ब्रेकिंग न्यूज़
BIG NEWS : पाकिस्तान में अलग सिंधुदेश बनाने की मांग तेज, पीएम नरेंद्र मोदी की तस्वीर लेकर सड़क पर उतरे प्रर्दशनकारी         BIG NEWS : औरंगाबाद शहर का नाम बदलने को लेकर शिवसेना और कांग्रेस आमने-सामने         BIG NEWS : किसान आंदोलन, सुप्रीम कोर्ट में आज की सुनवाई पर नजर         BIG NEWS : पीएम मोदी ने देश के विभिन्‍न हिस्‍सों से केवड़िया को जोड़ने वाली 8 ट्रेनों को दिखाई हरी झंडी         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर में भटके युवाओं को वापसी का मौका दे रही है सेना, बीते 6 माह में 17 आतंकियों ने किया सरेंडर - लेफ्टिनेंट जनरल बीएस राजू         BIG NEWS : सोपोर में फर्जी लश्कर-ए-तैयबा मॉड्यूल का भंडाफोड़, इमाम समेत तीन गिरफ्तार         BIG NEWS : त्राल में आतंकियों के 5 मददगार गिरफ्तार, चिपकाए थे धमकी भरे पोस्टर         BIG NEWS : भर आई पीएम मोदी की आंखें, सैकड़ों साथी घर लौटकर नहीं आए, आज कोरोना से निपटने में देश सक्षम         हार्वर्ड ने बुलाया नहीं और एनडीटीवी ने पट नहीं खोला ...         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर में कोरोना के खिलाफ टीकाकरण की हुई शुरुआत, 100 स्वास्थ्य कर्मियों को लगी वैक्सीन         BIG NEWS : घाटी में आतंक के खिलाफ कार्रवाई जारी, कुपवाड़ा में एक सक्रिय आतंकी ठिकाना ध्वस्त, हथियार बरामद         नया भारत आर्य-अनार्य की संघर्ष भूमि न बने ...         भाजपा और ओवैसी दोनो के चारों हाथों में लड्डू..         BIG NEWS : बवाल के बाद होश में आया व्हाट्सएप, प्राइवेसी पॉलिसी अपडेट को किया स्थगित         BIG NEWS : देशभर में आज से लगेगा कोरोना का टीका         किसान आंदोलन और राहुल गांधी         BIG NEWS : पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के पहले मनोवैज्ञानिक बढ़त हासिल कर ली है भाजपा ने         BIG NEWS : सेना दिवस पर सेनाध्यक्ष एमएम नरवणे ने कहा – “जवानों का बलिदान हमेशा याद रखा जाएगा”         BIG NEWS : चीन को लगा बड़ा झटका, अमेरिका ने Xiaomi समेत 9 चीनी कंपनियों को किया ब्लैक लिस्ट         BIG NEWS : पाकिस्तान की बेइज्जती, मलेशिया ने कर्ज ना चुकाने पर विमान जब्त कर यात्रियों को उतारा         BIG NEWS : जम्मू-कश्मीर में 270 से अधिक आतंकवादी अब भी सक्रिय, कार्रवाई जारी         BIG NEWS : कोरोना वायरस की उत्पत्ति का पता लगाने के लिए चीन पहुंची WHO की टीम, वुहान शहर से शुरू की जांच         सुप्रीमकोर्ट के निर्णय से क्यों असहमत हैं "अन्नदाता"?         BIG NEWS : कठुआ में अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर BSF को फिर मिली सुरंग, घुसपैठ के लिए इस्तेमाल करते थे आतंकी         BIG NEWS : श्रीनगर में लश्कर-ए-तैयबा के 2 आतंकी सहयोगी गिरफ्तार, हथियार बरामद         BIG NEWS : कनाडा के MP ने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ, कहा – भारत सरकार द्वारा कश्मीरी पंडितों की घर वापसी की योजना सराहनीय कदम         BIG NEWS : भारत बायोटेक की कोवैक्सिन की भी डिलीवरी शुरू, रांची समेत 11 शहरों में पहली खेप भेजी         BIG NEWS : जम्मू कश्मीर में पुलिस की बड़ी कार्रवाई, साइबर क्राइम के आरोप में 23 गिरफ्तार         BIG NEWS : महबूबा मुफ्ती ने फिर अलापा अनुच्छेद 370 का राग, कहा – “गुपकार गठबंधन छोटे चुनावी फायदों के लिए नहीं बल्कि जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे के लिए है”         सुप्रीम कोर्ट के प्रस्ताव को सरकार मानेगी, तो किसान क्या करेंगे ?         BIG NEWS : ट्रांजिट रिमांड पर भेजे गये पीडीपी नेता वहीद पारा और मुख्तियार अहमद , पूछताछ जारी         BIG NEWS : पाकिस्तान और चीन देश के लिए सबसे बड़ा खतरा, हर खतरे से निपटने के लिए सेना तैयार – सेना प्रमुख एमएम नरवणे         BIG NEWS : सुप्रीम कोर्ट ने तीनों कृषि कानूनों के अमल पर लगाई रोक, चार सदस्यों की बनाई कमेटी         BIG NEWS : रुबिया सईद अपहरण मामले में यासीन मलिक समेत नौ को आरोपी बनाया         BIG NEWS : कोरोना वैक्सीन सीरम इंस्टीट्यूट पुणे से रवाना         BIG NEWS : लद्दाख की भीषण ठंड थर थर कांपने लगे चीनी सैनिक, 10 हजार सैनिकों को LAC से हटाया         अच्छा सुनिए !         BIG NEWS : भूकंप के झटकों से हिली जम्मू-कश्मीर की धरती, रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 5.1, सहम उठे लोग         BIG NEWS : झारखंड में बर्ड फ्लू ! कागजी घोड़ा दौड़ा रही है झारखंड की सरकार         BIG NEWS : PM मोदी ने मुख्यमंत्रियों से कहा, हमारी वैक्सीन दुनिया में सबसे किफायती         BIG NEWS : किसान आंदोलन पर केंद्र के रवैये से सुप्रीम कोर्ट 'निराश', कहा- आप कानून होल्ड करेंगे या हम करें ?         BIG NEWS : किसानों के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, क्या है पूरा मामला        

कोरोना पर गाइडलाइन : अब राज्य सरकार को लॉकडाउन लगाने के लिए केंद्र की लेनी होगी मंजूरी

Bhola Tiwari Nov 25, 2020, 6:05 PM IST टॉप न्यूज़
img


सिद्धार्थ सौरभ

नई दिल्ली  : कोरोना वायरस के एक बार फिर से बढ़ते मामलों के बीच जंग तेज करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 1 दिसंबर से 31 दिसंबर तक की नई गाइडलाइन जारी की है। गृह मंत्रालय के ताजा दिशा-निर्देश के मुताबिक, राज्यों को कड़ाई से संक्रमण के रोकथाम उपायों को लागू करने, भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कहा गया है। इस बार सरकार का ज्यादा फोकस भीड़ को नियंत्रित करने की है। सरकार के यह दिशा-निर्देश 1 दिसंबर से प्रभावी होंगे और 31 दिसंबर तक लागू रहेंगे। गृह मंत्रालय ने कहा कि दिशा-निर्देशों का मुख्य फोकस कोविड -19 के प्रसार के खिलाफ हासिल किए गए कंट्रोल को बनाए रखना है, जो देश में सक्रिय मामलों की संख्या में लगातार गिरावट से दिखाई दे रहा है।

नए दिशा-निर्देशों के अनुसार, जो 1 दिसंबर से लागू होंगे। राज्यों को रात के कर्फ्यू सहित स्थानीय प्रतिबंध लगाने का अधिकार दिया गया है। यह दिशा-निर्देश 31 दिसंबर तक लागू रहेंगे। गृह मंत्रालय का ओर से एक प्रेस रिलीज में कहा गया है कि राज्य और केंद्र शासित प्रदेश राज्य की परिस्थिति के आकलन के आधार पर कोविड-19 को रोकने के संदर्भ में स्थानीय प्रतिबंधों को लागू कर सकती है, जिसमें नाइट कर्फ्यू शामिल हैं।

राज्य और केंद्रशासित प्रदेश केंद्र सरकार के परामर्श के बिना कंटेनमेंट जोन के अलावा स्थानीय क्षेत्रों में लॉकडाउन नहीं कर सकते हैं। गृह मंत्रालय ने यह भी कहा है कि स्थानीय जिला, पुलिस और नगर निगम के अधिकारी यह सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार होंगे कि निर्धारित रोकथाम उपायों का कड़ाई से पालन किया जाए।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा है कि कोविड-19 की स्थिति के अपने आकलन के आधार पर राज्य, केंद्रशासित प्रदेश केवल निषिद्ध क्षेत्रों में रात्रिकालीन कर्फ्यू जैसी स्थानीय पाबंदियां लगा सकते हैं। निषिद्ध क्षेत्रों के बाहर किसी भी प्रकार का स्थानीय लॉकडाउन लागू करने के पहले राज्यों, केंद्रशासित प्रदेश की सरकारों को केंद्र से अनुमति लेनी होगी।

गृह मंत्रालय की नई गाइडलाइंस में भी सिनेमा घरों, थियेटर्स, स्विमिंग पूल्स आदि को लेकर पाबंदियां जारी हैं। सिनेमा हॉल अभी भी 50 फीसदी दर्शक क्षमता के साथ चलेंगे। 

सरकार ने सबसे पहले मार्च में कोरोना वायरस माहमारी के प्रसार को रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन लगाया था। जब संक्रमण अपने चरम पर था। इसके बाद जून में अनलॉक 1.0 की घोषणा की गई थी, जिसके कारण रेस्तरां, शॉपिंग मॉल आदि खुल गए थे, तब से सरकार अर्थव्यवस्था को धीरे-धीरे में खोल रही है।

हाल ही में विभिन्न शहरों में नए कोविड -19 मामलों की संख्या में वृद्धि के साथ, महामारी के दोबारा फैलने की आशंका है। विशेषज्ञों ने यह भी चेतावनी दी है कि सर्दियों में स्थिति खराब हो सकती है। इसलिए, सरकार ने लोगों से कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने का आग्रह किया है।

आंकड़ों के अनुसार कोविड-19 से 481 और मरीजों की मौत हो गई जिसके बाद मृतकों की संख्या 1,34,699 पर पहुंच गई। वर्तमान में देश में कोविड-19 के 4,44,746 मरीज उपचाराधीन हैं। यह संख्या मंगलवार के मुकाबले 6,079 अधिक है। आंकड़ों के मुताबिक उपचाराधीन मरीजों की संख्या लगातार पंद्रहवें दिन पांच लाख से कम रही। यह संक्रमण के कुल मामलों का 4.82 प्रतिशत है।

Similar Post You May Like

Recent Post

Popular Links