ब्रेकिंग न्यूज़
अब तानाजी के वीडियो में छेड़छाड़ कर पीएम मोदी को दिखाया शिवाजी         सरकार का नया दांव : जनसंख्या नियंत्रण कानून...         हम भारत के सामने बहुत छोटे हैं, बदला नहीं ले सकते : महातिर मोहम्मद         तीस साल बीतने के बावजूद कश्मीरी पंडितों की सुध लेने वाला कोई नहीं, सरकार की प्राथमिकता में कश्मीर के अन्य मुद्दे         हेमंत सोरेन को मिला 'चैम्पियन ऑफ चेंज' अवॉर्ड         जेपी नड्डा भाजपा के नए अध्यक्ष, मोदी बोले-स्कूटर पर साथ घूमे         नए दशक में देश के विकास में सबसे ज्यादा 10वीं-12वीं के छात्रों की होगी भूमिका : मोदी         CAA को लेकर केरल में राज्यपाल और राज्य सरकार में ठनी         इतिहास तो पूछेगा...         सेखुलरी माइंड गेम...         अफसरों की करतूत : पत्नियों की पिकनिक के लिए बंद किया पतरातू रिजाॅर्ट         गुरूवर रविंद्रनाथ टैगोर की मशहूर कविता "एकला चलो रे" की राह पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव         पत्रकारिता में पद्मश्रियों और राज्यसभा की सांसदी के कलुष...         विकास का मॉडल देखना हो तो चीन को देखिए...         फरवरी में भारत आएंगे ट्रंप, अहमदाबाद में होगा 'हाउडी मोदी' जैसा कार्यक्रम         शर्मनाक : सीएम के आदेश के बावजूद सरकारी मदद पहुंचने से पहले मरीज की मौत         झारखण्ड मंत्रिमंडल लगभग तय ! अन्तिम मुहर लगनी बाकी         ऑस्ट्रेलिया का क्या होगा...         क्या चंद्रशेखर आजाद बसपा सुप्रीमो मायावती का विकल्प बन सकते हैं?         सबसे पहले जनसंख्या नियंत्रण कानून की मांग कीजिए...         जनता की सेवा करें विधायक : सोनिया गांधी         झाविमो कार्यसमिति घोषित : विधायक प्रदीप यादव एवं बंधु तिर्की को कमेटी में कोई पद नहीं         रायसीना डायलॉग में सीडीएस विपिन रावत ने तालिबान से सकारात्मक बातचीत की वकालत की         कवि और सामाजिक कार्यकर्ता अंशु मालवीय पर जानलेवा हमला         डॉन करीम लाला से मुंबई में मिलने आती थी इंदिरा गांधी : संजय रावत         भाजपा में विलय की उलटी गिनती शुरू, हेमंत सरकार से समर्थन वापस लेगा जेवीएम         भारत और सऊदी अरब से तनातनी की कीमत चुका रहा है मलेशिया         हिंदी पत्रकारिता का हाल क्रिकेट टीम के बारहवें खिलाड़ी सा...         बड़ी बेशर्मी से शर्मसार होने का रोग लगा देश को...         लाहौर टू शाहीन बाग : पाकिस्तान के लाहौर में बैठकर मणिशंकर अय्यर ने उड़ाया भारत का मजाक         क्यों मनाई जाती है मकर संक्रांति ?         अलोकप्रिय हो चुके नीतीश कुमार को छोडकर अपनी राहें तलाशनी होगी भाजपा को बिहार में         बाबूलाल जी की जी हजूरी, ये कैसी भाजपाइयों की मजबूरी         भाजपा में विलय की ओर बढ़ रहा झाविमो : प्रदीप यादव        

हाॅलीवुड की तर्ज पर बनें कितने लीवुड

Bhola Tiwari Jun 24, 2019, 5:02 AM IST टॉप न्यूज़
img

एस डी ओझा

हाॅलीवुड एक जगह का नाम है , जहाँ फिल्में बनतीं हैं । यह संयुक्त राज्य अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित लास एजेंल्स में है । यहां सुरुचि पूर्ण हर विषय पर फिल्मों का निर्माण होता है । हाॅलीवुड में बहुत सी फिल्म स्टुडियो स्थापित हैं । हाॅलीवुड का प्रसिद्ध पुरस्कार "आस्कर " जीतना हर फिल्मी महारथी के लिए एक सपना होता है । हाॅलीवुड की तर्ज पर भारत में बहुत से लीवुड हो गये हैं जैसे - बाॅलीवुड, पाॅलीवुड और टाॅलीवुड ।

सबसे पहले टाॅलीवुड की बात करते हैं । कर्नल विलियम टाॅली ने पश्चिम बंगाल में एक नगर बसाया था । इस नगर का नाम विलियम टाॅली के नाम पर टाॅलीगंज पड़ा । बाद में टाॅलीगंज में बांगला फिल्में बननी शुरु हो गयीं । यहां बहुत से फिल्म स्टूडियो खुल गये । इस जगह का नाम हाॅलीवुड की तर्ज पर टाॅलीवुड रख दिया गया । उस समय के बाम्बे में हिंदी फिल्में बनतीं थीं । बेविंडा कोलैको सिने ब्लिट्ज में गाॅसिप काॅलम लिखते थे । एक दिन उन्होंने अपने काॅलम में बम्बईया हिंदी फिल्मिस्तान को बाॅलीवुड नाम दे दिया । ऐसा लिखते हीं बाॅलीवुड नाम चमक गया । सभी ने इस नाम को हाथों हाथ ले लिया । वैसे इस नाम को देने के एक और दावेदार हो गये हैं । वह हैं अमित खन्ना । अमित खन्ना एक फिल्म मेकर हैं और उनका कहना है कि उन्होंने ही सबसे पहले अपनी एक फिल्म में हिन्दी फिल्मों के लिए बाॅलीवुड नाम दिया था । पंजाब में भी पंजाबी फिल्में बनतीं हैं । इसलिए इसे पाॅलीवुड कहा जाने लगा ।

इनमें बाॅलीवुड नाम ज्यादा मशहूर है । वैसे बाॅलीवुड नाम से बहुत लोग खुश नहीं है । 2013 में अमिताभ बच्चन ने एक इण्टरव्यू में कहा था कि उन्हें बाॅलीवुड नाम पसंद नहीं आया । यह नाम उधार के सिंदुर जैसा लगता है । हमें अपना अलग से अपनी संस्कृति के अनुरुप नाम रखने चाहिए । जैसे - चित्र लोक या चलचित्रम । हमें आंख बंद कर हाॅलीवुड का अनुकरण नहीं करना चाहिए । हम हाॅलीवुड फिल्मों की नकल तो करते हीं हैं और अब हाॅलीवुड से प्रेरित हो अपने फिल्मिस्तान का नाम भी बाॅलीवुड रख लिया ।

टाॅलीवुड में जो भी बांगला फिल्में बनतीं हैं वे साफ सुथरी होतीं हैं । सत्यजीत रे ने बहुत हीं उम्दा बांगला फिल्में बनायीं हैं । इसके लिए उन्हें लाइफ टाइम आस्कर पुरस्कार भी मिला है । रही बात बाॅलीवुड की तो यहां ज्यादातर मार धाड़ की फिल्में ही बनतीं हैं । बाॅलीवुड फिल्मों के गाने भी बहुत अश्लील होते हैं । उसी तरह से पाॅलीवुड का भी चक्कर है । पाॅलीवुड के डायलाग द्विअर्थी होते हैं । ज्यादातर पाॅलीवुड फिल्में बाॅलीवुड की भोंडी नकल मात्र होतीं हैं । पाॅलीवुड के गाने भी अश्लील होते हैं ।

कर्नाटक के पंडित धीरनवार राव ने बाॅलीवुड और पाॅलीवुड की अश्लीलता के खिलाफ बैनर लेकर अपना विरोध जाहिर किया था । श्री राव ने उन फिल्मों के गीत गाए जो बेहद अश्लील थे । उन्होंने हिंसा , मार धाड़ व नशा प्रधान फिल्मों का भी विरोध किया । उन्होंने 2017 के पंजाब व हरियाणा उच्च न्यायालय के उस फैसले का जिक्र किया , जिसमें अश्लील, हिंसा , नशा व मार धाड़ वाली फिल्मों पर अदालती कार्रवाई करने का आदेश दिया गया था । पंडित धीरनवार राव ने कहा कि ऐसी फिल्में विश्व शांति के लिए खतरा हैं । पंडित धीरनवार राव जी को बहुत बहुत धन्यवाद ।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links