ब्रेकिंग न्यूज़
संपादक को डिटेंशन कैंप में डालने की शुरुआत..         शाहीन बाग : कई लोगों की नौकरी गई, धरना जारी रहेगा         शरजील इमाम बिहार के जहानाबाद से गिरफ़्तार         हेमंत सोरेन का पहला मंत्रिमंडल विस्तार : जेएमएम से 5 तो कांग्रेस के दो विधायकों ने ली मंत्री पद की शपथ         तामझाम के साथ अमित शाह के सामने बाबूलाल मरांडी की भाजपा में होगी एंट्री, जेपी नड्डा भी रहेंगे मौजूद         BJP सत्ता में आई तो एक घंटे में खाली होगा शाहीन बाग का प्रदर्शन : प्रवेश वर्मा         हेमंत मंत्रिमंडल का विस्तार : जेएमएम से 5 और कांग्रेस से 2 विधायक होंगे मंत्री         ...तो यह शाहीन चार दिन में गोरैया बन जाएगा         झारखंड: लालू यादव से जेल में मिलकर भावुक हुईं राबड़ी,बेटी मीसा भी रही मौजूद         हेमंत सोरेन का कैबिनेट विस्तार कल, 8 विधायक ले सकते हैं मंत्री पद की शपथ         चाईबासा नरसंहार : पत्‍थलगड़ी नेता समेत 15 आरोपी गिरफ्तार, सभी को भेजा गया जेल         केंद्र सरकार ने "भीमा कोरेगांव केस" की जाँच महाराष्ट्र सरकार की अनुमति के बगैर "एनआईए" को सौंपा, महाराष्ट्र सरकार नाराज         तेरा तमाशा, शुभान अल्लाह..         आर्यावर्त में बांग्लादेशियों की पहचान...         जंगलों का हत्यारा, धरती का दुश्मन...         लुगू पहाड़ की तलहटी में नक्सलियों ने दी फिर दस्तक         आज संपादक इवेंट मैनेजर है तो तब वो हुआ करता था बनिये का मुनीम या मंत्र पढ़ता पंडत....         किसी को होश नहीं कि वह किसे गाली दे रहा है...          जेवीएम विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी से की मुलाकात         नीतीश का दो टूक : प्रशांत किशोर और पवन वर्मा जिस पार्टी में जाना चाहे जाए, मेरी शुभकामना         लोहरदगा में कर्फ्यू :  CAA के समर्थन में निकाले गए जुलूस पर पथराव, कई लोग घायल         पेरियार विवाद : क्या तमिल सुपरस्टार रजनीकांत की बातें सही हैं जो उन्होंने कही थी ?         पत्‍थलगड़ी आंदोलन का विरोध करने पर हुए हत्‍याकांड की होगी एसआईटी जांच, सीएम हेमंत सोरेन दिए आदेश         एक ही रास्ता...         अब तानाजी के वीडियो में छेड़छाड़ कर पीएम मोदी को दिखाया शिवाजी         सरकार का नया दांव : जनसंख्या नियंत्रण कानून...         हम भारत के सामने बहुत छोटे हैं, बदला नहीं ले सकते : महातिर मोहम्मद         तीस साल बीतने के बावजूद कश्मीरी पंडितों की सुध लेने वाला कोई नहीं, सरकार की प्राथमिकता में कश्मीर के अन्य मुद्दे         हेमंत सोरेन को मिला 'चैम्पियन ऑफ चेंज' अवॉर्ड         जेपी नड्डा भाजपा के नए अध्यक्ष, मोदी बोले-स्कूटर पर साथ घूमे         नए दशक में देश के विकास में सबसे ज्यादा 10वीं-12वीं के छात्रों की होगी भूमिका : मोदी        

जम्मू कश्मीर : नजरबंद नेता जल्द होंगे रिहा, कुछ नेताओं को घर जाने की भी मिली इजाजत

Bhola Tiwari Nov 26, 2019, 7:49 AM IST टॉप न्यूज़
img

● नजरबंद नेताओं के परिजन मिलने पहुंचे एमएलए हॉस्टल

 

टोनी पाधा

श्रीनगर : घाटी में तेजी से बदलते हालात के मद्देनजर सरकार ने जम्मू कश्मीर में नजरबंद कुछ नेताओं को जल्द रिहा करने की योजना बना रही है। यही वजह है की समय-समय पर नजरबंद नेताओं को कुछ घंटे के लिए घर जाने की इजाजत भी दी जाने लगी है। लिहाजा जम्मू-कश्मीर में नजरबंद कुछ नेताओं को जल्द ही रिहा किया जायेगा।


 एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से खबर है कि शनिवार को 4 नेताओं को कुछ घंटे के लिये घर जाने की भी इजाजत मिली थी। नजरबंद नेताओं को लगातार ढील दी जा रही है। यही नहीं घर में नजरबंद रखे गये कुछ नेताओं को चिकित्सा आधार पर घाटी से बाहर जाने की भी अनुमति मिल सकती है। एमएलए हॉस्टल अस्थायी जेल में रखे गये कुछ नेताओं को जल्द रिहा किया जा सकता है। हालांकि आधिकारिक रूप से इसकी घोषणा अभी नहीं हुई है।


  गौरतलब है कि बढ़ती ठंड के कारण बीते 18 नवंबर को 34 नजरबंद नेताओं को श्रीनगर स्थित सेंटूर होटल से एमएलए हॉस्टल में स्थानांतरित किया गया था। नजरबंद नेताओं में जेके के तीन पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती सहित विभिन्न पार्टियों के नेता शामिल है। फारूक अब्दुल्ला को जन सुरक्षा कानून के तहत बीते 17 सितंबर को हिरासत में लिया गया था। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद-370 हटने के बाद से नजरबंद 34 नेताओं से आज उनके परिवार वाले श्रीनगर में एमएलए हॉस्टल में मिलने पहुंचे। इस दौरान एमएलए हॉस्टल के आसपास के इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था कडी़ कर दी गई है। रिश्तेदारों और परिचितों को सप्ताह में दो बार उनसे मिलने की अनुमति है।


Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links