ब्रेकिंग न्यूज़
अपराधी मारा गया... अपराध जीवित रहा !          BIG NEWS : भारत चीन के बीच बातचीत, सकारात्मक सहमति के कदम आगे बढ़े         BIG NEWS : बारामूला के नौगाम सेक्टर में LOC के पास मुठभेड़, दो आतंकी ढेर         BIG STORY : समरथ को नहिं दोष गोसाईं         शर्मनाक : बाबू दो रुपए दे दो, सुबह से भूखी हूं.. कुछ खा लुंगी         BIG NEWS : वर्चुअल काउंटर टेररिज्म वीक में बोले सिंघवी, कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, था और रहेगा         BIG NEWS : कानपुर से 17 किमी दूर भौती में मारा गया गैंगेस्टर विकास, एसटीएफ के 4 जवान भी घायल         BIG NEWS : झारखंड के स्कूलों पर 31 जुलाई तक टोटल लॉकडाउन         BIG NEWS : चीन के खिलाफ “बायकॉट चाइना” मूवमेंट          पाकिस्तानी सेना ने नौशेरा सेक्टर में की गोलाबारी, 1 जवान शहीद         मुसीबत देश के आम लोगों की है जो बहुत....         BIG NEWS : एनकाउंटर में मारा गया गैंगस्टर विकास दुबे         बस नाम रहेगा अल्लाह का...         BIG NEWS : सेना के काफिले पर आतंकी हमला, जवान समेत एक महिला घायल         BIG NEWS : लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों ने की थी बीजेपी नेता वसीम बारी की हत्या         दुबे के बाद क्या ?         मै हूं कानपुर का विकास...         BIG NEWS : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने 6 पुलों का किया ई उद्घाटन, कहा-सेना को आवाजाही में मिलेगी सुविधा         BIG NEWS : कुख्यात अपराधी विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार         BIG MEWS : चुटुपालु घाटी में आर्मी का गाड़ी खाई में गिरा, एक जवान की मौत, दो घायल         BIG NEWS : सेना ने फेसबुक, इंस्टाग्राम समेत 89 एप्स पर लगाया बैन         BIG NEWS : बांदीपोरा में आतंकियों ने बीजेपी नेता वसीम बारी की हत्या, हमले में पिता-भाई की भी मौत         नहीं रहे शोले के ''सूरमा भोपाली'', 81 की उम्र में अभिनेता जगदीप का निधन         गृह मंत्रालय ने IPS अधिकारी बसंत रथ को किया निलंबित, दुर्व्यवहार का आरोप         BIG NEWS : कुलभूषण जाधव ने रिव्यू पिटीशन दाखिल करने से किया इनकार, पाकिस्तान ने दिया काउंसलर एक्सेस का प्रस्ताव         पुलिस पूछ रही है- कहां है दुबे         झारखंड मैट्रिक रिजल्ट : स्टेट टॉपर बने मनीष कुमार         झारखंड बोर्ड परीक्षा रिजल्ट : कोडरमा अव्वल और पाकुड़ फिसड्डी         BIG NEWS :  मैट्रिक का रिजल्ट जारी, 75 परसेंट पास हुए छात्र         पाकिस्तान की करतूत, बालाकोट सेक्टर के रिहायशी इलाकों में की गोलाबारी, एक महिला की मौत          BIG NEWS : होम क्वारंटाइन हो गए हैं सीएम हेमंत सोरेन, आज हो सकता है कोरोना टेस्ट !         BIG NEWS : मंत्री मिथिलेश, विधायक मथुरा समेत 165 नए कोरोना पॉजिटिव         BIG NEWS : उड़ी सेक्टर में भारी मात्रा में हथियार व गोला-बारूद बरामद         BIG NEWS : लद्दाख में एलएसी पर सेना पूरी तरह से मुस्तैद         CBSE: नौवीं से बारहवीं कक्षा तक के छात्रों के सिलेबस में होगी 30 फीसदी कटौती         BIG NEWS : पुलवामा आतंकी हमले में शामिल एक और OGW को NIA ने किया गिरफ्तार         BIG NEWS : कल घोषित होगा मैट्रिक का रिजल्ट         BIG NEWS : POK में चीन और पाकिस्तान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन         बारामूला में हिजबुल मुजाहिदीन का एक OGW गिरफ्तार, हैंड ग्रेनेड बरामद         अंदरखाने खोखला, बाहर-बाहर हरा-भरा...!        

छेराछेरा कोठी का धान ला हेर हेरा के

Bhola Tiwari Jun 02, 2019, 6:58 AM IST टॉप न्यूज़
img

एस डी ओझा

ऐसा कहा जाता है कि छत्तीस गढ़ के राजा कल्याण शाह को मुगल बादशाह अकबर ने शाहजादे सलीम को राज काज का ज्ञान देने के लिए दिल्ली बुलाया था । उन्हें वहां रहते तकरीबन आठ साल हो गये थे । जब कल्याण शाह दिल्ली से रतनपुर लौटे तो लोग उनकी आगवानी के लिए नगर के बाहर खड़े थे । राजा को प्रजा ने फूलों से लाद दिया । उनको बाजे गाजे के साथ ससम्मान महल लाया गया था , जहां रानी ने उनकी आरती उतारी थी । औरतों ने मंगल गान गाया था । राजा कल्याण शाह इस आवभगत से गदगद हो गये । उन्होंने खुश होकर अपने खजाने का मुंह खोल दिया । छोटे बड़े सभी को दान दिया था । प्रजा ने भी खुश होकर राजा को धन धान्य से परिपूर्ण होने का आशीर्वाद दिया था ।

उस दिन पौष माह की पूर्णिमा थी । तब से आज तक उस दिन को हर साल छत्तीस गढ़ में सेलेब्रेट किया जाता है । इसे एक उत्सव के रुप में मनाया जाता है । इस उत्सव का नाम है छेरछेरा । यह दान का पर्व होता है । माताएं सुबह सुबह हीं अपने बच्चों को नहला धुला नये वस्त्र पहना छेरछेरा लेने भेज देती हैं । बच्चे दान लेने के लिए हर घर के बाहर आवाज लगाते हैं - " छेरछेरा , कोठी का धान हेरहेरा ।" लोग उन्हें अनाज या नकद रुपए देते हैं । कभी कभी युवक युवती भी छेरछेरा का दान मांगते हैं । अक्सर युवक डंडा नृत्य करते हैं । युवतियां मिट्टी की गुड़िया बनाती हैं । उन्हें दुल्हन के रुप में सजाती हैं । एक टोकरी में गुड़िया को रख उसके चारों ओर नृत्य करती हैं । गीत गाती हैं । गीत को तारा गीत कहते हैं ।

दान का यह पर्व छत्तीस गढ़ का होली दीवाली जैसा पर्व है । इस दिन कोई गांव से बाहर नहीं जाता । बाहर के कमासुत लोग इस दिन गांव आ जाते हैं । हर घर में रौनक हो जाती है । दरअसल यह पर्व धान की फसल कटने और उसकी मिसाई के बाद मनाया जाता है । घर में लक्ष्मी पूजन होता है । इस दिन काम काज बंद रहता है। बच्चों के स्कूल की लोकल छुट्टी होती है । घर में मुर्रा , लाई और तिलवा खाया जाता है । तिल के लड्डू खाने से ठण्ड का असर नहीं होता । दान से मिले अनाज से खिचड़ी या खीर का भण्डारा लगाया जाता है । युवक और युवतियां स्वांग रचते हैं । नकटा और नकटी बनते हैं जो विदूषक होते हैं । 

छत्तीस गढ़ की महिला क्रांति सेना की महिलाएं भी मंत्री या अन्य गण्यमान्य व्यक्तियों के पास छेरछेरा का दान लेने के लिए जाती हैं । उन्हें दान स्वरुप नकद धनराशि मिलती हैं । यह धनराशि महिलाओं की कल्याण में खर्च किया जाता है । कुल मिलाकर छेरछेरा दान का पर्व है , जिसमें सभी दान देते हैं । सभी दान लेते हैं । छोटे बड़े का कोई भेद नहीं है । हर जाति और धर्म के लोग इसमें भाग ले सकते हैं । कोई रोक नहीं , कोई टोक नहीं । सबको खुला निमंत्रण है ।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links