ब्रेकिंग न्यूज़
बांदीपोरा में 4 OGWS गिरफ्तार, हथियार बरामद         BIG NEWS : हाफिज सईद समेत 5 आतंकियों के बैंक अकाउंट फिर से बहाल         BIG NEWS : लालू यादव का जेल "दरबार", तस्वीर वायरल         मान लीजिए इंटर में साठ प्रतिशत आए, या कम आए, तो क्या होगा?         BIG NEWS : झारखंड में रविवार को कोरोना संक्रमण से 6 मरीजों की मौत, बंगाल-झारखंड सीमा सील         BIG NEWS : सोपोर में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी, अब तक 2 आतंकी ढेर         BIG NEWS : देश में PMAY के क्रियान्वयन में रामगढ़ नंबर वन         BIG NEWS : श्रीनगर में तहरीक-ए-हुर्रियत के चेयरमैन अशरफ सेहराई गिरफ्तार         BIG NEWS : ऐश्वर्या राय बच्चन और आराध्या बच्चन की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव         BIG NEWS : मध्यप्रदेश की राह पर राजस्थान !         अमिताभ बच्चन ने कोरोना के खौफ के बीच सुनाई थी उम्मीद भरी कविता, अब..         .... टिक-टॉक वाले प्रकांड मेधावियों का दस्ता         BIG BRAKING : नक्सलियों नें कोल्हान वन विभाग कार्यालय व गार्ड आवास उड़ाया         BIG NEWS : महानायक अमिताभ बच्चन के बाद अभिषेक बच्चन को भी कोरोना         BIG NEWS : अमिताभ बच्चन करोना पॉजिटिव         BIG NEWS : आतंकियों को घुसपैठ कराने की कोशिश में पाकिस्तानी बॉर्डर एक्शन टीम         अपराधी मारा गया... अपराध जीवित रहा !          BIG NEWS : भारत चीन के बीच बातचीत, सकारात्मक सहमति के कदम आगे बढ़े         BIG NEWS : बारामूला के नौगाम सेक्टर में LOC के पास मुठभेड़, दो आतंकी ढेर         BIG STORY : समरथ को नहिं दोष गोसाईं         शर्मनाक : बाबू दो रुपए दे दो, सुबह से भूखी हूं.. कुछ खा लुंगी         BIG NEWS : वर्चुअल काउंटर टेररिज्म वीक में बोले सिंघवी, कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, था और रहेगा         BIG NEWS : कानपुर से 17 किमी दूर भौती में मारा गया गैंगेस्टर विकास, एसटीएफ के 4 जवान भी घायल         BIG NEWS : झारखंड के स्कूलों पर 31 जुलाई तक टोटल लॉकडाउन         BIG NEWS : चीन के खिलाफ “बायकॉट चाइना” मूवमेंट          पाकिस्तानी सेना ने नौशेरा सेक्टर में की गोलाबारी, 1 जवान शहीद         मुसीबत देश के आम लोगों की है जो बहुत....         BIG NEWS : एनकाउंटर में मारा गया गैंगस्टर विकास दुबे         बस नाम रहेगा अल्लाह का...         BIG NEWS : सेना के काफिले पर आतंकी हमला, जवान समेत एक महिला घायल         BIG NEWS : लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों ने की थी बीजेपी नेता वसीम बारी की हत्या         दुबे के बाद क्या ?         मै हूं कानपुर का विकास...         BIG NEWS : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने 6 पुलों का किया ई उद्घाटन, कहा-सेना को आवाजाही में मिलेगी सुविधा         BIG NEWS : कुख्यात अपराधी विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार         BIG MEWS : चुटुपालु घाटी में आर्मी का गाड़ी खाई में गिरा, एक जवान की मौत, दो घायल         BIG NEWS : सेना ने फेसबुक, इंस्टाग्राम समेत 89 एप्स पर लगाया बैन         BIG NEWS : बांदीपोरा में आतंकियों ने बीजेपी नेता वसीम बारी की हत्या, हमले में पिता-भाई की भी मौत         नहीं रहे शोले के ''सूरमा भोपाली'', 81 की उम्र में अभिनेता जगदीप का निधन         गृह मंत्रालय ने IPS अधिकारी बसंत रथ को किया निलंबित, दुर्व्यवहार का आरोप        

अफगानिस्तान में भारत की भूमिका "रचनात्मक" और "विकास कार्यों" में तय की गई थी

Bhola Tiwari Aug 24, 2019, 12:14 PM IST टॉप न्यूज़
img


अजय श्रीवास्तव

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक विवादित बयान देकर भारत को धर्मसंकट में डाल दिया है।ट्रंप ने कहा कि भारत को अफगानिस्तान में इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ाई में उतरना चाहिए।ट्रंप ने कहा कि अफगानिस्तान में आतंकी संगठनों से लडाई में भारत,रूस,तुर्की, इराक और पाकिस्तान को अपनी भूमिका अदा करने की जरूरत है।अमेरिकी राष्ट्रपति ने शिकायत भरे लहजे में कहा कि 7000 मील दूरी से अमेरिका अफगानिस्तान में आतंकियों के खिलाफ आपरेशन कर रहा है जबकि बाकी देश बिल्कुल भी सहयोग नहीं कर रहें हैं।

अफगानिस्तान में आईएसआईएस की बढ़ती सक्रियता के सवाल पर ट्रंप ने कहा भारत वहाँ मौजूद है लेकिन वे नहीं लड़ रहें हैं, हम लड़ रहें हैं।पाकिस्तान भी दरवाजे पर है वे लड़ रहें हैं लेकिन बहुत हीं कम कोशिश कर रहें हैं।जहाँ भी आईएसआईएस की मौजूदगी है किसी को किसी वक्त उन देशों को उनसे लड़ना हीं होगा।

गौरतलब है कि अमेरिका सितंबर 2001 से हीं अफगानिस्तान में रहकर तालिबानियों से लड़ रहा है।अठारह साल बीत चुके हैं और अमेरिका में ये मांग उठाने लगी है कि अफगानिस्तान से अमेरिकी फौजों को वापस बुलाया जाए।डोनाल्ड ट्रंप किसी भी सूरत में अपनी फौज अफगानिस्तान से निकालना चाहते हैं चाहे इसके लिए उन्हें कुछ भी करना पड़े।

जब अमेरिका ने अफगानिस्तान पर नियंत्रण किया था तब सबके सहमति से ये निर्णय लिया गया था कि भारत वहाँ रचनात्मक कार्यों को करेगा।अफगानिस्तान के पुनर्निर्माण और विकास में भारत अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा।भारत ने अफगानिस्तान में मोटे तौर पर तीन क्षेत्रों पर अपना ध्यान केन्द्रित किया है।भारत ने आधारभूत ढांचों(सड़क,बांध,बिजली उत्पादन केंद्र, टीवी स्टेशन, संसद की इमारत)का निर्माण, मानवीय सहायता(भोजन,स्कूलों में बच्चों के लिए भोजन,स्वास्थ्य सुविधाएं)और स्किल विकसित करने के लिए हजारों अफगानी युवाओं को स्कालरशिप मुहैया कराकर देश में मानव संसाधन का विकास किया है।

पाकिस्तान ने उस समय हीं कह दिया था कि भारत के सैनिक सहयोग से अफगानिस्तान की हालत और बदतर होगी, वैसे भी भारत सैनिक आँपरेशन में भाग लेने के लिए इच्छुक भी नहीं था।श्रीलंका में सेना भेजकर भारत ने अपने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को खोया था।एलटीटीई के एक आत्मघाती दस्ते ने राजीव गांधी की जान श्रीपेरंबुदूर में ले ली थी।

अमेरिका ये अच्छी तरह जान गया है कि वह सैन्य ताकत से अफगानिस्तान में शांति स्थापित नहीं कर सकता, इस वजह से अब वो तालिबान से स्थाई शांति के लिए बातचीत कर रहा है।डोनाल्ड ट्रंप चाहते हैं कि अफगानिस्तान की सरकार में तालिबान शामिल हो मगर तालिबान कह रहा है कि अमेरिका पूरी तरह से अफगानिस्तान से वापस चला जाए।नाटो चाहता है कि कुछ दिनों तक वे छह महत्वपूर्ण बेसों पर अपनी मौजूदगी बनाए रखे।

तालिबान से अमेरिका की बातचीत बहुत आगे बढ़ गई है और उम्मीद है कि कुछ दिनों में सम्मानजनक समझौता हो जाएगा, मगर एक दुखद पहलू ये है कि अमेरिका और तालिबान के बातचीत में अफगानिस्तान की चुनी हुई सरकार को दूर रखा गया है।अफगान राष्ट्रपति ने इस वार्ता पर एतराज जताते हुए कहा था कि कोई भी समझौता अफगानिस्तान की धरती पर हीं होगा,मगर दूनिया का चौधरी अमेरिका कमजोर और उन पर आश्रित राष्ट्रपति की बात कितना सुनेगा ये देखने वाली बात होगी।

हाँ एक प्रश्न जो अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उठाया है उसपर भारत को ध्यान देना होगा वो है अफगानिस्तान में आईएसआईएस की दमदार उपस्थिति।आईएसआईएस इराक और सीरिया से लगभग बाहर हो गया है और वह अफगानिस्तान में अपना सुरक्षित ठिकाना खोज रहा है।अगर वहाँ आईएसआईएस की जड़ें जम गई तो ये दक्षिण एशिया की सुरक्षा और शांति के लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है।पाकिस्तान उन्हें प्रष्य देगा और उसे भारत के खिलाफ इस्तेमाल करेगा ये तो तय है।एक तरह से देखें तो ट्रंप ने भारत को इशारा कर दिया है।भारत के थिंक टैंक को इस विषय में सोचना होगा नहीं तो आगे ये बहुत दुख देगा।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links