ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : कुलगाम एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया         BIG NEWS : लेह अस्पताल पर उठे सवाल, आर्मी ने दिया जवाब, "बहादुर सैनिकों की उपचार की व्यवस्था को लेकर सवाल उठाना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण"         BIG NEWS : JAC ने जारी किया 11वीं का रिजल्ट, 95.53 फीसदी छात्रों को मिली सफलता         कानपुर: चौबेपुर के SHO विनय तिवारी सस्पेंड, विकास दुबे से मिलीभगत का आरोप         राजौरी में आतंकी ठिकाने का पर्दाफाश, कई हथियार बरामद         BIG NEWS : विस्तारवाद पर दुनिया में अकेला पड़ गया चीन, भारत के साथ खड़ी हो गई महा शक्तियां         गुरु पूर्णिमा के दिन 5 जुलाई को लगेगा चंद्र ग्रहण, इन राशियों पर पड़ेगा सबसे ज्यादा असर         BIG NEWS : कराची में आतंकवादी हाफिज सईद के सहयोगी आतंकी मौलाना मुजीब की हत्या         BIG NEWS : भारत ने बॉलीवुड प्रोग्राम के पाकिस्तानी ऑर्गेनाइजर रेहान को किया ब्लैकलिस्ट         क्या रोक सकेंगे चीनी माल         BIG NEWS : सरहद पर मोदी का ऐलान, दुनिया में विस्तारवाद का हो चुका है अंत, PM मोदी के लेह दौरे से चीन में खलबली         BIG NEWS : CRPF जवान और 6 साल के बच्चे को मारने वाला आतंकी श्रीनगर एनकाउंटर में ढेर         भारत में बनी कोविड वैक्सीन 15 अगस्त तक होगी लॉन्च         BIG NEWS : आतंकवादियों से लोहा लेते हुए श्रीनगर में झारखंड का लाल शहीद         BIG NEWS : अचानक सुबह लेह पहुंचे पीएम मोदी, जांबाज जवानों से मिले और हालात का लिया जायजा         बॉलीवुड में फिर छाया मातम, मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन         BIG NEWS : गुंडों ने बरसाई अंधाधुंध गोलियां, सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद         श्रीनगर एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को मार गिराया, 1 जवान शहीद         BIG NEWS : चीन की राजदूत हाओ यांकी के इशारे पर ओली गा रहे हैं ओले ओले...         बोत्सवाना में क्यों मर रहे हैं हाथी...         BIG NEWS : पुलवामा हमले का एक और आरोपी गिरफ्तार         झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार गिर जाएगी : सांसद निशिकांत दुबे         BIG NEWS : बीजेपी का नया टाइगर         BIG BREAKING : रामगढ़ के पटेल चौक पर दो ट्रेलर के बीच फंसी कार, दो की मौत, आधा दर्जन लोग कार में फसे         BIG NEWS : चीन को बड़ा झटका; DHL के बाद FedEX ने बंद की चीन से भारत आने वाली शिपमेंट सर्विस         BIG NEWS : ड्रैगन के खिलाफ एक्शन में भारत, कार्रवाई से चीन में भारी नुकसान की आहट         BIG NEWS : भारत की कृतिका पांडे को मिला राष्ट्रमंडल-20 लघुकथा सम्मान         वैसे ये स्लोगन लगा विज्ञापन है किनके लिए भैये..          BIG NEWS : चीन की चाल , LAC पर तैनात किये 20 हजार से ज्यादा सैनिक         BIG NEWS : सोपोर में आतंकियों की गोली का शिकार बना एक और मासूम         BIG NEWS : सोपोर में CRPF पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकी हमला, 2 जवान शहीद, तीन घायल         BIG NEWS : इमरान ने फिर रागा कश्मीर का अलाप, डोमिसाइल पॉलिसी को लेकर UNSC से लगाई गुहार         BIG NEWS : यूरोपीय संघ, यूएन और वियतनाम के बाद अब ब्रिटेन ने भी लगाया पाकिस्तान एयरलाइंस पर बैन         BIG NEWS : 'ट्विटर, फेसबुक और यूट्यूब' को बैन करने वाला चीन टिक-टॉक बैन पर तिलमिलाया         देश की सीमाओं में ताका झांकी....!         दीपिका कुमारी और अतनु दास ने एक दूसरे को पहनाई वरमाला, अब होंगे सात फेरे         चलो रे डोली उठाओ कहार...पीया मिलन की रुत आई....         अध्यक्ष बदलने की सियासत         BIG NEWS : पांडे गिरोह ने रामगढ़ एसपी को दिखाया ठेंगा, मोबाइल क्रेशर कंपनी से मांगी रंगदारी         BIG NEWS : जानिए किस देश के प्रधानमंत्री का PM मोदी ने किया जिक्र, जिनपर लगा था 13000 रुपये का जुर्माना         80 करोड़ गरीबों को अब नवंबर तक मिलेगा मुफ्त अनाज : PM         BIG NEWS : अनंतनाग एनकाउंटर में 2 और आतंकी ढेर        

जब पूरा मुल्क एक "कातिल" को बचाना चाहता था

Bhola Tiwari Sep 09, 2019, 10:24 AM IST टॉप न्यूज़
img


अजय श्रीवास्तव

मैं जिस घटना का जिक्र कर रहा हूँ वो साल 1959 में घटी थी।नेवी कमांडर कवस मानेकशॉ नानावटी छुट्टी में अपने घर बांबे आता है तो 8उसे महसूस होता है कि उसकी प्यारी पत्नी "सेल्विया" जो उसके तीन बच्चों की माँ है उससे कटी कटी सी है।वह उसे अपनी बांहों में भर लेना चाहता था मगर वह बेरूखी से उसके हाथों को झटक देती है।

वह सेल्विया से इसकी वजह पूछता है तो कुछ संकोच के बाद उसकी पत्नी उसे बता देती है कि उसे बिजनेसमैन प्रेम आहूजा से इश्क हो गया है और दोनों रिलेशनशिप में हैं।दरअसल नेवी कमांडर नानावटी को जहाज के साथ महीनों बाहर रहना पड़ता था,इसी दर्मियान सेल्विया और प्रेम आहूजा की दोस्ती कब हवस में परिवर्तित हो गया इन्हें पता भी नहीं लगा।रईस बिजनेसमैन प्रेम आहूजा सेल्विया पर खूब पैसे खर्च करता और प्यार का नाटक करता।सिल्विया उसके झूठे प्यार में पूरी तरह डूब गई थी और दिनरात उसी के सपने देखने लगी थी।सिल्विया ने ये भी कहा कि जब प्रेम आहूजा ने उनसे शादी का वायदा किया तब मैंने समर्पण किया था।


अपनी प्यारी पत्नी के मुंह से ये बात सुनने के बाद नानावटी कुछ पल के लिए जडवत सा हो गया था मगर तत्काल उन्होंने अपने आप को संभाल।पहले से तयशुदा कार्यक्रम के मुताबिक दोनों अपने तीनों बच्चों के साथ कुत्ते के डाक्टर के पास गए।उन दिनों उनका प्यारा कुत्ता भी बीमार चल रहा था।डाक्टर से मिलने के बाद वे फिल्म देखने पिक्चर हाँल गए।अपनी पत्नी और बच्चों को वहाँ बैठाकर वह पिक्चर हाँल से बाहर आ गया और 

 सीधे वह अपने पोत पर गए और वहाँ से उन्होंने .38 स्मिथ एंड बेसन रिवाल्वर निकाली।रिवाल्वर पतलून में रखकर वह सीधा प्रेम आहूजा के घर पहुंचा,उस समय प्रेम आहूजा नहाने की तैयारी कर रहा था उसके कमर में तोलिया बंधा हुआ था।

नानावटी सीधे प्रेम आहूजा से पूछते हैं कि तुम मेरी पत्नी से शादी कर लो मगर वह बेरूखी से इंकार कर देता है।प्रेम आहूजा गुस्से में नानावटी से कहता है कि मैं बहुत सी औरत के साथ हमबिस्तर होता हूँ इसका मतलब ये नहीं है कि मैं सभी से शादी कर लूँ।उसकी बात से बौखलाए नानावटी ने उसके ऊपर तीन फायर करता है और वहां से निकलकर खुद को पुलिस के हवाले कर देता है।

आपको बता दें केएम नानावटी की मुलाकात सेल्विया से 1949 मे इंग्लैंड में हुई थी।पहली मुलाकात में हीं दोनों एक दूसरे को दिल दे बैठे थे।नानावटी पारसी थे और बहुत पढे लिखे परिवार से थे।पारसी रीतिरिवाज से उनकी शादी हुई और दोनों से तीन प्यारे बच्चे हुऐ।नानावटी सिल्विया से बहुत प्यार करते थे, उसके मुँह से प्रेम आहूजा से रिलेशनशिप की बात सुनकर भी उन्होंने पत्नी को कुछ नहीं कहा,बल्कि उसकी खुशी के लिए वह दोनों की शादी करवाना चाहते थे।

23 सितंबर 1959,खचाखच भरे डिस्ट्रिक्ट और सेशन कोर्ट में केस की सुनवाई शुरू हुई।ये केस सबसे ज्यूरी में चला।सरकार की तरफ से चीफ पब्लिक प्रोसिक्यूटर सी.एम.त्रिवेदी ने नानावटी पर प्रेम आहूजा की इरादतन हत्या का आरोप लगाया।डिफेंस की तरफ से फेमस क्रिमिनल लाँयर कार्ल जे खंडालावाला केस लड रहे थे।

ज्यूरी यानी कोर्ट की ओर से किसी केस की सुनवाई के लिए चुने गए लोग।ये सोसायटी के मानिंद लोग होते थे जिनके सामने कोर्ट की सारी दलीलें रखीं जाती थी,उसी के आधार पर ज्यूरी अपना फैसला सुनाती थी।नानावटी केस में ज्यूरी ने एकतरफा फैसला नानावटी के पक्ष में दिया क्योंकि समाज के सभी लोगों को नानावटी से सहानभूति थी और ज्यूरी लोगों की भावनाओं में बह गया था।तभी से ज्यूरी सिस्टम को खत्म कर दिया गया।

पब्लिक प्रोसिक्यूटर त्रिवेदी इस केस को बेमन से लड रहे थे मगर उनके जुनियर रामजेठमलानी इस केस को लेकर बहुत सीरियस थे।उन्होंने दलील दी कि अगर गोलियां हाथापाई के बाद चलीं थीं तो प्रेम भाटिया का तौलिया गोलियां लगने के बाद भी कमर से बंधा हुआ क्यों था?उनकी दलील की वजह से डिफेंस धराशायी हो गई।हाईकोर्ट ने नानावटी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई।11 दिसंबर 1961 को सुप्रीमकोर्ट ने भी इस सजा पर मुहर लगा दी।

नानावटी ने तीन साल जेल में रहने के बाद माफी की अपील महाराष्ट्र के राज्यपाल से की।उस समय महाराष्ट्र की राज्यपाल विजय लक्ष्मी पंडित थीं और उन्होंने तत्काल नानावटी को माफी दे दी।

जेल से छूटने के बाद कुछ हीं दिन नानावटी अपनी पत्नी और बच्चों के साथ भारत में रहे।यहाँ बदनामी बहुत हो चुकी थी इस वजह से नानावटी और उसकी पत्नी सेल्विया ने कनाडा में बसने का निर्णय लिया और वे कनाडा चले गए।2003 में नानावटी की वहीं मृत्यु हो गई, उनकी पत्नी अभी भी जिंदा है।

इस केस ने कानून को भी एक बार भावना में बहने को मजबूर कर दिया था मगर रामजेठमलानी के अथक प्रयास से नानावटी को सजा मिल पाई थी।सारा देश यहाँ तक कि प्रेम आहूजा की बहन ने भी नानावटी क़ो माफ करने की अपील की थी।इस महत्वपूर्ण केस को कानून की पढाई में पढाया जाता है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links