ब्रेकिंग न्यूज़
केंद्र सरकार ने "भीमा कोरेगांव केस" की जाँच महाराष्ट्र सरकार की अनुमति के बगैर "एनआईए" को सौंपा, महाराष्ट्र सरकार नाराज         तेरा तमाशा, शुभान अल्लाह..         आर्यावर्त में बांग्लादेशियों की पहचान...         जंगलों का हत्यारा, धरती का दुश्मन...         लुगू पहाड़ की तलहटी में नक्सलियों ने दी फिर दस्तक         आज संपादक इवेंट मैनेजर है तो तब वो हुआ करता था बनिये का मुनीम या मंत्र पढ़ता पंडत....         किसी को होश नहीं कि वह किसे गाली दे रहा है...          जेवीएम विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी से की मुलाकात         नीतीश का दो टूक : प्रशांत किशोर और पवन वर्मा जिस पार्टी में जाना चाहे जाए, मेरी शुभकामना         लोहरदगा में कर्फ्यू :  CAA के समर्थन में निकाले गए जुलूस पर पथराव, कई लोग घायल         पेरियार विवाद : क्या तमिल सुपरस्टार रजनीकांत की बातें सही हैं जो उन्होंने कही थी ?         पत्‍थलगड़ी आंदोलन का विरोध करने पर हुए हत्‍याकांड की होगी एसआईटी जांच, सीएम हेमंत सोरेन दिए आदेश         एक ही रास्ता...         अब तानाजी के वीडियो में छेड़छाड़ कर पीएम मोदी को दिखाया शिवाजी         सरकार का नया दांव : जनसंख्या नियंत्रण कानून...         हम भारत के सामने बहुत छोटे हैं, बदला नहीं ले सकते : महातिर मोहम्मद         तीस साल बीतने के बावजूद कश्मीरी पंडितों की सुध लेने वाला कोई नहीं, सरकार की प्राथमिकता में कश्मीर के अन्य मुद्दे         हेमंत सोरेन को मिला 'चैम्पियन ऑफ चेंज' अवॉर्ड         जेपी नड्डा भाजपा के नए अध्यक्ष, मोदी बोले-स्कूटर पर साथ घूमे         नए दशक में देश के विकास में सबसे ज्यादा 10वीं-12वीं के छात्रों की होगी भूमिका : मोदी         CAA को लेकर केरल में राज्यपाल और राज्य सरकार में ठनी         इतिहास तो पूछेगा...         सेखुलरी माइंड गेम...         अफसरों की करतूत : पत्नियों की पिकनिक के लिए बंद किया पतरातू रिजाॅर्ट         गुरूवर रविंद्रनाथ टैगोर की मशहूर कविता "एकला चलो रे" की राह पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव         पत्रकारिता में पद्मश्रियों और राज्यसभा की सांसदी के कलुष...         विकास का मॉडल देखना हो तो चीन को देखिए...        

जाली नोटों के कारोबार से हाई प्रोफाइल लाइफ जीते थे आरुष और रजनीशगर्लफ्रेंड के साथ घूमने निकला था आरुष1 घंटे में एक करोड़ के जाली नोट छाप सकता था यह गिरोहयू-ट्यूब से जाली नोट बनाना सीखा

Bhola Tiwari Jan 12, 2020, 8:06 PM IST टॉप न्यूज़


Jitender kumar

रामगढ़ : एसपी प्रभात कुमार ने बताया कि आरूष और रजनीश का लाइफ स्टाइल काफी हाईप्रोफाइल था। वे दोनों खुद को बहुत पैसे वाला दिखाते थे। आरूष वर्मा अभी पढ़ाई कर रहा है और वह मॉडलिंग के क्षेत्र में काम करता है। उसके साथ जाली नोट धंधा करने वाले रजनीश कुमार राउत ने सिर्फ इंटर तक पढ़ाई की है। उन दोनों के पास ब्रांडेड कपड़े, जूते व अन्य सामान मिले हैं। वह लोग धनबाद में भी काफी पॉस इलाके में और बढ़िया मकान में किराए पर रहते थे, ताकि किसी को उनके ऊपर जल्दी शक ना करे। उनके पास जो गाड़ी मिली वह 10 लाख रुपए की है। शनिवार को आयुष अपनी गर्लफ्रेंड के साथ रंगरलिया मनाने रांची निकला था। गोला में जब पुलिस ने आरुष को पकड़ा तो उसने धनबाद में अपना पता बताया। उसके आधार पर धनबाद थाना क्षेत्र के शिव शक्ति मंदिर के पास माडा कॉलोनी में पुलिस ने छापेमारी की। वहां से पुलिस ने लैपटॉप, प्रिंटर, नोट छापने के लिए 85 जीएसएम पेपर का 3 बंडल जप्त किया। उस फ्लैट में आरुष और रजनीश ने मिलकर 100 के दोनों तरफ छपे हुए 119 पेज एवं ए4 साइज पर एक तरफ छपे हुए 100 के 35 पेज को प्रिंट किया था। 


1 घंटे में 1 करोड़ रुपए के जाली नोट छाप सकता है यह गिरोह


रामगढ़ एसपी प्रभात कुमार ने बताया कि इस गिरोह के पास जाली नोट का कारोबार करने के लिए काफी उपकरण थे। उनके फ्लैट से जितने सामान मिले हैं, उससे वे लोग 1 घंटे में एक करोड़ रुपए के जाली नोट छाप सकते थे। वे लोग जाली नोट बनाने के लिए जिस पेपर का इस्तेमाल करते हैं, वह 85 जीएसएम का है। यह पेपर मार्केट में आमतौर पर उपलब्ध है। उन लोगों के पास जो लैपटॉप मिला है, उसमें भारतीय करेंसी के 10 से लेकर 2000 तक के नोटों के मॉडल तैयार किए गए हैं। इन सभी नोटों के लिए उन लोगों ने अलग-अलग नंबर भी बना के रखे हैं।


यूट्यूब से वीडियो देख कर नोट बनाना सिखा


रजनीश ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि जाली नोट बनाने के लिए उसने यूट्यूब का सहारा लिया। यूट्यूब पर कई ऐसे वीडियो उसने खंगाले। इसके बाद उसने अपने लैपटॉप पर 10 से लेकर 2000 तक के नोट का मॉडल तैयार किया। उसने बाजार में उपलब्ध सामान्य ए4 पेपर को देखा कि यह 50 जीएसएम का है। इसे आसानी से पकड़ा जा सकता है। उसने 85 जीएसएम का पेपर नोट बनाने के लिए इस्तेमाल किया। 


जनरल स्टोर और पेट्रोल पंप को बनाते थे निशाना


जाली नोटों को खपाने के लिए इस अंतरराज्यीय गिरोह ने जनरल स्टोर्स और पेट्रोल पंप को चिन्हित किया था। रामगढ़ एसपी प्रभात कुमार ने बताया कि यह लोग अपने पास जेब में असली नोटों के साथ खुद के द्वारा बनाए गए जाली नोट के रखते थे। पेट्रोल पंप पर दुकानों में जैसे ही कोई व्यक्ति 2000 या 500 के नोट का चेंज मांगता था, तो वे लोग असली नोटों के साथ नकली नोट मिलाकर उसे दे देते थे। पेट्रोल पंप पर अक्सर सेल्समैन को यह लोग चकमा देकर नकली नोट खपाते थे।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links