ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : झारखंड के लातेहार में 7 लड़कियों समेत 8 की तालाब में डूबने से मौत, पीएम मोदी ने जताया शोक         BIG NEWS : पंजाब कांग्रेस विधायक दल की बैठक खत्म, सोनिया गांधी तय करेंगी अगले CM का नाम         BIG NEWS : कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दिया इस्तीफा, इस्तीफे के बाद बोले कैप्टन- सुबह ही ले लिया था फैसला, अपमान हुआ         प्रियंका चोपड़ा जोनास बनने का मतलब लेखक बनना है का ?@!         BIG NEWS : चीन पाकिस्तान के बीच नया परमाणु समझौता भारत ही नहीं दुनिया के लिए बेहद खतरनाक         BIG NEWS : ऑस्ट्रेलिया की पूरी आबादी के बराबर इंडिया में 1 दिन में वैक्सीनेशन         BIG NEWS : कांग्रेस आलाकमान ने माँगा CM अमरिंदर का इस्तीफा, कैप्टन बोले- पार्टी छोड़ दूंगा..         जम्मू कश्मीर के लाइट इन्फेंट्री में शामिल हुए 460 जवान, ड्रोन हमलों से निपटने के लिए तैयार         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर प्रशासन ने 'राष्ट्र विरोधी गतिविधियों' में शामिल सरकारी कर्मचारियों की जांच के लिए स्क्रीनिंग कमेटी का किया गठन         BIG NEWS : कुलगाम में आतंकियों ने पुलिसकर्मी की गोली मारकर की हत्या, हमलावरों की तलाश जारी         BIG NEWS : तालिबान को लेकर केंद्र सरकार अलर्ट, देश में पहली बार सभी ATS चीफ और खुफिया एजेंसियों की बुलाई बैठक         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर सरकार का आदेश, सरकारी कर्मचारियों को पासपोर्ट आवेदन के लिए एसीबी से मंजूरी लेना अनिवार्य         BIG NEWS : पाकिस्तान में प्रशिक्षण प्राप्त आतंकवादी रच रहे थे बड़ी साजिश, पुल और रेलवे ट्रैक को बनाया था निशाना         BIG NEWS : 'टीम भूपेंद्र' ने ली गोपनीयता की शपथ, पुराने मंत्रियों की जगह सभी नए चेहरों को मंत्रिमंडल में जगह         गुजरात में नए मंत्रिमंडल का गठन आज, पाटीदारों के हावी होने की संभावना, देखें लिस्‍ट         BIG NEWS : अनुच्छेद 370 निरस्त होने के बाद पहली बार जम्मू-कश्मीर जाएंगे मोहन भागवत, जमीनी हालात का लेंगे जायजा         BIG NEWS : अफगानिस्तान के लिए भारत की भूमिका हुई अहम, क्वाड समिट से पहले मोदी से मिल सकते हैं बाइडेन         टाइम मैगजीन के 100 प्रभावशाली लोगों में पीएम मोदी, ममता और पूनावाला का नाम शामिल         BIG NEWS : “श्रीनगर में 4 आतंकियों समेत 15 OGWs मौजूद, सर्च ऑपरेशन जारी”: आईजी विजय कुमार         BIG NEWS : UNHRC में भारत ने पाकिस्तान और OIC को लगाई लताड़, जम्मू-कश्मीर पर कुछ भी बोलने का अधिकार नहीं         BIG NEWS : जम्मू-कश्मीर में महिलाओं को घर पर ही मिलेगी डिजिटल बैंकिंग सुविधा, डिजी सखी योजना शुरू         BIG NEWS : जनजातीय समुदाय को नौकरी और राजनीति में मिलेगा आरक्षण, 20 जिले में जनजातीय छात्रों के लिए बनेंगे छात्रावास         BIG NEWS : पाकिस्तान समर्थित आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़, ट्रेनिंग प्राप्त दो आतंकियों समेत 6 गिरफ्तार         WHO इस हफ्ते भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन कोवैक्सीन को दे सकता है मंज़ूरी         BIG NEWS : देश में टीकाकरण का आंकड़ा 75 करोड़ के पार पहुंचा, WHO ने की तारीफ         BIG NEWS : पाकिस्तान के गृहमंत्री शेख रशीद ने कबूला सच, कहा – “सेना चला रही है इमरान खान की सरकार”         BIG NEWS : श्रीनगर में एक बड़ी आतंकी साजिश नाकाम, पुलिस पब्लिक स्कूल के पास 6 ग्रेनेड बरामद          बिगड़े बोल के कारण ही सरकार में रखे गये हैं रामेश्वर उरांव         BIG NEWS : श्रीनगर में आतंकी ने इंस्पेक्टर अर्शीद अहमद की गोली मारकर की हत्या, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात         BIG NEWS : भूपेंद्र पटेल होंगे गुजरात के अगले मुख्यमंत्री, बीजेपी विधायक दल की बैठक में फैसला         BIG NEWS : कौन होगा गुजरात का अगला मुख्यमंत्री, रेस में कितने नाम?          BIG NEWS : जम्मू कश्मीर में मुंसिफ जज बर्खास्त, एलजी मनोज सिन्हा ने हाईकोर्ट की सिफारिश पर की कार्रवाई         GOOD NEWS : श्रीनगर के प्राचीन गणेश मंदिर में कश्मीरी हिंदूओं ने की पूजा-अर्चना, घाटी में गूंजे गणपति के जयकारे         ध्वस्त मिनारें और बदले के अभियान         कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच PM मोदी ने की समीक्षा बैठक, राज्यों को दवाओं के बफर स्टॉक का निर्देश         BIG NEWS : कश्मीर फाइट ब्लॉग मामला, “कानून की उचित प्रक्रिया का पालन किया जा रहा है” : आईजी विजय कुमार         BIG NEWS : मैं कश्मीरी पंडित हूं, मेरा परिवार कश्मीरी पंडित है', जम्मू में राहुल गांधी का बयान         BIG NEWS : एलजी मनोज सिन्हा ने विश्व भर के निवेशकों को आने का दिया न्योता, कहा- “नया जम्मू कश्मीर कारोबार के लिए खुला”         BIG NEWS : श्रीनगर में आतंकियों ने किया ग्रेनेड हमला, CRPF का एक जवान घायल        

BIG NEWS : “ हमें पाकिस्तान के कुछ हिस्से पर कब्जा करने की इजाजत मिलनी चाहिए थी”: पूर्व आर्मी चीफ वीपी मलिक

Bhola Tiwari Jul 26, 2021, 5:41 PM IST टॉप न्यूज़
img

नई दिल्ली : कारगिल विजय दिवस की 22 वीं वर्षगांठ के मौके पर जम्मू-कश्मीर, लद्दाख समेत पूरे देश में शहीद जवानों की वीरता और साहस को नमन किया जा रहा है। गौरतलब है कि जनरल वीपी मलिक 1999 में कारगिल युद्ध के दौरान भारतीय सेना प्रमुख थे। जनरल वीपी मलिक ने कारगिल विजय दिवस की 22वीं वर्षगांठ के मौके पर एक निजी चैनल से बातचीत के दौरान युद्ध से जुड़े कई तथ्यों के बार में बताया है। उन्होंने कहा कि ऑपरेशन विजय दृढ़ राजनीतिक, सैन्य और कूटनीतिक कार्रवाई का मिश्रण था, जिसने हमें एक प्रतिकूल स्थिति को एक जोरदार सैन्य और राजनयिक जीत में बदलने में सक्षम बनाया था। जनरल वीपी मलिक ने कहा कि वह मानते हैं कि इसने भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते को एकदम बदलकर रख दिया है। हालांकि  इस युद्ध में भारतीय सेना ने पाकिस्तान को खदेड़ दिया था। लेकिन बातचीत के दौरान वीपी मलिक ने कहा कि उनके मन में एक मलाल आज भी है। जनरल वीपी मलिक ने कहा कि सीजफायर का ऐलान करने से पहले ही भारत सरकार को अपनी सेना को नियंत्रण रेखा एलओसी से सटे पाकिस्तानी क्षेत्रों पर कब्जा करने की इजाजत दे देनी चाहिए थी।

जनरल वीपी मलिक ने बताया कि पाकिस्तान अपने उद्देश्यों में राजनीतिक और सैन्य लागत के साथ विफल रहा था।  उन्होंने कहा कि हालांकि खराब खुफिया और अपर्याप्त निगरानी के कारण भारतीय सेना को पुनर्गठित करने और उचित जवाबी कार्रवाई करने में कुछ समय लगा था। लेकिन युद्ध के मैदान में सैन्य सफलताओं और एक सफल राजनीतिक-सैन्य रणनीति के साथ  भारत अपने राजनीतिक लक्ष्य को प्राप्त करने और एक जिम्मेदार लोकतांत्रिक राष्ट्र के रूप में अपनी अंतरराष्ट्रीय छवि को बढ़ाने में सक्षम था। जो अपनी क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा करने के लिए दृढ़ और सक्षम था। उन्होंने आगे कहा कि परमाणु हथियारों के कब्जे ने उपमहाद्वीप पर एक चौतरफा युद्ध की संभावना कम कर दी है। लेकिन जब तक हमारे सीमा और क्षेत्रीय विवाद हैं, कारगिल जैसे सैन्य संघर्षों से इंकार नहीं किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि कारगिल युद्ध के दौरान उच्च रक्षा नियंत्रण संगठन ने हमारी खुफिया निगरानी, हथियारों और उपकरणों की कई कमजोरियों को भी उजागर किया था।

जनरल वीपी मलिक ने कहा कि कारगिल युद्ध भारत-पाकिस्तान सुरक्षा संबंधों में एक महत्वपूर्ण मोड़ था। भारत में विश्वास लगभग पूरी तरह टूट गया था और यह अहसास हो गया था कि पाकिस्तान लाहौर घोषणापत्र जैसे किसी भी समझौते से आसानी से मुकर सकता है। जिस पर पाकिस्तान ने सिर्फ दो महीने पहले हस्ताक्षर किए थे। उन्होंने कहा कि यह प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और कैबिनेट के लिए एक बड़ा झटका था।  उन्होंने बताया कि सभी लोगों को यह मानने में काफी समय लगा था कि घुसपैठिए पाकिस्तानी अनियमित नहीं थे, बल्कि पाकिस्तान के नियमित सैन्यकर्मी थे। तब अटल बिहारी वाजपेयी ने नवाज शरीफ को कहा था कि आपने हमारे पीठ में छुरा घोंपा है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links