ब्रेकिंग न्यूज़
नेपाल पीएम के बिगड़े बोल, कहा – “नेपाल में हुआ था भगवान राम का जन्म, नेपाली थे भगवान राम”         CBSE 12वीं का रिजल्ट : देश में 88.78% स्टूडेंट पास         BIG NEWS : सेना प्रमुख एमएम नरवणे जम्मू पहुंचे, सुरक्षा स्थिति का लिया जायजा         अनंतनाग एनकाउंटर में 2 आतंकी ढेर         बांदीपोरा में 4 OGWS गिरफ्तार, हथियार बरामद         BIG NEWS : हाफिज सईद समेत 5 आतंकियों के बैंक अकाउंट फिर से बहाल         BIG NEWS : लालू यादव का जेल "दरबार", तस्वीर वायरल         मान लीजिए इंटर में साठ प्रतिशत आए, या कम आए, तो क्या होगा?         BIG NEWS : झारखंड में रविवार को कोरोना संक्रमण से 6 मरीजों की मौत, बंगाल-झारखंड सीमा सील         BIG NEWS : सोपोर में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी, अब तक 2 आतंकी ढेर         BIG NEWS : देश में PMAY के क्रियान्वयन में रामगढ़ नंबर वन         BIG NEWS : श्रीनगर में तहरीक-ए-हुर्रियत के चेयरमैन अशरफ सेहराई गिरफ्तार         BIG NEWS : ऐश्वर्या राय बच्चन और आराध्या बच्चन की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव         BIG NEWS : मध्यप्रदेश की राह पर राजस्थान !         अमिताभ बच्चन ने कोरोना के खौफ के बीच सुनाई थी उम्मीद भरी कविता, अब..         .... टिक-टॉक वाले प्रकांड मेधावियों का दस्ता         BIG BRAKING : नक्सलियों नें कोल्हान वन विभाग कार्यालय व गार्ड आवास उड़ाया         BIG NEWS : महानायक अमिताभ बच्चन के बाद अभिषेक बच्चन को भी कोरोना         BIG NEWS : अमिताभ बच्चन करोना पॉजिटिव         BIG NEWS : आतंकियों को घुसपैठ कराने की कोशिश में पाकिस्तानी बॉर्डर एक्शन टीम         अपराधी मारा गया... अपराध जीवित रहा !          BIG NEWS : भारत चीन के बीच बातचीत, सकारात्मक सहमति के कदम आगे बढ़े         BIG NEWS : बारामूला के नौगाम सेक्टर में LOC के पास मुठभेड़, दो आतंकी ढेर         BIG STORY : समरथ को नहिं दोष गोसाईं         शर्मनाक : बाबू दो रुपए दे दो, सुबह से भूखी हूं.. कुछ खा लुंगी         BIG NEWS : वर्चुअल काउंटर टेररिज्म वीक में बोले सिंघवी, कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, था और रहेगा         BIG NEWS : कानपुर से 17 किमी दूर भौती में मारा गया गैंगेस्टर विकास, एसटीएफ के 4 जवान भी घायल         BIG NEWS : झारखंड के स्कूलों पर 31 जुलाई तक टोटल लॉकडाउन         BIG NEWS : चीन के खिलाफ “बायकॉट चाइना” मूवमेंट          पाकिस्तानी सेना ने नौशेरा सेक्टर में की गोलाबारी, 1 जवान शहीद         मुसीबत देश के आम लोगों की है जो बहुत....         BIG NEWS : एनकाउंटर में मारा गया गैंगस्टर विकास दुबे         बस नाम रहेगा अल्लाह का...         BIG NEWS : सेना के काफिले पर आतंकी हमला, जवान समेत एक महिला घायल        

भूतपूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिंहाराव के रसिक मिजाजी से बेहद परेशान थीं उनकी पत्नी

Bhola Tiwari Jun 17, 2019, 6:21 AM IST टॉप न्यूज़
img

अजय श्रीवास्तव

हमारे देश के भूतपूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिंहाराव 17 भाषाओं के जानकार थे और सभी पर उनका एकाधिकार था।कहतें हैं न सभी में कुछ न कुछ अवगुण होते हैं,एक अवगुण नरसिंहाराव में भी था, राजनीति गलियारे में उनके अफेयर के किस्से चटखारे लेकर सुने जाते थे।


साल 1957 में बेहद गरीब परिवार में जन्मे नरसिंहराव "मंथनी" विधानसभा सीट से जीतकर पहली बार विधायक बनके विधानसभा पहुँचें,उन्हीं के साथ आंध्रप्रदेश के अनंतपुर के नामी रेड्डी जमींदार परिवार की 33 वर्षीय एक महिला "लक्ष्मीकांता अम्मा" "खम्मम" विधानसभा से जीतकर विधानसभा पहुँचीं।लक्ष्मीकांता ने कम्युनिस्टों के गढ़ माने जाने वाले "खम्मम" से चुनाव जीता था जो उन दिनों बहुत बड़ी बात थी।कहतें हैं कि बला की खूबसूरत और बौद्धिक तौर पर प्रखर लक्ष्मीकांता पीवी नरसिंहाराव के बेहद नजदीक आने लगीं।पीवी को जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी दोनों बेहद पसंद करते थे,उनकी सरपरस्ती में वे खूब फले-फूले।

साल 1962 में कांग्रेस पार्टी ने लक्ष्मीकांता को लोकसभा चुनाव में उतारने का फैसला लिया, उनको जितवाने की जिम्मेदारी पीवी नरसिंहाराव को सौंपी गई।वे स्वयं उनसे बेहद प्रभावित थे,एक साक्षात्कार में आंशिक रूप से उन्होंने ये स्वीकार भी किया था।पीवी की कड़ी मेहनत रंग लाई और लक्ष्मीकांता लोकसभा चुनाव बडे़ अंतर से जीतकर लोकसभा पहुँच गईं,लेकिन उनका ज्यादातर समय आंध्रप्रदेश में हीं बीतता था वो भी नरसिंहराव के इर्द गिर्द।धीरे धीरे ये मुलाकात खबर बनने लगी,पहले कांग्रेसी चटखारे लेकर उनके विषय में बातें करते बाद में विपक्षी भी उसमें कूद पड़े।

कहतें हैं कि कुछ दिनों बाद ये शिकायत तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के पास पहुँचीं,एक दिन तो हद हीं हो गई जब नरसिंहराव के बड़े बेटे पीवी रंगाराव अपने पिता की शिकायत लेकर इंदिरा गांधी से मिले।आंध्रप्रदेश के एक भूतपूर्व मुख्यमंत्री वेंगलराव ने अपनी आटोबायोग्राफी में इसका जिक्र भी किया है उन्होने लिखा है कि इंदिरा गांधी पीवी का नाम सुनकर बेहद नाराज हो गई और कहा इस आदमी के अफेयर से मैं बेहद परेशान हूँ,शादीशुदा और इतने बड़े बच्चों के पिता को थोड़ी सी भी शर्म नहीं है समझ नहीं आ रहा पीवी का क्या करूँ।इंदिरा गांधी के रहमोकरम पर वो मुख्यमंत्री बने थे उसी इंदिरा ने तीन साल बाद आजीज आकर पीवी को मुख्यमंत्री पद से हटा दिया।

बताते हैं कि पीवी का "बालविवाह" हुआ था उनकी पत्नी "सत्यम्मा" उनके रसिक मिजाजी से बेहद परेशान थीं,पति की लगातार उपेक्षा ने उन्हें गहरे अवसाद में ढ़केल दिया और साल 1970 में उनकी मृत्यु हो गई।

रंगीन मिजाज पीवी के बहुत औरतों के साथ संबंध थे मगर लक्ष्मीकांता अम्मा के साथ उनका अफेयर लंबे समय तक चला।वेंगलराव ने अपने आटोबायोग्राफी "ना जीविता कथा" में लिखा है कि साल 1975 में लक्ष्मीकांता अम्मा संन्यास लेकर साध्वी बन गईं और अपनी संपत्ति को अपने गुरू के मठ में दान कर दिया।वे चाहतीं थी कि पीवी भी उनके साथ संन्यास लेकर आश्रम में रहें,पीवी भी राजी थे तभी एक दुखदाई घटना राजीव गांधी की हत्या ने नरसिंहाराव को देश का प्रधानमंत्री बना दिया।पीवी नरसिंहराव ने सबसे पहले आर्थिक सुधार की शुरुआत की, 83 साल की उम्र में 23 दिसंबर 2004 को उनकी लंबी बिमारी के बाद मृत्यु हो गई।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links