ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : झारखंड के लातेहार में 7 लड़कियों समेत 8 की तालाब में डूबने से मौत, पीएम मोदी ने जताया शोक         BIG NEWS : पंजाब कांग्रेस विधायक दल की बैठक खत्म, सोनिया गांधी तय करेंगी अगले CM का नाम         BIG NEWS : कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दिया इस्तीफा, इस्तीफे के बाद बोले कैप्टन- सुबह ही ले लिया था फैसला, अपमान हुआ         प्रियंका चोपड़ा जोनास बनने का मतलब लेखक बनना है का ?@!         BIG NEWS : चीन पाकिस्तान के बीच नया परमाणु समझौता भारत ही नहीं दुनिया के लिए बेहद खतरनाक         BIG NEWS : ऑस्ट्रेलिया की पूरी आबादी के बराबर इंडिया में 1 दिन में वैक्सीनेशन         BIG NEWS : कांग्रेस आलाकमान ने माँगा CM अमरिंदर का इस्तीफा, कैप्टन बोले- पार्टी छोड़ दूंगा..         जम्मू कश्मीर के लाइट इन्फेंट्री में शामिल हुए 460 जवान, ड्रोन हमलों से निपटने के लिए तैयार         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर प्रशासन ने 'राष्ट्र विरोधी गतिविधियों' में शामिल सरकारी कर्मचारियों की जांच के लिए स्क्रीनिंग कमेटी का किया गठन         BIG NEWS : कुलगाम में आतंकियों ने पुलिसकर्मी की गोली मारकर की हत्या, हमलावरों की तलाश जारी         BIG NEWS : तालिबान को लेकर केंद्र सरकार अलर्ट, देश में पहली बार सभी ATS चीफ और खुफिया एजेंसियों की बुलाई बैठक         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर सरकार का आदेश, सरकारी कर्मचारियों को पासपोर्ट आवेदन के लिए एसीबी से मंजूरी लेना अनिवार्य         BIG NEWS : पाकिस्तान में प्रशिक्षण प्राप्त आतंकवादी रच रहे थे बड़ी साजिश, पुल और रेलवे ट्रैक को बनाया था निशाना         BIG NEWS : 'टीम भूपेंद्र' ने ली गोपनीयता की शपथ, पुराने मंत्रियों की जगह सभी नए चेहरों को मंत्रिमंडल में जगह         गुजरात में नए मंत्रिमंडल का गठन आज, पाटीदारों के हावी होने की संभावना, देखें लिस्‍ट         BIG NEWS : अनुच्छेद 370 निरस्त होने के बाद पहली बार जम्मू-कश्मीर जाएंगे मोहन भागवत, जमीनी हालात का लेंगे जायजा         BIG NEWS : अफगानिस्तान के लिए भारत की भूमिका हुई अहम, क्वाड समिट से पहले मोदी से मिल सकते हैं बाइडेन         टाइम मैगजीन के 100 प्रभावशाली लोगों में पीएम मोदी, ममता और पूनावाला का नाम शामिल         BIG NEWS : “श्रीनगर में 4 आतंकियों समेत 15 OGWs मौजूद, सर्च ऑपरेशन जारी”: आईजी विजय कुमार         BIG NEWS : UNHRC में भारत ने पाकिस्तान और OIC को लगाई लताड़, जम्मू-कश्मीर पर कुछ भी बोलने का अधिकार नहीं         BIG NEWS : जम्मू-कश्मीर में महिलाओं को घर पर ही मिलेगी डिजिटल बैंकिंग सुविधा, डिजी सखी योजना शुरू         BIG NEWS : जनजातीय समुदाय को नौकरी और राजनीति में मिलेगा आरक्षण, 20 जिले में जनजातीय छात्रों के लिए बनेंगे छात्रावास         BIG NEWS : पाकिस्तान समर्थित आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़, ट्रेनिंग प्राप्त दो आतंकियों समेत 6 गिरफ्तार         WHO इस हफ्ते भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन कोवैक्सीन को दे सकता है मंज़ूरी         BIG NEWS : देश में टीकाकरण का आंकड़ा 75 करोड़ के पार पहुंचा, WHO ने की तारीफ         BIG NEWS : पाकिस्तान के गृहमंत्री शेख रशीद ने कबूला सच, कहा – “सेना चला रही है इमरान खान की सरकार”         BIG NEWS : श्रीनगर में एक बड़ी आतंकी साजिश नाकाम, पुलिस पब्लिक स्कूल के पास 6 ग्रेनेड बरामद          बिगड़े बोल के कारण ही सरकार में रखे गये हैं रामेश्वर उरांव         BIG NEWS : श्रीनगर में आतंकी ने इंस्पेक्टर अर्शीद अहमद की गोली मारकर की हत्या, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात         BIG NEWS : भूपेंद्र पटेल होंगे गुजरात के अगले मुख्यमंत्री, बीजेपी विधायक दल की बैठक में फैसला         BIG NEWS : कौन होगा गुजरात का अगला मुख्यमंत्री, रेस में कितने नाम?          BIG NEWS : जम्मू कश्मीर में मुंसिफ जज बर्खास्त, एलजी मनोज सिन्हा ने हाईकोर्ट की सिफारिश पर की कार्रवाई         GOOD NEWS : श्रीनगर के प्राचीन गणेश मंदिर में कश्मीरी हिंदूओं ने की पूजा-अर्चना, घाटी में गूंजे गणपति के जयकारे         ध्वस्त मिनारें और बदले के अभियान         कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच PM मोदी ने की समीक्षा बैठक, राज्यों को दवाओं के बफर स्टॉक का निर्देश         BIG NEWS : कश्मीर फाइट ब्लॉग मामला, “कानून की उचित प्रक्रिया का पालन किया जा रहा है” : आईजी विजय कुमार         BIG NEWS : मैं कश्मीरी पंडित हूं, मेरा परिवार कश्मीरी पंडित है', जम्मू में राहुल गांधी का बयान         BIG NEWS : एलजी मनोज सिन्हा ने विश्व भर के निवेशकों को आने का दिया न्योता, कहा- “नया जम्मू कश्मीर कारोबार के लिए खुला”         BIG NEWS : श्रीनगर में आतंकियों ने किया ग्रेनेड हमला, CRPF का एक जवान घायल        

BIG NEWS : कौन होगा गुजरात का अगला मुख्यमंत्री, रेस में कितने नाम?

Bhola Tiwari Sep 12, 2021, 7:16 AM IST टॉप न्यूज़
img


कोकिला गजर

दिल्ली /अहमदाबाद : विजय रूपाणी के इस्तीफे के बाद गुजरात के नए मुख्यमंत्री को लेकर कयासों का दौर शुरू हो गया है। इनमें उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल, राज्य के कृषि मंत्री आर सी फल्दू और केंद्रीय मंत्री पुरषोत्तम रूपाला एवं मनसुख मांडविया के नामों की अटकलें लगाई जा रही हैं। रूपाणी के इस्तीफे के बाद नितिन पटेल को अगला मुख्यमंत्री बनाने की मांग सोशल मीडिया पर जोरशोर से शुरू हो गई। वहीं, पटेल की तरह ही प्रभावशाली पाटीदार समुदाय से आने वाले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मांडविया को भी मुख्यमंत्री पद की दौड़ में आगे माना जा रहा है। समुदाय के नेताओं ने हाल ही में यह मांग की थी कि अगला मुख्यमंत्री एक पाटीदार (समुदाय से) होना चाहिए। तो चलिए जानते हैं कौन-कौन हैं रेस मे हैं।

नितिन पटेल : नितिन पटेल वर्तमान में गुजरात के उपमुख्यमंत्री के रूप में कार्यरत हैं। वह गुजरात सरकार में साल 2001 में वित्त मंत्री बनाया गया था। पटेल छह बार के विधायक हैं और तीन दशक का उनका राजनीतिक करियर है। 1990 में पहली बार गुजरात विधानसभा से विधायक बने थे। नितिन पटेल उत्तरी गुजरात के रहने वाले हैं। आनंदीबेन पटेल ने जब अगस्त 2016 में मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया था, तब यह कहा जा रहा था कि पटेल उनके उत्तराधिकारी होंगे, लेकिन आखिरी क्षणों में लिए गए एक फैसले में रूपाणी को इस शीर्ष पद के लिए चुन लिया गया।

मनसुख मांडविया : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया भी मुख्यमंत्री बनने की दौड़ में आगे हैं। इसकी एक बड़ी वजह यह भी है कि वे प्रधानमंत्री मोदी के अलावा अमित शाह की गुड बुक में हैं। कोरोना महामारी के दौरान मांडविया ने गुजरात भाजपा सरकार की छवि सुधारने के लिए काफी काम किया था। वहीं, पाटीदार समाज के अलावा कडवा और लेउआ पटेल समुदाय में भी उनकी अच्छी पैठ है। मृदुभाषी होने के साथ-साथ मांडविया की छवि एक ईमानदार नेता की है। इनके अलावा गुजरात भाजपा में उनके लगभग सभी नेताओं से अच्छे संबंध हैं।

पुरुषोत्तम रुपाला : पाटीदार समुदाय से पुरुषोत्तम रुपाला भी दमदार नेता हैं। इस वक्त वह केंद्रीय मत्स्यपालन, पशुपालन, डेयरी मंत्री के रूप में अपनी जिम्‍मेदारी संभाल रहे हैं। 1980 के दशक में उन्‍होंने भाजपा के साथ अपना राजनीति करियर शुरू किया था। 1991 में वो अमरेली विधानसभा से चुनाव जीता। वो तीन बार इस सीट से विधायक रहे हैं।

सीआर पाटिल : सीआर पाटिल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विश्वनीय माने जाते हैं। अपने संसदीय क्षेत्र में विकास के कार्यों को बढ़ाने के लिए तकनीक का इस्तेमाल करने में माहिर है। गुजरात भाजपा 2022 के विधानसभा चुनाव से पहले 281 सदस्‍यों वाली जंबो कार्यकारिणी का गठन किया है। इसकी जिम्मेदारी सीआर पाटिल के कंधों पर ही है।

गोरधन झडफिया : गोरधन जडफिया भी गुजरात भाजपा के कद्दावर नेताओं में शामिल हैं। एक बार नरेंद्र मोदी से नाराज होकर पार्टी छोड़ दी थी हालांकि बाद में वह पार्टी में लौटे। उन्हें उत्तर प्रदेश चुनाव में बड़ी जिम्मेदारी दी गई थी। तब उन्होंने बेहतर प्रदर्शन किया था। 2002 दंगों के समय झडफिया तत्कालीन राज्य सरकार में गृह राज्यमंत्री थे।

विधानसभा चुनाव से पहले क्यों हटाए गए विजय रूपाणी

उत्तराखंड व कर्नाटक के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गुजरात का मुख्यमंत्री भी बदलने का अंततः फैसला कर लिया। विजय रूपाणी को हटाए जाने के पीछे सबसे बड़ा कारण आगामी विधानसभा चुनाव को माना जा रहा है, जिसमें पार्टी नया चेहरा के बगैर चुनाव जीतने को लेकर सशंकित थी। गुजरात में पाटीदार समाज भाजपा का कोर वोट बैंक है और अपने कोर वोट बैंक को साधने के लिहाज से भाजपा किसी पाटीदार को ही गुजरात की कमान सौंपेगी। भाजपा फिर बड़ी जीत दिलाने के लिए मुख्यमंत्री के लिए नए चेहरा सामने लाना चाहती है। मुख्यमंत्री पद की दौड़ में सबसे आगे उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल, केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडवीया, केंद्रीय मंत्री परसोत्तम रूपाला व गुजरात भाजपा के उपाध्यक्ष गोवर्धन झड़फिया का नाम सबसे अधिक चर्चा में है। रूपाणी ने कहा कि गुजरात का आगामी विधानसभा चुनाव नए मुख्यमंत्री व प्रदेश भाजपा अध्यक्ष यार पाटिल के नेतृत्व में लड़ा जाएगा। सीआर पाटिल भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष हैं, लेकिन मूल रूप से मराठी है। अगला विधानसभा चुनाव भाजपा जीते सबसे पहली चुनौती भाजपा की यह है और पाटीदारों के बिना भाजपा गुजरात में चुनाव नहीं जीत सकती।

इधर, केंद्रीय पशुपालन मंत्री परसोत्तम रूपाला ने कहा है कि आगामी मुख्यमंत्री को लेकर रविवार तक स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। गौरतलब है कि वर्ष 2001 में भूकंप के बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल को हटाकर नरेंद्र मोदी को गुजरात की कमान सौंपी गई थी। करीब दो दशक बाद फिर गुजरात की कमान किसी पाटीदार के हाथ में होगी। कोरोना महामारी के दौरान स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर मची अफरातफरी तथा राज्य में आम आदमी पार्टी (आप) के सक्रिय होने के कारण भारतीय जनता पार्टी फूंक-फूंक कर कदम रख रही है। सूरत में आम आदमी पार्टी ने महानगर पालिका चुनाव में दो दर्जन से अधिक सीटें जीतकर प्रमुख विपक्षी दल का दर्जा हासिल कर लिया था। विजय रूपाणी से पहले आनंदीबेन पटेल को भी गुजरात के सीएम पद से हटाया गया था।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links