ब्रेकिंग न्यूज़
ये सब धुआं है कोई आसमान थोड़ी है !         BIG NEWS : जनाज़े पर मेरे लिख देना यारों, मोहब्बत करने वाला जा रहा है...         BIG NEWS : दुनिया का पहला कोरोना वैक्सीन तैयार, पुतिन ने कोरोना वैक्सीन का टीका बेटी को लगवाया         BIG NEWS : मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन         BIG NEWS : प्रवर्तन निदेशालय ने जब्त किए रिया चक्रवर्ती के मोबाइल फोन और लैपटॉप         BIG NEWS : रिया चक्रवर्ती करती थीं सुशांत के वित्तीय और प्रोफेशनल फैसले : श्रुति मोदी         BIG NEWS : राजस्थान की बदली सियासत, पायलट नाराज विधायकों के साथ आज करेंगे "घर" वापसी         BIG NEWS : बेटियों को भी पिता की संपत्ति में बराबरी का हक         BIG NEWS : जम्मू-कश्मीर में 4जी सेवा शुरू करने की तैयारी, 15 अगस्त के बाद दो जिलों में होगा ट्रायल         BIG NEWS : कुपवाड़ा में तीन संदिग्ध आतंकवादी गिरफ्तार, हथियार बरामद         BIG NEWS : बीजेपी नेता के घर ग्रेनेड हमला         जिसने अपने कालखंड को अपने इशारों पर नचाया...         जब मोहन ने पहली बार गोपिकाओ को किया परेशान         भगवान कृष्ण के जन्म लेते ही जेल की कोठरी में फैल गया प्रकाश ...         BIG BREAKING : रांची में सरेराह मार्बल दुकान में चली गोली, अपराधियों ने एक व्यक्ति को गोली मारी         BIG NEWS : झारखंड के शिक्षा मंत्री अब करेंगे इंटर की पढ़ाई...          BIG NEWS : सभी मेल, एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेन 30 सितंबर तक रद्द         BIG NEWS : राहुल-प्रियंका से मिले सचिन पायलट, घर वापसी की अटकलें तेज         BIG NEWS : आतंकी हमले में घायल बीजेपी नेता की मौत         आदिवासी विकास का फटा पोस्टर...         BIG NEWS : नक्सली राकेश मुंडा को लाखों का इनाम और पत्तल बेचती अंतर्राष्ट्रीय फुटबॉलर संगीता सोरेन को दो हजार         पाखंड के सिपाही कम्युनिस्ट लेखक...         BIG NEWS : देवघर में सेप्टिक टैंक में दम घुटने से 6 लोगों की मौत         BIG NEWS : अब भाजपा गुजरात गए विधायकों को वापस बुला रही, सभी विधायक होटल जाएंगे         BIG NEWS : पालतू कुत्ते फज की बेल्ट से गला घोंटकर सुशांत सिंह राजपूत की, की गई थी हत्या : अंकित आचार्य          BIG NEWS : सरकार का 101 रक्षा उपकरणों के आयात पर रोक, इसके पीछे क्या है मकसद?          BIG NEWS : बडगाम में आतंकवादियों ने बीजेपी नेता को गोली मारी          BIG NEWS : कुलगाम में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी, 2 से 3 आतंकी घिरे         BIG NEWS : सुशांत सिंह केस का राजदार कौन !         BIG NEWS : फिल्म स्टार संजय दत्त लीलावती हॉस्पिटल में भर्ती          BIG NEWS : दिशा सलियान का निर्वस्त्र शव पोस्टमार्टम के लिए दो दिनों तक करता रहा इंतजार          BIG NEWS : टेरर फंडिंग मॉड्यूल का खुलासा, लश्कर-ए-तैयबा के 6 मददगार गिरफ्तार         BIG NEWS : एलएसी पर सेना और वायु सेना को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश         BIG NEWS : राजस्थान का सियासी जंग : कांग्रेस के बाद अब भाजपा विधायकों की घेराबंदी         BIG NEWS : देवेंद्र सिंह केस ! NIA की टीम ने घाटी में कई जगहों पर की छापेमारी         बाढ़ और संवाद हीनता          BIG NEWS : पटना एसआईटी टीम के साथ मीटिंग कर सबूतों और तथ्यों को खंगाल रही है CBI         BIG NEWS : सुशांत सिंह की मौत के बाद रिया चक्रवर्ती और बांद्रा डीसीपी मे गुफ्तगू         BIG NEWS : भारत और चीन के बीच आज मेजर जनरल स्तर की वार्ता, डिसएंगेजमेंट पर होगी चर्चा         BIG NEWS : मनोज सिन्हा ने ली जम्मू-कश्मीर के नये उपराज्यपाल पद की शपथ, संभाला पदभार         BIG NEWS : पुंछ में एक और आतंकी ठिकाना ध्वस्त, AK-47 राइफल समेत कई हथियार बरामद         BIG NEWS : सीएम हेमंत सोरेन ने भाजपा सांसद निशिकांत दुबे के खिलाफ किया केस         BIG NEWS : मुंबई में ED के कार्यालय पहुंची रिया चक्रवर्ती          BIG NEWS : शोपियां में मिले अपहृत जवान के कपड़े, सर्च ऑपरेशन जारी         मुंबई में सड़कें नदियों में तब्दील          BIG NEWS : पाकिस्तान आतंकवाद के दम पर जमीन हथियाना चाहता है : विदेश मंत्रालय         BIG NEWS : श्रीनगर पहुंचे जम्मू-कश्मीर के नये उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, आज लेंगे शपथ         सुष्मान्जलि कार्यक्रम में सुषमा स्वराज को प्रकाश जावड़ेकर सहित बॉलीवुड के दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि           BIG NEWS : जीसी मुर्मू होंगे देश के नए नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक          BIG NEWS : सीबीआई ने रिया समेत 6 के खिलाफ केस दर्ज किया         बंद दिमाग के हजार साल           BIG NEWS : कुलगाम में आतंकियों ने की बीजेपी सरपंच की गोली मारकर हत्या         BIG NEWS : अयोध्या में भूमि पूजन! आचार्य गंगाधर पाठक और PM मोदी की मां हीराबेन         मनोज सिन्हा होंगे जम्मू-कश्मीर के नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू का इस्तीफा स्वीकार        

भारत में सिर और गले के कैंसर के रोगी अधिक : डॉ० शैवल

Bhola Tiwari Jul 24, 2019, 9:22 AM IST टेक नॉलेज
img

सिर और गले के कैंसर के कारण, निदान एवं उपचार


 पंकज सिंह

सिर और गर्दन पर होने वाला कैंसर इस क्षेत्र में होने वाले ट्यूमर से फैलता है। ये कैंसर ओरल कैविटी, ग्रसनी, गला, नाक कैविटी, पैरानेजल साइनस, थायराइड और सेलिवेरी ग्लैंड में होता है। सिर और गले में होने वाला कैंसर दुनिया में होने वाला पांचवें नंबर का कैंसर है। यह दुनिया के उन क्षेत्रों में ज्यादा होता है, जहां अधिक मात्रा में तंबाकू और अल्कोहल का सेवन किया जाता है।

भारत में मुंह और जीभ का कैंसर सिर और गर्दन के कैंसर से अधिक सामान्य है। यह भी देखा गया है कि गले और सिर के कैंसर से प्रभावित होने वालों में महिलाओं की तुलना में पुरुषों की संख्या अधिक होती है।एशियन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस के Fellow in Dept of head and neck oncology के डॉ० शैवल चटर्जी के मुताबिक सिर और गले के कैंसर के 57.5 फीसदी मामले एशिया, विशेषकर भारत में होते हैं। ये महिलाओं और पुरुषों दोनों को हो सकते हैं। भारत में इस कैंसर के हर बरस दो लाख से अधिक मामले सामने आते हैं। इसके अलावा, सिर और गले का कैंसर पुरुषों में होने वाले सभी प्रकार के कैंसर का तीस फीसदी होता है। वहीं महिलाओं में यह आंकड़ा 11 से 16 फीसदी के बीच होता है।

तंबाकू (धूम्रपान को सिर और गले के कैंसर के सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से माना जाता है। इसके साथ ही इस बात के भी साक्ष्य मिले हैं कि तंबाकू के कैंसरकारी प्रभाव के लिए कुछ हद तक अनुवांशिकता भी उत्तरदायी होती है। तंबाकू के साथ अगर एल्कोहल का सेवन किया जाए, तो खतरा और बढ़ जाता है। ह्यूमन पेपिलोमावायरस (एचपीवी) को भी सिर और गले के कैंसर का एक कारक माना गया है। सिर और गले का कैंसर मुख्य रूप से एचपीवी के टॉन्सिल और तालू पर हमले से होने का खतरा होता है। इसके साथ ही रेडिएशन, सुपारी चबाने, पेरिओडोन्टल यानी मसूड़ों की बीमारी और व्यावसायिक जोखिम उत्तरदायी होते हैं।

सिर और गले के कैंसर के लक्षण

• मुंह में सूजन अथवा मुंह से खून आना

• गले में सूजन

• निगलने में परेशानी

• आवाज का कर्कश होना

• लंबे समय से चली आ रही खांसी अथवा खांसी के साथ खून आना

• गर्दन पर गांठ

• कान में दर्द, सुनायी देना बंद होना अथवा कान में घंटियां बजते रहना।

*गले और सिर के कैंसर के जोखिम कारकों को कम करने के उपाय*

• धूम्रपान और तंबाकू के अन्य उत्पादों का सेवन छोड़कर

• एल्कोहल के सेवन को कम करके

• अधिक सेक्स पार्टनर होने से एचवीपी वायरस का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए अपने पार्टनर के पति वफादर रहकर भी इस बीमारी के खतरे को कम किया जा सकता है।

निदान

इस बीमारी के कारणों का निदान करने के लिए डॉक्टर शारीरिक जांच के साथ ही अन्य जांच भी करते है। शारीरिक जांच के दौरान डॉक्टर एक छोटे शीशे और/अथवा रोशनी के जरिये मुंह, नाक, गले, गर्दन और जीभ की जांच करते हैं । इसके साथ ही डॉक्टर मरीज के गले होंठ, मसूड़ों और गालों पर किसी प्रकार की संभावित गांठ की भी जांच कर सकते है। इसके अलावा सिर और गले के कैंसर का पता लगाने के लिए एंडोस्कोपी, एक्स-रे, सीटी स्कैन, एमआरआई, पीईटी स्कैन के साथ ही रक्त, मूत्र और अन्य प्रयोगशालीय जांच भी करने की सलाह देते है।

इलाज

सिर और गले के कैंसर का इलाज ट्यूमर की स्थिति, पोजीशन, चरण और मरीज की सेहत पर निर्भर करता है। इलाज की प्रक्रिया में मुख्य रूप से एक अथवा अधिक उपाय उपयोग किये जा सकते हैं।

सर्जरी

कैंसर को हटाने के लिए, डॉक्टर सर्जरी का सहारा ले सकते हैं। इसमें कैंसर प्रभावित क्षेत्र के आसपास स्थित कुछ स्वस्थ कोशिकाओं को भी हटाना पड़ सकता है। यदि डॉक्टर कैंसर के फैलने को लेकर शंकित हो तो वे गले के लिम्फ नोड को भी हटा सकता है।

कीमोथेरेपी

कीमोथेरेपी एक पारिभाषिक शब्द है, जिसका संबंध कैंसर को पूरे शरीर से खत्म करने वाली दवाओं के समूह से होता है। इस इलाज के कुछ प्रतिकूल प्रभाव हो सकते हैं। जैसे भूख कम होना, बालों का झड़ना, मुंह में सूजन, थकान आदि। कीमोथेरेपी करवाने से पहले मरीज को डॉक्टर से इन प्रतिकूल प्रभावों और उनसे निपटने के तरीकों के बारे में बात कर लेनी चाहिए।

रेडिएशन थेरेपी

रेडियोथेरेपी में उच्च क्षमता युक्त किरणों के जरिये कैंसर कोशिकाओं को समाप्त किया जाता है। यह रेडिएशन आंतरिक और बाहरी दोनों प्रकार से दिये जा सकता है।

इलाज के बाद मरीज को चबाने, खाने और बात करने में परेशानी हो सकती हे। अगर ऐसा होता है, तो रिहेबिलिटेशन की जरूरत पड़ती है, जिसमें डॉक्टर, नर्स और अन्य स्वास्थ्य विशेषज्ञ मिलकर मरीज को सामान्य रूप से चबाने, खाने और बात करने में मदद करते हैं। इलाज के बाद भी डॉक्टर यह जांचने के लिए कि कहीं कैंसर लौट तो नहीं आ रहा, आपकी नियमित जांच करते है। फॉलो-अप टेस्ट में जांच, रक्त जांच और इमेजिंग टेस्ट शामिल हो सकते हैं।

सिर और गले के कैंसर के इलाज के बाद भी मरीज की ऐसी देखभाल करनी जरूरी होती है, ताकि ट्यूमर की पुनरावृत्ति न हो। फॉलो अप के बाद में इलाज से जुड़ी समस्याओं को दूर करने और धूम्रपान छोड़ने जैसी आदतों के लिए काउंसलिंग की भी जरूरत पड़ सकती है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links