ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : कुलगाम में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी, 2 से 3 आतंकी घिरे         BIG NEWS : सुशांत सिंह केस का राजदार कौन !         BIG NEWS : फिल्म स्टार संजय दत्त लीलावती हॉस्पिटल में भर्ती          BIG NEWS : दिशा सलियान का निर्वस्त्र शव पोस्टमार्टम के लिए दो दिनों तक करता रहा इंतजार          BIG NEWS : टेरर फंडिंग मॉड्यूल का खुलासा, लश्कर-ए-तैयबा के 6 मददगार गिरफ्तार         BIG NEWS : एलएसी पर सेना और वायु सेना को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश         BIG NEWS : राजस्थान का सियासी जंग : कांग्रेस के बाद अब भाजपा विधायकों की घेराबंदी         BIG NEWS : देवेंद्र सिंह केस ! NIA की टीम ने घाटी में कई जगहों पर की छापेमारी         बाढ़ और संवाद हीनता          BIG NEWS : पटना एसआईटी टीम के साथ मीटिंग कर सबूतों और तथ्यों को खंगाल रही है CBI         BIG NEWS : सुशांत सिंह की मौत के बाद रिया चक्रवर्ती और बांद्रा डीसीपी मे गुफ्तगू         BIG NEWS : भारत और चीन के बीच आज मेजर जनरल स्तर की वार्ता, डिसएंगेजमेंट पर होगी चर्चा         BIG NEWS : मनोज सिन्हा ने ली जम्मू-कश्मीर के नये उपराज्यपाल पद की शपथ, संभाला पदभार         BIG NEWS : पुंछ में एक और आतंकी ठिकाना ध्वस्त, AK-47 राइफल समेत कई हथियार बरामद         BIG NEWS : सीएम हेमंत सोरेन ने भाजपा सांसद निशिकांत दुबे के खिलाफ किया केस         BIG NEWS : मुंबई में ED के कार्यालय पहुंची रिया चक्रवर्ती          BIG NEWS : शोपियां में मिले अपहृत जवान के कपड़े, सर्च ऑपरेशन जारी         मुंबई में सड़कें नदियों में तब्दील          BIG NEWS : पाकिस्तान आतंकवाद के दम पर जमीन हथियाना चाहता है : विदेश मंत्रालय         BIG NEWS : श्रीनगर पहुंचे जम्मू-कश्मीर के नये उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, आज लेंगे शपथ         सुष्मान्जलि कार्यक्रम में सुषमा स्वराज को प्रकाश जावड़ेकर सहित बॉलीवुड के दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि           BIG NEWS : जीसी मुर्मू होंगे देश के नए नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक          BIG NEWS : सीबीआई ने रिया समेत 6 के खिलाफ केस दर्ज किया         बंद दिमाग के हजार साल           BIG NEWS : कुलगाम में आतंकियों ने की बीजेपी सरपंच की गोली मारकर हत्या         BIG NEWS : अयोध्या में भूमि पूजन! आचार्य गंगाधर पाठक और PM मोदी की मां हीराबेन         मनोज सिन्हा होंगे जम्मू-कश्मीर के नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू का इस्तीफा स्वीकार         BIG NEWS : सदियों का संकल्प पूरा हुआ : मोदी         BIG NEWS : लालू प्रसाद यादव को रिम्स डायरेक्टर के बंगले में किया गया स्विफ्ट         BIG NEWS : अब पाकिस्तान ने नया मैप जारी कर जम्मू कश्मीर, लद्दाख और जूनागढ़ को घोषित किया अपना हिस्सा         हे राम...         BIG NEWS : सुशांत केस CBI को हुआ ट्रांसफर, केंद्र ने मानी बिहार सरकार की सिफारिश         BIG NEWS : पीएम मोदी ने अयोध्या में की भूमि पूजन, रखी आधारशिला         BIG NEWS : PM मोदी पहुंचे अयोध्या के द्वार, हनुमानगढ़ी के बाद राम लला की पूजा अर्चना की         BIG NEWS : आदित्य ठाकरे से कंगना रनौत ने पूछे 7 सवाल, कहा- जवाब लेकर आओ         रॉकेट स्ट्राइक या विस्फोटक : बेरूत के तट पर खड़े जहाज में ताकतवर ब्लास्ट, 73 की मौत         BIG NEWS : भूमि पूजन को अयोध्या तैयार         रामराज्य बैठे त्रैलोका....         BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत की मौत से मेरा कोई संबंध नहीं : आदित्य ठाकरे         BIG NEWS : दीपों से जगमगा उठी भगवान राम की नगरी अयोध्या         BIG NEWS : पूर्व मंत्री राजा पीटर और एनोस एक्का को कोरोना, कार्मिक सचिव भी चपेट में         BIG NEWS : अब नियमित दर्शन के लिए खुलेंगे बाबा बैद्यनाथ व बासुकीनाथ मंदिर          BIG NEWS : श्रीनगर-बारामूला हाइवे पर मिला IED बम, आतंकी हादसा टला         BIG NEWS : सिविल सेवा परीक्षा का फाइनल रिजल्ट जारी, प्रदीप सिंह ने किया टॉप, झारखंड के रवि जैन को 9वां रैंक, दीपांकर चौधरी को 42वां रैंक         सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुख्यमंत्री नीतीश ने की CBI जांच की सिफारिश         BIG NEWS : आतंकियों ने सेना के एक जवान को किया अगवा          बिहार DGP का बड़ा बयान, विनय तिवारी को क्वारंटाइन करने के मामले में भेजेंगे प्रोटेस्ट लेटर         BIG NEWS : सुशांत सिंह राजपूत केस में बिहार पुलिस के हाथ लगे अहम सुराग !         BIG NEWS : दिशा सालियान...सुशांत सिंह राजपूत मौत प्रकरण की अहम कड़ी...         BIG NEWS : पटना पुलिस ने खोजा रिया का ठिकाना, नोटिस भेज कहा- जांच में मदद करिए         BIG NEWS : छद्मवेशी पुलिस के रूप में घटनास्थल पर कुछ लोगों के पहुंचने के संकेत        

नवीन पटनायक की चतुर चाल

Bhola Tiwari Jun 06, 2019, 7:26 AM IST टॉप न्यूज़
img

अजय श्रीवास्तव

नवीन पटनायक की जीवनी लिखने वाले अंग्रेजी पत्रिका "आउटलुक" के संपादक रूबेन बनर्जी कहते हैं कि भारतीय राजनीति में नवीन पटनायक जैसा भद्र पुरूष खोजने से नहीं मिलेगा।वे बेहद साँफ्ट स्पोकन, शिष्ट, संभ्रांत और कम बोलने वाले शख्स हैं मगर बेहद चालक।उन्होंने जिस निर्ममता से अपने प्रतिद्वंद्वियों, राह में रोड़ा बन रहे दोस्तों को हटाया वो उनकी छवि से बिल्कुल उलट थी।

रूबेन बनर्जी लिखते हैं कि नवीन पटनायक 1997 में राजनीति में आये, उन दिनों उनके पिता के मंत्रिमंडल सहयोगी बिजाँय महापात्रा की तूती बोलती थी।वे बीजू पटनायक के बाद नं दो पर थे,ये बात नवीन पटनायक को खलती रहती थी।महापात्रा को किनारे लगाने के लिए नवीन पटनायक ने चुपचाप एक प्लान बनाया।अंतिम दिन सभी को पर्चा दाखिल करने को कहा गया।बिजाँय महापात्रा ने भी दोपहर बाद अपना नामांकन दाखिल किया।शाम को करीब चार बजे नवीन पटनायक ने पाटकुरा विधानसभा क्षेत्र से उनका पर्चा रद्द कर अतानु सब्यसाची को दे दिया।अब बिजाँय महापात्रा कहीं और से पर्चा भी नहीं दाखिल कर सकते थे, शाम के पाँच बजने वाले थे।

महापात्रा ने मजबूर होकर निर्दलीय प्रत्याशी तिर्लोचन बहेरा को अपना समर्थन दे दिया।तय ये हुआ था कि वे जीतकर उनके लिए सीट खाली कर देंगे।पाटकुरा विधानसभा क्षेत्र में महापात्रा की उनकी तूती बोलती थी और उनके समर्थन से निर्दलीय तिर्लोचन बहेरा जीत भी गए।मगर चतुर नवीन पटनायक ने बहेरा को अपने साथ मिला लिया और उन्होंने इस्तीफा देने से मना कर दिया।

रूबेन बनर्जी लिखते हैं कि मेरी नजर में अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी को इस तरह दरकिनार करने का ये तरीका बहुत अनैतिक था।

दूसरा उदाहरण वे चतुर और उनके बेहद करीबी आईएएस अफसर प्यारी मोहन महापात्रा का देते हैं।वाकई वे बेहद चतुर और पार्टी पर नजदीक से नजर रखने वाले अधिकारी थे।कुछ हीं दिनों में उडीसा में ये चर्चा फैल गई कि वास्तविक शक्ति नवीन पटनायक के पास न होकर प्यारी मोहन महापात्रा के पास है।अति महात्वाकांक्षी प्यारी मोहन वे बहुत खुश थे कि वे मुख्यमंत्री को डील कर रहें हैं मगर शायद उन्हें ये तनिक भी आभास नहीं हुआ कि वे स्वंय इस्तेमाल हो रहें हैं।साल 2008 से हीं नवीन बाबू ने उनके पर काटने शुरू कर दिये थे और उन्हें जरा भी भान न हुआ।

एक वाक्ये का उन्होंने प्रमुखता से जिक्र किया है, हुआ यूँ कि एक बार संयोगवश नवीन पटनायक और उनकी लाडली बहन गीता दिल्ली पहुंचे।बहन गीता ने प्यारी बाबू को खाने पर आमंत्रित किया, उन दिनों नवीन बाबू की तबीयत नासाज थी।डिनर टेबल पर बहन गीता ने प्यारी बाबू से एकाएक सवाल किया कि आप क्यों नहीं उप मुख्यमंत्री बन जाते,नवीन को थोड़ा आराम मिलेगा।

नवीन पटनायक को तब ये एहसास हुआ कि जब उनकी बहन ऐसा सोच सकती हैं तो चाढे चार करोड़ उडिय़ा लोग तो जरूर ऐसा हीं सोचेंगे।उडीसा पहुँच कर नवीन पटनायक ने प्यारी बाबू को दूध में गिरी मक्खी समझकर बाहर फेंक दिया।

नवीन पटनायक जब राजनीति में आए थे तो उड़ीसा में सिर्फ उनके दो दोस्त हुआ करते थे।एक थे एयू सिंहदेव और दूसरे थे जय पंड़ा।तीनों हफ्ते में तीन चार बार साथ खाना खाते और खूब हँसी मजाक किया करते थे।मगर कुछ सालों बाद दोनों का हस्तक्षेप लगातार बढ़ने लगा और एक दिन नवीन बाबू ने बडी बेरहमी से दोनों को अपने से दूर कर दिया।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links