ब्रेकिंग न्यूज़
अब तानाजी के वीडियो में छेड़छाड़ कर पीएम मोदी को दिखाया शिवाजी         सरकार का नया दांव : जनसंख्या नियंत्रण कानून...         हम भारत के सामने बहुत छोटे हैं, बदला नहीं ले सकते : महातिर मोहम्मद         तीस साल बीतने के बावजूद कश्मीरी पंडितों की सुध लेने वाला कोई नहीं, सरकार की प्राथमिकता में कश्मीर के अन्य मुद्दे         हेमंत सोरेन को मिला 'चैम्पियन ऑफ चेंज' अवॉर्ड         जेपी नड्डा भाजपा के नए अध्यक्ष, मोदी बोले-स्कूटर पर साथ घूमे         नए दशक में देश के विकास में सबसे ज्यादा 10वीं-12वीं के छात्रों की होगी भूमिका : मोदी         CAA को लेकर केरल में राज्यपाल और राज्य सरकार में ठनी         इतिहास तो पूछेगा...         सेखुलरी माइंड गेम...         अफसरों की करतूत : पत्नियों की पिकनिक के लिए बंद किया पतरातू रिजाॅर्ट         गुरूवर रविंद्रनाथ टैगोर की मशहूर कविता "एकला चलो रे" की राह पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव         पत्रकारिता में पद्मश्रियों और राज्यसभा की सांसदी के कलुष...         विकास का मॉडल देखना हो तो चीन को देखिए...         फरवरी में भारत आएंगे ट्रंप, अहमदाबाद में होगा 'हाउडी मोदी' जैसा कार्यक्रम         शर्मनाक : सीएम के आदेश के बावजूद सरकारी मदद पहुंचने से पहले मरीज की मौत         झारखण्ड मंत्रिमंडल लगभग तय ! अन्तिम मुहर लगनी बाकी         ऑस्ट्रेलिया का क्या होगा...         क्या चंद्रशेखर आजाद बसपा सुप्रीमो मायावती का विकल्प बन सकते हैं?         सबसे पहले जनसंख्या नियंत्रण कानून की मांग कीजिए...         जनता की सेवा करें विधायक : सोनिया गांधी         झाविमो कार्यसमिति घोषित : विधायक प्रदीप यादव एवं बंधु तिर्की को कमेटी में कोई पद नहीं         रायसीना डायलॉग में सीडीएस विपिन रावत ने तालिबान से सकारात्मक बातचीत की वकालत की         कवि और सामाजिक कार्यकर्ता अंशु मालवीय पर जानलेवा हमला         डॉन करीम लाला से मुंबई में मिलने आती थी इंदिरा गांधी : संजय रावत         भाजपा में विलय की उलटी गिनती शुरू, हेमंत सरकार से समर्थन वापस लेगा जेवीएम         भारत और सऊदी अरब से तनातनी की कीमत चुका रहा है मलेशिया         हिंदी पत्रकारिता का हाल क्रिकेट टीम के बारहवें खिलाड़ी सा...         बड़ी बेशर्मी से शर्मसार होने का रोग लगा देश को...         लाहौर टू शाहीन बाग : पाकिस्तान के लाहौर में बैठकर मणिशंकर अय्यर ने उड़ाया भारत का मजाक         क्यों मनाई जाती है मकर संक्रांति ?         अलोकप्रिय हो चुके नीतीश कुमार को छोडकर अपनी राहें तलाशनी होगी भाजपा को बिहार में         बाबूलाल जी की जी हजूरी, ये कैसी भाजपाइयों की मजबूरी         भाजपा में विलय की ओर बढ़ रहा झाविमो : प्रदीप यादव        

ईरान में औरत....

Bhola Tiwari Oct 25, 2019, 6:33 AM IST टॉप न्यूज़
img

● ईरान में बना कानून, पिता अपनी बेटी से कर सकता है शादी


 राजीव मित्तल

1979 में ईरान में सबसे बड़ा भूकंप आया. मस्जिद में बैठा मूल्ला सत्ता में बैठ गया. न्यायालय शिक्षा मिलिट्री और मिडिया पर धर्म का कब्ज़ा हो गया..इस तरह ईरान आधा राजतन्त्र आधा लोकतंत्र से पूर्ण रूप से थेयोक्रेटिक नेशन बन गया अर्थात धर्म शासित देश..

कोम शहर में भूकंप आया. हज़ारों लोग मारे गए, हज़ारो मासूम बच्चे अनाथ हो गए. एक मासूम बच्ची को मुल्ला जी ने गोद लिया. बाप बनकर पाल पौस कर थोड़ा बड़ा किया, बच्ची बारह वर्ष की हुई..अपनी गोद ली हुई बेटी पर मुल्ला जी की नियत ख़राब हो गई. मुल्ला PEDOPHILIA से पीड़ित है..बच्चों पर यौन शोषण करने की बीमारी से एक नहीं लाखों मुल्ला पीड़ित हैं. पूरे ईरान में फैले इन मुल्लाओं के पास गोद ली हुई लाखों मासूम बच्चियाँ हैं.

इन्हीं मुल्लों ने ईरानी सरकार पर दबाव डालकर अपनी गोद ली हुई बेटियों से शादी करने का बिल सितंबर माह में पार्लियामेंट से पास करा लिया..इस नए कानून के मुताबिक पिता अपनी गोद ली हुई बेटी से विवाह कर सकता है..बस शर्त इतनी है कि बच्ची की उम्र 12 व्र्ष से अधिक हो. इस कानून ने घर-घर के अंदर लड़कियों पर बलात्कार करने का लाइसेंस जारी कर दिया..

ये मुल्ले इतने ताकतवर हैं कि इनकी मनमानियों के आगे ईरान की जनता बिल्कुल बेबस है. अपने इन हालात के लिए ईरान की जनता कम ज़िम्मेदार नहीं..उसी ने धर्म को हावी होने के रास्ते दिए. और अब धर्म को सत्ता, शिक्षा और न्यायालय से बाहर निकालना नामुमकिन है..

गौरतलब है कि धर्म हमेशा से महिलाओं के खिलाफ रहा है क्योंकि यह पुरुषसत्ता को मजबूत करने का माध्यम है..एेसे में समाज का जितना भी पतन हो जाये, कम है.. महिला मुक्ति का सपना धर्म के उन्मूलन से ही सम्भव है अन्यथा कभी धर्म के नाम पर कभी उसकी आड़ में कानून बनाकर खेला चलता ही रहना है...

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links