ब्रेकिंग न्यूज़
युद्ध की तैयारी में चीन !         BIG NEWS : रांची के रिम्स में जब पोस्टमार्टम से पहले जिंदा हुआ मुर्दा         अमेरिका ने चीन की 33 कंपनियों को किया ब्लैकलिस्ट, ड्रैगन भी कर सकता है पलटवार         BIG NEWS : भारत अड़ंगा ना डालें, गलवान घाटी चीन का इलाका         BIG NEWS : भारत की आक्रामक नीति से घबराया बाजवा बोल पड़ा "कश्मीर मसले पर पाकिस्तान फेल"         BIG NEWS : डोकलाम के बाद भारत और चीन की सेनाओं के बीच हो सकती है सबसे बड़ी सैन्य तनातनी         BIG NEWS : झारखंड के 23वें जिला खूंटी में पहुंचा कोरोना, सोमवार को राज्य में 28 नए मामले         BIG NEWS : कश्मीर के नाम पर पाकिस्तानी ने इंग्लैंड के गुरुद्वारा में किया हमला         BIG NEWS : बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट में किसने लगाई आग! लाखों का नुकसान          BIG NEWS : इंडिया और इज़राइल मिलकर खोजेंगे कोविड-19 का इलाज         CBSE : अपने स्कूल में ही परीक्षा देंगे छात्र, अब देशभर में 15000 केंद्रों पर होगी परीक्षा         BIG NEWS : कुलगाम एनकाउंटर में कमांडर आदिल वानी समेत दो आतंकी ढेर         BIG NEWS : लद्दाख बॉर्डर पर भारत ने तंबू गाड़ा, चीन से भिड़ने को तैयार         ममता बनर्जी को इतना गुस्सा क्यों आता है, कहा आप "मेरा सिर काट लीजिए"         GOOD NEWS ! रांची से घरेलू उड़ानें आज से हुईं शुरू, हवाई यात्रा करने से पहले जान लें नए नियम         .... उनके जड़ों की दुनिया अब भी वही हैं         आतंकियों को बचाने के लिए सुरक्षाबलों पर पत्थरबाज़ी, जवाबी कार्रवाई में कई घायल         BIG NEWS : पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर तौफीक उमर को कोरोना, अब पाकिस्तान में 54 हजार के पार         महाराष्ट्र में खुल सकते है 15 जून से स्कूल , शिक्षा मंत्री ने दिए संकेत         BIG NEWS : सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के टॉप आतंकी सहयोगी वसीम गनी समेत 4 आतंकी को किया गिरफ्तार         आतंकी साजिश नाकाम : सुरक्षाबलों ने पुलवामा में आईईडी बम बरामद         BREAKING: नहीं रहे कांग्रेस के विधायक राजेंद्र सिंह         पानी रे पानी : मंत्री जी, ये आप की राजधानी रांची है..।         BIG NEWS : कल दो महीने बाद नौ फ्लाइट आएंगी रांची, एयरपोर्ट पर हर यात्री का होगा टेस्ट         BIG NEWS : भाजपा के ताइवान प्रेम से चिढ़ा ड्रैगन, चीन ने दर्ज कराई आपत्ति         सिर्फ विरोध से विकास का रास्ता नहीं बनता....         सीमा पर चीन ने बढ़ाई सैन्य ताकत, मशीनें सहित 100 टेंट लगाए, भारतीय सेना ने भी सैनिक बढ़ाए         BIG NEWS : केजरीवाल सरकार ने सिक्किम को बताया अलग राष्ट्र         महिला पर महिलाओं द्वारा हिंसा.... कश्मकश में प्रशासन !         BIG NEWS : वैष्णों देवी धाम में रोज़ाना 500 मुस्लिमों की सहरी-इफ्तारी की व्यवस्था         विस्तारवादी चीन हांगकांग पर फिर से शिकंजा कसने की तैयारी में, विरोध-प्रर्दशन शुरू         BIG NEWS : स्पेशल ट्रेन की चेन पुलिंग कर 17 मजदूर रास्ते में ही उतरे         भक्ति का मोदी काल ---         अम्फान कहर के कई चेहरे, एरियल व्यू देख पीएम मोदी..!         महिला को अर्द्धनग्न कर घुमाया गया !         टिड्डा सारी हरियाली चट कर जाएगा...         'बनिया सामाजिक तस्कर, उस पर वरदहस्त ब्राह्मणों का'         इतिहास जो हमें पढ़ाया नहीं गया...        

बतर्ज राग दरबारी : सरकारी विद्यालय पर निबंध...

Bhola Tiwari Sep 04, 2019, 8:33 AM IST टॉप न्यूज़
img

राजीव मित्तल
मंगरुआ सहमा हुआ, एक कोना में देवाल से चिपका जा रहा था और फुलेसर मास्टर एक हाथ मे डंडा तो दूसरे हाथ मे मंगरुआ की कॉपी लेकर उसकी ओर बढ़े आ रहे थे...
मास्टर साहेब फिर चिचियाये - अबे बोलता काहे नहीं है? क्या एहि पढ़ाए थे हम्म?
मंगरुआ हिम्मत करके कहा - लेकिन माट साब आप स्कूल के जो लच्छण बताये थे, वो मुझे कभी नहीं दिखे..इसलिए जो दिखा ओही लिख दिया..
का दिखा बे हरिश्चंदर की औलाद? जो दिखेगा वही लिख देगा ? अब तुम से एगो निबंध लिखाने की खातिर स्कूलवा को मुगल गार्डन बना दें?
शान्ति प्रिय हेडमास्टर साहब ने शोरगुल सुना तो 
मनोहर कहानियां के नवीन संस्करण को कांख में दबाया और कक्षा में दाखिल होते ही पूछा - ई सब का है माट साब? काहे शोर मचाये हैं?

फुलेसर गुरुजी डंडा को मंगरुआ के पेट में कोंचते हुए गरजे - 
इसी से पूछिए सर..देखिए विद्यालय पर क्या निबंध लिखा है इस बकलोल ने..
हेड मास्टर साहब ने मंगरुआ की कॉपी पर नजर दौड़ाई-लिखा था ....
मेरा विद्यालय गांव के बाहर मुर्गीबाड़े के बगल में स्थित है..मुर्गियों की बदबू से जीना हराम हो गया है..
तीन फाटक पहले से गायब थे, और चौथा हेड माट साहेब खुद ठेला पर लदवा अपने घर ले गये..
जाड़ा और गर्मी में तो ज्यादा दिक्कत नहीं होता है, 
लेकिन बरसात में क्लास के अंदर भी बरसाती ओढ़ के बईठना पड़ता है.
अब तो कुत्तों के साथ साथ सियार भी आते जाते रहते हैं..एक बिजली वाला पंखा बिगड़ा तो हेड माट साहेब सारे पंखे खुलवा ले गए बनवाने के लिए, तबसे दु बरस हो गया आज तक पंखे नहीं आये .....

आगे और भी था, लेकिन पढ़ने की बजाय हेड माट साहेब ने मुखलाल माट साब के हाथ से छड़ी ले ली और गरजते हुए बोले - रे झुट्ठा कहीं का ! दरवाजे और पंखों का बिल मेरे नाम से फाड़ने से पहले सच्चाई पता किया तूने?
मंगरुआ डरते हुए बोला - हमको क्या पता था गुरुजी? ऊ तो फुलेसर माट साहेब आपके पीठ पीछे हम लोगों को बताया करते हैं..
हेड माट साहेब ने मनोहर कहानियां और छड़ी फेंक दी और बगलें झांकते फुलेसर सर को घूरा - का माट साब..खाली आधा अधूरा ज्ञान देते हैं? ई काहे नहीं बताये कि ढोलक, हरमुनिया और झाल इस स्कूल से कहाँ लापता हुआ? 

जिस बाल्टी में आपकी भैंसिया दुहाती है ऊ आपने कब खरीदी थी? हैण्डपम्प का मुंडी कइसे गायब हुआ था?
फुलेसर सरजी भी गरजे - बस माट साब बस..
अब एक चुप हजार चुप हो जाइए..
वरना मिड डे मील से लेकर स्कूल ड्रेस तक की आपकी सारी ईमानदारी यहीं झार देंगे..

हेड मास्साब ललकारे - अरे चुप चोट्टा कहीं का..
पढ़ाने लिखाने का शऊर नहीं... आया है 
मुझपे कीचड़ उछालने का..ज्यादा मन कर रहा है तो यहीं उठा के पटक देंगे..
फुलेसर माटसाब ज्यादा जोशीले निकले..
खुद ही आगे बढे और भीमकाय हेड मास्साब को धक्का देकर धराशाई कर दिए..
दोनों में गुत्थमगुत्थी चल ही रही थी..
कि मिड डे मील कर्मी ने आकर पूछा - 
ऐ हेड मास्सायेब ! आज खाना मीनू के हिसाब से बनेगा कि खिचड़ी चढ़ा दें ?.....

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links