ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : कुलगाम में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी, 2 से 3 आतंकी घिरे         BIG NEWS : सुशांत सिंह केस का राजदार कौन !         BIG NEWS : फिल्म स्टार संजय दत्त लीलावती हॉस्पिटल में भर्ती          BIG NEWS : दिशा सलियान का निर्वस्त्र शव पोस्टमार्टम के लिए दो दिनों तक करता रहा इंतजार          BIG NEWS : टेरर फंडिंग मॉड्यूल का खुलासा, लश्कर-ए-तैयबा के 6 मददगार गिरफ्तार         BIG NEWS : एलएसी पर सेना और वायु सेना को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश         BIG NEWS : राजस्थान का सियासी जंग : कांग्रेस के बाद अब भाजपा विधायकों की घेराबंदी         BIG NEWS : देवेंद्र सिंह केस ! NIA की टीम ने घाटी में कई जगहों पर की छापेमारी         बाढ़ और संवाद हीनता          BIG NEWS : पटना एसआईटी टीम के साथ मीटिंग कर सबूतों और तथ्यों को खंगाल रही है CBI         BIG NEWS : सुशांत सिंह की मौत के बाद रिया चक्रवर्ती और बांद्रा डीसीपी मे गुफ्तगू         BIG NEWS : भारत और चीन के बीच आज मेजर जनरल स्तर की वार्ता, डिसएंगेजमेंट पर होगी चर्चा         BIG NEWS : मनोज सिन्हा ने ली जम्मू-कश्मीर के नये उपराज्यपाल पद की शपथ, संभाला पदभार         BIG NEWS : पुंछ में एक और आतंकी ठिकाना ध्वस्त, AK-47 राइफल समेत कई हथियार बरामद         BIG NEWS : सीएम हेमंत सोरेन ने भाजपा सांसद निशिकांत दुबे के खिलाफ किया केस         BIG NEWS : मुंबई में ED के कार्यालय पहुंची रिया चक्रवर्ती          BIG NEWS : शोपियां में मिले अपहृत जवान के कपड़े, सर्च ऑपरेशन जारी         मुंबई में सड़कें नदियों में तब्दील          BIG NEWS : पाकिस्तान आतंकवाद के दम पर जमीन हथियाना चाहता है : विदेश मंत्रालय         BIG NEWS : श्रीनगर पहुंचे जम्मू-कश्मीर के नये उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, आज लेंगे शपथ         सुष्मान्जलि कार्यक्रम में सुषमा स्वराज को प्रकाश जावड़ेकर सहित बॉलीवुड के दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि           BIG NEWS : जीसी मुर्मू होंगे देश के नए नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक          BIG NEWS : सीबीआई ने रिया समेत 6 के खिलाफ केस दर्ज किया         बंद दिमाग के हजार साल           BIG NEWS : कुलगाम में आतंकियों ने की बीजेपी सरपंच की गोली मारकर हत्या         BIG NEWS : अयोध्या में भूमि पूजन! आचार्य गंगाधर पाठक और PM मोदी की मां हीराबेन         मनोज सिन्हा होंगे जम्मू-कश्मीर के नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू का इस्तीफा स्वीकार         BIG NEWS : सदियों का संकल्प पूरा हुआ : मोदी         BIG NEWS : लालू प्रसाद यादव को रिम्स डायरेक्टर के बंगले में किया गया स्विफ्ट         BIG NEWS : अब पाकिस्तान ने नया मैप जारी कर जम्मू कश्मीर, लद्दाख और जूनागढ़ को घोषित किया अपना हिस्सा         हे राम...         BIG NEWS : सुशांत केस CBI को हुआ ट्रांसफर, केंद्र ने मानी बिहार सरकार की सिफारिश         BIG NEWS : पीएम मोदी ने अयोध्या में की भूमि पूजन, रखी आधारशिला         BIG NEWS : PM मोदी पहुंचे अयोध्या के द्वार, हनुमानगढ़ी के बाद राम लला की पूजा अर्चना की         BIG NEWS : आदित्य ठाकरे से कंगना रनौत ने पूछे 7 सवाल, कहा- जवाब लेकर आओ         रॉकेट स्ट्राइक या विस्फोटक : बेरूत के तट पर खड़े जहाज में ताकतवर ब्लास्ट, 73 की मौत         BIG NEWS : भूमि पूजन को अयोध्या तैयार         रामराज्य बैठे त्रैलोका....         BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत की मौत से मेरा कोई संबंध नहीं : आदित्य ठाकरे         BIG NEWS : दीपों से जगमगा उठी भगवान राम की नगरी अयोध्या         BIG NEWS : पूर्व मंत्री राजा पीटर और एनोस एक्का को कोरोना, कार्मिक सचिव भी चपेट में         BIG NEWS : अब नियमित दर्शन के लिए खुलेंगे बाबा बैद्यनाथ व बासुकीनाथ मंदिर          BIG NEWS : श्रीनगर-बारामूला हाइवे पर मिला IED बम, आतंकी हादसा टला         BIG NEWS : सिविल सेवा परीक्षा का फाइनल रिजल्ट जारी, प्रदीप सिंह ने किया टॉप, झारखंड के रवि जैन को 9वां रैंक, दीपांकर चौधरी को 42वां रैंक         सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुख्यमंत्री नीतीश ने की CBI जांच की सिफारिश         BIG NEWS : आतंकियों ने सेना के एक जवान को किया अगवा          बिहार DGP का बड़ा बयान, विनय तिवारी को क्वारंटाइन करने के मामले में भेजेंगे प्रोटेस्ट लेटर         BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत केस में बिहार पुलिस के हाथ लगे अहम सुराग !         BIG NEWS : दिशा सालियान...सुशांत सिंह राजपूत मौत प्रकरण की अहम कड़ी...         BIG NEWS : पटना पुलिस ने खोजा रिया का ठिकाना, नोटिस भेज कहा- जांच में मदद करिए         BIG NEWS : छद्मवेशी पुलिस के रूप में घटनास्थल पर कुछ लोगों के पहुंचने के संकेत        

क्या मध्यपूर्व में "अरब स्प्रिंग" की आग अभी बरकरार है?

Bhola Tiwari Nov 01, 2019, 9:54 AM IST टॉप न्यूज़
img


अजय श्रीवास्तव

मध्यपूर्व में श्रृखंलाबद्ध विरोध-प्रर्दशन,धरना,हड़ताल और सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुँचानें का दौर 2010 में आरंभ हुआ और धीरे धीरे ये संपूर्ण अरब में फैल गया।इस विरोध को अरब स्प्रिंग, अरब विद्रोह या अरब जागृति कहते हैं।ये विद्रोह इतना प्रबल था कि इसे एक जगह से दूसरे जगह पहुँचने में तनिक भी समय न लगा।इस क्रांति ने बडे बडे सूरमाओं के चूलें हिला कर रख दिये थे।इस क्रांति का नेतृत्व वहाँ की जनता कर रही थी,जो शासक के भष्टाचार और निकम्मेपन से ऊब गई थी।

अरब स्प्रिंग की शुरुआत 18 दिसंबर,2010 में टयूनीशिया में एक फल विक्रेता के आत्महत्या करने से शुरू हुई।ये आग तुरंत मध्यपूर्व के अन्य देशों अल्जीरिया, मिस्र, जार्डन और यमन में फैल गई।इस विरोध प्रर्दशनों के परिणामस्वरूप कई देशों के शासकों को सत्ता की गद्दी से हटना पड़ा या जनता ने उन्हें बेदखल कर दिया।बहरीन, सीरिया, अल्जीरिया, ईराक, सूडान, कुवैत, मोरक्को में भारी जनविरोधी हुइ तो ओमान, सऊदी अरब आदि देश भी इससे बुरी तरह प्रभावित हुऐ थे।

वो आग जो 2010 में लगी थी आज भी बहुत से मध्यपूर्व देशों में सुलग रही है।लेबनान के प्रधानमंत्री साद अल-हरीरी ने भारी जनदवाब को देखते हुए इस्तीफा दे दिया है।लेबनान सरकार के खिलाफ वहां की महिलाएं सडक पर उतर गई थी और जबरदस्त प्रर्दशन किया था।लेबनान के निवासियों की भी वही मांग है जो अन्य देशों की है।वहां की सरकार महंगाई रोकने में नाकाम रही है, बेरोजगारों को रोजगार देने का वायदा सरकार ने किया था जो छलावा हीं साबित हुआ है।लेबनान की महिलाएं और आजादी की मांग कर रहीं हैं जिसे पूरा करने का लेबनान सरकार ने वायदा किया था।

लेबनान की तरह मिस्र में भी प्रर्दशन हो रहें हैं, जनता मिस्र के राष्ट्रपति अब्दुल फतह अल-हरीरी के इस्तीफे की मांग कर रहें हैं।बताते हैं कि मिस्र के राष्ट्रपति भारी दवाब में हैं और कभी भी उनका इस्तीफा हो सकता है।मिस्र के युवा भी सरकार से नौकरियों की मांग कर रहें हैं।बदहवाल अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने और महंगाई पर काबू करने के लिए लोग सडको पर आंदोलनरत हैं।

इराक में हालत बेहद खराब है, वहाँ की सरकार ने प्रर्दशनकारियों पर गोली की बौछार कर लगभग 60 लोगों को मौत की घाट उतार दिया है।इराक के युवा सरकार से नौकरी मांग रहें हैं।आपको बता दें अरब स्प्रिंग में लगभग 60% युवा शिरकत कर रहें हैं जो सरकार से विभिन्न मसलों पर खफा हैं।इराक में तो भष्टाचार सर चढ बोल रहा है और सरकार इसके सामने बेबस है।नेतृत्वविहीन होने से इराक के आंदोलन को नुकसान पहुंच सकता है।

लेबनान सरकार ने जब तंबाकू, पेट्रोल और व्हाट्सएप काँल पर टैक्स लगाया तो वहां प्रर्दशन शुरू हो गए।

कुछ लोगों ने अरब स्प्रिंग को अब समाप्त मान लिया था मगर क्रांति अब भी अंदर हीं अंदर सुलग रही है और कभी भी विस्फोट कर सकती है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links