा लगवाने में मशगूल थे,वे कानून व्यवस्था को कैसे देखते।

दिल्ली के विभिन्न यूनिवर्सिटी में देश भर से छात्र-छात्राएं पढ़ाई के लिए आते हैं मगर आज वहां जो माहौल है वो खौफ पैदा करता है, गार्गी काँलेज और लेडी श्रीराम काँलेज की घटनाओं से शरीर में सिहरन पैदा हो जाती है।भेडियों के रहते लड़कियाँ कहीं भी महफूज नहीं है ये अब सभी ने जान लिया है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links