ब्रेकिंग न्यूज़
हम छीन के लेंगे आजादी....         माल महाराज के मिर्जा खेले होली         भारत और अमेरिका में 3 अरब डॉलर का रक्षा समझौता         सीएए भारत का अंदरुनी मामला : डोनाल्‍ड ट्रंप         लड़खड़ाई धरती पर सम्भलकर आगे बढ़ गए हिम्मती लोग          शाहीन बाग : उपाय क्या है?          भारत में दक्षिणपंथी विमर्श एक चिंतनधारा कम प्रॉपेगेंडा ज्यादा          मिलकर करेंगे इस्लामी आतंकवाद का सफाया : ट्रंप         मोदी ट्रंप की यारी : भारत की तारीफ, आतंक पर PAK को नसीहत         भारत और अमेरिका रक्षा सौदे में बड़ा डील करेगा : डोनाल्ड ट्रंप         "एक्टिव फार्मास्युटिकल इनग्रेडिएंट"(एपीआई) के लिए पूरी तरह चीन पर निर्भर है भारत         कुछ ही देर में प्रेसिडेंट ट्रंप पहुंच रहे हैं इंडिया         अनब्याही माँ : चपला के बहाने इतिहास को देखा          संभलने का वक्त !          अनब्याही माताएं : नरमुंड दरवाजे पर टांगकर जश्न मनाया करते थे....         ताकि भाईचार हमेशा बनी रहे!          अब शत्रुघ्न सिन्हा पाकिस्तान के राष्ट्रपति से मिलकर कश्मीर मुद्दे पर सुर में सुर मिलाया         सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकियों को मार गिराया, सर्च ऑपरेशन जारी         खून बेच कर हेरोइन का धुआं उड़ाते हैं गढ़वा के युवा         कब होगी जनादेश से जड़ों की तलाश          'नसबंदी का टारगेट', विवाद के बाद कमलनाथ सरकार ने वापस लिया सर्कुलर         पीढ़ियॉं तो पूछेंगी ही कि गाजी का अर्थ क्या होता है?         मातृ सदन की गंगा !         ओवैसी की सभा में महिला ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए         एक बार फिर चर्चा में हैं सामाजिक कार्यकर्ता "तीस्ता सीतलवाड़",शाहीनबाग में उन्हें औरतों को सिखाते हुए देखा गया         कनपुरिया गंगा, कनपुरिया गुटखा, डबल हाथरस का मिष्ठान और हरजाई माशूका सी साबरमती एक्सप्रेस..         शाहीन बाग में वार्ता विफल : जिस दिन नागरिकता कानून हटाने का एलान होगा, हम उस दिन रास्ता खाली कर देंगे         फ्रांस में विदेशी इमामों और मुस्लिम टीचर्स पर प्रतिबंध         'राष्ट्रवाद' शब्द में हिटलर की झलक, भारत कर सकता है दुनिया की अगुवाई : मोहन भागवत         आतंकवाद के खिलाफ चीन ने पाकिस्तान का साथ छोड़ा         दिमाग में गोबर, देह पर गेरुआ!          त्राल में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया         CAA-NRC-NPR के समर्थन में रिटायर्ड जज और ब्यूरोक्रेट्स ने राष्ट्रपति को लिखा पत्र         अनब्याही माँ : चपला के बहाने इतिहास को देखा          भारतीय पत्रकारिता को फफूंदी बनाने वाली पत्रकार यूनियनें..         ब्रिटेन और फ्रांस को पीछे छोड़ भारत बना दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था        

"घाटी" में कब तक घटती रहेगी घटना "मौत" की..?

Bhola Tiwari Jun 25, 2019, 12:56 PM IST टॉप न्यूज़
img

अब तलक हो चुकी है पचास मौत 

प्रशासन बनाएगी ब्रेकर ताकि घटना पर लगे ब्रेक:डीसी 

आशुतोष रंजन 

गढ़वा : घाटी में कब तलक घटती रहेगी घटना मौत की ?,लोगों के जेहन में सालों से कौंध रहा यह ज्वलंत सवाल उस वक्त एक बार फिर से तब ताज़ा हो आया जब आज फिर से घाटी में पांच लोगों की मौत हो गयी,हम बात कर रहे हैं झारखंड के गढ़वा जिले में स्थित अन्नराज घाटी की जहां आज एक बार फिर से बस दुर्घटना हुई जिसमें पांच लोगों की जान चली गयी,मौत का यह सिलसिला आख़िर कब थमेगा यह सवाल अब तक अनुत्तरित है,आइये पढ़िए इसी से जुड़ी एक रिपोर्ट-

अब तक हो चुकी है पचास मौत:- डैम को पानी से खेतों में उपजने वाले अन्न के कारण डैम सहित घाटी का नाम अन्नराज पड़ा,लेकिन लगातार हो रही मौत की घटना से लोगों ने इसे मौत की घाटी नाम दे दिया,आपको बताएं कि तीखे मोड़ से हो कर गुजरने वाली अन्नराज घाटी अब तक पचास जानें निगल चुकी हैं,और कालांतर से ले कर वर्तमान तक घाटी में घटना घटित होना बदस्तूर जारी है,छोटी छोटी गाड़ियां तो अक्सर प्रतिरोज़ घाटी के तीखे मोड़ पर अनियंत्रित होती ही हैं लेकिन इधर गुजरे सालों में छतीसगढ़ से गढ़वा को आने वाली बड़ी बसें घाटी में लगातार दुर्घटनाग्रस्त हुई हैं जिसमें अब तक पचास के लगभग लोगों की मौत होना बताया जाता है।

आज गयी पांच की जान:- आज एक बार फिर से घाटी में घटित हुई बस पलटने की घटना जिसमें पांच यात्रियों की मौत हो गयी और 43 लोग घायल हो गए,आपको यहां बताएं कि छतीसगढ़ से गढ़वा को आने वाली पॉपुलर नामक बस रात के दो बजे घाटी में दुर्घटनाग्रस्त हो गयी जिसमें तीन लोगों की मौत घटनास्थल पर हो गयी जबकि दो की मौत गढ़वा सदर अस्पताल में हुई,उधर घायल हुए 43 में से गंभीर रूप से घायल कुछ लोगों को बेहतर इलाज के लिए रांची तो कुछ लोगों को अम्बिकापुर रेफर किया गया,पांच मृतकों में एक दस साल का बच्चा सहित दो महिला भी शामिल है,जो जानकारी मिली उसके अनुसार एक परिवार अम्बिकापुर से गढ़वा शादी में शरीक होने आ रहा था,लेकिन नियति को तो खुशी नहीं बल्कि मातम मंजूर था सो मंजिल पर पहुंचने से कुछ ही दूरी पर मौत ने उन्हें आगोश में ले लिया,इस दुर्घटना में उक्त परिवार में से पति प्रमोद गुप्ता और पत्नी लवली गुप्ता की मौत हो गयी जबकि बेटा गंभीर रूप से घायल है लेकिन छोटी बेटी सुरक्षित है,वहीं दूसरी ओर पांच मृतकों में से एक मृतक का शिनाख़्त होना अभी बाकी है।


सक्रिय रहा प्रशासन तो बची कितनों की जान:- घटना होने के बाद देर से पहुंचना और सुस्ती दिखाना ऐसी कई बातें प्रशासन के विषय में कही जाती हैं लेकिन आज की घटना में जिसने भी प्रशासन की तत्परता देखी वह सभी कह उठे की प्रशासन हो तो ऐसा,यहां हम बताएं कि डीसी और एसपी द्वारा सूचना मिलने के उपरांत तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे रंका एसडीओ संजय पांडेय और डीएसपी मनोज कुमार की रेस्क्यू के निमित तत्परता देखते बन रही थी,उधर उनके साथ साथ ट्रैफिक इंचार्ज कृष्णा कुमार,रंका थाना प्रभारी जितेंद्र कुमार और मेजर आनंद कुमार सहित पुलिस जवानों की तल्लीनता भी नज़र आ रही थी,उधर रेस्क्यू के बीच मे एसपी शिवानी तिवारी और एएसपी सदन कुमार भी घटनास्थल पहुंचे और रेस्क्यू का जायज़ा लिया,सभी के द्वारा लगातार अथक प्रयास करते हुए जहां एक तरफ मृतक शरीर को बाहर निकाला गया वहीं घायलों को जल्दी जल्दी अस्पताल पहुंचाया गया जिससे घायलों को ससमय समुचित इलाज मिल सका।

प्रशासन बनाएगी ब्रेकर ताकि घटना पर लगे ब्रेक:- अपने पदस्थापना के बाद अन्नराज घाटी की इस घटना से वाकिफ होने के बाद जिला उपायुक्त हर्ष मंगला काफी चिंतित दिखे,उन्होंने कहा कि घटना को रोकने के लिए अब तलक क्या प्रयास हुआ हम उस ओर नहीं जाना चाहते लेकिन हम प्रयास करने जा रहे हैं कि अन्नराज घाटी में फिर घटना ना घटित हो इस ख़ातिर हमने विभाग से घाटी में ब्रेकर बनाने की बात कही है साथ ही ऐसा गार्डवाल बने ताकि फिर से घटना की पुनरावृत्ति ना हो सके।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links