ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : कुलगाम एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया         BIG NEWS : लेह अस्पताल पर उठे सवाल, आर्मी ने दिया जवाब, "बहादुर सैनिकों की उपचार की व्यवस्था को लेकर सवाल उठाना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण"         BIG NEWS : JAC ने जारी किया 11वीं का रिजल्ट, 95.53 फीसदी छात्रों को मिली सफलता         कानपुर: चौबेपुर के SHO विनय तिवारी सस्पेंड, विकास दुबे से मिलीभगत का आरोप         राजौरी में आतंकी ठिकाने का पर्दाफाश, कई हथियार बरामद         BIG NEWS : विस्तारवाद पर दुनिया में अकेला पड़ गया चीन, भारत के साथ खड़ी हो गई महा शक्तियां         गुरु पूर्णिमा के दिन 5 जुलाई को लगेगा चंद्र ग्रहण, इन राशियों पर पड़ेगा सबसे ज्यादा असर         BIG NEWS : कराची में आतंकवादी हाफिज सईद के सहयोगी आतंकी मौलाना मुजीब की हत्या         BIG NEWS : भारत ने बॉलीवुड प्रोग्राम के पाकिस्तानी ऑर्गेनाइजर रेहान को किया ब्लैकलिस्ट         क्या रोक सकेंगे चीनी माल         BIG NEWS : सरहद पर मोदी का ऐलान, दुनिया में विस्तारवाद का हो चुका है अंत, PM मोदी के लेह दौरे से चीन में खलबली         BIG NEWS : CRPF जवान और 6 साल के बच्चे को मारने वाला आतंकी श्रीनगर एनकाउंटर में ढेर         भारत में बनी कोविड वैक्सीन 15 अगस्त तक होगी लॉन्च         BIG NEWS : आतंकवादियों से लोहा लेते हुए श्रीनगर में झारखंड का लाल शहीद         BIG NEWS : अचानक सुबह लेह पहुंचे पीएम मोदी, जांबाज जवानों से मिले और हालात का लिया जायजा         बॉलीवुड में फिर छाया मातम, मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन         BIG NEWS : गुंडों ने बरसाई अंधाधुंध गोलियां, सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद         श्रीनगर एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को मार गिराया, 1 जवान शहीद         BIG NEWS : चीन की राजदूत हाओ यांकी के इशारे पर ओली गा रहे हैं ओले ओले...         बोत्सवाना में क्यों मर रहे हैं हाथी...         BIG NEWS : पुलवामा हमले का एक और आरोपी गिरफ्तार         झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार गिर जाएगी : सांसद निशिकांत दुबे         BIG NEWS : बीजेपी का नया टाइगर         BIG BREAKING : रामगढ़ के पटेल चौक पर दो ट्रेलर के बीच फंसी कार, दो की मौत, आधा दर्जन लोग कार में फसे         BIG NEWS : चीन को बड़ा झटका; DHL के बाद FedEX ने बंद की चीन से भारत आने वाली शिपमेंट सर्विस         BIG NEWS : ड्रैगन के खिलाफ एक्शन में भारत, कार्रवाई से चीन में भारी नुकसान की आहट         BIG NEWS : भारत की कृतिका पांडे को मिला राष्ट्रमंडल-20 लघुकथा सम्मान         वैसे ये स्लोगन लगा विज्ञापन है किनके लिए भैये..          BIG NEWS : चीन की चाल , LAC पर तैनात किये 20 हजार से ज्यादा सैनिक         BIG NEWS : सोपोर में आतंकियों की गोली का शिकार बना एक और मासूम         BIG NEWS : सोपोर में CRPF पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकी हमला, 2 जवान शहीद, तीन घायल         BIG NEWS : इमरान ने फिर रागा कश्मीर का अलाप, डोमिसाइल पॉलिसी को लेकर UNSC से लगाई गुहार         BIG NEWS : यूरोपीय संघ, यूएन और वियतनाम के बाद अब ब्रिटेन ने भी लगाया पाकिस्तान एयरलाइंस पर बैन         BIG NEWS : 'ट्विटर, फेसबुक और यूट्यूब' को बैन करने वाला चीन टिक-टॉक बैन पर तिलमिलाया         देश की सीमाओं में ताका झांकी....!         दीपिका कुमारी और अतनु दास ने एक दूसरे को पहनाई वरमाला, अब होंगे सात फेरे         चलो रे डोली उठाओ कहार...पीया मिलन की रुत आई....         अध्यक्ष बदलने की सियासत         BIG NEWS : पांडे गिरोह ने रामगढ़ एसपी को दिखाया ठेंगा, मोबाइल क्रेशर कंपनी से मांगी रंगदारी         BIG NEWS : जानिए किस देश के प्रधानमंत्री का PM मोदी ने किया जिक्र, जिनपर लगा था 13000 रुपये का जुर्माना         80 करोड़ गरीबों को अब नवंबर तक मिलेगा मुफ्त अनाज : PM         BIG NEWS : अनंतनाग एनकाउंटर में 2 और आतंकी ढेर        

जब बादशाह अकबर ने गौ हत्या पर रोक लगाई

Bhola Tiwari Jul 28, 2019, 11:03 AM IST टॉप न्यूज़
img

गाय और इस्लाम - पार्ट 1


 नीरज कृष्ण

अपने देश में भ्रामक प्रचार किया जाता रहा है कि इस्लाम गो- हत्या की इजाजत देता है।  इतिहास बताता है कि कि इस्लाम और उसके पैगम्बर तथा प्रतिष्ठित नेता गाय को सदा आदर की दृष्टि से देखते आये हैं।

कुरान शरीफ की आयत १६-६६ में अल्लाह फरमाते हैं। बिला शक तुम्हारे लिये चौपायों में भी सीख हैं। गाय के पेट की चीजों में गोबर और खून के बीच में से साफ दूध जो पीने वालों के लिये स्वादवाला है, हम तुम्हें पिलाते हैं।

हजरत मुहम्मद ‘नसिहते हादौ' में लिखते हैं कि गाय का दूध और घी तुम्हारी तन्दुरुस्ती के लिये बहुत जरूरी है। इसका गोश्त नुकसानदेह है और वह बीमारी पैदा करता है, जबकि इसका दूध दवा भी है। हजरत मुहम्मद ने बेगम हजरत आयशा से कहा कि ‘गाय का दूध बदन की खूबसूरती एवं तन्दुरुस्ती को बढ़ाने का जरिया है’।

हजरत मुहम्मद मौलाना फारुखी द्वारा संकलित 'बरकत और सरकत' में कहते हैं- अच्छी तरह पाली हुई गायें सोलह बरसों में न सिर्फ चार सौ पचास गायें और पैदा करती हैं, बल्कि उनसे हजारों रुपयों का दूध और खाद मिलते हैं। गाय दौलत की रानी है।''

मुसलमानों को गाय नहीं मारनी चाहिये। ऐसा करना हदीस के खिलाफ है'- ये शब्द मौलाना हयात साहब खानखाना हली समदसाहब के हैं।

बाबर, हुमायूं, अकबर, जहाँगीर, शाहजहाँ, मुहम्मदशाह आलम जैसे मुगल शासकों ने भी गाय की कुर्बानी बन्द रखी थी।

एक बार अकबर बादशाह ने अपने हिन्दू सलाहकारों से प्रश्न किया था कि गौ का वात्सल्य और प्रेम संसार में अद्वितीय बताया जाता है परंतु अद्वितीय वात्सल्य और प्रेम तो बन्दरिया में दिखायी देता है। वह मरे बच्चे को भी कई दिनों तक सीने से चिपकाये घूमती है। इस बात का प्रमाण देने के लिये बीरबल बादशाह अकबर को मई महीने में थार (राजस्थान) ले गये। वहाँ बादशाह के सामने एक सद्य:प्रसूता बन्दरी को धूप में तपती रेत में छोड़ दिया गया। जब बन्दरी के पैर जलने लगे तब उसने बच्चे को रेत में पटक दिया और उसके ऊपर खड़ी हो गयी। इसी प्रकार जब गऊ को बछड़े के साथ छोड़ा गया तब गाय ने स्वयं रेत में लेटकर बच्चे को अपने ऊपर बिठा लिया। गउ के इस वात्सल्य-प्रेम को देखकर अकबर बादशाह बहुत प्रभावित हुए और उन्होंने कानून घोषित कर दिया कि गौ-हत्या कोई नहीं करेगा।

मुगल बादशाह बहादुरशाह के खास पीर मौलवी कुतुबुद्दीन ने फतवा दिया था कि ‘हदीस’ में कहा है कि जाबेह उल-बकर अर्थात् गाय की हत्या करने वालों को कभी नहीं बख्शा जाना चाहिये। इस फतवे पर उस समय के निम्न बुजुर्गवारों के हस्ताक्षर हैं—मुहम्मद शाह गाजी आलम बादशाह, सैयद अताउल्लाखान फिदवी, काजी मियाँ असगर हुसैन और दरोगा आतिशखान हुजूरपुरनूर।

ब्रिटिश काल में कई मुसलमान शासकों ने अपनी रियासतों में गो-हत्या को बन्द करायावे थे, जैसे नवाब राघवपुर, नवाब मंगरौल, नवाब तुजाना करनाल, नवाब गुड़गाँव एवं नवाब मुर्शिदाबाद। लखनऊ के छ: उलमा ए सुव्रत ने गो-हत्या बन्दी का फतवा दिया था।

इमाम जाफर साहब ने इरशाह फरमाया था कि गाय का दूध दवा है। इसके मक्खन में तन्दुरुस्ती है और मांस में बीमारी। भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम के प्रसिद्ध सेनानी हकीम अजमल खान का कहना है कि न तो कुरान और न अरब की प्रथा ही गाय की कुर्बानी की इजाजत देती है। मौलाना अब्दुल बारी साहब मरहूम फिरंगी महली ने सन् १९२२ ई० में जब गाय की कुर्बानी को बन्द करने के लिये फतवा जारी किया तब महात्मा गांधी ने उनका शुक्रिया अदा किया। महात्मा गांधी ने कहा था कि गो-हत्या पर प्रतिबन्ध लगाना आजादी से भी ज्यादा जरूरी है।

.......क्रमश

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links