ब्रेकिंग न्यूज़
नेपाल पीएम के बिगड़े बोल, कहा – “नेपाल में हुआ था भगवान राम का जन्म, नेपाली थे भगवान राम”         CBSE 12वीं का रिजल्ट : देश में 88.78% स्टूडेंट पास         BIG NEWS : सेना प्रमुख एमएम नरवणे जम्मू पहुंचे, सुरक्षा स्थिति का लिया जायजा         अनंतनाग एनकाउंटर में 2 आतंकी ढेर         बांदीपोरा में 4 OGWS गिरफ्तार, हथियार बरामद         BIG NEWS : हाफिज सईद समेत 5 आतंकियों के बैंक अकाउंट फिर से बहाल         BIG NEWS : लालू यादव का जेल "दरबार", तस्वीर वायरल         मान लीजिए इंटर में साठ प्रतिशत आए, या कम आए, तो क्या होगा?         BIG NEWS : झारखंड में रविवार को कोरोना संक्रमण से 6 मरीजों की मौत, बंगाल-झारखंड सीमा सील         BIG NEWS : सोपोर में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी, अब तक 2 आतंकी ढेर         BIG NEWS : देश में PMAY के क्रियान्वयन में रामगढ़ नंबर वन         BIG NEWS : श्रीनगर में तहरीक-ए-हुर्रियत के चेयरमैन अशरफ सेहराई गिरफ्तार         BIG NEWS : ऐश्वर्या राय बच्चन और आराध्या बच्चन की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव         BIG NEWS : मध्यप्रदेश की राह पर राजस्थान !         अमिताभ बच्चन ने कोरोना के खौफ के बीच सुनाई थी उम्मीद भरी कविता, अब..         .... टिक-टॉक वाले प्रकांड मेधावियों का दस्ता         BIG BRAKING : नक्सलियों नें कोल्हान वन विभाग कार्यालय व गार्ड आवास उड़ाया         BIG NEWS : महानायक अमिताभ बच्चन के बाद अभिषेक बच्चन को भी कोरोना         BIG NEWS : अमिताभ बच्चन करोना पॉजिटिव         BIG NEWS : आतंकियों को घुसपैठ कराने की कोशिश में पाकिस्तानी बॉर्डर एक्शन टीम         अपराधी मारा गया... अपराध जीवित रहा !          BIG NEWS : भारत चीन के बीच बातचीत, सकारात्मक सहमति के कदम आगे बढ़े         BIG NEWS : बारामूला के नौगाम सेक्टर में LOC के पास मुठभेड़, दो आतंकी ढेर         BIG STORY : समरथ को नहिं दोष गोसाईं         शर्मनाक : बाबू दो रुपए दे दो, सुबह से भूखी हूं.. कुछ खा लुंगी         BIG NEWS : वर्चुअल काउंटर टेररिज्म वीक में बोले सिंघवी, कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, था और रहेगा         BIG NEWS : कानपुर से 17 किमी दूर भौती में मारा गया गैंगेस्टर विकास, एसटीएफ के 4 जवान भी घायल         BIG NEWS : झारखंड के स्कूलों पर 31 जुलाई तक टोटल लॉकडाउन         BIG NEWS : चीन के खिलाफ “बायकॉट चाइना” मूवमेंट          पाकिस्तानी सेना ने नौशेरा सेक्टर में की गोलाबारी, 1 जवान शहीद         मुसीबत देश के आम लोगों की है जो बहुत....         BIG NEWS : एनकाउंटर में मारा गया गैंगस्टर विकास दुबे         बस नाम रहेगा अल्लाह का...         BIG NEWS : सेना के काफिले पर आतंकी हमला, जवान समेत एक महिला घायल        

केरल में एक बार फिर पाँव पसार रहा है खतरनाक "निपह वायरस"

Bhola Tiwari Jun 05, 2019, 11:25 AM IST टॉप न्यूज़
img

अजय श्रीवास्तव

पिछले साल इस संक्रमित वायरस से 17 लोगों की मौत हुई थी,इस साल "निपह वायरस ने फिर केरल में पांव पसार दिये हैं।पहला मामला 23 वर्षीय काँलेज के एक छात्र का सामने आया, जाँच में निपह वायरस के संक्रमण की पुष्टि हो गई है।केरल सरकार ने पुणे स्थित राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान(NIV)में छात्रों के रक्त के नमूने की जाँच की गई जिसमें निपाह के संक्रमण की पुष्टि हुई है।

केरल सरकार की स्वास्थ्य मंत्री डा के के शैलेजा ने बताया कि NIV के अलावा मणिपाल इंस्टीट्यूट आँफ वायरोलॉजी में भी खून की जाँच कराई गई, जिसमें निपाह वायरस की पुष्टि हुई है।डा शैलजा ने बताया कि यहाँ के एक निजी अस्पताल में उपचाराधीन छात्र की हालत स्थिर है और उसे वेंटीलेटर जैसी किसी जीवन रक्षक प्रणाली पर नहीं रखा गया है।

केरल सरकार इस मामले में बेहद सतर्क है,पीडित छात्र से पूछकर उसके संपर्क में आने वाले 86 लोगों की सूची तैयार की गई है और सभी लोगों को यहाँ के कलमसेरी मेडिकल काँलेज अस्पताल में बनाए गये अलग-अलग वार्ड में रखा गया है।

आपको बता दें 1998 में मलेशिया में पहली बार निपाह वायरस का पता लगाया गया था।यहाँ के "सुंगई निपाह" गाँव के लोग सबसे पहले इस वायरस से संक्रमित हुए थे।विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यहाँ पहली बार एक जाँच टीम भेजी थी,उसने हीं इस संक्रमण का पता लगाया था।इस गाँव के नाम पर हीं इसका नाम निपाह पड़ा।

बताते हैं कि जब टीम जाँच कर रही थी तब उसने देखा कि पेड़ पर बहुत मात्रा में चमकादड लटके पड़ें हैं और उसने बहुत से फलों को आधा खाकर नीचे गिरा दिया है।जाँच टीम ने फलों को भी जाँच के लिए भेजा था जिसमें चमकादड के लार से फैली विषाणु मिले थे।

भारत में इससे जुड़ा पहला मामला साल 2001 में पश्चिम बंगाल में सिल्लीगुड़ी जिले में सामने आया।वहीं निपाह वायरस का दूसरा मामला पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में साल 2007 में सामने आया।ये दोनों जिले बांग्लादेश के बार्डर से करीब है।तीसरा मामला केरल में सामने आया है।

आपको बता दें निपाह वायरस चमकादड से फैलता है,इन्हें फ्रूट बैट कहते हैं।चमकादड किसी फल को खा लेते हैं और उसी फल या सब्जी को कोई इंसान या जानवर खाता है तो संक्रमित हो जाता है।निपाह वायरस इंसानों के अलावा जानवरों को भी प्रभावित करता है।इस संक्रमण से प्रभावित व्यक्ति को शुरुआत में तेज सिरदर्द और बुखार होता है।इससे संक्रमित व्यक्ति की मृत्यु दर 74.5% होती है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि प्रभावित क्षेत्र में किसी को भी पेड से गिरे फल जो थोडा बहुत भी कुतरा गया हो नहीं खाना चाहिए।खजूर जो पेड़ पर भी है उसे खाने से संक्रमण की संभावना बढ़ जाती है क्योंकि खजूर चमकादड का पसंदीदा फल होता है।

केन्द्र सरकार ने भी प्रभावित लोगों के इलाज के लिए छह सदस्यीय टीम केरल रवाना किया है जो हर मामले पर नजर रखेगी।केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा है कि केन्द्र सरकार इस मामले में बेहद संवेदनशील है और वो मिनट मिनट की मानिटरिंग कर रही है।

आपको बता दें इस बिमारी के रोकथाम का कोई दवा विकसित नहीं हुआ है।विश्व स्वास्थ्य संगठन इस बिमारी पर रिसर्च कर रहा है हो सकता है कि जल्द हीं उन्हें कोई सफलता हासिल हो।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links