ब्रेकिंग न्यूज़
बारामूला में हिजबुल मुजाहिदीन का एक OGW गिरफ्तार, हैंड ग्रेनेड बरामद         अंदरखाने खोखला, बाहर-बाहर हरा-भरा...!         BIG NEWS : आतंकियों के साथ मिले जम्मू-कश्मीर पुलिस के निलंबित डीएसपी देविंदर सिंह के खिलाफ चार्जशीट दायर         BIG NEWS : LAC पर चीनी सेना ने टेंट, वाहन और सैनिकों को 2 किलोमीटर तक पीछे हटाया         BIG NEWS : खालिस्तानी समर्थक संगठन “सिख फॉर जस्टिस” पर बड़ी कार्रवाई, 40 वेबसाइट्स बैन         BIG NEWS : चीन का मोहरा बना पाकिस्तान, POK में अतिरिक्त पाकिस्तानी फोर्स तैनात         हुवावे बैन : चीनी राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग को बड़ा झटका         BIG NEWS : चीन की शह पर रात के अंधेरे में सरहद पर फौज तैनात कर रहा है पाकिस्तान         गोडसे की अस्थियां अपने मुक्ति को...         दिल्ली-एनसीआर में बार-बार क्यों कांप रही धरती...         इस्कॉन के प्रमुख गुरु भक्तिचारू स्वामी का अमेरिका में कोरोना की वजह से निधन         BIG NEWS : कुलगाम एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया         BIG NEWS : लेह अस्पताल पर उठे सवाल, आर्मी ने दिया जवाब, "बहादुर सैनिकों की उपचार की व्यवस्था को लेकर सवाल उठाना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण"         BIG NEWS : JAC ने जारी किया 11वीं का रिजल्ट, 95.53 फीसदी छात्रों को मिली सफलता         कानपुर: चौबेपुर के SHO विनय तिवारी सस्पेंड, विकास दुबे से मिलीभगत का आरोप         राजौरी में आतंकी ठिकाने का पर्दाफाश, कई हथियार बरामद         BIG NEWS : विस्तारवाद पर दुनिया में अकेला पड़ गया चीन, भारत के साथ खड़ी हो गई महा शक्तियां         गुरु पूर्णिमा के दिन 5 जुलाई को लगेगा चंद्र ग्रहण, इन राशियों पर पड़ेगा सबसे ज्यादा असर         BIG NEWS : कराची में आतंकवादी हाफिज सईद के सहयोगी आतंकी मौलाना मुजीब की हत्या         BIG NEWS : भारत ने बॉलीवुड प्रोग्राम के पाकिस्तानी ऑर्गेनाइजर रेहान को किया ब्लैकलिस्ट         क्या रोक सकेंगे चीनी माल         BIG NEWS : सरहद पर मोदी का ऐलान, दुनिया में विस्तारवाद का हो चुका है अंत, PM मोदी के लेह दौरे से चीन में खलबली         BIG NEWS : CRPF जवान और 6 साल के बच्चे को मारने वाला आतंकी श्रीनगर एनकाउंटर में ढेर         भारत में बनी कोविड वैक्सीन 15 अगस्त तक होगी लॉन्च         BIG NEWS : आतंकवादियों से लोहा लेते हुए श्रीनगर में झारखंड का लाल शहीद         BIG NEWS : अचानक सुबह लेह पहुंचे पीएम मोदी, जांबाज जवानों से मिले और हालात का लिया जायजा         बॉलीवुड में फिर छाया मातम, मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन         BIG NEWS : गुंडों ने बरसाई अंधाधुंध गोलियां, सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद         श्रीनगर एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को मार गिराया, 1 जवान शहीद         BIG NEWS : चीन की राजदूत हाओ यांकी के इशारे पर ओली गा रहे हैं ओले ओले...         बोत्सवाना में क्यों मर रहे हैं हाथी...         BIG NEWS : पुलवामा हमले का एक और आरोपी गिरफ्तार         झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार गिर जाएगी : सांसद निशिकांत दुबे         BIG NEWS : बीजेपी का नया टाइगर         BIG BREAKING : रामगढ़ के पटेल चौक पर दो ट्रेलर के बीच फंसी कार, दो की मौत, आधा दर्जन लोग कार में फसे         BIG NEWS : चीन को बड़ा झटका; DHL के बाद FedEX ने बंद की चीन से भारत आने वाली शिपमेंट सर्विस        

उसे फिक्र है हरदम नया तर्ज -ए - जफा क्या है ?

Bhola Tiwari Sep 15, 2019, 8:21 AM IST टॉप न्यूज़
img

एसडी  ओझा

बलूचिस्तान को आजाद करने के लिए अंग्रेज सन् 1944 में हीं मन बना चुके थे, पर किन्हीं कारणों से इसे अमली जामा नहीं पहनाया जा सका. जब सन् 1947 में भारत और पाकिस्तान दो देश अस्तित्व में आए तो बलूचिस्तान का क्षेत्र पाकिस्तान की तरफ पड़ा. शुरू शुरू में पाकिस्तान की तरफ से बलूचिस्तान को यह अश्वासन मिला कि रक्षा, विदेश नीति से इतर बलूचिस्तान की एक अलग पहचान होगी . लेकिन पाकिस्तान ने अपना वादा नहीं निभाया. पाकिस्तानी सेना ने ताकत के बल पर बलूचिस्तान पर कब्जा कर लिया.

बलूचिस्तान पाकिस्तान का पश्चिमी राज्य है. इसकी राजधानी क्वेटा है. इसके पड़ोस में अफगानिस्तान और ईरान है. यहां पश्तो और बलूची भाषा बोली जाती है. बलूचिस्तान का कुछ हिस्सा ईरान और कुछ अफगानिस्तान में है. बलूची लोग अफगानिस्तान, ईरान और पाकिस्तान से अलग हो एक वृहत्तर बलूचिस्तान बनाना चाह रहे हैं. सन् 1947 के बाद से हीं बलूच लोग पाकिस्तान से आजाद होने के लिए संघर्ष कर रहें हैं. सन् 1970 में इनका राष्ट्रवाद जोर शोर से उभरा, जिसे पाकिस्तान ने बन्दूक की नोंक पर कुचल दिया.

आज बलूच लोगों की दिन की शुरूआत दहशत से होती है. उन्हें नींद में भी दहशत हीं नजर आती है. उनकी नेता करीमा बलूच विदेश में रहकर निर्वासित जीवन बिता रहीं हैं. वे वहीं से बलूचिस्तान की आवाज उठा रहीं हैं. 2500 लोग लापाता हो गये हैं .महिलाओं से बलात्कार, बच्चों की हत्या कर वहां सरे आम पाक मानवाधिकार का उल्लंघन कर रहा है. 

इस समय बलूचिस्तान में तीन संगठन आजादी के लिए संघर्ष रत हैं- बलूचिस्तान लिबरेशन फ्रंट, बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी और बलूचिस्तान रिपब्लिकन आर्मी .इन संगठनों ने कहा है कि अब पाकिस्तान जंग का मैदान बनेगा. लाहौर व इस्लामाबाद पर हमले किए जाएंगे. 

बलूचिस्तान के ग्वादर इलाके में 790 km लम्बे समुद्र तट पर चीन ग्वादर पोर्ट तैयार कर रहा है. इस पोर्ट के बन जाने पर चीन के साथ पाकिस्तान को भी फायदा होगा. इस क्षेत्र में बलूचिस्तान को लूटने के लिए पाकिस्तान ने चीन को खुली छूट दे रखी है. चीन इस इलाके में बहुत निवेश कर रहा है. बलूच लोग अपने संसाधनों का इस कदर खुले आम दोहन बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं. 

भारत ने संयुक्त राष्ट्र संघ में बलूचिस्तान का मुद्दा जोर शोर से उठाया है. जिस तरह पाकिस्तान कश्मीर में मानव अधिकार हनन का मुद्दा उठाता रहा है, उसी प्रकार उसी अंदाज में भारत ने बलूचिस्तान का मुद्दा उठाकर पाकिस्तान को बैक फुट पर ला खड़ा किया है. अमेरिका, रूस , ईरान और अफगानिस्तान आदि देश भारत के साथ हैं.

अब बलूच लोगों ने पाकिस्तान विरोधी नारे लगाकर, आजादी के लिए संघर्ष कर पाकिस्तान को खुले आम चुनौती दे डाली है. उन्होंने कहा है कि बलूचिस्तान दूसरा बांग्लादेश बनेगा. अब जफा (अत्याचार) का इम्तिहां वे देखने के लिए तैयार हैं.

उसे ये फिक्र है हरदम नया तर्ज -ए-जफा क्या है?

हमें ये शौक देखें कि सितम का अब इंतिहां क्या है ?

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links