ब्रेकिंग न्यूज़
केंद्र सरकार ने "भीमा कोरेगांव केस" की जाँच महाराष्ट्र सरकार की अनुमति के बगैर "एनआईए" को सौंपा, महाराष्ट्र सरकार नाराज         तेरा तमाशा, शुभान अल्लाह..         आर्यावर्त में बांग्लादेशियों की पहचान...         जंगलों का हत्यारा, धरती का दुश्मन...         लुगू पहाड़ की तलहटी में नक्सलियों ने दी फिर दस्तक         आज संपादक इवेंट मैनेजर है तो तब वो हुआ करता था बनिये का मुनीम या मंत्र पढ़ता पंडत....         किसी को होश नहीं कि वह किसे गाली दे रहा है...          जेवीएम विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी से की मुलाकात         नीतीश का दो टूक : प्रशांत किशोर और पवन वर्मा जिस पार्टी में जाना चाहे जाए, मेरी शुभकामना         लोहरदगा में कर्फ्यू :  CAA के समर्थन में निकाले गए जुलूस पर पथराव, कई लोग घायल         पेरियार विवाद : क्या तमिल सुपरस्टार रजनीकांत की बातें सही हैं जो उन्होंने कही थी ?         पत्‍थलगड़ी आंदोलन का विरोध करने पर हुए हत्‍याकांड की होगी एसआईटी जांच, सीएम हेमंत सोरेन दिए आदेश         एक ही रास्ता...         अब तानाजी के वीडियो में छेड़छाड़ कर पीएम मोदी को दिखाया शिवाजी         सरकार का नया दांव : जनसंख्या नियंत्रण कानून...         हम भारत के सामने बहुत छोटे हैं, बदला नहीं ले सकते : महातिर मोहम्मद         तीस साल बीतने के बावजूद कश्मीरी पंडितों की सुध लेने वाला कोई नहीं, सरकार की प्राथमिकता में कश्मीर के अन्य मुद्दे         हेमंत सोरेन को मिला 'चैम्पियन ऑफ चेंज' अवॉर्ड         जेपी नड्डा भाजपा के नए अध्यक्ष, मोदी बोले-स्कूटर पर साथ घूमे         नए दशक में देश के विकास में सबसे ज्यादा 10वीं-12वीं के छात्रों की होगी भूमिका : मोदी         CAA को लेकर केरल में राज्यपाल और राज्य सरकार में ठनी         इतिहास तो पूछेगा...         सेखुलरी माइंड गेम...         अफसरों की करतूत : पत्नियों की पिकनिक के लिए बंद किया पतरातू रिजाॅर्ट         गुरूवर रविंद्रनाथ टैगोर की मशहूर कविता "एकला चलो रे" की राह पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव         पत्रकारिता में पद्मश्रियों और राज्यसभा की सांसदी के कलुष...         विकास का मॉडल देखना हो तो चीन को देखिए...        

रांची : नई विधानसभा में आग, उग्रवादी संगठन ने दी थी धमकी

Bhola Tiwari Dec 05, 2019, 9:00 AM IST टॉप न्यूज़
img
● बड़ा सवाल : आग लगी या साजिशन लगाई गई !
● जहां आग लगी है अभी भी वहां काम चल रहा था
●  विधानसभा सचिव ने बुधवार को अफसरों के साथ शाम तक की थी बैठक


मधुकर श्रीवास्तव 
रांची : झारखंड की राजधानी रांची स्थित नए विधानसभा भवन परिसर में भीषण आग लग गई। रिपोर्ट के मुताबिक, घटनास्थल पर काफी मशक्कत करने के बाद दमकल विभाग की कई गाड़ियों ने आग पर काबू पाई। आग से वेस्ट विंग के फर्स्ट फ्लोर व सेकंड फ्लोर पर चार जगहों में एक साथ आग लग गई। बताया जाता है कि जहां आग लगी वहां बैंक, पोस्ट ऑफिस, विपक्ष के सदस्यों के बैठने की जगह और सभापति का कक्ष था। आग से कुर्सी, टेबल, फॉल सीलिंग सहित अन्य सभी फर्निशिंग जलकर खाक हो गए। अब तक आग लगने की वजह साफ नहीं हो सकी है। कंस्ट्रक्शन कंपनी ने कहा कि आग शार्ट सर्किट से नहीं लगी है। यह साजिश है।

 गौरतलब है कि झारखंड राज्य को 19 साल बाद विधानसभा भवन की सौगात मिली है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सितंबर में नवनिर्मित विधानसभा भवन का उद्घाटन किया था। विधानसभा 39 एकड़ भूमि पर फैला हुआ है और 465 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है। इसमें 162 विधायकों के बैठने की क्षमता है। झारखंड राज्य के गठन से लेकर अब तक झारखंड विधानसभा किराए पर एचईसी के लेनिन हॉल में संचालित होती थी। नए विधानसभा भवन के उद्घाटन के बाद 13 सितंबर को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया था। पीएम मोदी विधानसभा के नए भवन के उद्घाटन के अलावा 68 एकड़ भूमि पर 1,238 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले नए सचिवालय का भी शिलान्यास किया था।

उधर, झारखंड के उग्रवादी संगठन टीएसपीसी ने मंगलवार को लखनऊ स्थित राजभवन को डायनामाइट से उड़ाने की धमकी मिली थी। धमकी देने वाले उग्रवादी संगठन टीएसपीसी ने चिट्ठी में लिखा था कि अगर 10 दिन के अंदर राज्यपाल राजभवन को छोड़कर नहीं जाएंगे तो राजभवन को उड़ा दिया जाएगा। यह चिट्ठी झारखंड के उग्रवादी संगठन टीएसपीसी की ओर से भेजी गई थी। उच्च पदस्थ सूत्रों के मुताबिक नई विधानसभा में लगी आग की जांच में उग्रवादियों की राजभवन उड़ाने की धमकी से भी जोड़कर देखा जा रहा है। अब देखना होगा कि पुलिस किन-किन बिंदुओं को जांच का आधार बनाती है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links