ब्रेकिंग न्यूज़
बारामूला में हिजबुल मुजाहिदीन का एक OGW गिरफ्तार, हैंड ग्रेनेड बरामद         अंदरखाने खोखला, बाहर-बाहर हरा-भरा...!         BIG NEWS : आतंकियों के साथ मिले जम्मू-कश्मीर पुलिस के निलंबित डीएसपी देविंदर सिंह के खिलाफ चार्जशीट दायर         BIG NEWS : LAC पर चीनी सेना ने टेंट, वाहन और सैनिकों को 2 किलोमीटर तक पीछे हटाया         BIG NEWS : खालिस्तानी समर्थक संगठन “सिख फॉर जस्टिस” पर बड़ी कार्रवाई, 40 वेबसाइट्स बैन         BIG NEWS : चीन का मोहरा बना पाकिस्तान, POK में अतिरिक्त पाकिस्तानी फोर्स तैनात         हुवावे बैन : चीनी राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग को बड़ा झटका         BIG NEWS : चीन की शह पर रात के अंधेरे में सरहद पर फौज तैनात कर रहा है पाकिस्तान         गोडसे की अस्थियां अपने मुक्ति को...         दिल्ली-एनसीआर में बार-बार क्यों कांप रही धरती...         इस्कॉन के प्रमुख गुरु भक्तिचारू स्वामी का अमेरिका में कोरोना की वजह से निधन         BIG NEWS : कुलगाम एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया         BIG NEWS : लेह अस्पताल पर उठे सवाल, आर्मी ने दिया जवाब, "बहादुर सैनिकों की उपचार की व्यवस्था को लेकर सवाल उठाना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण"         BIG NEWS : JAC ने जारी किया 11वीं का रिजल्ट, 95.53 फीसदी छात्रों को मिली सफलता         कानपुर: चौबेपुर के SHO विनय तिवारी सस्पेंड, विकास दुबे से मिलीभगत का आरोप         राजौरी में आतंकी ठिकाने का पर्दाफाश, कई हथियार बरामद         BIG NEWS : विस्तारवाद पर दुनिया में अकेला पड़ गया चीन, भारत के साथ खड़ी हो गई महा शक्तियां         गुरु पूर्णिमा के दिन 5 जुलाई को लगेगा चंद्र ग्रहण, इन राशियों पर पड़ेगा सबसे ज्यादा असर         BIG NEWS : कराची में आतंकवादी हाफिज सईद के सहयोगी आतंकी मौलाना मुजीब की हत्या         BIG NEWS : भारत ने बॉलीवुड प्रोग्राम के पाकिस्तानी ऑर्गेनाइजर रेहान को किया ब्लैकलिस्ट         क्या रोक सकेंगे चीनी माल         BIG NEWS : सरहद पर मोदी का ऐलान, दुनिया में विस्तारवाद का हो चुका है अंत, PM मोदी के लेह दौरे से चीन में खलबली         BIG NEWS : CRPF जवान और 6 साल के बच्चे को मारने वाला आतंकी श्रीनगर एनकाउंटर में ढेर         भारत में बनी कोविड वैक्सीन 15 अगस्त तक होगी लॉन्च         BIG NEWS : आतंकवादियों से लोहा लेते हुए श्रीनगर में झारखंड का लाल शहीद         BIG NEWS : अचानक सुबह लेह पहुंचे पीएम मोदी, जांबाज जवानों से मिले और हालात का लिया जायजा         बॉलीवुड में फिर छाया मातम, मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन         BIG NEWS : गुंडों ने बरसाई अंधाधुंध गोलियां, सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद         श्रीनगर एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को मार गिराया, 1 जवान शहीद         BIG NEWS : चीन की राजदूत हाओ यांकी के इशारे पर ओली गा रहे हैं ओले ओले...         बोत्सवाना में क्यों मर रहे हैं हाथी...         BIG NEWS : पुलवामा हमले का एक और आरोपी गिरफ्तार         झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार गिर जाएगी : सांसद निशिकांत दुबे         BIG NEWS : बीजेपी का नया टाइगर         BIG BREAKING : रामगढ़ के पटेल चौक पर दो ट्रेलर के बीच फंसी कार, दो की मौत, आधा दर्जन लोग कार में फसे         BIG NEWS : चीन को बड़ा झटका; DHL के बाद FedEX ने बंद की चीन से भारत आने वाली शिपमेंट सर्विस        

*पाकुड़ का सदर अस्पताल सिर्फ रेफरल अस्पताल हुआ साबित*

Bhola Tiwari Nov 16, 2019, 3:54 PM IST टॉप न्यूज़
img


नीरज कुमार मिश्रा पाकुड़

पाकुड़ जिले का एकमात्र सदर हॉस्पिटल रेफर हॉस्पिटल के नाम से जाना जाता है यहां मरीज मात्र रेफर होने को ही अभिशप्त हैं । उन्हें पता रहता है कि यहां ऐसी कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है जिससे मरीज स्वस्थ हो सके भव्य भवन मात्र देखने योग्य ही वस्तु रह गई है ना ही यहां पर्याप्त डॉक्टर्स है ना ही दवाइयां और ना ही उपचार हेतु यंत्र । ऑक्सीजन सिलिंडर रहने के बावजूद भी औक्सीजन मास्क के लिए मरीज के परिजनों को परेशान होते देखा गया है । हालात ऐसे की यहां आने वाले मरीज अपने साथ टॉर्च लाना कभी नहीं भूलते उन्हें पता रहता है कि बिजली कभी भी जा सकती है इस दौरान अपनी सुरक्षा हेतु टॉर्च रखा जाए , पीने योग्य पानी भी इन्हें कई किलोमीटर दूर से लाना होता है मरीजों के बेड उसके बेडशीट तकिया साफ सफाई जैसे मूलभूत चीजों की भी कमी देखी जाती है । इस हॉस्पिटल में आने के बाद मरीजों के परिजन स्वयं भयभीत रहते हैं की कहीं मैं भी बीमार ना पड़ जाऊं दुर्गंध इतनी की हमेशा नाक बंद करके ही रखना पड़ता है । मरीजों को दी जाने वाली भोजन की गुणवत्ता भी भगवान भरोसे ही है। सुरक्षा गार्ड की अनुपस्थिति के कारण डॉक्टर भी काम करने में असहज महसूस करते हैं । कई बार ऐसा भी देखा गया की वार्ड बॉय की अनुपस्थिति में डॉक्टर स्वयं मरीज को स्ट्रेचर में लेटा कर ठेलते हुए ऑपरेशन थिएटर तक जा रहे हैं कभी लगता ही नहीं था कि यह हॉस्पिटल है या फिर खानापूर्ति के लिए बना एक भवन । इन भौतिक आवश्यकताओं को समझते हुए कई बार लोगों ने बात उठाई किंतु इसे हमेशा नजरअंदाज किया जाता रहा इसी दौरान "एक पहल" नामक स्वयंसेवी संस्था ने इन दायित्व को ग्रहण कर अस्पताल के सुधार हेतु आंदोलन किए जिसमें सर्वप्रथम सिविल सर्जन से लेकर प्रधानमंत्री , स्वास्थ्य मंत्री , स्वास्थ्य सचिव तक को अस्पताल की व्यवस्था में सुधार हेतु आग्रह किया गया । चरणबद्ध तरीके से आंदोलन किए गए जिसमें काला बिल्ला लगाकर विरोध प्रदर्शन करना हस्ताक्षर अभियान चलाना ऐसे कई आंदोलन किए गए पर परिणाम शून्य । इसी बीच पाकुड़ में नवनियुक्त सिविल सर्जन डॉक्टर रामदेव पासवान की नियुक्ति हुई इन्होंने आते ही अपने सभी कर्मचारियों के साथ बैठक की उनको आने वाली परेशानियों पर बात किया और सुधार हेतु सुझाव के लिए इन्होंने औचक निरीक्षण के दौरान कमियों को इंगित करने का प्रयास किया उन कमियों को दूर करने के लिए अपने कर्मचारियों और पदाधिकारियों के साथ लगातार बैठक की । 

हॉस्पिटल में साफ सफाई रखने के लिए सफाई कर्मियों को उत्साहित किया । इस बावत सिविल सर्जन का कहना है कि हॉस्पिटल हमारा घर है क्योंकि हम अपने दैनिक जीवन में घर से ज्यादा समय हॉस्पिटल में बिताते हैं अतः हॉस्पिटल को घर ऐसा समझे और इसे साफ सुथरा रखें उन्होंने आते ही अपने सभी पदाधिकारी कर्मचारी और अन्य स्टाफ को हेपेटाइटिस बी का टीका लगवाया उनका मानना है कि जब तक हमारे अधिकारी स्वस्थ नहीं होंगे तब तक मरीजों की स्वच्छता की गारंटी सुनिश्चित नहीं की जा सकती । हालांकि नवागंतुक सिविल सर्जन के आने से जनता में एक आस जगी है साथ ही उनके कार्य शैली से कुछ अच्छा होने का अनुमान जनता लगा रही है पर धरातल पर वे कितने सटीक कार्य को अंजाम दे पाते हैं ये भविष्य के गर्भ में हैं । हालांकि इस बात से भी इंकार नही किया जा सकता कि उनके आने के बाद से ही चाहे साफ सफाई का मामला हो , चाहे सुरक्षा प्रहरी की तैनाती का मामला हो , चाहे कालाजार , कुपोषण उन्मूलन आदि के प्रति सक्रियता हो या फिर अल्ट्रासाउंड मशीन लगाने का मामला हो या फिर ऑपरेशन थियेटर को अत्याधुनिक एवं सुसज्जित करने का मामला हो इन सब मामलों में उनकी सक्रियता एवं डेडलाइन निश्चित कर कार्य करने का तरीका अवश्य जनता को पसंद आ रही है पर जब तक सदर अस्पताल में सदर अस्पताल जैसी सुविधा बहाल न हो जाय जनता रेफर होने को तड़पती ही रहेगी और गरीब आम जनता चिकित्सा के नाम पर अन्यत्र इलाज करवाने को मजबूर ही रहेगी ।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links