ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट में किसने लगाई आग! लाखों का नुकसान          BIG NEWS : इंडिया और इज़राइल मिलकर खोजेंगे कोविड-19 का इलाज         CBSE : अपने स्कूल में ही परीक्षा देंगे छात्र, अब देशभर में 15000 केंद्रों पर होगी परीक्षा         BIG NEWS : कुलगाम एनकाउंटर में कमांडर आदिल वानी समेत दो आतंकी ढेर         BIG NEWS : लद्दाख बॉर्डर पर भारत ने तंबू गाड़ा, चीन से भिड़ने को तैयार         ममता बनर्जी को इतना गुस्सा क्यों आता है, कहा आप "मेरा सिर काट लीजिए"         GOOD NEWS ! रांची से घरेलू उड़ानें आज से हुईं शुरू, हवाई यात्रा करने से पहले जान लें नए नियम         .... उनके जड़ों की दुनिया अब भी वही हैं         आतंकियों को बचाने के लिए सुरक्षाबलों पर पत्थरबाज़ी, जवाबी कार्रवाई में कई घायल         BIG NEWS : पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर तौफीक उमर को कोरोना, अब पाकिस्तान में 54 हजार के पार         महाराष्ट्र में खुल सकते है 15 जून से स्कूल , शिक्षा मंत्री ने दिए संकेत         BIG NEWS : सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के टॉप आतंकी सहयोगी वसीम गनी समेत 4 आतंकी को किया गिरफ्तार         आतंकी साजिश नाकाम : सुरक्षाबलों ने पुलवामा में आईईडी बम बरामद         BREAKING: नहीं रहे कांग्रेस के विधायक राजेंद्र सिंह         पानी रे पानी : मंत्री जी, ये आप की राजधानी रांची है..।         BIG NEWS : कल दो महीने बाद नौ फ्लाइट आएंगी रांची, एयरपोर्ट पर हर यात्री का होगा टेस्ट         BIG NEWS : भाजपा के ताइवान प्रेम से चिढ़ा ड्रैगन, चीन ने दर्ज कराई आपत्ति         सिर्फ विरोध से विकास का रास्ता नहीं बनता....         सीमा पर चीन ने बढ़ाई सैन्य ताकत, मशीनें सहित 100 टेंट लगाए, भारतीय सेना ने भी सैनिक बढ़ाए         BIG NEWS : केजरीवाल सरकार ने सिक्किम को बताया अलग राष्ट्र         महिला पर महिलाओं द्वारा हिंसा.... कश्मकश में प्रशासन !         BIG NEWS : वैष्णों देवी धाम में रोज़ाना 500 मुस्लिमों की सहरी-इफ्तारी की व्यवस्था         विस्तारवादी चीन हांगकांग पर फिर से शिकंजा कसने की तैयारी में, विरोध-प्रर्दशन शुरू         BIG NEWS : स्पेशल ट्रेन की चेन पुलिंग कर 17 मजदूर रास्ते में ही उतरे         भक्ति का मोदी काल ---         अम्फान कहर के कई चेहरे, एरियल व्यू देख पीएम मोदी..!         महिला को अर्द्धनग्न कर घुमाया गया !         टिड्डा सारी हरियाली चट कर जाएगा...         'बनिया सामाजिक तस्कर, उस पर वरदहस्त ब्राह्मणों का'         इतिहास जो हमें पढ़ाया नहीं गया...         झारखंड : शुक्रवार को 15 कोरोना         BIG NEWS : जिन्ना गार्डन इलाके में गिरा प्लेन, कई घरों में लगी आग, जीवन बचाने के लिए भागे लोग         BIG NEWS : पाकिस्तान की फ्लाइट क्रैश, विमान में सवार सभी 107 लोगों की मौत         BIG NEWS : मधु कोड़ा के केवल चुनाव लड़ने के लिए दोषी होने पर रोक लगाना ठीक नहीं : दिल्ली हाई कोर्ट         BIG NEWS : तीन और महीने के लिए टली ईएमआई, 31 अगस्त तक बढ़ाया         BIG NEWS : आज से आरक्षित टिकटों की बुकिंग रेलवे काउंटर से शुरू         चीन के बाद अब पाक ने बढ़ाई सीमा पर ताकत, तोपें और अतिरिक्त सैन्य डिवीजन तैनात          BIG STORY : झारखंड के लिए शिक्षा माने भीक्षा....         BIG NEWS : पाकिस्तान ने सरकारी मैप में सुधारी गलती ! गिलगित-बल्तिस्तान और मीरपुर-मुजफ्फराबाद भारत का हिस्सा         BIG NEWS : अम्फान तूफान, तबाही के निशान        

भारत में मंदी पर "राष्ट्रवाद" हावी

Bhola Tiwari Aug 21, 2019, 5:03 AM IST टॉप न्यूज़
img


अजय श्रीवास्तव

भारत भयानक मंदी की चपेट में दिन प्रतिदिन आ रहा है।देश से रोजगार लुप्त से हो गए हैं, प्राइवेट सेक्टर में जो रोजगार थे उसे मंदी ने अपने आगोश में ले लिया है।ऐसा नहीं है कि ये मंदी तत्काल आई है,पिछले छह आठ महीनों से इसकी आहटें सुनाई पड़ने लगीं थीं मगर देश में आम चुनाव होने थे सरकार फिर से सत्ता में आने के लिए नित्य नये जुमले उछाल रही थी और जनता नेताओं के लच्छेदार भाषणों को सुनकर मस्त थी।सरकार के एजेंडे में उस समय मुसलमान,पाकिस्तान और तीन तलाक का मुद्दा था जिसे वो जमकर कैश कर रही थी।जनता मंदी की आहट को न सुनकर छद्म राष्ट्रवाद पर राष्ट्रवादी सरकार से बौद्धिक खुराक ले रही थी और ये अफीम इतना असर कर रहा था कि लोगों को इसके अलावा और सारे मुद्दे गौण लग रहे थे।

अभी भी सरकार और रिजर्व बैंक ये मानने को तैयार नहीं है कि भारत में मंदी पांव पसार रही है।आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास कहते हैं कि भारत अभी मंदी से अछूता है और नीतिगत तौर पर भारत में सबकुछ सही दिशा में चल रहा है।देश की वित्त मंत्री को शायद ये खबर भी नहीं होगी कि देश मंदी की चपेट में है।वर्तमान में आरबीआई गवर्नर और वित्त मंत्री का परफॉर्मेंस सबसे घटिया और निंदनीय है।

पीटीआई को दिये इंटरव्यू में भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने कहा है कि अर्थव्यवस्था में जारी मंदी बहुत चिंताजनक है और सरकार को ऊर्जा क्षेत्र और गैर बैंकिंग वित्तीय क्षेत्रों की समस्याओं को तुरंत हल करना होगा।उन्होंने सुझाव देते हुए कहा कि निजी क्षेत्र में निवेश को बढ़ाने के लिए नए सुधारों की शुरुआत करनी होगी।जीडीपी की गणना पर सवाल उठाते हुए रघुराम राजन ने कहा कि जिस तरह जीडीपी की गणना की गई है उस पर फिर से विचार करने की जरूरत है।

सच्चाई तो ये है कि केंद्र सरकार को अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों में तेजी से फैल रही मंदी का सामना करना पड़ रहा है।मंदी के कारण कल-कारखाने रोज बंद हो रहें हैं और लोग बेरोजगार हो रहें हैं।संगठित क्षेत्र में तो रोजगार कम हो हीं रहें हैं असंगठित क्षेत्रों में भी लगातार मजदूरों, कामगारों की छटनी हो रही है।

मंदी के कारण वाहन की बिक्री में बडी गिरावट दर्ज की गई है,एक गैर सरकारी आँकड़ों के मुताबिक तकरीबन दस लाख लोग तो आटोमोबाइल सेक्टर से निकाले जा चुके हैं।कंपनियाँ हफ्ते में कम से कम दो दिन प्रोडक्शन बंद रखती है और कर्मचारियों को उसदिन जबरन छुट्टी पर भेज दिया जाता है।कर्मचारी को हफ्ते में चार दिन की हीं पगार मिल पा रही है।रियल इस्टेट सेक्टर में भी भारी मंदी दिख रही है लोगों ने विभिन्न कारणों से इस समय मकान/फ्लैट की खरीददारी लगभग बंद कर रखी है।

कारपोरेट जगत में निराशा का माहौल है, बजाज आँटो के चेयरमैन राहुल बजाज ने आटोमोबाइल इंडस्ट्री पर सरकार की नीति पर तंज कसते हुए कहा है कि जब आँटो इंडस्ट्री संकट में है तो सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों की बात कर रही है।राहुल बजाज को मोदी समर्थक उद्योग पतियों में गिना जाता है, उनका ये रूख सरकार को परेशान करनेवाला है।एचडीएफसी बैंक के चेयरमैन दीपक पारिख ने भी अर्थव्यवस्था की सुस्ती पर निशाना साधा है।एल एंड टी के चेयरमैन एएम नाइक भी अर्थव्यवस्था को लेकर चिंता जता चुके हैं।

शेयर बाजार की हालत ने उद्योगपतियों को बेहद निराश कर दिया है, अर्थव्यवस्था की सुस्ती के कारण विदेशी निवेश ठप्प हो गया है।सरकार लाख झूठे आंकडे जारी कर दे मगर हकीकत से सभी रूबरू हैं।

भले हीं उद्योगपतियों का विश्वास खिसक रहा है मगर जनता अभी भी भ्रमित है।हिंदू-मुसलमान, भारत-पाकिस्तान का मुद्दा अभी गर्म है,थोडी सी सुस्ती आने पर तीन तलाक और राष्ट्रवाद की मीठी चटनी चटा दी जाती है और जनता मस्त हो जाती है।अभी इन्हें अर्थव्यवस्था और रोजगार मसले पर कुछ नहीं कहना है जब हैंगओवर उतरेगा तब पता चलेगा कि हमने इतने दिनों में "क्या खोया क्या पाया" है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links