ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : भारत और चीन के बीच आज मेजर जनरल स्तर की वार्ता, डिसएंगेजमेंट पर होगी चर्चा         BIG NEWS : मनोज सिन्हा ने ली जम्मू-कश्मीर के नये उपराज्यपाल पद की शपथ, संभाला पदभार         BIG NEWS : पुंछ में एक और आतंकी ठिकाना ध्वस्त, AK-47 राइफल समेत कई हथियार बरामद         BIG NEWS : सीएम हेमंत सोरेन ने भाजपा सांसद निशिकांत दुबे के खिलाफ किया केस         BIG NEWS : मुंबई में ED के कार्यालय पहुंची रिया चक्रवर्ती          BIG NEWS : शोपियां में मिले अपहृत जवान के कपड़े, सर्च ऑपरेशन जारी         मुंबई में सड़कें नदियों में तब्दील          BIG NEWS : पाकिस्तान आतंकवाद के दम पर जमीन हथियाना चाहता है : विदेश मंत्रालय         BIG NEWS : श्रीनगर पहुंचे जम्मू-कश्मीर के नये उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, आज लेंगे शपथ         सुष्मान्जलि कार्यक्रम में सुषमा स्वराज को प्रकाश जावड़ेकर सहित बॉलीवुड के दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि           BIG NEWS : जीसी मुर्मू होंगे देश के नए नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक          BIG NEWS : सीबीआई ने रिया समेत 6 के खिलाफ केस दर्ज किया         बंद दिमाग के हजार साल           BIG NEWS : कुलगाम में आतंकियों ने की बीजेपी सरपंच की गोली मारकर हत्या         BIG NEWS : अयोध्या में भूमि पूजन! आचार्य गंगाधर पाठक और PM मोदी की मां हीराबेन         मनोज सिन्हा होंगे जम्मू-कश्मीर के नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू का इस्तीफा स्वीकार         BIG NEWS : सदियों का संकल्प पूरा हुआ : मोदी         BIG NEWS : लालू प्रसाद यादव को रिम्स डायरेक्टर के बंगले में किया गया स्विफ्ट         BIG NEWS : अब पाकिस्तान ने नया मैप जारी कर जम्मू कश्मीर, लद्दाख और जूनागढ़ को घोषित किया अपना हिस्सा         हे राम...         BIG NEWS : सुशांत केस CBI को हुआ ट्रांसफर, केंद्र ने मानी बिहार सरकार की सिफारिश         BIG NEWS : पीएम मोदी ने अयोध्या में की भूमि पूजन, रखी आधारशिला         BIG NEWS : PM मोदी पहुंचे अयोध्या के द्वार, हनुमानगढ़ी के बाद राम लला की पूजा अर्चना की         BIG NEWS : आदित्य ठाकरे से कंगना रनौत ने पूछे 7 सवाल, कहा- जवाब लेकर आओ         रॉकेट स्ट्राइक या विस्फोटक : बेरूत के तट पर खड़े जहाज में ताकतवर ब्लास्ट, 73 की मौत         BIG NEWS : भूमि पूजन को अयोध्या तैयार         रामराज्य बैठे त्रैलोका....         BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत की मौत से मेरा कोई संबंध नहीं : आदित्य ठाकरे         BIG NEWS : दीपों से जगमगा उठी भगवान राम की नगरी अयोध्या         BIG NEWS : पूर्व मंत्री राजा पीटर और एनोस एक्का को कोरोना, कार्मिक सचिव भी चपेट में         BIG NEWS : अब नियमित दर्शन के लिए खुलेंगे बाबा बैद्यनाथ व बासुकीनाथ मंदिर          BIG NEWS : श्रीनगर-बारामूला हाइवे पर मिला IED बम, आतंकी हादसा टला         BIG NEWS : सिविल सेवा परीक्षा का फाइनल रिजल्ट जारी, प्रदीप सिंह ने किया टॉप, झारखंड के रवि जैन को 9वां रैंक, दीपांकर चौधरी को 42वां रैंक         सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुख्यमंत्री नीतीश ने की CBI जांच की सिफारिश         BIG NEWS : आतंकियों ने सेना के एक जवान को किया अगवा          बिहार DGP का बड़ा बयान, विनय तिवारी को क्वारंटाइन करने के मामले में भेजेंगे प्रोटेस्ट लेटर         BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत केस में बिहार पुलिस के हाथ लगे अहम सुराग !         BIG NEWS : दिशा सालियान...सुशांत सिंह राजपूत मौत प्रकरण की अहम कड़ी...         BIG NEWS : पटना पुलिस ने खोजा रिया का ठिकाना, नोटिस भेज कहा- जांच में मदद करिए         BIG NEWS : छद्मवेशी पुलिस के रूप में घटनास्थल पर कुछ लोगों के पहुंचने के संकेत         लिव-इन माने ट्राउबल बिगिन... .          रक्षाबंधन : इस अशुभ पहर में भाई को ना बांधें राखी, ज्योतिषी की चेतावनी         जब मां गंगा को अपनी जटाओं में शिव ने कैद कर लिया...         आज सावन का आखिरी सोमवार, अद्भुत योग, भगवान शिव की पूजा करने से हर मनोकामना होगी पूरी          अन्नकूट मेले को लेकर सजा केदारनाथ, भगवान भोले को चढ़ाया गया नया अनाज         BIG NEWS :  गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती ने सुशांत सिंह के बैंक अकाउंट से 90 दिनों में 3.24 करोड़ रुपए निकाले         GOOD NEWS : अमिताभ की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव, 22 दिन बाद हॉस्पिटल से डिस्चार्ज         केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कोरोना पॉजिटिव          BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत के मित्र सिद्धार्थ पीठानी को पटना पुलिस सम्मन जारी कर करेगी पूछताछ        

कोहली सदर होते हुए भी धोनी के नायब है!

Bhola Tiwari Jan 15, 2020, 9:56 AM IST खेल
img

संकर्षण शुक्ला

तेज हुंकार और जोश-ओ-खरोश के साथ सेनापतियों को अपने सैनिकों को ऊर्जित करते हुए बहुत देखा-सुना है हम सबने। मगर एक सेनापति ऐसा भी है जो साइबेरिया की सर्द हवाओं से भी शीतलता से अपने सैनिकों को प्रेरित करता है। ऐसे सेनानायक है महेंद्र सिंह धोनी और ये मैदान जंग का नहीं क्रिकेट का खेल का मैदान है।

गांगुली ने भारतीय टीम को जीतना भले सिखाया, मगर कभी विश्व विजयी नहीं बना पाए। ये गांगुली के ही नेतृत्व का करिश्मा था जोकि सौम्यता से हार का वरण कर देने वाली टीम में भी किलर इंस्टिंक्ट विकसित हो गया था और वो दरेरा देती थीं मग़र विश्व विजय की इबारत दादा भी न लिख पाएं क्योंकि उससे पहले ही 'ग्रेग चैपल हादसा' हो गया था।

जैसे 17वीं-18वीं शताब्दी के दशक में ब्रिटेन के सूरज नहीं अस्त होता था, मगर स्पेन की नौसेना उन्हें अक्सर औकात दिखाया करती थी; वैसे ही भारतीय क्रिकेट टीम सबसे जीतकर अक्सर ऑस्ट्रेलिया से हार जाती थी और हार भी ज्यादातर वन साइडेड होती थी।

ऐसे में ग्रेग चैपल नाम का क्रूर फेनोमेना आया, जोकि गांगुली को हर कीमत टीम से बाहर करना चाहता था; इसलिए उसे ऐसे चेहरे के साथ कि तलाश थी जोकि नेतृत्व क्षमता में जाबड़ हो और ऐसा खिलाड़ी था धोनी। अब भारत को नया सदर मिला महेंद्र सिंह धोनी। कूलनेस को भीतर तक धारित किये और एडीसन के स्तर का प्रयोगधर्मी ये क्रिकेटर टीम को एक पारखी कुम्हार की तरह गढ़ने लगा। ये धोनी की ही मेहनत का नतीजा है जो आज अपने पास बेंच पे भी एक क्रिकेट टीम बैठी है, जो वर्तमान में खेल रहे ग्यारहों खिलाड़ी की अनुपस्थिति में भी शानदार खेल दिखा सकती है।

ऑस्ट्रेलिया नामक तिलिस्म का पटाक्षेप किया धोनी ने जब वीबी सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को उसी की धरती पे हराया, इसी सीरीज़ से हमें रोहित शर्मा की पोटेंशियल का वास्तव में पता चला, जो आज छक्के मारने में शिखर सम्राट है। इसके बाद तो धोनी जहाँ भी दौरा करने जाते, एक ट्रॉफी हाथ में ही ले आते। 

ट्वेंटी-ट्वेंटी वर्ल्डकप को जीतना उनके बारे में पूत के पाँव में पालने ही दिख जाना जैसा है, मने ये जीत ये बता रही थी कि अभी भारत के हिस्से और भी ट्राफियां थोंक के भाव आने वाली है। धोनी जैसा जजमेंट करना और परिस्थिति को स्वःस्थिति में बदलना और किसी के बूते की बात नहीं है। इसी वर्ल्डकप का लास्ट ओवर जोगिन्दर शर्मा को देना और फिर उस निर्णय का एकदम सटीक और निशाने पे बैठना धोनी की दूरदर्शिता और त्वरित निर्णयशीलता की थाती है।

इसके बाद 2011 के एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वर्ल्डकप ट्रॉफी को टीम इंडिया की झोली में डालना धोनी की सर्वकालिक महान उपलब्धि थी। धोनी का सफर यही नहीं थमा, उन्होंने चैंपियंस ट्रॉफी में भी टीम को विजय दिलाई।

इसके अलावा उन्होंने टीम को टेस्ट में भी नंबर एक पायदान पे ला खड़ा किया। मने उन्होंने क्रिकेट के तीनों में टीम को सर्वश्रेष्ठ पायदान पर सुशोभित कर दिया। वो कहते है कि जब ऊंचाई एकदम अंतिम बिंदु पर आ जाती है तो फिर नीचे आने के सिवाय कोई चारा नहीं होता। अलबत्ता कई लोग पैराशूट लगाकर उतरते है तो कई लोग औंधे मुंह गिर जाते है। मगर धोनी जैसा समझदार आदमी पैराशूट तो रखता ही है।

दरअसल भारतीय टीम टेस्ट क्रिकेट में लगातार हारने लगी थी और धोनी की व्यक्तिगत परफॉमेंस भी नीचे गिरती जा रही थी। ऐसे में अचानक ही एक दिन धोनी ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास का फैसला कर लिया और टेस्ट के नए सदर(कप्तान) बने कोहली, जो अभी तक नायब(उपकप्तान) थे। इसी बीच कोहली एकदिवसीय क्रिकेट में भी कप्तान बन गए।

लोगों को लगा कि धोनी युग का पटाक्षेप हो गया। मगर धोनी फोटॉन जैसे है, जो कभी ख़त्म नहीं होता। धोनी ने अपना खोया हुआ व्यक्तिगत प्रदर्शन हासिल कर लिया और इसी के साथ तख़्त-ए-ताउस के अभिलेखीय(रिकॉर्ड) न सही मगर वास्तविक सरताज भी बन गए।

कोहली टीम के कप्तान भले है, मगर वो कप्तानी नहीं करते। मैदान पर धोनी ही कप्तानी करते है। मुश्किल परिस्थितियों में फील्ड सेलेक्शन से लेकर गेंदबाजी चयन तक का सारा काम धोनी ही करते है। डेथ ओवरों में टीम का कप्तान थर्ड मैन पर लगता है मने तीस गज के दायरे में ऐसा जरूर कोई होता होगा जो टीम को गाइड करता होगा और वो कोई और नहीं धोनी होते है।

टीम के सार्वकालिक सदर महेंद्र सिंह धोनी है और जब तक क्रिकेट के मैदान पर वो रहेंगे, सदर बनकर ही रहेंगे। 

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links