ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : अब पाकिस्तान ने नया मैप जारी कर जम्मू कश्मीर, लद्दाख और जूनागढ़ को घोषित किया अपना हिस्सा         हे राम...         BIG NEWS : सुशांत केस CBI को हुआ ट्रांसफर, केंद्र ने मानी बिहार सरकार की सिफारिश         BIG NEWS : पीएम मोदी ने अयोध्या में की भूमि पूजन, रखी आधारशिला         BIG NEWS : PM मोदी पहुंचे अयोध्या के द्वार, हनुमानगढ़ी के बाद राम लला की पूजा अर्चना की         BIG NEWS : आदित्य ठाकरे से कंगना रनौत ने पूछे 7 सवाल, कहा- जवाब लेकर आओ         रॉकेट स्ट्राइक या विस्फोटक : बेरूत के तट पर खड़े जहाज में ताकतवर ब्लास्ट, 73 की मौत         BIG NEWS : भूमि पूजन को अयोध्या तैयार         रामराज्य बैठे त्रैलोका....         BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत की मौत से मेरा कोई संबंध नहीं : आदित्य ठाकरे         BIG NEWS : दीपों से जगमगा उठी भगवान राम की नगरी अयोध्या         BIG NEWS : पूर्व मंत्री राजा पीटर और एनोस एक्का को कोरोना, कार्मिक सचिव भी चपेट में         BIG NEWS : अब नियमित दर्शन के लिए खुलेंगे बाबा बैद्यनाथ व बासुकीनाथ मंदिर          BIG NEWS : श्रीनगर-बारामूला हाइवे पर मिला IED बम, आतंकी हादसा टला         BIG NEWS : सिविल सेवा परीक्षा का फाइनल रिजल्ट जारी, प्रदीप सिंह ने किया टॉप, झारखंड के रवि जैन को 9वां रैंक, दीपांकर चौधरी को 42वां रैंक         सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुख्यमंत्री नीतीश ने की CBI जांच की सिफारिश         BIG NEWS : आतंकियों ने सेना के एक जवान को किया अगवा          बिहार DGP का बड़ा बयान, विनय तिवारी को क्वारंटाइन करने के मामले में भेजेंगे प्रोटेस्ट लेटर         BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत केस में बिहार पुलिस के हाथ लगे अहम सुराग !         BIG NEWS : दिशा सालियान...सुशांत सिंह राजपूत मौत प्रकरण की अहम कड़ी...         BIG NEWS : पटना पुलिस ने खोजा रिया का ठिकाना, नोटिस भेज कहा- जांच में मदद करिए         BIG NEWS : छद्मवेशी पुलिस के रूप में घटनास्थल पर कुछ लोगों के पहुंचने के संकेत         लिव-इन माने ट्राउबल बिगिन... .          रक्षाबंधन : इस अशुभ पहर में भाई को ना बांधें राखी, ज्योतिषी की चेतावनी         जब मां गंगा को अपनी जटाओं में शिव ने कैद कर लिया...         आज सावन का आखिरी सोमवार, अद्भुत योग, भगवान शिव की पूजा करने से हर मनोकामना होगी पूरी          अन्नकूट मेले को लेकर सजा केदारनाथ, भगवान भोले को चढ़ाया गया नया अनाज         BIG NEWS :  गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती ने सुशांत सिंह के बैंक अकाउंट से 90 दिनों में 3.24 करोड़ रुपए निकाले         GOOD NEWS : अमिताभ की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव, 22 दिन बाद हॉस्पिटल से डिस्चार्ज         केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कोरोना पॉजिटिव          BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत के मित्र सिद्धार्थ पीठानी को पटना पुलिस सम्मन जारी कर करेगी पूछताछ         BIG NEWS : सुशांत केस के मामले में मुंबई पुलिस नहीं कर रही है सहयोग : डीजीपी         भूमि पूजन से पहले दिवाली सी जगमग हुई रामलला की नगरी अयोध्या         भगवान शंकर ने त्रिशूल और डमरु क्यों धारण किया...         इन पांच चीजों से शिव हो जाते हैं क्रोधित, जानिए क्या है राज         BIG NEWS : सुशांत सिंह की मैनेजर नहीं थी दिशा सल्यान, सूरज पंचोली से कनेक्शन !         BIG NEWS : रिया चक्रवर्ती पुलिस की निगरानी में          BIG NEWS : हजारीबाग में सांप्रदायिक हिंसा, आगजनी-तोड़फोड; थाना प्रभारी घायल         BIG NEWS : राज्यसभा सांसद अमर सिंह का 64 साल की उम्र में निधन, सिंगापुर के अस्पताल में ली आखिरी सांस         BIG NEWS : सुशांत सिंह केस में सुब्रमण्यम स्वामी की एंट्री से बॉलीवुड में खलबली         रिया चक्रवर्ती को नहीं जानता : सिद्धार्थ पीठानी         रिम्स डायरेक्टर के बंगले में शिफ्ट होंगे लालू प्रसाद यादव         इसका हल शीघ्र निकल आएगा हर साल सुना जा सकता है...         BIG NEWS : सीएम आवास का ड्राइवर-कर्मचारी कोरोना संक्रमित          अजन्में भगवान शिव के जन्म का रहस्य         देवता और असुर दोनों के प्रिय शिव         BIG NEWS : पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के नेता सज्जाद लोन रिहा          BIG NEWS : रिया चक्रवर्ती के घर से आनंदिनी बैग में भरकर क्या ले गई...         BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत की मौत आत्महत्या नहीं : सुब्रमण्यम स्वामी          बिहार चुनाव : पैरोल पर आकर लालू संभालेंगे विपक्ष की कमान !         कोविड से मात खाते भूपेश...         BIG NEWS : फिट इंडिया मूवमेंट, नाम तो नहीं ही सुना होगा !         

कौन है "फजलुर्रहमान" जिसने इमरान खान की शासन-सत्ता को चुनौती दी है?

Bhola Tiwari Nov 01, 2019, 12:34 PM IST टॉप न्यूज़
img


अजय श्रीवास्तव

मौलाना फजलुर्रहमान 27 अक्टूबर से पाकिस्तान के वजीरेआजम इमरान खान सरकार के खिलाफ इस्लामबाद मार्च पर निकलें हैं।सरकार मौलाना के इस्लामाबाद मार्च से दहशत में है और उसे पता है कि पाकिस्तान की दो सबसे बड़ी राष्ट्रीय पार्टियाँ पाकिस्तानी पीपुल्स पार्टी(पीपीपी) और मुस्लिम लीग(एन) ने मौलाना के मार्च को समर्थन दे दिया है।पाकिस्तानी अवाम का गुस्सा भी इमरान खान को बैकफुट पर ला दिया है।पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था लगभग तबाही की ओर अग्रसर है,देश में रोजगार बिल्कुल नहीं है।खाद्य पदार्थों की कीमत आसमान छू रही हैं।कोई भी देश पाकिस्तान में इनवेस्टमेंट नहीं कर रहा है चीन को छोड़कर।अभी कुछ दिनों पहले चीन सरकार की अखबार "ग्लोबल टाईम्स" ने अपने संपादकीय में लिखा था कि पाकिस्तान को स्वालंबी बनना होगा।उसे अपने देश की अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए कडे प्रयास करने होंगे।दरअसल अमेरिका के सहायता रोक देने से पाकिस्तान की कमर हीं टूट गई है और अगर चीन और सऊदी अरब हाथ खींचता है तो ये देश बिल्कुल तबाह हो जाएगा, इसमें तनिक भी शंका नहीं होनी चाहिए।

मौलाना फजलुर्रहमान ने जनता की भावनाओं को पढ लिया है और उसे पता है कि यही वो वक्त है जब सरकार पर चोट की जा सकती है।सेना सरकार के पैरलर अपना एजेंडा चला रही है और अब ये देखा जा रहा है कि सेना, सरकार के फेल्योर से किनारा कर रही है।इन डेढ़ सालों में इमरान सरकार पाकिस्तानी अवाम के लिए कुछ भी नहीं कर सकी है,अलबत्ता सरकारी नीतियों से महंगाई और बेरोजगारी में और इजाफा हीं हुआ है।

मौलाना का आरोप है कि इमरान खान सेना की मदद से सत्ता में आए हैं जबकि उनके पास बहुमत नहीं था।वे चुनाव में धांधली का आरोप लगाते हैं और उनका कहना है कि इमरान खान विभिन्न मसलों पर बुरी तरह फेल हुऐ हैं,इसलिए उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए।पाकिस्तानी तानाशाह परवेज मुशर्रफ के शासनकाल में भी मौलाना फजलुर रहमान ने इसी तरह का मार्च निकाला था और उसे पाकिस्तानी अवाम का जबरदस्त समर्थन भी हासिल हुआ था।उस समय सैन्य शासन था मगर अभी इमरान खान बेहद कमजोर और निरीह बने हुए हैं।ये वही फजलुर्रहमान हैं जिन्होंने 2001 में अमेरिका में हुए 9/11 के हमले के बाद जब पाकिस्तान को मजबूरन तालिबान के खिलाफ अमेरिकी आँपरेशन में सखथ होना पडा था तो मौलाना ने मुशर्रफ के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था।तानाशाह परवेज मुशर्रफ ने मौलाना फजलुर्रहमान को गिरफ्तार कर जेल में बंद कर दिया था।मौलाना ने हीं 2007 में परवेज मुशर्रफ को सत्ता से हटाने के लिए अमेरिकी राजदूत को सीक्रेट डिनर पर बुलाकर पीएम बनने के लिए समर्थन मांगा था,जो अमेरिकी केबल्स लीक से हुऐ खुलासे में सामने आ गई थी।

फजलुर्रहमान के आंदोलन को आजादी मार्च नाम दिया गया है और इसे विपक्ष का भी समर्थन हासिल है।इस आंदोलन की तपिश ने इमरान खान सरकार को बुरी तरह झुलसा दिया है और वे आरोप लगा रहें हैं कि इस आंदोलन के पीछे भारत है जो पाकिस्तानी सरकार को अस्थिर करना चाह रहा है।

ये तो मानना हीं पडेगा कि मौलाना को हर तरफ समर्थन मिल रहा है।31 अक्टूबर को वो इस्लामाबाद में रैली करनेवाले थे मगर ट्रेन हादसे की वजह से इसे एक दिन मुअत्तल कर दिया गया है।आज पाकिस्तान के क्वेटा,खैबर पख्तूनख्वा, रावलपिंडी, पेशावर शहरों से भारी हुजूम इस्लामाबाद पहुँचेगा और इमरान खान सरकार के भाग्य का फैसला करेगा।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links