ब्रेकिंग न्यूज़
केंद्र सरकार ने "भीमा कोरेगांव केस" की जाँच महाराष्ट्र सरकार की अनुमति के बगैर "एनआईए" को सौंपा, महाराष्ट्र सरकार नाराज         तेरा तमाशा, शुभान अल्लाह..         आर्यावर्त में बांग्लादेशियों की पहचान...         जंगलों का हत्यारा, धरती का दुश्मन...         लुगू पहाड़ की तलहटी में नक्सलियों ने दी फिर दस्तक         आज संपादक इवेंट मैनेजर है तो तब वो हुआ करता था बनिये का मुनीम या मंत्र पढ़ता पंडत....         किसी को होश नहीं कि वह किसे गाली दे रहा है...          जेवीएम विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी से की मुलाकात         नीतीश का दो टूक : प्रशांत किशोर और पवन वर्मा जिस पार्टी में जाना चाहे जाए, मेरी शुभकामना         लोहरदगा में कर्फ्यू :  CAA के समर्थन में निकाले गए जुलूस पर पथराव, कई लोग घायल         पेरियार विवाद : क्या तमिल सुपरस्टार रजनीकांत की बातें सही हैं जो उन्होंने कही थी ?         पत्‍थलगड़ी आंदोलन का विरोध करने पर हुए हत्‍याकांड की होगी एसआईटी जांच, सीएम हेमंत सोरेन दिए आदेश         एक ही रास्ता...         अब तानाजी के वीडियो में छेड़छाड़ कर पीएम मोदी को दिखाया शिवाजी         सरकार का नया दांव : जनसंख्या नियंत्रण कानून...         हम भारत के सामने बहुत छोटे हैं, बदला नहीं ले सकते : महातिर मोहम्मद         तीस साल बीतने के बावजूद कश्मीरी पंडितों की सुध लेने वाला कोई नहीं, सरकार की प्राथमिकता में कश्मीर के अन्य मुद्दे         हेमंत सोरेन को मिला 'चैम्पियन ऑफ चेंज' अवॉर्ड         जेपी नड्डा भाजपा के नए अध्यक्ष, मोदी बोले-स्कूटर पर साथ घूमे         नए दशक में देश के विकास में सबसे ज्यादा 10वीं-12वीं के छात्रों की होगी भूमिका : मोदी         CAA को लेकर केरल में राज्यपाल और राज्य सरकार में ठनी         इतिहास तो पूछेगा...         सेखुलरी माइंड गेम...         अफसरों की करतूत : पत्नियों की पिकनिक के लिए बंद किया पतरातू रिजाॅर्ट         गुरूवर रविंद्रनाथ टैगोर की मशहूर कविता "एकला चलो रे" की राह पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव         पत्रकारिता में पद्मश्रियों और राज्यसभा की सांसदी के कलुष...         विकास का मॉडल देखना हो तो चीन को देखिए...        

‘मासूमों की मौत की जवाबदेही तय होनी चाहिए’ सरकार का रुख संतोषजनक नहीं : सचिन पायलट

Bhola Tiwari Jan 04, 2020, 9:24 PM IST टॉप न्यूज़
img

● इसके लिए पिछली सरकारों को जिम्मेदार ठहराना गलत

कोटा : राजस्थान में कोटा और जोधपुर में हो रहे बच्चों की मौत पर बवाल मचा है। इसी दरमियान राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कोटा में बच्चों की मौत को लेकर अपनी ही सरकार को घेरा है। शनिवार को जेके लोन अस्पताल का दौरा करने के बाद उन्होंने कहा कि इतने ज्यादा मासूमों की मौत की जवाबदेही तय होनी जरुरी है। सरकार का रुख संतोषजनक नहीं था। हम इसके लिए पिछली सरकारों को जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते है। सचिन पायलट ने कहा ‘मुझे लगता है कि इस मामलें पर हमारी प्रतिक्रिया अधिक करुणामय और संवेदनशील हो सकती थी। 13 महीने तक सत्ता में रहने के बाद मुझे लगता है कि पिछली सरकारों के काम को इसके लिए दोष देना ठीक नहीं है। इसलिए जवाबदेही तय होनी चाहिए। ’

गौरतलब है कि सरकारी अस्पताल जेके लोन में अब तक 105 से ज्यादा बच्चों की मौत को लेकर राजस्थान सरकार की खूब आलोचना हो रही है। बीजेपी समेत कई दलों ने राज्य सरकार पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। हालांकि अस्पताल प्रशासन का दावा है कि काल के गाल में सामने वाले अधिकतर बच्चों की मौत की मुख्य वजह जन्म के समय कम वजन है।

वहीं, राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने कोटा जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) को फिर से तलब किया है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links