ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : आतंकियों ने सेना के एक जवान को किया अगवा          बिहार DGP का बड़ा बयान, विनय तिवारी को क्वारंटाइन करने के मामले में भेजेंगे प्रोटेस्ट लेटर         BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत केस में बिहार पुलिस के हाथ लगे अहम सुराग !         BIG NEWS : दिशा सालियान...सुशांत सिंह राजपूत मौत प्रकरण की अहम कड़ी...         BIG NEWS : पटना पुलिस ने खोजा रिया का ठिकाना, नोटिस भेज कहा- जांच में मदद करिए         BIG NEWS : छद्मवेशी पुलिस के रूप में घटनास्थल पर कुछ लोगों के पहुंचने के संकेत         लिव-इन माने ट्राउबल बिगिन... .          रक्षाबंधन : इस अशुभ पहर में भाई को ना बांधें राखी, ज्योतिषी की चेतावनी         जब मां गंगा को अपनी जटाओं में शिव ने कैद कर लिया...         आज सावन का आखिरी सोमवार, अद्भुत योग, भगवान शिव की पूजा करने से हर मनोकामना होगी पूरी          अन्नकूट मेले को लेकर सजा केदारनाथ, भगवान भोले को चढ़ाया गया नया अनाज         BIG NEWS :  गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती ने सुशांत सिंह के बैंक अकाउंट से 90 दिनों में 3.24 करोड़ रुपए निकाले         GOOD NEWS : अमिताभ की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव, 22 दिन बाद हॉस्पिटल से डिस्चार्ज         केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कोरोना पॉजिटिव          BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत के मित्र सिद्धार्थ पीठानी को पटना पुलिस सम्मन जारी कर करेगी पूछताछ         BIG NEWS : सुशांत केस के मामले में मुंबई पुलिस नहीं कर रही है सहयोग : डीजीपी         भूमि पूजन से पहले दिवाली सी जगमग हुई रामलला की नगरी अयोध्या         भगवान शंकर ने त्रिशूल और डमरु क्यों धारण किया...         इन पांच चीजों से शिव हो जाते हैं क्रोधित, जानिए क्या है राज         BIG NEWS : सुशांत सिंह की मैनेजर नहीं थी दिशा सल्यान, सूरज पंचोली से कनेक्शन !         BIG NEWS : रिया चक्रवर्ती पुलिस की निगरानी में          BIG NEWS : हजारीबाग में सांप्रदायिक हिंसा, आगजनी-तोड़फोड; थाना प्रभारी घायल         BIG NEWS : राज्यसभा सांसद अमर सिंह का 64 साल की उम्र में निधन, सिंगापुर के अस्पताल में ली आखिरी सांस         BIG NEWS : सुशांत सिंह केस में सुब्रमण्यम स्वामी की एंट्री से बॉलीवुड में खलबली         रिया चक्रवर्ती को नहीं जानता : सिद्धार्थ पीठानी         रिम्स डायरेक्टर के बंगले में शिफ्ट होंगे लालू प्रसाद यादव         इसका हल शीघ्र निकल आएगा हर साल सुना जा सकता है...         BIG NEWS : सीएम आवास का ड्राइवर-कर्मचारी कोरोना संक्रमित          अजन्में भगवान शिव के जन्म का रहस्य         देवता और असुर दोनों के प्रिय शिव         BIG NEWS : पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के नेता सज्जाद लोन रिहा          BIG NEWS : रिया चक्रवर्ती के घर से आनंदिनी बैग में भरकर क्या ले गई...         BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत की मौत आत्महत्या नहीं : सुब्रमण्यम स्वामी          बिहार चुनाव : पैरोल पर आकर लालू संभालेंगे विपक्ष की कमान !         कोविड से मात खाते भूपेश...         BIG NEWS : फिट इंडिया मूवमेंट, नाम तो नहीं ही सुना होगा !          भगवान शिव को आखिर कैसे मिली थी तीसरी आंख?         भगवान शिव को क्यों चढ़ाते हैं बिल्व पत्र?         BIG NEWS : भारतीय जवानों की पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकी हमला, 1 जवान घायल         New Education Policy 2020 : पढ़ाई का नया तरीका, अब बहुत कुछ बदल जाएगा         BIG ATTACK : झारखंड के एक नेता ने मुम्बई में 55 लाख रुपए का फ्लैट गिफ्ट किया - सांसद निशिकांत दुबे         भगवान शिव का श्मशान में रहना हमें क्या संकेत देता है?         भगवान ‘शिव’ का रहस्य!         BIG NEWS : इन शूरवीरों ने कराई अंबाला एयरबेस पर राफेल विमानों की लैंडिंग         BIG NEWS : सुप्रीम कोर्ट पहुंची रिया चक्रवर्ती, पटना से मुंबई केस ट्रांसफर करने की याचिका दाखिल         BIG NEWS : नई शिक्षा नीति को मंजूरी, 2035 तक हायर एजुकेशन में 50% एनरोलमेंट का लक्ष्य         BIG NEWS : पाकिस्तानी एजेंट से 5 करोड़ रुपए लेकर दीपिका गई थी JNU : एनके सूद          वेलकम राफेल : अंबाला एयरबेस पर लैंड हुए पांचों राफेल विमान         BIG NEWS : भारतीय सेना ने घुसपैठ कर रहे 2 आतंकियों को मार गिराया, 1 घायल         BIGNEWS : जिस अल धाफ्रा हवाई एयरबेस पर खड़े थे नए नवेले 'राफेल', उसी के पास ईरान का मिसाइल हमला         BIG NEWS : अब कुछ ही देर में इंडिया पहुंच रहा है राफेल          BIG NEWS : भारत ने हिंद महासागर में युद्ध पोतों और पनडुब्बियों को किया तैनात         

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय मुसलमान,संबधों पर समीक्षा

Bhola Tiwari Oct 14, 2019, 3:16 PM IST टॉप न्यूज़
img


अजय श्रीवास्तव

 राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत आरएसएस की शीर्ष निर्णय निर्धारण संस्था "अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल" की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि समाज को एकजुट करना आवश्यक है और सभी वर्गों को एक साथ आगे बढ़ना चाहिए।राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ इस दिशा में काम कर रही है।हमारी किसी के प्रति कोई घृणा नहीं है।एक बेहतर समाज बनाने के लिए हमें एक साथ आगे बढ़ना चाहिए जो देश में बदलाव ला सकें और विकास में मदद दे सकें।

मोहन भागवत ने ये भी कहा कि हमारी इच्छा है कि आरएसएस ठप्पा हट जाए और आरएसएस तथा समाज एक समूह के तौर पर काम करे।चलिए सारा श्रेय समाज को दें।भारत के लोग विविध संस्कृति, भाषाओं, भौगोलिक स्थानों के बावजूद खुद को एक मानते हैं।एकता के इस अनूठे एहसास के कारण मुस्लिम, पारसी और अन्य धर्मों से संबंधित लोग देश में सुरक्षित महसूस करते हैं।पारसी भारत में काफी सुरक्षित हैं और मुस्लिम भी खुश हैं।उन्होंने आगे कहा कि सही तरीका यह है कि ऐसे उत्कृष्ट इंसान तैयार किये जाएं जो समाज को बदलने तथा देश की कायापलट करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकें क्योंकि 130 करोड़ लोगों को एकसाथ बदलना मुमकिन नहीं होगा।

सरसंघचालक मोहन भागवत ने जो कहा अक्षरतः सत्य है, तो क्या संघ अपनी छवि को बदल रहा है?राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर मुस्लिम विरोधी होने का जो ठप्पा कई दशकों से लगा है,उस छवि से मोहन भागवत निजात पाना चाहते हैं।भागवत जी के भाषण से तो यही प्रतीत होता दिखता है।आपको याद दिला दें पिछली साल दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित तीन दिवसीय व्याख्यान माला के दूसरे दिन "भविष्य का भारत" विषय पर बोलते हुए उन्होंने कहा था कि जिस दिन हम कहेंगे कि हमें मुसलमान नहीं चाहिए उस दिन हिंदुत्व नहीं रहेगा।मुसलमानों के बगैर हिंदुत्व की कल्पना बेमानी है।

सरसंघचालक मोहन भागवत ने शिक्षाविद सर सय्यद अहमद खान का उद्धरण देते हुए कहा कि जब सर सैय्यद अहमद ने बैरिस्टर की पढ़ाई पूरी की तो लाहौर में आर्य समाज ने उनका अभिनंदन किया।आर्यसमाज ने इसलिए अभिनंदन किया था क्योंकि सर सय्यद अहमद खान मुस्लिम समुदाय के पहले छात्र थे जिन्होंने बैरिस्टर बनने की पढ़ाई की थी।भागवत ने बताया कि उस समारोह में सर सय्यद अहमद खान ने कहा कि मुझे दुख है कि आप लोगों ने मुझे अपनों में शुमार नहीं किया।

मुझे लगता है कि संघ अपनी छवि को बदलना चाहता है, मोहन भागवत सर्वधर्मसमभाव की अवधारणा के सिद्धांत को संघ से जोड़ना चाहते हैं, जो सही भी है।कट्टर हिंदू संगठन की छवि को तोड़कर संघ हर धर्म, संप्रदाय, जाति में पैठ बनाना चाहती है जो जरूरी भी है।आपके सेवाभाव और सामाजिक कार्यों के तो सभी मुतमईन हैं मगर अब आपकी निगाहें अल्पसंख्यक कल्याण और भाईचारे पर है जो काबिलेतारीफ है।

मोहन भागवत की छवि सभी सरसंघचालकों से अलहदा है।एक भाषण में उन्होंने कहा था कि संघ के संस्थापक डा.हेडगेवारजी जी के इतर भी हमें सोचना है और आगे बढ़ना है।दरअसल कुछ लोग मुसलमानों के ऊपर संघ के संस्थापक डा.हेडगेवार के उस बयान को याद दिला रहे थे जिसमें डा.हेडगेवार ने कहा था कि हिंदू-मुसलमानों की एकता की कल्पना भ्रम मात्र है।

सरसंघचालक मोहन भागवत संघ की इसी कट्टर छवि को तोड़ने की कोशिश कर रहें हैं जो वर्तमान परिपेक्ष्य में जायज भी है।कोई भी संस्था की पूर्ण स्वीकारोक्ति तभी होगी जब उसमें सभी धर्मों के लोग शामिल होंगे।मोहन भागवत ने इस दिशा में काम करना शुरू कर दिया है और उसके परिणाम भी सामने आने लगें हैं।

कहते हैं कि चाँद में भी दाग है,वैसे हीं सरसंघचालक मोहन भागवत के कुछ बयान विवादास्पद है।आपने मुसलमानों पर कटाक्ष करते हुए अमेरिका में कहा था,"जंगल का राजा, राँयल बंगाल टाइगर भी अकेला हो तो जंगली कुत्ते उसे घेरकर,हमला करके मार दे सकते हैं।"

व्यापक दृष्टिकोण रखने वालों को इस तरह के सतही बयानों से बचना होगा।मुसलमानों को भी बहुसंख्यक हिंदू समाज से तारतम्य बैठाना होगा और उनके समाज में बेहद कमलोग जो गोहत्या करते हैं या गोमांस खाते हैं, उन्हें समझाना होगा।उत्तर भारत में दोनों समुदायों में फसाद की मुख्य जड़ गोहत्या है।दोनों समुदाय में एकजुटता से हीं हम उन्नति के पथ पर अग्रसर हो सकते हैं।

Similar Post You May Like

  • एक भूतिया प्रेम कहानी

    ध्रुव गुप्त पटना :भूत होते हैं या नहीं इसपर सदियों से बहस होती रही है, लेकिन यह भी सच है कि डर के रू...

  • आए तुम याद मुझे !

    ध्रुव गुप्त पटना :अपने सार्वजनिक जीवन में बेहद चंचल, खिलंदड़े , शरारती और निजी जीवन में उदास, खंडित ...

  • अभी तो दूध के दांत टूटने के दिन हैं

    एसडी ओझा नई दिल्ली :दूध के दांत एक मुहावरा भी है । यदि किसी को अनुभवहीन कहना हो तो अक्सर यह कह दिया ...

Recent Post

Popular Links